Advertisement

बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं विज्ञान साल्व्ड प्रश्न पत्र 2018

बिहार बोर्ड 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए हम लाये हैं बोर्ड परीक्षा 2018 का विज्ञान विषय का हल किया गया प्रश्न पत्र. इस साल्व्ड प्रश्न पत्र का अभ्यास करने से आप बोर्ड द्वारा पिछले वर्ष प्रश्न पत्र के पैटर्न में किये बदलावों को जान सकते हैं और साथ ही प्रश्नों के सही उत्तर लिखने का ढंग भी समझ सकते हैं.

बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं विज्ञान साल्व्ड प्रश्न पत्र 2018 में क्या है खास?

  • सभी प्रश्न एक्सपर्ट्स द्वारा सुलझाये गये हैं.
  • प्रश्नों में इस्तेमाल किये कांसेप्ट्स की व्याख्या सरल तरीके से की गई है.
  • प्रत्येक प्रश्न का उत्तर उसके भार विभाजन के अनुसार ही लिखा गया है.
  • सभी उत्तर PDF के रूप में उपलब्ध कराए गये हैं.

बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं विज्ञान प्रश्न पत्र 2018

बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं विज्ञान साल्व्ड प्रश्न पत्र में से कुछ प्रश्न व् उनके उत्तर नीचे दिए गये हैं:

प्र. ऐमीटर और वोल्टमीटर को विद्दयुत परिपथ के साथ क्रमशः श्रेणी एवं समांतर क्रम में क्यों जोड़ा जाता है?

उत्तर.

सर्किट के माध्यम से बहने वाले प्रवाह को मापने के लिए एक एमिमीटर का उपयोग किया जाता है। क्योंकि श्रेणी क्रम में धारा का प्रवाह समान रहता है और एक एमिमीटर का प्रतिरोध बहुत कम होता है जिसकी वजह से परिपथ की धारा  पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता और हम एमिमीटर से धारा का उचित मान ज्ञात कर पाते हैं.

सर्किट में दो बिंदुओं में संभावित अंतर को मापने के लिए एक वोल्टमीटर का उपयोग किया जाता है. क्योंकि समांतर क्रम में शाखाओं में वोल्टेज समान रहता है, और वोल्टमीटर का प्रतिरोध बहुत अधिक होता है जिसके कारण वोल्टमीटर से बहुत कम धारा प्रवाहित होती है जिससे दो बिंदुओं में संभावित अंतर का उचित मान ज्ञात हो सके.

प्र. जीवश्मी ईंधन की क्या हानियाँ हैं?

उत्तर.

जीवाश्म की निम्नलिखित हानियाँ हैं:
(i) जीवाश्म ऊर्जा का अनवीकरणीय स्रोत हैं जो कि सीमित हैं.
(ii) इसके ज्वलन से कार्बन, नाइट्रोजन और सल्फर के ऑक्साइड्स उत्पन्न होते हैंजो स्वस्थ्य के लिए हानिकारक होते हैं. ये जल और भूमि संसाधनों पर भी बुरा प्रभाव डालता है.
(iii) कार्बन डाइऑक्साइड ग्रीन हाउस प्रभाव से वातावरण तापमान में वृद्धि होती है.

प्र. पोषी स्तर क्या है? एक आहार श्रृंखला का उदाहरण दीजिये.

उत्तर.

आहार श्रंखला में उत्पादक और उपभोक्ता का स्थान ग्रहण करने वाले जीव जीवमंडल को कोई संरचना प्रदान करते हैं और इसे पोषी स्तर कहते हैं.

उदाहरण: घास - कीड़ा - मेढ़क - साँप - गिद्ध 

(a) घास आहार शृंखला का प्रथम पोषी स्तर है. यह अपना भोजन स्वयं तैयार करती है.

(b) कीड़ा आहार शृंखला का द्वितीय पोषी स्तर है.

(c)  मेढ़क तृतीय पोषी स्तर है तथा यह घास खाता है.

(d) साँप इस शृंखला का चौथा पोषी है.

(e) गिद्ध इस शृंखला का पाँचवा व अंतिक पोषी स्तर है.

प्र. दो विद्दयुत लैंप जिनमे से एक का अनुमतांक 100W, 220V तथा दुसरे का 60W, 220V है, विद्दयुत मेंस के साथ पार्श्वक्रम में संयोजित है. यदि विद्दयुत आपूर्ति की वोल्टता 220V है तो विद्दयुत मेंस से कितनी धारा ली जाती है?

उत्तर.                    

क्योंकि दोनों विद्दयुत लैंप विद्दयुत मेंस के साथ पार्श्वक्रम में संयोजित हैं, इसलिए, उनमें से प्रत्येक में संभावित अंतर एक समान होगा जो कि 220V है.

100W वाले लैंप से प्रवाहित धारा, I1 = P1/V = 100/220 = 0.4545A  

इसी प्रकार, 100W वाले लैंप से प्रवाहित धारा, I2 = P2/V = 60/220 = 0.2727A 

∴ विद्दयुत मेंस से में प्रवाहित धारा, I = I1 + I2 = 0.4545 + 0.2727 = 0.727A

पूरा साल्व्ड प्रश्न पत्र नीचे दिए गये लिंक से डाउनलोड करें:

बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं विज्ञान साल्व्ड प्रश्न 2018

बिहार बोर्ड कक्षा 10वीं विज्ञान साल्व्ड प्रश्न पत्र को पढ़ने के बाद छात्रों को परीक्षा के पैटर्न, मार्किंग स्कीम, सवालों का स्वरूप तथा उनके सही उत्तर लिखने के तरीके के बारे में जानकारी मिलेगी और वे उसी के मुताबिक अपना स्टडी प्लान बना सकेंगे जिससे वे बोर्ड परीक्षा की तैयारी को आसान व असरदार बना सकें.  

बिहार बोर्ड परीक्षा से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी तथा परीक्षा की तैयारी के लिए जरूरी सामग्री पाने के लिए यहाँ क्लिक करें.

Advertisement

Related Categories

Advertisement