Search

जानिए पहली बार में MBA जॉब इंटरव्यू क्रैक करने के ये खास टिप्स

अगर आप अपना MBA प्रोग्राम सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद पहली बार कोई जॉब इंटरव्यू देने वाले हैं तो स्वाभाविक रूप से आप कुछ घबरा रहे होंगे. लेकिन यहां हम आपकी इस चिंता और घबराहट को दूर करने के लिए कुछ ऐसे खास टिप्स पेश कर रहे हैं जिन्हें फॉलो करने पर आप बड़ी आसानी से अपना जॉब इंटरव्यू क्रैक कर लेंगे.

Sep 18, 2019 18:10 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

भारत में हर साल प्लेसमेंट सीजन MBA कैंडिडेट्स के लिए काफी स्ट्रेसफुल होता है. इसका सबसे बड़ा कारण तो यह है कि हमारे देश की जानी-मानी कंपनियों के साथ इंटरनेशनल लेवल पर सुप्रसिद्ध मल्टी नेशनल कंपनियां भी MBA स्टूडेंट्स को हायर करने के लिए जॉब इंटरव्यू लेती हैं और ऐसे में अधिकतर स्टूडेंट्स अपना जॉब इंटरव्यू पहली ही बार में क्रैक करने के लिए काफी स्ट्रेस महसूस करते हैं. ये स्टूडेंट्स आकर्षक सैलरी पैकेज पर अपनी मनचाही कंपनी में अपनी पहली जॉब ज्वाइन तो करना चाहते हैं लेकिन दिक्कत तो तब आती है जब उनके अपने कैंपस में पढ़ने वाले उन स्टूडेंट्स के कलीग्स और अन्य स्टूडेंट्स जॉब इंटरव्यू के दौरान उन MBA स्टूडेंट्स के कॉम्पीटीटर बन जाते हैं. इसी तरह, शुरू में इन फ्रेशर स्टूडेंट्स को अपनी ड्रीम कंपनी या सैलरी पैकेज चुनने के बारे में भी काफी कन्फ्यूजन रहता है क्योंकि स्टूडेंट लाइफ और प्रैक्टिकल प्रोफेशनल लाइफ में जमीन-आसमान का अंतर होता है. दरअसल, केवल काबिलियत और एजुकेशनल क्वालिफिकेशन ही किसी कैंडिडेट को जॉब इंटरव्यू में सफलता नहीं दिलवाते हैं बल्कि ऐसे अनेक खास टिप्स हैं जिनको फॉलो करने से कोई भी MBA स्टूडेंट अपने पहले जॉब इंटरव्यू में ही शानदार सफलता हासिल कर सकता है. आइये इस विषय पर आगे विस्तार से विचार करते हैं:

कुछ अन्य फैक्ट्स या अनसुलझे सवाल भी होते हैं जो MBA स्टूडेंट्स को अक्सर परेशान करते रहते हैं जैसेकि: 

  • क्या यह सही कंपनी है जिसमें मैं इस वक्त इंटरव्यू दे रहा हूं?
  • मुझे कितनी सैलरी मिलेगी?
  • क्या मुझे मिलने वाली सैलरी से मेरी एजुकेशन में इन्वेस्ट किये गए पैसों की भरपाई हो पाएगी?
  • क्या मेरा रिज्यूम इंटरव्यूअर को प्रभावित करेगा या फिर मुझे दूसरा रिज्यूम बनाना चाहिए?
  • मैं इंटरव्यूअर्स के साथ कैसे इंटरैक्ट करूंगा?
  • पहली नज़र में अपने इंटरव्यूअर्स को प्रभावित करने के लिए मुझे क्या करना चाहिए?
  • मैं अपने एक्सीलेंट स्किल्स को इंटरव्यूअर्स के सामने कैसे दिखाऊं ?

