BPSC Prelims 2018: टिप्स और रणनीति

बहुप्रतीक्षित BPSC Prelims परीक्षा होने ही वाली है। यह 16 दिसंबर 2018 को निर्धारित है। इसलिए, छात्रों के पास तैयारी के लिए अधिक समय नहीं बचा है। जो कुछ भी आपने अध्ययन किया है उसे परीक्षा के दृष्टिकोण से अब दुहराना शुरू कर दें ताकि अच्छे परिणाम प्राप्त किए जा सकें। ऐसा करने के लिए प्रतियोगियों को परीक्षा-उन्मुख अध्ययन योजना की आवश्यकता होती है। इस लेख में, हम कुछ सुझावों और रणनीति पर चर्चा करने जा रहे हैं।

Salary and Promotion of SDM in BPSC

तैयारी के लिए कुछ सामान्य सुझाव

हम सभी जानते हैं कि हर व्यक्ति का समझने का अपना तरीका होता है। लेकिन परीक्षा में, जब सभी को एक ही पाठ्यक्रम का पालन करना होता है, तो यह आवश्यक है कि परीक्षा की तैयारी करने के लिए कुछ आवश्यक तरीके अपनाए गए हों। उनमें से कुछ यहां दिए गए हैं:

• पहले BPSC परीक्षा के पूर्ण पाठ्यक्रम को पढ़ें और समझें।

• पूछे गए प्रश्नों की प्रकृति, गुणवत्ता और कठिनाई के स्तर को समझने के लिए BPSC के पिछले साल के प्रश्न पत्रों का संदर्भ लें। साथ ही, नियमित रूप से इनका अभ्यास करें।

• नोट्स बनाएं और इनका नियमित रूप से अध्ययन करते रहें।

• अपनी तैयारी के दौरान किताबें नहीं बदलें। केवल मानक किताबों का नियमित रूप से अध्ययन करते रहें।

• Current Affairs के लिए समाचार पत्र पढ़ने की आदत विकसित करें। हालांकि कभी-कभी समाचार पत्र नियमित रूप से पढ़ना संभव नहीं होता है, ऐसे में आप मासिक रूप से प्रकाशित Current Affairs की पत्रिकाओं को पढ़ सकते हैं।

• बिहार के इतिहास, भूगोल, संस्कृति, भाषाएं, मेले और त्यौहार पर एक व्यापक नोट तैयार करें।

• यदि संभव हो तो, ओएमआर शीट में उत्तर देने का अभ्यास करें, ऐसा तब करें जब आपके पास विषय पर अच्छी पकड़ हो।

• नियमित Test Series में शामिल हों ताकि आप वास्तव में परीक्षा के लिए तैयार हो सकें। निरंतर अभ्यास परीक्षा के डर को  आपके मन से निकालता है और आपको परीक्षा के लिए तैयार रखता है।

• परीक्षा व्यक्ति के धैर्य, अनुशासन और निरंतर अभ्यास को जांचता है। आप एक अच्छी समय सारणी विकसित करें और इसका पालन करें।

• Cuttent Affairs के लिए कम से कम एक घंटे का समय दें और आगामी Main Exam के लिए लिखने की आदत भी डालें। अक्सर, उम्मीदवार इसे भूल जाते हैं और अपने लेखन की गति खो देते हैं।

• जरूरत पड़ने पर सन्दर्भ के उद्देश्य से बिहार, भारत और दुनिया के नक्शे को अपने साथ रखें। उम्मीदवारों के लिए मैप्स का प्रयोग एक नियमित आदत होनी चाहिए क्योंकि इससे बहुत से प्रश्न परीक्षा में पूछे जाते हैं।

•  Pratiyogita Darpan और State GK पर एक अच्छी किताब से आप हमेशा जुड़े रहें।

• यदि संभव हो, तो Group Study का भी सहारा लिया जा सकता है जो बहुत उपयोगी हैं, लेकिन ध्यान रखें कि Group Study का उद्देश्य मनोरंजन नहीं होना चाहिए, बल्कि परीक्षा के दृष्टिकोण से रचनात्मक होना चाहिए।

• टीवी और मोबाइल फोन से खुद को बचाएं ताकि आप अपना समय सबसे अच्छे तरीके से उपयोग कर सकें।

• अपने आप को फिट और ठीक रखें। तनाव मुक्त रहे और घबराएं बिलकुल भी नहीं। यदि आप ठीक हैं तो चीजें अपने आप ठीक ही होंगी।

Salary and Promotion of DSP in BPSC

अध्ययन सामग्री और पुस्तकों के चयन से संबंधित रणनीति

आधुनिक जीवन में बहुत प्रतिस्पर्धा है और ऐसे में परीक्षा में अच्छी तरह से प्रदर्शन के लिए, व्यक्ति को अच्छी किताबों और अध्ययन सामग्री की आवश्यकता होती है। हम यहाँ पर कुछ मानक किताबें सूचीबद्ध कर रहे हैं जिन्हें व्यापक रूप से BPSC Exam के लिए उम्मीदवारों द्वारा पढ़ा जाता है। आने वाली परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को इन पुस्तकों को मार्गदर्शक बनाना चाहिए।

