Advertisement

BPSC प्रीलिम्स विगत वर्षों के श्रेणीवार कट ऑफ

प्रतिष्ठित BPSC परीक्षा में हर साल बड़ी संख्या में उम्मीदवार शामिल होते हैं। कठोर प्रतिस्पर्धा के कारण कट ऑफ हर साल बदलता रहता है। BPSC ने 16 दिसंबर 2018 को प्रीलिम्स परीक्षा आयोजित की। इस लेख में हम BPSC द्वारा आयोजित पिछली परीक्षाओं के कट ऑफ की चर्चा करेंगे ताकि उम्मीदवारों को इस वर्ष की परीक्षा के लिए सुरक्षित स्कोर का पता चल सके। इस आलेख से 16 दिसंबर 2018 को आयोजित BPSC प्रीलिम्स के सुरक्षित स्कोर के बारे में जानने में मदद मिलेगी।

BPSC Prelims 2018: Expected Cut-Off

BPSC Prelims 2018: Answer Key

1 जुलाई, 2018 को आयोजित 63 वीं BPSC में; मुख्य परीक्षा के लिए 4353 उम्मीदवारों को योग्य घोषित किया गया था। प्रीलिम्स परीक्षा में कुल 90697 उम्मीदवार शामिल हुए थे। 63 वीं BPSC में, अलग-अलग श्रेणी का कट ऑफ नीचे दिया गया है। कट ऑफ 150 पूर्णांक में से है।

श्रेणी

कट ऑफ

UR

96

UR (Female)

86

SC

84

SC (Female)

73

ST

89

ST (Female)

78

EBC

88

EBC (Female)

77

BC

93

BC (Female)

84

VH

74

HH

72

OH

83

बिहार के स्वतंत्रता सेनानियों के पोते व पोतियाँ

81

BPSC Prelims 2018: Question Paper

60-62 वीं BPSC 12 फरवरी, 2017 को आयोजित किया गया था; 160086 उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में शामिल हुए और इनमें से 8282 उम्मीदवारों को मुख्य परीक्षा के लिए योग्य घोषित किया गया। 60-62 वीं BPSC में, अलग-अलग श्रेणी का कट ऑफ नीचे दिया गया है। कट ऑफ 150 पूर्णांक में से है।

श्रेणी

कट ऑफ

UR

97

UR (Female)

86

SC

83

SC (Female)

68

ST

89

ST (Female)

78

EBC

89

EBC (Female)

75

BC

93

BC (Female)

81

VH

74

HH

73

OH

86

बिहार के स्वतंत्रता सेनानियों के पोते व पोतियाँ

82

15 मार्च, 2015 को आयोजित 56-59 वीं BPSC में; प्रारंभिक परीक्षा में 247273 उम्मीदवार शामिल हुए थे, जिनमें से 28308 उम्मीदवारों को मुख्य परीक्षा के लिए योग्य घोषित किया गया था। 56-59 वीं BPSC में, अलग-अलग श्रेणी का कट ऑफ नीचे दिया गया है। कट ऑफ 150 पूर्णांक में से है।

श्रेणी

कट ऑफ

UR

87

SC

72

ST

70

EBC

76

BC

82

BC (Female)

73

VH

58

DD

45

OH

73

पिछले वर्ष की BPSC परीक्षा में 150 पूर्णांक में से अनारक्षित श्रेणी के कट ऑफ का तुलनात्मक चित्रण यहां दिया गया है:

परीक्षा में कट ऑफ का निर्णय कई कारकों द्वारा होता है जैसे उम्मीदवारों की संख्या, रिक्तियों की संख्या, कठिनाई का स्तर, नकारात्मक अंक का प्रावधान आदि। BPSC कट ऑफ में उतार-चढ़ाव देखा जा सकता है इसलिए, उम्मीदवारों को यह सलाह दी जाती है कि उन्हें इन सभी कारकों को दिमाग में रखना चाहिए जो कट ऑफ को प्रभावित कर सकते हैं। हालांकि पिछले रुझानों का विश्लेषण करने के बाद भी कोई अनुमान लगाना मुश्किल है, लेकिन हम सुरक्षित स्कोर का अनुमान लगा सकते हैं।

Advertisement

Related Categories

Advertisement