कॉलेज के दिनों में तनाव मुक्त रहने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

यह सच है कि कॉलेज लाइफ स्टूडेंट्स की स्कूल लाइफ से काफी अलग होती है और स्टूडेंट्स मन में अपने सुनहरे भविष्य के कई सपने संजो कर कॉलेज में एडमिशन लेते हैं. लेकिन कॉलेज में आते ही उन्हें कई कड़वी वास्तविकताओं का सामना करना पड़ता है जैसेकि, हरेक कॉलेज में अपने स्टेट के साथ देश के अन्य स्टेट्स और विदेशों से भी स्टूडेंट्स पढ़ने आते हैं और हरेक क्लास में स्टूडेंट्स का काफी बड़ा ग्रुप होता है. इन स्टूडेंट्स या क्लास मेट्स की अलग-अलग पारिवारिक, सामाजिक, आर्थिक और शैक्षिक बैकग्राउंड, कल्चर, लैंग्वेज और रिलिजन होते हैं. बहुत बार अधिकतर स्टूडेंट्स अपने घर-परिवार और स्कूल के दोस्तों से दूर किसी अन्य शहर में कॉलेज हॉस्टल या पेइंग गेस्ट के तौर पर रहकर अपनी पढ़ाई करते हैं. ऐसे में अपने बजट के भीतर ही पढ़ाई के साथ-साथ लिविंग स्टाइल को मेंटेन रखना और ट्रेवलिंग, फैशन, खाने-पीने, घुमने-फिरने के साथ एजुकेशनल कॉस्ट्स का खर्च हर महीने उठाना, अपने नए दोस्तों और नए कॉलेज कैंपस एनवायरनमेंट में एडजस्ट करना, अपने लेक्चरर्स और प्रोफेसर्स पर अच्छा इम्प्रैशन डालने की फ़िक्र करने के साथ पढ़ने के साथ खेल-कूद या अन्य होबिज़ के लिए समय निकालना......ये सभी बातें शुरू के दिनों में कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए माइंड-बॉग्लिंग एक्सपीरियंसेस होते हैं. इन सभी कारणों से स्टूडेंट्स कॉलेज में एडमिशन लेने के साथ ही कुछ दिनों के भीतर काफी तनाव महसूस करने लगते हैं.

अब, क्योंकि कॉलेज के दिन आपके भविष्य का आधार होते हैं इसलिए आप तनाव का शिकार बनकर अपने इन विशेष दिनों को गंवाना नहीं चाहेंगे. इस आर्टिकल में हम आपकी लाइफ में स्थिरता लाने वाले कुछ उपयोगी टिप्स पेश कर रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप सबकी नजरों में एक योग्य और अच्छे इंसान बन जायेंगे.

समय की पाबंदी का रखें ख़याल

हमेशा अपने लेक्चर पर समय से थोड़ा पहले पहुंचने की कोशिश करें क्योंकि इससे आपके प्रोफेसर पर आपका बहुत अच्छा इम्प्रैशन पड़ेगा. अपनी क्लास में बेतुके प्रश्न भी बिलकुल न पूछें. क्लास में शांति से बैठें और अपने दोस्तों से लेक्चर के दौरान कोई बातचीत न करें. प्रोफेसर के लेक्चर को बड़े ध्यान से सुनें. इससे आपको अपने टॉपिक बहुत अच्छी तरह समझ आयेंगे और उन टॉपिक्स के नोट्स बनाने में कोई कठिनाई नहीं होगी. इससे आपको काफी फायदा होगा और अपने फाइनल एग्जाम्स के दौरान आपको अपने दोस्तों की मदद लेने की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी.

सबके साथ करें विनम्र व्यवहार

इस नियम का पालन करें और इसे अपनी आदत बना लें फिर, चाहे जो भी परिस्थिति हो लेकिन आप शांत और पोलाइट (विनम्र) रहें. भविष्य में, पोलाइट रहने की आदत के कारण आप हमेशा शांत रहेंगे और इस कारण आप कठिन परिस्थितियों में अपने विवेक से निर्णय लेने के काबिल बन जायेंगे. इसलिए, अगली बार से जब आपके प्रोफेसर या दोस्त आपसे कुछ भी कहें (उनके कठोर लहजे के बावजूद) तो आप उनकी बात का हमेशा बड़ी शांति से ही जवाब दें.

परीक्षा के दौरान होने वाले तनाव से कॉलेज स्टूडेंट्स कैसे पाएं निजात ?

