Search

बैंक पीओ/ मैनेजमेंट ट्रेनी की भर्ती परीक्षा हेतु रणनीति

बैंक में पीओ बनने का क्रेज युवाओं में इस समय सिर चढकर बोल रहा है

Mar 21, 2012 18:11 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

बैंक में पीओ बनने का क्रेज युवाओं में इस समय सिर चढकर बोल रहा है। इसका प्रमुख कारण यह है कि बदलते माहौल में बैंक की परीक्षा युवाओं के लिए काफी आकर्षक और सुविधाजनक हो गई है। आप एक परीक्षा पास करके पब्लिक सेक्टर की 19 बैंकों में प्रोबेशनरी ऑफिसर और मैनेजमेंट ट्रेनी की अगली परीक्षा के लिए योग्य हो जाते हैं। अगर आप इस पद के लिए गंभीर हैं, तो आपके लिए इस समय बेहतरीन अवसर है। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 मार्च और परीक्षा की तिथि 17 जून, 2012 है।

क्या आप योग्य हैं?


बैंक में पीओ और मैनेजमेंट ट्रेनी के लिए ग्रेजुएट होना आवश्यक है। जनरल केटेगरी के लिए अधिकतम उम्र सीमा 30 वर्ष और न्यूनतम उम्र सीमा 21 वर्ष निर्धारित है। ओबीसी के लिए अधिकतम उम्र सीमा में तीन वर्ष, एससी, एसटी के लिए 5 वर्ष और समाज के विकलांग व्यक्तियों के लिए दस वर्ष तक की छूट का प्रावधान है।

सिर्फ दो स्तरीय होगी परीक्षा

पब्लिक सेक्टर कीबैंकों में प्राय: प्रोबेशनरी ऑफिसर पदों के लिए दो स्तरीय परीक्षाएं हो रही है। पहले चरण में लिखित परीक्षा तथा दूसरे में ग्रुप डिस्कशन व इंटरव्यू होता है। पहले चरण में क्वालिफाइंग मा‌र्क्स हासिल करने वाले कैंडिडेट को दूसरे चरण के लिए बुलाया जाता है। दोनों चरणों में प्राप्त मा‌र्क्स के आधार पर ही अंतिम मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है। लिखित परीक्षा के पहले चरण में वस्तुनिष्ठ अर्थात ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाते हैं। अंग्रेजी भाषा, तर्कशक्ति परीक्षण, मैथ्स, बैंकिंग से संबंधित सामान्य और कंप्यूटर से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे। इसके अलावा अंग्रेजी में वर्णनात्मक प्रकार के प्रश्न पूछे जाएंगे। डिसक्रिप्टिव पेपर के अंतर्गत एस्से, प्रेसिस, लेटर राइटिंग से प्रश्न पूछे जाएंगे। इसमें मिनिमम क्वालीफाइंग मा‌र्क्स लानेवाले स्टूडेंट्स के ही ऑब्जेक्टिव पेपर देखे जाएंगे। उसके बाद एक स्कोर कार्ड मिलेगा, जिसमें आपके प्राप्त अंक रहेंगे। इस स्कोर कार्ड की मान्यता एक वर्ष तक रहेगी। कहने का आशय यह है कि आपको एक वर्ष तक 19 सार्वजनिक बैंकों में लिखित परीक्षा नहीं देनी होगी। आपको सिर्फ ग्रुप डिस्कशन या इंटरव्यू अथवा दोनों के लिए बुलाया जाएगा। इसमें सफल होने के बाद आप उस बैंक में मैनेजमेंट ट्रेनी या पीओ बनने के योग्य हो जाएंगे।

निगेटिव मार्किग का है प्रावधान

इस परीक्षा में निगेटिव अंक का प्रावधान है। यदि आप एक प्रश्न गलत करते हैं, तो आपके एक सही प्रश्नों के प्राप्त किए गए अंकों में से एक चौथाई अंक काट लिए जाएंगे। इस कारण आप उन्हीं प्रश्नों को हल करें, जिसे अच्छी तरह से जानते हों। यदि आप उत्तर नहीं जानते हैं, तो गलत उत्तर देने से बचें।

परीक्षा के ट्रेंड से रहें अवगत

किसी भी परीक्षा की अच्छी तैयारी तभी कर पाएंगे, जब आपको संबंधित विषय की जानकारी होगी। इसके लिए सबसे पहले प्रश्नों के पैटर्न को देखें। बेहतर होगा कि पिछले वर्षो के प्रश्नपत्रों के आधार पर तैयारी की योजना बनाएं। वस्तुनिष्ठ परीक्षा में यदि प्रश्नों को तेजी और शुद्धता से हल करने की आदत नहीं है, तो अधिकांश प्रश्नों के जवाब दे पाना संभव नहीं है।

ऐसी स्थिति से बचने के लिए अधिक से अधिक संख्या में प्रश्नों को सही हल करने का अभ्यास करें। गणित के प्रश्नों को शॉर्टकट फार्मूले से हल करने का प्रयास करें। रीजनिंग और न्यूमेरिकल के लिए विश्वसनीय पुस्तकें पढे एवं पत्रिकाओं की मदद से प्रैक्टिस सेट हल करें। अंग्रेजी के लिए ग्रामर की प्रामाणिक पुस्तक पढें और अंग्रेजी दैनिक समाचार पत्रों की सहायता से शब्द भंडार बढाते रहें। अपनी तैयारी को बेहतर शेप देने के लिए आप अभ्यास के दौरान एक लिस्ट बनाते चलें। इस लिस्ट में अपनी गलतियों को लिखें। गलतियों से सीखते हुए अपनी कमजोरियों को दूर करने की कोशिश करें।

अंतिम परीक्षा है अहम


यदि लिखित परीक्षा पास कर जाते हैं, तो इंटरव्यू में एंट्री करेंगे। यह अंतिम परीक्षा है। इस कारण बहुत से अभ्यर्थी इसके नाम से ही नर्वस हो जाते हैं। इस संबंध में सफल अभ्यर्थी और विशेषज्ञों का यही कहना है कि इसमें आत्मविश्वास का अहम रोल होता है। इस कारण आप किसी भी प्रश्नों का उत्तर टू दी प्वाइंट दें।

यदि नहीं जानते हैं, तो गलत उत्तर देने से बचें। आप यह सोचकर जाएं कि सभी प्रश्नों का उत्तर सभी व्यक्ति नहीं दे सकते है। जहां तक प्रश्न पूछने की बात है, तो प्राय: सभी इंटरव्यू करेंट से संबंधित होते हैं। इस कारण आप देश-विदेश की प्रमुख घटनाओं, खेलों, संधियों पर बारीक नजर रखें। इसमें ओवरकॉन्फिडेंस से बचें। इंटरव्यू व्यक्तित्व परीक्षण का एक भाग है, जिसके माध्यम से आपके व्यक्तित्व का मूल्यांकन किया जाता है। अपने बेहतर व्यक्तित्व को बिना किसी झिझक के आगे लाएं।

कमियां है, तो उसे समय रहते दूर करें। यदि इस तरह की सोच के साथ इंटरव्यू और जीडी में जाते हैं, तो कोई कारण नहीं कि आप इसमें सफल न हो सकें। अधिक जानकारी के लिए आप वेबसाइट से संपर्क कर सकते हैं।

पीओ व मैनेजमेंट ट्रेनी परीक्षा

ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि : 30 मार्च

परीक्षा की तिथि : 17 जून

विजय झा

 

Related Stories