सामान्य ज्ञान

Also Read in : English

CategoriesCategories

सामान्य ज्ञान तथ्य

RBI द्वारा किस प्रकार पूरे देश में करेंसी का वितरण किया जाता है?

करेंसी चेस्ट या "मुद्रा तिजोरी" की स्थापना बैंक नोट के वितरण को सुचारू रूप से चलाने हेतु RBI ने की है. करेंसी चेस्ट खोलने के लिए RBI,बैंकों की चुनिन्दा शाखाओं को अधिकृत करती है. इन करेंसी चेस्ट में RBI के द्वारा बैंक नोटों का भंड़ारण किया जाता है. करेंसी चेस्ट अपने पास के क्षेत्र में आने वाले अन्य बैंक की शाखाओं को बैंक नोट की आपूर्ती करता है.

सामान्य-ज्ञान-तथ्य में और पढ़ें

General knowledge videos

सामान्य ज्ञान क्विज

सामान्य ज्ञान प्रश्नोतरी: भारत का राष्ट्रीय ध्वज

भारतीय राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा पिंगली वेंकय्या द्वारा डिजाइन किया गया था जिसको भारत की संविधान सभा ने 22 जुलाई,1947 को अपनाया था. इस क्विज में भारत के राष्ट्रीय झंडे के ऊपर आधारित 9 प्रश्नों की एक प्रश्नोत्तरी दी जा रही है जो कि IAS/PCS/SSCजैसी परीक्षाओं के लिए बहुत उपयोगी होगी.

सामान्य-ज्ञान-क्विज में और पढ़ें

इतिहास

क्या आप जानते हैं कि लोकतंत्र का सिद्धांत ऋग्वेद की देन है

लोकतंत्र एक ऐसी व्यवस्था है जिसमें जनता अपना शासक खुद चुनती है. लोकतंत्र शब्द को डेमोक्रेसी कहते है जिसकी उत्पत्ति ग्रीक मूल शब्द ‘डेमोस’ से हुई है. डेमोस का अर्थ है ‘जन साधारण’ और क्रेसी का अर्थ है ‘शासन’. क्या प्राचीनकाल में यह व्यवस्था हुआ करती थी और कैसी थी. इस लेख के माध्यम से जानेंगे की कैसे ,लोकतंत्र का सिद्धांत ऋग्वेद की देन हैं.

इतिहास में और पढ़ें

भूगोल

दुनिया भर में वन्य जीवों के क्षेत्रीय वितरण की सूची

जानवरों का वितरण पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी के साथ-साथ जू-जिगोग्राफी में अध्ययन का एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है, जो पशुओं की विभिन्न प्रजातियों की विशेषताओं, वर्गीकरण, स्थानिक वितरण, संघ और प्रवास से संबंधित है। जंगली जानवरों का क्षेत्रीय वितरण जंगली जानवर और विद्यमान पर्यावरणीय परिस्थितियों के बीच घनिष्ठ संबंध हैं।

भूगोल में और पढ़ें

विज्ञान

शून्य की खोज भारत में कब और कैसे हुई?

शून्य, कुछ भी नहीं या कुछ नहीं होने की अवधारणा का प्रतीक है. आजकल शून्य का प्रयोग एक सांख्यिकीय प्रतीक और एक अवधारणा दोनों के रूप में जटिल समीकरणों को सुलझाने में तथा गणना करने में किया जाता है. इसके साथ ही शून्य कंप्यूटर का मूल आधार भी है. यह आलेख भारत में शून्य के आविष्कार से संबंधित है अर्थात इस आलेख में इस बात का उल्लेख किया गया है कि भारत में शून्य का अविष्कार कैसे और कब हुआ था.

विज्ञान में और पढ़ें

भारतीय राजव्यवस्था

जानें भारत में जनहित याचिका दायर करने की प्रक्रिया क्या है

सामाजिक रूप से ऐसे जागरूक नागरिकों के लिए, जो कानून के माध्यम से समाज को ठीक करना चाहते हैं, जनहित याचिका (PIL) एक शक्तिशाली उपकरण है. इस लेख में हम जनहित याचिका दायर करने से संबंधित सभी प्रक्रियाओं का चरणबद्ध तरीके से विवरण दे रहे हैं.

भारतीय-राजव्यवस्था में और पढ़ें

अर्थव्यवस्था

RBI द्वारा किस प्रकार पूरे देश में करेंसी का वितरण किया जाता है?

करेंसी चेस्ट या "मुद्रा तिजोरी" की स्थापना बैंक नोट के वितरण को सुचारू रूप से चलाने हेतु RBI ने की है. करेंसी चेस्ट खोलने के लिए RBI,बैंकों की चुनिन्दा शाखाओं को अधिकृत करती है. इन करेंसी चेस्ट में RBI के द्वारा बैंक नोटों का भंड़ारण किया जाता है. करेंसी चेस्ट अपने पास के क्षेत्र में आने वाले अन्य बैंक की शाखाओं को बैंक नोट की आपूर्ती करता है.