संतुलित भोजन करें

यह बहुत महत्वपूर्ण है लेकिन हम अक्सर इसे नज़रंदाज़ कर देते हैं. इसका हमारे व्यवहार या तनाव के लेवल पर सीधा असर पड़ता है. लेक्चर अटेंड करने से पहले या कोई प्रेजेंटेशन पेश करने से पहले आप हमेशा हल्का खाना या ब्रेकफ़ास्ट ही खाएं. इसके अलावा, अपनी क्लासेज अटेंड करने से पहले एक गिलास पानी पीयें लेकिन जूस या चाय न पीयें. इससे आप सारा दिन फ्रेश और अटेंटिव रहेंगे और चाहे कितना ही भाग-दौड़ वाला दिन क्यों न हो लेकिन आप तनाव-मुक्त रहेंगे. अगर आप पौष्टिक खाना खाने की आदत अपना लेते हैं तो आप हमेशा स्वस्थ और प्रसन्न रहेंगे तथा तनाव से भी बचे रहेंगे.

मैडिटेशन, योगा और खेलने से रहेंगे हेल्दी

सभी एक्सपर्ट्स के साथ-साथ अब आम लोगों की भी यही राय है कि जॉगिंग, वॉकिंग, स्ट्रेचिंग, मैडिटेशन, योगा और सांस संबंधी एक्सरसाइजेज रोज़ाना करने से आप हमेशा शारीरिक और मानसिक तौर पर स्वस्थ तथा तनाव-मुक्त रहेंगे. आप अपने कॉलेज में किसी स्पोर्ट्स क्लब के सदस्य भी बन सकते हैं या फिर, अपने कॉलेज की स्पोर्ट्स टीम में शामिल हो सकते हैं.

कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए डिप्रेशन से बचने के उपयोगी टिप्स

गैजेट्स का करें सीमित इस्तेमाल

चाहे आप कोई लेक्चर अटेंड करें, जरुरी नोट्स बनाएं, ग्रुप डिस्कशन्स में भाग लें या फिर अपने दोस्तों के साथ घूम-फिर रहे हों; अपने स्मार्ट फ़ोन या ऐसे ही अन्य गैजेट्स से दूर रहें. अगर आप ग्रुप के साथ होते हुए भी अपने फ़ोन या अन्य किसी गैजेट में खोये रहते हैं तो न सिर्फ आपके दोस्तों को आपका ऐसा करना बुरा लगेगा बल्कि आप जरुरी बातचीत भी नहीं सुन पायेंगे.

हरेक व्यक्ति से रखें मधुर संबंध और सबके साथ करें अच्छा व्यवहार

यहां हमारा यह मशवरा है कि आप अपने ग्रुप में पूरी तरह एक्टिव रहें और ग्रुप के सभी लोगों के साथ मधुर संबंध बनाकर रखें. तनाव दूर करने के लिए थोड़ा समय एकांत में बिताना अच्छा रहता है लेकिन, आप अपने कॉलेज में हमेशा ग्रुप में ही पढ़ते, काम करते, ट्रेवल और मौजमस्ती करते हैं. इससे आप बहुत-सी नई बातें सीखते हैं और आपको समाज में अच्छी तरह रहना आ जाता है. अपने ग्रुप के एक सदस्य के तौर पर आप कई लोगों से मिलते हैं जिससे आप अपने भावी जीवन में लोगों के साथ मिलना-बरतना और व्यवहार करना सीख जाते हैं. इसलिए, मिलनसार बनें और अपने ग्रुप तथा कॉलेज में एक्टिव तथा हेल्पफुल बनें. अगर आप अन्य लोगों की जरूरत के समय मदद करेंगे तो वे भी हमेशा आपकी मदद करने के लिए तैयार रहेंगे.

अपने आस-पास और अपनी साफ़-सफाई का रखें पूरा ध्यान

यह तनाव-मुक्त रहने का एक बहुत जरुरी और सबसे महत्वपूर्ण तरीका है कि आप हमेशा साफ़-सुथरे रहें. मनोविज्ञान के अनुसार जो लोग अपनी शारीरिक सफाई नहीं रखते और अपने आस-पास के माहौल को भी गंदा और बेतरतीब रखते हैं, वे अक्सर तनावपूर्ण जीवन बिताते हैं. इसलिए, अपनी शारीरिक सफाई के साथ ही अपने कमरे, अपने स्टडी डेस्क और अपने आस-पास के माहौल को भी साफ़-सुथरा रखें ताकि आप स्वस्थ और फ्रेश रहें. ऐसा करने से तनाव भी आपसे कोसों दूर रहेगा.

पढ़ें: जीवन की विषम परिस्थितियों से कैसे निपटें ?

हमें आशा है कि ये टिप्स आपका मजबूत और आकर्षक व्यक्तित्व बनाने में मदद करेंगे. आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और सहपाठियों के साथ भी शेयर करें ताकि वे भी उक्त टिप्स अपनाकर अपने व्यक्तित्व को और अधिक निखार सकें.

कॉलेज स्टूडेंट्स और कॉलेज लाइफ से संबंधित ऐसे और अधिक आर्टिकल पढ़ने के लिए www.jagranjosh.com/college पर विजिट करें.

Related Categories

Popular

View More