ये कुछ ऐसे सवाल हैं जो अक्सर स्टूडेंट्स के मन में उठते हैं और इन सवालों के सही उत्तर की तलाश में MBA स्टूडेंट्स अक्सर परेशान रहते हैं.

 

mba interview, job interview

हमारा मानना ​​है कि अगर आप अपनी एक्सीलेंट प्रोफ़ाइल और ग्रेड के साथ-साथ कुछ बुनियादी इंटरव्यू टिप्स का ख्याल रखते हैं तो यकीनन, आपका सेलेक्शन पहली ही बार में हो सकता है. अपने बी-स्कूल इंटरव्यू में पहली ही बार में सफलता हासिल करने के लिए आप नीचे दिए गए कुछ खास टिप्स  पर जरुर गौर करें:

इन टिप्स का इंटरव्यू से पहले रखें ख्याल

  • कंपनी के बारे में करें अच्छी तरह रिसर्च: पहला MBA जॉब इंटरव्यू किसी भी MBA कैंडिडेट के लिए जीवन का एक महत्वपूर्ण फेज होता है क्योंकि इसी समय स्टूडेंट्स अपने करियर के बारे में निर्णय लेते हैं. यदि कैम्पस में आने वाली सभी कंपनियों के विषय में जानना संभव न हो तो कम से कम जिस कंपनी में आप इंटरव्यू देने जा रहे हैं उसके विषय में ए-टू-जेड तक सारी जानकारी प्राप्त करें. कंपनी और उसके इतिहास की पृष्ठभूमि, लौंच किये जाने वाले नए प्रोडक्ट्स या सेवाएं, उनके टारगेट ग्रुप्स, कंपनी का मिशन और विजन जैसे महत्वपूर्ण आस्पेक्ट्स जानें. ये कुछ ऐसे फैक्ट्स हैं जिन्हें आपकी टिप्स पर होना चाहिए क्योंकि इंटरव्यूअर किसी भी ऑर्गनाइजेशन में शामिल होने के पीछे की प्रेरणा और भावी नौकरी के बारे में जागरुकता के बारे में जानने के लिए आपसे कई सवाल कर सकते हैं.
  • सैलरीज़ के बारे में पता करें: जब आप अपने कैम्पस से बाहर कोई इंटरव्यू देने जा रहे हैं तो आप पोस्टग्रेजुएशन लेवल पर फ्रेशर्स को दी जाने वाली सैलरी के विषय में जरुर पता करें. आपको पता होना चाहिए कि हर कंपनी का सैलरी स्लैब अलग-अलग होता है. जब कैम्पस सेलेक्शन के तहत इंटरव्यू देते हैं तो रिक्रूटर्स आमतौर पर अपेक्षित सैलरी बैंड की घोषणा करते हैं. लेकिन, अगर आपको पहले से सैलरी बैंड नहीं बताया जा रहा है तो संबंधित इंडस्ट्री के सैलरी ट्रेंड्स के बारे में छानबीन करें और सही जानकारी प्राप्त करें.
  • अपना रिज्यूम सुव्यवस्थित करें: जी हां! अपने रिज्यूम को अपने जॉब इंटरव्यू के मुताबिक सुव्यवस्थित करें. दरअसल, आपका पहला इम्प्रैशन ही आपको कोई जॉब हासिल करने के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है. इंटरव्यूअर्स आपकी एकेडमिक खूबियों तथा एक्स्ट्रा करिकुलर एक्टिविटीज, वर्क एक्स्पेरेंस के साथ-साथ आपके कमजोर और सुदृढ़ पक्षों पर भी पूरा ध्यान देते हैं. इसलिए, आपको अपने रिज्यूम में अपने वर्क-स्किल्स का अच्छे तरीके से वर्णन करना चाहिए. इसके लिए आप अपने वर्क एक्सपीरियंस(यदि कोई हो), काबिलियत, प्रोजेक्ट्स या इंटर्नशिप के बारे में पर्सनल जानकारी को हाइलाइट करें. अपना रिज्यूम इस तरह बनायें कि यह इंटरव्यूअर्स को इम्प्रेस कर सके. नीचे एक रिज्यूम का उदाहरण दिया गया है जिसे देखकर आप इस टिप को काफी अच्छी तरह समझ सकते हैं.

