न्यूज़ एंकर का करियर, योग्यता, जॉब प्रोफाइल और स्कोप

आप बरखा दत्त, अर्नब गोस्वामी, राजदीप सरदेसाई, श्वेता सिंह और रवीश कुमार के नाम से तो परिचित ही होंगे. जी हां! सही पहचाना आपने.....ये सभी हमारे देश के सुप्रसिद्ध न्यूज़ एंकर्स हैं. न्यूज़ एंकर्स रेडियो या टीवी में न्यूज़ प्रस्तुत करते हैं. ये पेशेवर न्यूज़ रिपोर्टर्स द्वारा तैयार की गई न्यूज़ या लाइव रिपोर्ट्स को हमारे सामने आकर्षक तरीके से प्रस्तुत करते हैं. आमतौर पर ये न्यूज़ एंकर्स सोशल मीडिया में एक्टिव होते हैं. ये पेशेवर बहुत बार दूर-दराज के स्थानों से भी न्यूज़ एंकरिंग करते हैं. हमारे देश के युवा वर्ग में हमेशा इस पेशे को लेकर काफी आकर्षण रहा है.

न्यूज़ एंकर के पेशे के लिए जरुरी स्किल्स  

अगर आप इस पेशे में अपना करियर शुरू करना चाहते हैं तो आपको न्यूज़ एंकर के पेशे के लिए जरुरी स्किल-सेट की जानकारी तो जरुर होनी चाहिए. आइये इस बारे में आगे पढ़ें:

  • बेहतरीन कम्युनिकेशन स्किल्स –

इस पेशे के लिए बेहतरीन कम्युनिकेशन स्किल्स होना बहुत जरुरी है ताकि आप अपने विचार दूसरों को अच्छी तरह समझा सकें और अन्य लोगों के विचार अच्छी तरह समझ सकें.

  • सॉफ्ट स्किल्स –

प्रभावी तरीके से बातचीत करना, ध्यानपूर्वक सुनना, प्रभावी तरीके से लिखना और पढ़ना आदि सॉफ्ट स्किल्स भी इस पेशे के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं.

  • रिसर्च वर्क में हों एक्सपर्ट्स –

लेटेस्ट न्यूज़ स्टोरीज तैयार करने के लिए न्यूज़ एंकर्स को रिसर्च वर्क में भी माहिर होना चाहिए.

  • टेक्निकल स्किल्स भी हैं जरुरी –

आजकल कंप्यूटर्स और टेक्नोलॉजी का जमाना है इसलिए न्यूज़ एंकर्स को कंप्यूटर सॉफ्टवेयर, सोशल मीडिया, वेबसाइट्स और ऑडियो-विजुअल इक्विपमेंट्स की अच्छी जानकारी और समझ होनी चाहिए. 

  • रिपोर्टिंग में हों एक्सपर्ट्स –

न्यूज़ एंकर्स को अपनी न्यूज़ स्टोरी तैयार करते समय बड़े ही सुलझे हुए शब्दों और विचारों में न्यूज़ रिपोर्टिंग करनी चाहिए.

  • इंटरव्यू लेने में हों कुशल -

राजनीति, समाज, साहित्य, खेल और कला आदि के क्षेत्र से जानी-मानी हस्तियों का इंटरव्यू समय-समय पर लेने से न्यूज़ एंकर्स बड़े ही प्रभावी अंदाज़ से न्यूज़ एंकरिंग कर सकते हैं.

  • बेहतरीन लैंग्वेज स्किल्स –

इस पेशे के लिए बेहतरीन लैंग्वेज स्किल्स भी काफी महत्वपूर्ण हैं ताकि न्यूज़ एंकर्स आसान लेकिन प्रभावी तरीके से न्यूज़ प्रस्तुत कर सकें.

  • स्थानीय, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मामलों की अच्छी जानकारी –

अगर न्यूज़ एंकर्स को विभिन्न स्थानीय, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मामलों की अच्छी जानकारी हो तो वे हरेक न्यूज़ को पूरे आत्मविश्वास से प्रस्तुत कर सकते हैं.

  • वर्क एक्सपीरियंस –

हमेशा अनुभव से इंसान काफी कुछ सीखता है और यह फैक्ट इस पेशे के लिए भी सटीक है. अनुभवी न्यूज़ एंकर्स को काफी अच्छे जॉब ऑफर्स मिलते हैं.

  • दिलचस्प अंदाज़ में हो न्यूज़ एंकरिंग –

कोई भी न्यूज़ एंकर अपने न्यूज़ प्रस्तुत करने के अंदाज़ से साधारण-सी खबर को भी काफी रोचक और प्रभावी बना सकता है और लोग उस न्यूज़ के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने को उत्साहित हो जाते हैं.

न्यूज़ एंकर के पेशे के लिए जरुरी एजुकेशनल स्किल्स

  • इस पेशे के लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता के तौर पर कैंडिडेट ने किसी मान्यताप्राप्त कॉलेज, यूनिवर्सिटी या एजुकेशनल इंस्टीट्यूट से जर्नलिज्म, कम्युनिकेशन, ब्रॉडकास्टिंग या किसी अन्य विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की हो.
  • कई एम्पलॉयर्स जर्नलिज्म, कम्युनिकेशन या किसी संबद्ध फील्ड में मास्टर डिग्री होल्डर न्यूज़ एंकर्स को ज्यादा महत्व देते हैं.

