कक्षा 10 विज्ञान NCERT बुक

आज इस लेख में हम छात्रों को कक्षा 10 ncert बुक के विज्ञान विषय का पूरा पीडीऍफ़ हिंदी में उपलब्ध करा रहे हैं. इस लेख में आपको सभी अध्यायों के पीडीऍफ़ अलग-अलग उपलब्ध कराया गया है ताकि आप अपने पाठ्यक्रम के अनुसार विज्ञान विषय के सभी टॉपिक्स को अच्छी तरह तैयार कर सकें.

UP बोर्ड के छात्रों को अब ncert के पाठ्यक्रम के अनुसार ही अपने पढ़ाई की रणनीति तैयार करनी है. जिसके अंतर्गत ncert की किताब एक अहम भूमिका निभाती है. NCERT की किताबों में छात्रों को सभी अध्याय के अंत में प्रैक्टिस के लिए कई तरह के प्रश्न उपलब्ध होते हैं जिससे वह अच्छी तरह अपनी उन अध्यायों पर अच्छी पकड़ बना सकते हैं साथ ही एग्जाम में किस तरह के प्रश्न पूछे जा सकते है यह भी समझ आ जाता है.

UP बोर्ड के छात्र बड़े ही आसानी से अपने पूरे सिलेबस को ncert के बुक के माध्यम से पूरा कर सकते हैं.

यहाँ हम आपको ncert के किताबों के कुछ मुख्य विशेषताओं के बारे में भी बताएंगे ताकि छात्रों को पूरी तरह यह समझ आ जाएं की इस नए सत्र के बदले पाठ्यक्रम की किताबें उनके लिए किस प्रकार सहयोगी साबित होने वाली हैं:

 

1. NCERT की किताबें बहुत ही साधारण भाषा में प्रकाशित की जाती है जिस कारण छात्र बड़े ही आसानी से सभी टॉपिक्स को अच्छी तरह समझ सकते हैं.

2. NCERT की किताबों में सीबीएसई का पूरा पाठ्यक्रम कवर होता है. तो छात्र अपने पाठ्यक्रम को ncert के किताबों की मदद से पूरा कर सकते हैं. अर्थात यदि छात्र अच्छी तरह ncert के बुक को पढ़ें तो उन्हें किसी भी टॉपिक के कांसेप्ट को क्लियर करने के लिए अन्य किताबों की आवश्यकता नहीं पड़ेगी.

3. एग्जाम के समय अन्य किताबों की तुलना में यदि आप ncert की किताबों से तैयारी करते हैं तो वह ज्यादा आसान होता है तथा आपके समय की भी बचत होती है.

4. ncert के किताबों में हर एक अध्याय के अंत में विभिन्न प्रकार के प्रश्न छात्रों को उपलब्ध कराएँ जाते हैं जिनको यदि छात्र अच्छी तरह प्रैक्टिस करें तो उनकी उस अध्याय पर कांसेप्ट तो क्लियर होती ही है साथ ही एग्जाम में किस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं यह भी पता चलता है.

कक्षा 10 NCERT के विज्ञान विषय के कम्पलीट solutions के लिए यहाँ क्लिक करें

5. जो छात्र अकादमिक पाठ्यक्रम के साथ किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं उनके लिए भी ncert की किताबें बहुत लाभप्रद साबित होंगी क्यूंकि आम तौर पर प्रतियोगी परीक्षा का पाठ्यक्रम ncert पर आधारित होता है. तो छात्र आसानी से अपने अकादमिक पढ़ाई के साथ-साथ प्रतियोगी परीक्षा की भी तैयारी कर सकते हैं.

खास तौर पर इसका लाभ UP बोर्ड के छात्रों को मिला है क्यूंकि पहले जीन छात्रों को प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करनी पड़ती थी उन्हें अपने अकादमिक पाठ्यक्रम के साथ-साथ ncert के बुक्स को भी पढ़ना पड़ता था, जिस कारण छात्रों को एक साथ दो पाठ्यक्रम को पढ़ना बहुत कठिन होता था.

6. कई बार प्रतियोगी परीक्षा (जैसे NEET, JEE Main इत्यादि) में एनसीईआरटी किताबों (NCERT Textbook or NCERT Exemplar) से सीधे सवाल पूछे गए हैं इसलिए इन किताबों का महत्त्व और ज़्यादा बढ़ जाता है.

लगभग सभी अनुभवी टीचर्स विद्यार्थियों को एनसीईआरटी किताबें पढ़ने की सलाह देते हैं.  जीतनी महत्वपूर्ण इन किताबों की थ्योरी है उतनी ही महत्वपूर्ण इन किताबों की एक्सरसाइज भी है.  इसलिए अगर आप किसी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो एनसीईआरटी किताबों को ज़रूर पढ़िए.

यहाँ नीचे आप सभी अध्यायों के लिंक पर क्लिक करके पूरे पीडीऍफ़ को प्राप्त कर सकते हैं:

चैप्टर 1: रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण

चैप्टर 2: अम्ल, क्षारक एवं लवन

चैप्टर 3: धातु एवं अधातु

चैप्टर 4: कार्बन एवं उसके यौगिक

चैप्टर 5: तत्वों का आवर्त वर्गीकरण

चैप्टर 6: जैव प्रक्रम

चैप्टर 7: नियंत्रण एवं समन्वय

चैप्टर 8: जीव जनन कैसे करते हैं

चैप्टर 9: आनुवंशिकता एवं जैव विकास

चैप्टर 10: प्रकाश- परावर्तन तथा अपवर्तन

चैप्टर 11: मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार

चैप्टर 12: विधुत

चैप्टर 13: विधुत धारा के चुम्बकीय प्रवाह

चैप्टर 14: उर्जा के श्रोत

चैप्टर 15: हमारा पर्यावरण

चैप्टर 16: प्राकृतिक संसाधनों का प्रबंध

Related Categories

Popular

View More