डिस्टेंस लर्निंग: मौजूदा सन्दर्भ में इसका महत्व और उपयोगिता !

कॉलेज या यूनिवर्सिटी में नियमित कक्षा के माध्यम से प्राप्त की जाने वाली शिक्षा के मुकाबले में डिस्टेंस लर्निंग के महत्व पर बहस कभी खत्म नहीं हो सकती है. आपके आस-पास हमेशा ऐसा कोई व्यक्ति जरुर मौजूद होगा जो कॉलेज या यूनिवर्सिटी में नियमित क्लासेज अटेंड करके शिक्षा प्राप्त करने के लाभों के बारे में बतायेगा और बहुत जोर देकर कहेगा कि ये लाभ आपको डिस्टेंस लर्निंग कार्यक्रम से प्राप्त नहीं हो सकते हैं क्योंकि डिस्टेंस लर्निंग में आप केवल निर्धारित कोर्स मेटीरियल से ही सीख सकते हैं जो आपको डिस्टेंस लर्निंग करवाने वाले कॉलेज या यूनिवर्सिटी द्वारा उपलब्ध करवाया जाता है. लेकिन शिक्षा के क्षेत्र में वर्तमान परिवेश इसके ठीक विपरीत है. आजकल अधिकांश छात्र अपने ज्ञान और स्किल्स को बढ़ाने के लिए डिस्टेंस लर्निंग कोर्स में एडमिशन ले रहे हैं. लेकिन आज भी बहुत से लोग ऐसा मानते हैं कि पारंपरिक रेगुलर कोर्सेज की तुलना में डिस्टेंस लर्निंग कोर्स महत्वहीन हैं. इसलिए, छात्रों को डिस्टेंस लर्निंग के लाभों और सीखने के अवसरों के बारे में बेहतर ढंग से समझाने में मदद देने के लिए हमने इस आर्टिकल में डिस्टेंस लर्निंग के महत्व बताये हैं. आइये पढ़ें: 

कोर्स के सफल समापन पर दिया जाता है डिग्री सर्टिफिकेट

डिस्टेंस लर्निंग कार्यक्रम छात्रों को दुनिया में कहीं भी, किसी भी विश्वविद्यालय या कॉलेज से अपनी पसंद के किसी भी विषय को पढ़ने का मौका प्रदान करते हैं. उदाहरण के लिए, मान लीजिए आप अमरीका के किसी विश्वविद्यालय से एक क्रिएटिव राइटिंग कोर्स करने में रुचि रखते हैं, लेकिन आप भारत में रहते हैं और अनेक कारणों से आप अमरीका जाकर अपनी पढ़ाई नहीं कर सकते हैं. ऐसी परिस्थिति में किसी अमरीकी विश्वविद्यालय द्वारा करवाया जाने वाला ऑनलाइन क्रिएटिव राइटिंग कोर्स  निश्चित रूप से आपके लिए वरदान साबित होगा. इसके अलावा, आप विश्वविद्यालय द्वारा उपलब्ध कराया गया स्टडी मेटीरियल भी प्राप्त कर सकते हैं. विश्वविद्यालय के प्रोफेसरों और सहपाठियों द्वारा आपके कार्य की समीक्षा भी की जाती है जिससे अपने काम के बारे में विभिन्न दृष्टिकोण जानने और अपने प्रोजेक्ट्स पर ऑडियंस की प्रतिक्रिया का विश्लेषण करने का मौका आपको मिल जाता है. सबसे खास बात तो यह है कि जो विश्वविद्यालय आपको ऑनलाइन कोर्स करवाता है, वह विश्वविद्यालय आपको अपना कोर्स पूरा करने के बाद डिप्लोमा या सर्टिफिकेट भी देता है. आप ढेरों कोर्सेज में से अपनी पसंद का कोई भी कोर्स चुन सकते हैं. आप एक बिलकुल नए क्षेत्र के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या फिर, आप उस कार्य-क्षेत्र से संबंधित कुछ नया सीख सकते हैं जिस कार्य-क्षेत्र में आप वर्तमान में काम कर रहे हैं. इससे आप अपने कौशल को काफी अधिक बढ़ा सकते हैं.

समय और धन की कमी में उपयोगी डिस्टेंस लर्निंग कोर्सेज

अन्य कोर्स करते हुए भी छात्र जारी रख सकते हैं अपनी पढ़ाई

कितनी बार हम ऐसा सोचते हैं कि, 'यदि अपनी पढ़ाई के अलावा भी मेरे पास पर्याप्त समय होता तो मैं अपनी इच्छा के अनुसार अपने शौक पूरे करता/ करती.' आपने शायद ‘डिजिटल नोमेड’ शब्द सुना हो क्योंकि अधिक से अधिक लोग इस लाइफस्टाइल को अपना रहे हैं. कॉलेज से ऑफिस तक आजकल हर जगह कई युवा तेजी से यह कल्चर अपना रहे हैं. दूसरी तरफ, बहुत सारे छात्र कॉलेज में अपने बहुत ज्यादा खर्चों को पूरा करने के लिए आजकल पार्ट टाइम जॉब करते हैं. ऐसे सभी लोगों के लिए, डिस्टेंस लर्निंग कोर्स बहुत फायदेमंद होते हैं. अब छात्र डिस्टेंस लर्निंग के माध्यम से अपने शौक पूरे करने के साथ-साथ अपनी स्टडीज भी जारी रख सकते हैं. डिस्टेंस लर्निंग कार्यक्रम आपको अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी समय और जगह पर पढ़ने और सीखने का मौका देते हैं. आप अपनी सुविधा के मुताबिक अपना  वर्क-शेड्यूल बना सकते हैं और यहां तक कि इस शेड्यूल में बदलाव भी कर सकते हैं.