अर्थव्यवस्था में और पढ़ें

पर्यावरण और पारिस्थितिकीय

कृत्रिम वर्षा क्या होती है और कैसे करायी जाती है?

भारत में कई बार पर्याप्त वर्षा ना होने के कारण फसलें अक्सर चौपट हो जाती है इसलिए यहाँ के किसान कर्ज के तले दबे हुए हैं. वैज्ञानिकों ने बारिश की अनिश्चिता या कम बारिश की समस्या से निपटने के लिए कृत्रिम वर्षा का उपाय खोजा है. कृत्रिम वर्षा कराने के लिए कृत्रिम बादल बनाये जाते हैं जिन पर सिल्वर आयोडाइड और सूखी बर्फ़ जैसे ठंठा करने वाले रसायनों का प्रयोग किया जाता है जिससे कृत्रिम वर्षा होती है.

पर्यावरण-और-पारिस्थितिकीय में और पढ़ें

सामान्य ज्ञान सूची

प्रसिद्ध भारतीय हस्तियाँ जिनके नाम पर उनके जीवनकाल में ही डाक टिकट जारी हुए हैं

दुनिया में कई ऐसे प्रसिद्ध व्यक्ति हुए हैं जो अपने जीवनकाल में ही वह प्रतिष्ठा और ख्याति प्राप्त कर लेते हैं, जो मरने के बाद भी कई व्यक्तियों को नसीब नहीं होती है। इन्हीं प्रसिद्धियों में से एक है- किसी जीवित व्यक्ति के नाम पर डाक टिकट जारी होना। भारत में भी कई ऐसे महान व्यक्तित्व हुए हैं जिनके नाम पर उनके जीवनकाल में ही डाक टिकट जारी किए गए हैं। इस लेख में हम उन प्रसिद्ध भारतीय हस्तियों का विवरण दे रहे हैं जिनके नाम पर उनके जीवनकाल में ही डाक टिकट जारी हुए हैं।

सामान्य-ज्ञान-सूची में और पढ़ें

Register to get FREE updates

All Fields Mandatory
  • Please Select Your Interest
  • By clicking on Submit button, you agree to our terms of use
  • A verifcation code has been sent to
    your mobile number

    Please enter the verification code below

जागरण जोश के सामान्य ज्ञान सेक्शन का मुख्य उद्येश्य आईएएस / पीसीएस / एसएससी / सीडीएस एवं बैंकिंग जैसे प्रतियोगी परीक्षाओं की तयारी कर रहे सभी उम्मीदवारों को विस्तृत एवं सटीक जानकारी प्रदान करना है| भारत में नंबर एक शिक्षा पोर्टल के रूप में विख्यात जागरण जोश भारत और विश्व के इतिहास, भूगोल, राजनीतिशास्त्र, अर्थशास्त्र, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, कला और संस्कृति जैसे अलग अलग विषयों पर आधारित सामान्य ज्ञान क्विज एवं सामान्य ज्ञान से संबंधित प्रश्न-उत्तर उपलब्ध करवाता है| हमारे अध्ययन सामग्री की सबसे महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि इसे प्रतिष्ठित लेखकों द्वारा तैयार किया जाता है जो पूरी तरह से प्रमाणिक एवं मौलिक होता है| यह पूरी अध्ययन सामग्री हमारे वेबसाइट के सामान्य ज्ञान सेक्शन में उपलब्ध है|
सामान्य ज्ञान सेक्शन के प्रमुख हिस्से हैं:
1. जनरल नॉलेज क्विज/ सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के नवीनतम पाठ्यक्रम पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी| अगर कोई विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं तो वे हमारे सामान्य ज्ञान सेक्शन में जाकर विभिन्न विषयों से संबंधित सामान्य ज्ञान के मुश्किल और आसान प्रश्नों को सामान्य ज्ञान क्विज के माध्यम से हल कर सकते हैं|
2. जनरल नॉलेज सूची: यह सेक्शन न केवल प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों की जरूरतों को पूरा करता है बल्कि यह सामान्य पाठकों के लिए भी बहुत उपयोगी है।
3. सामान्य ज्ञान  तथ्य: इस सेक्शन में पौराणिक कथाओं, विज्ञान, रक्षा आदि जैसे विभिन्न विषयों से संबंधित सामान्य ज्ञान पर आधारित शोध सामग्री उपलब्ध है|
हमारे सामान्य ज्ञान सेक्शन की सबसे महत्वपूर्ण एवं अनूठी विशेषता यह है कि इसमें पूरी अध्ययन सामग्री हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध है।
आइये अपने सामान्य ज्ञान को बढ़ाने के लिए सबसे मौलिक एवं प्रामाणिक अध्ययन सामग्री का लाभ उठाने की दिशा में शुरूआत करें|

view more

Newsletter Signup

Copyright 2017 Jagran Prakashan Limited.