BPSC मुख्य परीक्षा के विगत वर्षों के कट-ऑफ

BPSC मुख्य परीक्षा 2018 जल्द ही आयोजित होने की उम्मीद है। BPSC प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम अभी घोषित नहीं किया गया है। BPSC प्रीलिम्स परीक्षा केवल क्वालीफाइंग होती है, इसलिए, इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि उम्मीदवार का परीक्षा में कितना अच्छा स्कोर आया। हालांकि, BPSC मुख्य परीक्षा केवल क्वालीफाइंग नहीं है। मुख्य परीक्षा में प्राप्त अंकों को अंतिम मेरिट सूची में जोड़ा जाता है। इसलिए, उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे मुख्य परीक्षा में कट-ऑफ से अधिक स्कोर करें, ताकि सफलता की उनकी संभावना बढ़ सके।

BPSC Top Posts

इस लेख में, हम BPSC मुख्य परीक्षा के पिछले कट-ऑफ प्रदान कर रहे हैं ताकि उम्मीदवारों को BPSC मुख्य परीक्षा के सुरक्षित स्कोर का अंदाजा हो सके। इससे पहले कि हम BPSC मुख्य परीक्षा की कट-ऑफ पर चर्चा करें, आइए उन कारकों की चर्चा करें जो किसी परीक्षा की कट-ऑफ को प्रभावित करते हैं।

कट-ऑफ इन कारकों पर निर्भर करता है:

1. रिक्तियों की संख्या

2. उम्मीदवारों की संख्या

3. प्रश्न पत्र का कठिनाई स्तर

रिक्तियों की संख्या

कट-ऑफ काफी हद तक इस कारक पर निर्भर करता है। रिक्तियों की संख्या यह तय करती है कि किसी परीक्षा की कट-ऑफ क्या होगी। इसे साधारणतया ऐसे समझा जा सकता है जब रिक्तियों की संख्या अधिक होती है, कट-ऑफ कम रहती है और यदि रिक्तियों की संख्या कम होती है, तो कट-ऑफ अधिक रहती है।

Salary and Promotion of DSP in BPSC

अभ्यर्थियों की संख्या

यह कारक उम्मीदवारों के बीच प्रतिस्पर्धा के स्तर को बताता है। तर्क सरल है: परीक्षा में उम्मीदवारों की संख्या अधिक हुई तो प्रतिस्पर्धा का स्तर उच्च होगा और इसलिए कट-ऑफ अधिक हो जाएगी।

प्रश्न पत्र का कठिनाई स्तर

परीक्षा के कट-ऑफ को तय करने में प्रश्न पत्र का कठिनाई स्तर भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यदि प्रश्नपत्र कठिन है तो यह उम्मीद की जाती है कि कट-ऑफ कम रहेगी और यदि प्रश्नपत्र आसान है तो यह उम्मीद की जाती है कि कट-ऑफ अधिक रहेगी।

BPSC Prelims Previous Year’s Cut-off

BPSC मुख्य परीक्षा की विगत वर्षों की कट-ऑफ

BPSC मुख्य परीक्षा केवल क्वालीफाइंग नहीं है। उम्मीदवारों द्वारा प्राप्त अंकों को अंतिम मेरिट सूची में माना जाता है। इसलिए, उम्मीदवारों को बेहतर स्कोर करने की आवश्यकता है। विगत वर्षों की कट-ऑफ उम्मीदवारों को इसमें मदद करेगी।

पहले के BPSC मुख्य परीक्षा के लिए श्रेणी -वार कट-ऑफ उपलब्ध नहीं है। कट-ऑफ केवल अनारक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध है।

BPSC परीक्षा

रिक्तियों की संख्या

कट-ऑफ (UR)

42nd

270

701

43rd

44

718

44th

97

714

45th

83

722

46th

103

724

47th

87

731

48th -52nd

366

742

BPSC Mains Exam 2018: Exam Pattern and Syllabus

53 वीं - 55 वीं BPSC मुख्य परीक्षा के लिए हमारे पास सभी श्रेणियों की लिखित परीक्षा की श्रेणी-वार कट-ऑफ है, लेकिन अंतिम कट-ऑफ केवल UR श्रेणी के लिए उपलब्ध है। उस समय कुल 970 रिक्तियां थीं। कट-ऑफ यहाँ दिया गया है:

श्रेणी

लिखित परीक्षा का कट-ऑफ

अंतिम कट-ऑफ

Unreserved

725

832

SC

648

-----

ST

642

-----

EBC

674

-----

BC

700

-----

BCL

667

-----

BPSC Mains Exam 2018: Tips and Strategy for Preparation

56 वीं - 59 वीं BPSC मुख्य परीक्षा के लिए हमारे पास लिखित परीक्षा की श्रेणी-वार कट-ऑफ और सभी श्रेणियों की अंतिम कट-ऑफ है। उस समय कुल 746 रिक्तियां थीं। कट-ऑफ यहाँ दिया गया है:

श्रेणी

लिखित परीक्षा का कट-ऑफ

अंतिम कट-ऑफ

Unreserved

743

848

SC

678

792

ST

643

794

EBC

701

831

BC

726

847

BCL

704

841

यह कट-ऑफ छात्रों को BPSC मुख्य परीक्षा में सुरक्षित प्राप्तांक का अनुमान लगाने में मदद करेगी। उम्मीदवारों को परीक्षा में सफलता की संभावना बढ़ाने के लिए मुख्य परीक्षा में अधिक अंक प्राप्त करने की आवश्यकता होती है।

Important Topics for BPSC Mains Exam 2018

Advertisement

Related Categories