Are you worried or stressed? Click here for Expert Advice
Next

UP बोर्ड के 46 स्कूलों ने अब तक नहीं दिया इंटरनल मार्क्स की सूचि

Tabassum Ara

UP Board एग्जाम के बाद 46 स्कूलों ने छात्रों के आंतरिक नंबरों (internal marks) को वेबसाइट पर अब तक अपलोड नहीं किया है. जिला विद्यालय निरीक्षक ने रविवार को सभी स्कूल प्रबंधनों को एक ख़ास निर्देश दिया है जिसके अंतर्गत इन सभी स्कूलों को सोमवार तक छात्रों के आंतरिक नंबरों को अपलोड करने का आदेश मिला है. साथ ही यह भी कहा है कि यदि लापरवाही हुई तो इन स्कूलों के छात्रों के रिजल्ट में देरी भी हो सकती है.

डीआईओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि बोर्ड के नियमानुसार सभी स्कूलों को अपने-अपने यहां के बोर्ड के छात्रों (हाईस्कूल इंटरमीडिएट) के आंतरिक नंबर ऑनलाइन अपलोड करने थे. इसके लिए करीब एक महीने का समय भी स्कूलों को दिया गया था अर्थात इसके बावजूद अब तक कुल 46 स्कूलों ने छात्रों के आंतरिक नंबर अपलोड नहीं किए हैं. डीआईओएस ने ये भी बताया कि इन सभी स्कूलों को नोटिस भेज दी गई है. इसे पूरा करने के लिए सभी स्कूलों को केवल सोमवार तक का समय दिया गया है.

 

स्कूल प्रबंधन पर हो सकती है कारवाई:

डीआईओएस ने बताया कि यदि इन स्कूलों ने छात्रों के नंबर सोमवार तक अपलोड नहीं किए तो सीधे तौर पर इसका छात्रों के रिजल्ट पर प्रभाव पड़ेगा. उन्होंने बताया कि मूल्यांकन का काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा. ऐसे में यदि बोर्ड के पास समय से आंतरिक नंबर उपलब्ध नहीं होंगे तो ऐसे छात्रों का रिजल्ट बनाना मुश्किल होगा. इसलिए तय समय में अब जो भी स्कूल आंतरिक नंबर नहीं भेजेंगे, वहां के प्रबंधन पर कार्रवाई की जाएगी.

हालाकी ख़बरों के मुताबिक UP Board कक्षा 10वीं तथा 12वीं का रिजल्ट अप्रैल के दुसरे या तीसरे हफ्ते में आने की संभावना है. ऐसे ऐसी परिस्तिथि में यदि समय पर इन स्कूलों द्वारा छात्रों के आंतरिक नंबर वेबसाइट पर अपलोड नहीं हुए तो इन छात्रों को रिजल्ट में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

Trending Now

शुभकामनाएं !!

UP Board 2018: नतीजें जो भी हों बढ़ाए बच्चों का आत्मविश्वास

पढ़ाई में कैसे नहीं लगेगा मन, अपनाएं ये 5 तरीके

SC/ST/OBC छात्रों के लिए बिहार स्टेट पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति 2018

Related Categories

Live users reading now