job interview tips, interview techniques

 

  • समय की पाबंदी का है विशेष महत्व: किसी ने समय के महत्व को समझाते हुए लिखा है “एक महान दिन की शुरुआत एक रात पहले से ही शुरू होती है." यदि आप दिए गए किसी काम को समय पर पूरा करते हैं या फिर ऑफिस निर्धारित समय से 10-15 मिनट पहले ही पहुंचते हैं तो इससे अन्य एम्पलॉईज़ के साथ ही एम्प्लॉयर भी आपसे प्रभावित होते हैं और आपकी अच्छी छवि बनती है. यदि आप जॉब इंटरव्यू में इंटरव्यू के स्थान पर कुछ समय पूर्व ही पहुंच जाते हैं तो इससे आपकी सकारात्मक छवि बनती है तथा आपके सेलेक्ट होने की संभावना बढ़ जाती है.

इन टिप्स को इंटरव्यू के दौरान करें अच्छी तरह फॉलो 

यहां कुछ ऐसे टिप्स दिए जा रहे हैं जिन्हें आपको इंटरव्यू के दौरान अवश्य अपने ध्यान में रखकर  इंटरव्यू पैनल द्वारा पूछे गए सभी सवालों का जवाब देना चाहिए:

  • इंटरव्यू पैनल का करें अभिनंदन:इलिनोइस यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि हैंडशेक कैंडिडेट में आशावाद, क्षमता और भरोसा बढ़ाता है. इसलिए, अपना हैंडशेक फर्म रखें, हथेली को हथेली से पकड़ कर हाथ मिलाएं. रिक्रूटर्स या इंटरव्यूअर का जोश से अभिवादन करें. चेहरे पर एक हल्की मुस्कान रखें और उनसे आंखे मिलाकर बातें करें. बहुत लम्बे समय तक हाथ न मिलाते रहें. इससे ऐसा लग सकता है कि आप इंटरव्यू के बारे में परेशान हैं या फिर असंवेदनशील हैं.       
  • आपका बॉडी पोस्चर हो सही: जब आप इंटरव्यू दे रहे होते हैं तो इंटरव्यूअर्स द्वारा आपके बॉडी पोस्चर पर बहुत ध्यान दिया जाता है. एक्सपर्ट की राय है कि इस समय कुर्सी को खींचें नहीं और उस पर आत्मविश्वास के साथ रीढ़ की हड्डी सीधी रखते हुए बैठें. कुर्सी पर बैठकर पैरों के बीच क्रॉस नहीं बनाएं. सामान्य और स्वाभाविक पोश्चर में बैठें. बातचीत करते समय अपने सिर को सीधा रखें क्योंकि यह आपके आत्मविश्वास को दर्शाता है और आपको शांत और रिलैक्स दिखाता है.
  • उपयुक्त आई कॉन्टेक्ट बनाएं: आई कॉन्टेक्ट एक और महत्वपूर्ण पहलू है जो आपके दिमाग की स्थिति को प्रदर्शित करता है. इंटरव्यू के दौरान आई कॉन्टेक्ट बनाए रखना आवश्यक होता है. इससे आप इंटरव्यूअर के सामने अपनी मानसिक सुदृढ़ता का परिचय दे पाएंगे. यदि आप ऐसा नहीं कर पाते तो इससे आपमें आत्मविश्वास की कमी झलकती है.
  • विनम्र लेकिन दृढ़ रहें:  इंटरव्यूर के साथ आपकी बातचीत का यह एक बहुत महत्वपूर्ण पहलू है. वे आपको सुनने के लिए तैयार रहते हैं और आपके व्यक्तित्व की विभिन्न बारीकियों का पता लगाते हैं. आपका शिष्टाचार ही आपके सच्चे व्यक्तित्व को प्रतिबिंबित करेगा. उत्तर देने के दौरान विनम्र रहें और किसी इंटरेस्टेड सब्जेक्ट पर अपने विचार व्यक्त करते समय बोर्ड पर हावी न हों. अगर आपके विचार से इंटरव्यूअर्स सहमत नहीं हैं तो उनके साथ बहस न करें लेकिन विनम्र शब्दों में और दृढ़तापूर्वक अपनी राय दें.