कॉरपोरेट जगत के एम्पलॉयर्स द्वारा ऑनलाइन कोर्सेज हैं मान्य

कॉरपोरेट संगठन भी अब डिस्टेंस लर्निंग कोर्सेज को पॉजिटिव रूप से देख रहे हैं. अब, आपनेऑनलाइन लर्निंग के माध्यम से विभिन्न उद्योगों से जुड़े जो कोर्सेज किये हैं, उनका जिक्र करके आप अपने रिज्यूम को बेहतरीन और प्रभावशाली बना सकते हैं. एम्पलॉयर आपको किसी ऐसे व्यक्ति के तौर पर देखते हैं, जो हमेशा कुछ नया सीखने का इच्छुक होता है और वे यह मानते हैं कि ऐसा व्यक्ति हमेशा तरक्की करता है. इससे यह भी पता चलता है कि आप अपने स्किल्स को लगातार बढ़ाना चाहते हैं और आप अपने कार्यक्षेत्र में हो रहे बदलावों और विकास से हमेशा अप-टू-डेट रहते हैं. इसलिये आप किसी भी कंपनी के लिए काफी महत्वपूर्ण उम्मीदवार साबित हो सकते हैं.

पारंपरिक शिक्षा के समान ही इंटरैक्टिव होता है ऑनलाइन अध्ययन

आम धारणा के ठीक विपरीत, ऑनलाइन लर्निंग भी पारंपरिक शिक्षा की तरह ही इंटरैक्टिव होती है क्योंकि इसमें छात्र और शिक्षक, दोनों ही आपस में बहुत अधिक इंटरैक्टिव रहते हैं. शिक्षकों को एक बहुत बड़ी संख्या में छात्रों को संबोधित करने की सुविधा मिलती है. वे शिक्षक कभी भी किसी कक्षा में इतनी बड़ी संख्या में छात्रों को नहीं पढ़ा सकते हैं. इससे शिक्षकों को दुनिया भर के छात्रों के साथ जुड़ने की सुविधा मिलती है और उनके सामने नये-नये दृष्टीकोण आते हैं और उनसे कई ऐसे प्रश्न पूछे जाते हैं जो अक्सर छात्रों से भरी हुई किसी क्लास में भी, छात्रों द्वारा उन शिक्षकों से नहीं पूछे जाते हैं. डिस्टेंस लर्निंग छात्रों का संकोच दूर करती है जो अक्सर अधिकांश छात्र अपनी क्लास में अनुभव करते हैं. यह छात्रों को बहुत ही आसान प्रश्न पूछने का भी मौका देती है क्योंकि इसमें छात्रों को अन्य छात्र जज नहीं करते हैं और कोई भी प्रश्न पूछने की यह आजादी निश्चित रूप से किसी क्लासरूम में संभव नहीं है. इस प्रकार, डिस्टेंस लर्निंग छात्रों को अपने संदेह दूर करने, विषय और टॉपिक्स को अच्छी तरह समझने और बिना किसी झिझक के प्रश्न पूछने का मौका देती है.

डिस्टेंस लर्निंग लेटेस्ट टेक्नोलॉजी ट्रेंड्स से संबद्ध है

शिक्षा देने का ऑनलाइन लर्निंग मेथड टेक्नोलॉजी पर पूरी तरह निर्भर है. टेक्नोलॉजी से मिलने वाले विभिन्न विकल्प और टीचिंग टूल्स छात्रों के लिए काफी आकर्षक होते हैं क्योंकि वे लर्निंग मेथड को काफी इंटरैक्टिव और आकर्षक बनाते हैं. इससे पहले केवल सिद्धांतों जैसे लगने वाले सभी विषय अब आसानी से ऑडियो-विज्युअल और ग्राफिकल प्रेजेंटेशन्स के माध्यम से पढ़ाये जा सकते हैं, जिससे छात्रों के लिये उन विषयों को समझना और याद रखना काफी आसान हो जाता है. वीडियो फुटेज, एनिमेटेड ट्यूटोरियल आदि सभी टेक्नोलॉजी और शिक्षा को एक साथ लाने के उम्दा परिणाम हैं. विशेषज्ञ हमेशा कहते हैं कि लर्निंग एक मजेदार मेथड होना चाहिए जिससे छात्र किसी विषय के बारे में अधिक से अधिक जानने के लिए प्रोत्साहित हों. लर्निंग से छात्रों के अभिनव और रचनात्मक विचारों को बढ़ावा मिलना चाहिए. ऐसा बिलकुल नहीं होना चाहिए कि वे अपने लेसन रट कर याद कर लें और परीक्षा के समय जो कुछ रटा है, उसे आंसर शीट में लिख आयें. डिस्टेंस लर्निंग उन्हें किसी भी विषय को रट्टे मारकर याद करने के बजाय, उस विषय को अच्छी तरह समझने का मौका देती है.  

प्रोफेशनल्स एवं कार्यरत युवा कैसे पायें घर बैठे डिग्री ?

सारांश

इस आर्टिकल में हमने ऑनलाइन डिस्टेंस लर्निंग के प्रमुख लाभों का वर्णन किया है जो शिक्षा प्रदान करने के पारंपरिक तरीकों से कहीं अधिक प्रभावशाली हैं. हम आशा करते हैं कि आज के जमाने में डिस्टेंस लर्निंग के माध्यम से ज्ञान प्राप्त करने और नए-नए कौशल सीखने से आपको भी कामयाबी हासिल करने में काफी मदद मिलेगी. ऑनलाइन लर्निंग से संबंधित ऐसे और अधिक आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com/college पर विजिट करें.

Advertisement

Related Categories

Advertisement