कक्षा 6 से 12 तक की एनसीईआरटी की पुस्तकें: एनसीईआरटी की किताबें हमेशा PCS Exam के छात्रों के लिए वरदान होती हैं। उम्मीदवारों को इन पुस्तकों के विषय वस्तु का अच्छा ज्ञान होना चाहिए ताकि वे परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन कर सकें क्योंकि ये किताबें पाठ्यक्रम को बहुत अच्छी तरह से कवर करती हैं।

सामान्य विज्ञान के लिए पुस्तक: एनसीईआरटी की किताबों को पढ़ने के अलावा, उम्मीदवारों को सामान्य विज्ञान की एक अच्छी किताब का अध्ययन करना चाहिए। इस उद्देश्य के लिए Lucent प्रकाशन की पुस्तक उपयोगी है। Arihant प्रकाशन द्वारा इस उद्देश्य के लिए प्रकाशित एक और पुस्तक Encyclopedia of General Science for General Competitions उपयोगी  है। यह विषय न केवल BPSC के लिए बल्कि अन्य PCS Exams के लिए भी महत्वपूर्ण है।

Last Minute Tips for BPSC Prelims

इतिहास की पुस्तकें: इतिहास उन विषयों में से एक है जो उम्मीदवारों के लिए किसी भी परीक्षा में अधिक प्रश्न ले कर आता है।जिन छात्रों के पास इस विषय का अच्छा ज्ञान है, वे परीक्षा में अपनी सफलता की संभावनाओं को बढ़ाते हैं। हम इस विषय के लिए कुछ मानक किताबें सूचीबद्ध कर रहे हैं:

ऐतिहासिक काल

पुस्तक का नाम

लेखक

Ancient Indian History

India’s Ancient Past

R.S. Sharma

Medieval Indian History

A History of Medieval India

Satish Chandra

Modern Indian History

History of Modern India

Bipan Chandra

Art and Culture

Indian Art and Culture

Nitin Sanghania

भूगोल की पुस्तकें: एक अन्य विषय जो परीक्षा में अधिक प्रश्न ले कर आता है वह भूगोल है। इस विषय में सफलता के लिए पहली जरुरत यह है कि उम्मीदवारों को एटलस से भली भाँति परिचित होना चाहिए। एक अच्छा एटलस हमेशा आवश्यक है और ऑक्सफोर्ड स्कूल एटलस ऐसा ही एक एटलस है। इसके अलावा, इस विषय के लिए संदर्भित पुस्तकें नीचे सूचीबद्ध हैं:

पुस्तक का नाम

लेखक

World and Physical Geography

D.R.Khullar

Physical and Human Geography

G C Leong

Geography of India

Majid Hussian

भारतीय राजनीति के लिए किताबें: भारतीय राजनीति भी एक ऐसा विषय है जो उम्मीदवारों के लिए बहुत चुनौतीपूर्ण है क्योंकि इस विषय से कई प्रश्न होंगे। इस खंड के लिए अच्छी किताबों का अध्ययन करना भी आवश्यक है। इस उद्देश्य के लिए यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं:

पुस्तक का नाम

लेखक

Indian Polity

M. Laximkanth

The Constitution of India (Pocket Edition)

P.M Bakshi

Introduction to the Constitution of India

D D Basu (for conceptual Clarity)

भारतीय अर्थव्यवस्था पर किताबें: अर्थशास्त्र एक और महत्वपूर्ण खंड है जो कई प्रश्न ले कर आता है। छात्रों को हमेशा इस विषय पर एक अच्छी किताब की आवश्यकता होती है। इसके लिए, रमेश सिंह द्वारा Indian Economy एक अच्छा विकल्प है। Policies and Current Changes के लिए, उमा कपिला द्वारा लिखी गई Indian Economy: Performance and Policies एक अच्छी किताब है। भारतीय अर्थव्यवस्था के विस्तृत विश्लेषण के लिए, मिश्रा और पुरी द्वारा लिखी पुस्तक अच्छी है।

यदि दिए गए सुझाव और रणनीतियों का पालन अच्छे से किया जाता है, तो अच्छे परिणाम की बहुत संभावनाएं हैं। उम्मीदवारों को अपने रूटीन का पालन करना चाहिए और उन्हें अपने द्वारा बनाये गए नोट से नियमित रूप से पढ़ते रहना चाहिए। यह उनके लिए लंबे समय तक सहायक होगा।

BPSC Prelims Time Management Tips

Advertisement

Related Categories

Advertisement