इंटरव्यूअर से बात करते समय अनौपचारिक न हों. यह आपके आस-पास की स्थिति के प्रति आपके आकस्मिक दृष्टिकोण को इंगित कर सकता है. इंटरव्यू देने से पहले पूछे जा सकने वाले प्रश्नों की एक लिस्ट तैयार करें और उनकासमुचित उत्तर देने की काफी प्रैक्टिस पहले ही कर लें. आप जिस कंपनी में अप्लाई करते हैं उसके आधार पर जवाबों का उत्तर दें या विचारपूर्वक जवाब दें. 'सेवज चिकन' कॉमिक स्ट्रिप में नीचे दी गई स्थिति में आपका इंटरव्यू समाप्त नहीं होना चाहिए.

 

job interview tips, interview techniques

 

बातचीत के दौरान प्लीज और थैंक्यू कहना न भूलें.

  • अपने काम के बारे में रहें ईमानदार: अपनी उपलब्धियों और काम के बारे में ईमानदार होना बहुत ही जरुरी है. इंटरव्यूअर से उस काम के बारे में कभी भी झूठ मत बोलिए जिसे आप नहीं कर रहें हैं. यदि आप किसी प्रोजेक्ट के लिए टीम के काम में शामिल थे तो उसके सिर्फ उसी हिस्से का बयान कीजिये जिसमें आपने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है. टीम वर्क की हमेशा सराहना की जाती है. पूरे काम का क्रेडिट खुद ही लेने की कोशिश कभी न करें. जिस विषय में आपकी पकड़ मजबूत है, ऐसे विषय के बारे में इंटरव्यू के दौरान बातचीत करें. इससे आपको अपने इंटरव्यूअर को इम्प्रेस करने में बहुत मदद मिलेगी.
  • अगर जरुरत पड़े तो इंटरव्यूअर से पूछेंप्रश्न: जिज्ञासा हमेशा गलत नहीं होती है. आवश्यकता पड़ने पर उत्सुक होना अच्छा होता है. इन दिनों, रिक्रूटर्स  कैंडिडेट को प्रश्न पूछने या आवश्यकता पड़ने पर स्पष्टीकरण देने का मौका भी देते हैं. आप कुछ सामान्य प्रश्न पूछ सकते हैं जैसे कि "क्या आप मुझे मेरे जॉब प्रोफाइल पर काम करने वाले किसी अन्य एम्पलॉयी से मिलवा सकते हैं? इसके अतिरिक्त आप अपने जॉब प्रोफाइल से जुड़े कार्यों तथा जिम्मेदारियों के विषय में भी इंटरव्यूअर्स से प्रश्न पूछ सकते हैं. आप अपनी जॉब प्रोफाइल में विकास की संभावनाओं के बारे में भी प्रश्न पूछ सकते हैं.