भारत में जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन कोर्स करवाने वाले टॉप कॉलेज और इंस्टीट्यूट्स

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड न्यू मीडिया, बैंगलोर
  • सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ़ मीडिया एंड कम्युनिकेशन, पुणे
  • लेडी श्री राम कॉलेज, नई दिल्ली
  • क्राइस्ट कॉलेज, बैंगलोर
  • स्कूल ऑफ़ कम्युनिकेशन, मनीपाल
  • दिल्ली कॉलेज ऑफ़ आर्ट्स एंड कॉमर्स, नई दिल्ली
  • इंद्रप्रस्थ महिला कॉलेज, नई दिल्ली

न्यूज़ एंकर्स के कुछ महत्वपूर्ण कार्य:

वैसे तो न्यूज़ एंकर्स का सबसे प्रमुख काम न्यूज़ पेश करना है लेकिन किसी भी न्यूज़ एंकर्स के अधिकतर काम और जिम्मेदारियां उसके एम्पलॉयर की जरूरतों के आधार पर निर्धारित होते हैं. फिर भी, सभी न्यूज़ एंकर्स के कुछ प्रमुख कार्य एक समान होते हैं जैसेकि:

  • न्यूज़ स्टोरी तैयार करना -  

सभी न्यूज़ एंकर्स विभिन्न क्षेत्रीय, राज्य-संबंधी, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं के बारे में रेडियो, वेब और विभिन्न टीवी चैनलों से सूचना और जानकारी प्राप्त करके तथा जर्नलिस्ट्स, रिपोर्टर्स और एडिटर्स के सहयोग से अपनी न्यूज़ स्टोरी तैयार करते हैं.

  • न्यूज़ के लिए है जरुरी रिसर्च वर्क –

न्यूज़ एंकर्स अपनी न्यूज़ स्टोरी को ज्यादा दिलचस्प और फैक्ट्स पर आधारित बनाने के लिए इंटरनेट, गूगल, विभिन्न अख़बारों, मैगजीन्स और पुस्तकों की सहायता से रिसर्च वर्क करते रहते हैं. फिर वे प्राप्त सूचना और जानकारी के आधार पर अपनी डिटेल्ड न्यूज़ स्टोरीज तैयार करते हैं. 

  • सोशल मीडिया और न्यूज़ –

आजकल विभिन्न सोशल मीडियाज़ जैसेकि, इन्स्टाग्राम, फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सएप और यूट्यूब पर विभिन्न व्यूअर्स के साथ सीधा संपर्क कायम करके इन विभिन्न सोशल मीडियाज़ में ब्रेकिंग न्यूज़ अपलोड करते रहते हैं.

  • इंटरव्यूज़ पर आधारित न्यूज़ –

कई बार ये पेशेवर देश और विदेश की जानी-मानी हस्तियों जैसेकि, लीडर्स, एक्टर्स, प्लेयर्स, राइटर्स, साइंटिस्ट्स, मॉडल्स और सोशल रिफॉर्मर्स आदि के साथ सीधी बातचीत या इंटरव्यू के माध्यम से अपनी न्यूज़ स्टोरी तैयार करते हैं.

  • न्यूज़ एनालिसिस –

अगर आपने ज़ी चैनल पर सुधीर चौधरी द्वारा प्रस्तुत डीएनए (डेली न्यूज़ एंड एनालिसिस) देखा है तो आप समझ सकते हैं कि न्यूज़ एनालिसिस का रोजाना की न्यूज़ में क्या महत्व है? विभिन्न न्यूज़ एंकर्स देश-विदेश की सभी महत्वपूर्ण खबरों का एनालिसिस पेश करके संबंधित खबरों को ज्यादा विस्तृत और समझ में आने लायक बना देते हैं.

भारत में न्यूज़ एंकर्स का सैलरी पैकेज:

भारत में बरखा दत्त, रवीश कुमार और विक्रम चन्द्र जैसे सुप्रसिद्ध न्यूज़ एंकर्स क्रमशः 3.6 करोड़, 2.16 करोड़ और 2 करोड़ रुपये सालाना तक कमाते हैं. इसी तरह, शुरू में कोई फ्रेशर न्यूज़ एंकर एवरेज 3 लाख – 4 लाख रुपये सालाना तक कमाता है. वर्क एक्सपीरियंस बढ़ने के साथ इन न्यूज़ एंकर्स की सैलरी में भी इजाफ़ा होता है. भारत के कुछ मशहूर मीडिया और न्यूज़ चैनल्स में न्यूज़ एंकर्स का एवरेज मासिक सैलरी पैकेज निम्नलिखित है:

  • टाइम्स ग्रुप – रु. 3.36 लाख – रु. 3.65 लाख
  • हिंदुस्तान टाइम्स – रु. 1.68 लाख – रु. 1.92 लाख
  • सोनी पिक्चर्स – रु. 57 हजार – रु. 61 हजार
  • हिंदुस्तान समाचार – रु. 92 हजार – रु. 99 हजार
  • नेटवर्क 18 – रु. 4.3 लाख – रु. 4.6 लाख

जॉब, इंटरव्यू, करियर, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Categories

Popular

View More