कोविड 19 लॉकडाउन: CEC-UGC यू ट्यूब चैनल पर जब चाहे देखें फ्री एजुकेशनल वीडियोज़

हमारे देश भारत के साथ इन दिनों विश्व के अनेक देशों में कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन जारी है जिसके चलते संबद्ध शहर या देश के स्कूल, कॉलेज, दफ्तर, मार्केट्स, मॉल और दुकानें आदि बंद होने के साथ-साथ बसें, मेट्रो ट्रेन, ट्रेनें, एरोप्लेंस और स्टीमर, बोट्स और पानी के जहाज आदि भी नहीं चल रहे हैं ताकि ‘सोशल डिस्टेंसिंग’ को अच्छी तरह फ़ॉलो करके देश-दुनिया में कोरोना वायरस को फ़ैलने से रोका जा सके. ऐसे में, स्टूडेंट्स के स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ में भी पढ़ाई ठप्प है. लेकिन, वे स्टूडेंट्स जो इस लॉकडाउन के दौरान अपने स्कूल-कॉलेज की क्लासेज को मिस कर रहे हैं, या फिर, ऐसे स्टूडेंट्स जो रोज़ाना कुछ न कुछ नया सीखना चाहते हैं, उनके लिए इस इंटरनेट के दौर में इन लॉकडाउन के दिनों में भी मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से ऑनलाइन लर्निंग को बढ़ावा देने के लिए कई ऐसे डिजिटल प्लेटफॉर्म्स की व्यवस्था की गई है जिनका इस्तेमाल देश के विभिन्न स्कूलों, कॉलेजों और यूनिवर्सिटीज़ के सभी टीचर्स, स्टूडेंट्स और रिसर्चर्स कर सकते हैं ताकि अपनी एकेडमिक नॉलेज को बढ़ाकर इस समय का सदुपयोग किया जा सके.

स्वयं प्रभा डीटीएच चैनल्स के जरिये स्टूडेंट्स करें घर बैठे पढ़ाई

CEC-UGC यू ट्यूब चैनल

जी हां! हम इस आर्टिकल में आपके लिए आज CEC-UGC यू ट्यूब चैनल के बारे में जानकारी पेश कर रहे हैं जहां आप 24x7 फ्री एजुकेशनल करिकुलम बेस्ड लेक्चर वीडियोज़ देख सकते हैं. यहां भारत के विभिन्न स्कूलों, कॉलेजों और यूनिवर्सिटीज़ के स्टूडेंट्स अपने एजुकेशनल करिकुलम के मुताबिक सभी विषयों में प्रमुख टॉपिक्स पर एजुकेशनल वीडियोज़ देखकर अपनी जानकारी बढ़ाने के साथ ही कोविड-19 लॉकडाउन के इन दिनों में अपने घर पर बैठकर ही क्लास रूम एजुकेशन का लुत्फ़ उठा सकते हैं. हमारे देश के टैलेंटेड टीचर्स, सब्जेक्ट एक्सपर्ट्स, लेक्चरर्स और प्रोफेसर्स इन वीडियोज़ को अपनी लेटेस्ट जानकारी और सब्जेक्ट टॉपिक के मुताबिक बेहतरीन तरीके से देश के स्टूडेंट्स के लिए तैयार करते हैं. अगर आपको देश-दुनिया के इतिहास, राजनीति या अन्य ज्ञान-विज्ञान संबंधी वीडियोज़ देखकर इन दिनों अपना ज्ञान बढ़ाना है तो भी CEC-UGC यू ट्यूब चैनल आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगा. इस आर्टिकल में हम आपको कंसोर्टियम फॉर एजुकेशनल कम्युनिकेशन अर्थात CEC के बारे में भी जानकारी दे रहे हैं जो भारत में विश्वसनीय एजुकेशनल प्रोग्राम्स तैयार करने और ब्रॉडकास्ट करने के लिए UGC की नोडल एजेंसी है.  

महत्त्वपूर्ण लिंक: https://www.youtube.com/user/cecedusat

CEC अर्थात कंसोर्टियम फॉर एजुकेशनल कम्युनिकेशन

स्वयं पोर्टल: भारत में फ्री ऑनलाइन कोर्सेज के लिए स्टूडेंट्स के लिए है बहुत खास

CEC अर्थात कंसोर्टियम फॉर एजुकेशनल कम्युनिकेशन की स्थापना यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन (UGC) ने वर्ष 1993 में एक इंटर उनिवेर्सित्टी सेंटर के तौर पर की थी. इस सेंटर को स्थापित करने का प्रमुख लक्ष्य टेलीविज़न के साथ इनफॉर्मेशन कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी के अन्य लेटेस्ट मीडियम्स के जरिये  हायर एजुकेशन के विभिन्न लक्ष्य और जरुरतें पूरी करना है. UGC ने वर्ष 1984 में पूरे भारत में अपने क्लास रूम प्रोग्राम्स शुरू किये थे ताकि टीवी के माध्यम से पूरे देश में एजुकेशनल नॉलेज का प्रचार-प्रसार हो सके. UGC ने वर्ष 1993 में कंसोर्टियम फॉर एजुकेशनल कम्युनिकेशन को एक नोडल एजेंसी के तौर पर स्थापित किया ताकि देश के विभिन्न मीडिया सेंटर्स के विभिन्न एजुकेशनल प्रोग्राम्स से जुड़े सारे कामकाज को सुव्यवस्थित तरीके से संचालित किया जा सके. आजकल हमारे देश में 22 मीडिया सेंटर्स (एजुकेशनल मीडिया रिसर्च सेंटर्स) CEC के तहत काम कर रहे हैं. ये सभी मीडिया सेंटर्स भारत की प्रमुख यूनिवर्सिटीज़ और कॉलेजों जैसेकि, अहमदाबाद यूनिवर्सिटी, सेंट ज़ेवियर कॉलेज, कलकत्ता, जोधपुर यूनिवर्सिटी, मदुरई कामराज यूनिवर्सिटी, जामा मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली, पुणे यूनिवर्सिटी, ओस्मानिया यूनिवर्सिटी, अन्ना यूनिवर्सिटी, मणिपुर यूनिवर्सिटी, पंजाब यूनिवर्सिटी, कश्मीर यूनिवर्सिटी और पोंडिचेरी यूनिवर्सिटी आदि में स्थित हैं. इन एजुकेशनल मीडिया रिसर्च सेंटर्स के विभिन्न एजुकेशनल प्रोग्राम्स दूरदर्शन और ज्ञान दर्शन चैनलों के साथ अब यू ट्यूब पर भी विभिन्न एजुकेशनल वीडियोज़ के माध्यम से दिखाये जा रहे हैं.    

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

वर्क फ्रॉम होम - क्यों और कैसे?

Related Categories

NEXT STORY