इन टिप्स को अपने जॉब इंटरव्यू के बाद जरुर करें फॉलो

  • एचआर पर्सनल्स के साथ जरुर संपर्क करें: इंटरव्यूअर या एचआर पर्सनल्स के साथ फॉलो-अप कॉल उस जॉब में आपकी रूचि को प्रदर्शित करता है. अकाउंटएम्प्स की एक सर्वे स्टडी के अनुसार एचआर पर्सनल्स नीचे दिए गए तरीकों से भावी एम्पलॉईज़ के साथ संपर्क करना पसंद करते हैं:
  • ईमेल - 87%
  • फोन कॉल - 81%
  • हैंडरिटन नोट - 38%
  • सोशल मीडिया - 27%
  • टेक्स्ट मैसेज- 10%

किसी भी एचआर मैनेजर को अप्रोच करने के लिए इस डाटा पर आप जरुर अच्छी तरह विचार करें. इसलिए, हमारी यह सलाह है कि आप एचआर पर्सनल्स से संपर्क करने के लिए ईमेल या फोन कॉल का ही इस्तेमाल करें.

 

 

job interview tips, interview techniques

 

कॉल करते समय आप नीचे प्रस्तुत तरीके से बातचीत कर सकते हैं तथा बातचीत को सुचारू रूप से जारी रखने के लिए नीचे दिए गए नमूने का उपयोग कर सकते हैं:

हेलो मिस्टर XYZ! मैं श्वेता सामंत बोल रही हूं. कल मैंने कंटेंट राइटर के लिए इंटरव्यू दिया था और मुझसे मिलने के लिए समय देने के लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद. मुझे अपने भावी जॉब प्रोफाइल से जुड़े विषयों में पूर्ण जानकारी देने के लिए आपको और पैनल के मेम्बर्स को भी धन्यवाद. मुझे आप लोगों से मिलकर खुशी हुई. अगर मेरे विषय में आपको कोई भी जानकारी मुझे देनी हो तो आप मेरे मोबाइल नंबर पर संपर्क करें (अपना मोबाइल नंबर दें). एक बार फिर से धन्यवाद. मुझे आशा है कि आपकी तरफ से मुझे पोजिटिव खबर मिलेगी.

  • सोशल मीडिया पर अपने इंटरव्यू का प्रचार न करें:कभी भी अपने इंटरव्यू के बारे में कुछ भी सोशल मीडिया पर शेयर न करें. हो सकता है कि इंटरव्यूअर आपके सोशल मीडिया प्रोफाइल के माध्यम से आपने व्यक्तित्व को समझने की कोशिश करे. संभावित रिक्रूटमेंट मैनेजर या एचआर प्रोफेशनल्स को फ्रेंड रिक्वेस्ट भी न भेजें. भावावेश में आकर किये गए ये सभी कार्य आपकी गलत छवि बना सकते हैं.
  • फॉलो-अप इंटरव्यू के लिए रहें तैयार:फॉलो-अप इंटरव्यू आपके लिए अपने पहले इंटरव्यू में छोड़े गए इम्प्रैशन को समझने के लिए एक पहल हो सकता है. फॉलो-अप इंटरव्यू में आप व्यक्तिगत और प्रोफेशनल लेवल पर अपने विषय में सहजता से जान सकते हैं क्योंकि इंटरव्यूअर से इस समय आराम से बातचीत करने की उम्मीद होती है. आखिरकार, भावी एम्प्लॉयर आपको अपने ऑफिस में जॉब देने के अपने निर्णय की पुष्टि करना चाहता है.

इसके लिए आप अपने स्किल्स के विषय में गहराई से तैयारी करें. इस दौरान इंटरव्यूअर आपसे यह पूछ सकता है कि यदि आपको किसी काम से 6 महीने के लिए बाहर भेजा जाय तो आप जाने को राजी होंगे या नहीं. यह इंटरव्यू आपका मनोवैज्ञानिक टेस्ट होगा और यह निर्धारित करेगा कि आप कंपनी के लिए उपयुक्त हैं या नहीं.

ये सभी टिप्स MBA जॉब इंटरव्यू की तैयारी में मददगार साबित होंगे. आशा है कि स्टूडेंट्स इनका सही तरीके से इस्तेमाल करके अपने लिए जरुर एक सूटेबल जॉब हासिल कर लेंगे. हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं!

Related Stories