SSC CHSL परीक्षा की तैयारी के दौरान भोजन की आदतें

SSC CHSL तैयारी के दौरान, आप सभी चीजों को कवर करने के लिए उच्च प्रतिस्पर्धा और कम समय का सामना करेंगे। इन सभी चीजों के बीच, SSC उम्मीदवार सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से जिससे बचते है वह है स्वस्थ भोजन की आदत! यदि भोजन की आदतों को लंबे समय तक अनदेखा कर दिया जाये, तो यह तैयारी के चरण के दौरान आपको पीछे खींच सकता है| अधिकांशत:  अभ्यर्थीयों को परीक्षा के अध्ययन के लिए अपने घर से बाहर निकलना ही पड़ता हैं और उन्हें खुद के लिए खाना बनाना पड़ता है या रेस्तरां इत्यादि में खाना पड़ता है। घर के बाहर, आपको अपने भोजन और अन्य दैनिक जरूरतों को अपने दम पर ही पूरा करना होता है। स्वस्थ भोजन की आदतें ही अच्छी शारीरिक फिटनेस बनाए रखने के लिए ही आवश्यक नहीं हैं बल्कि SSC CHSL तैयारी के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका भी निभाता हैं।

इस अनुच्छेद में, हम कुछ स्वस्थ भोजन की आदतों पर चर्चा करने जा रहे हैं जो कि हर किसी को SSC CHSL परीक्षा की तैयारी और उनकी रोज़मर्रा के जीवन में ध्यान रखना चाहिए। आइये, इसे विस्तार से जानें-

संतुलित आहार

प्रोटीन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट और खनिजों में समृद्ध संतुलित आहार तैयार करें। SSC CHSL उम्मीदवारों के लिए एक संतुलित आहार बहुत महत्वपूर्ण है यह भोजन आपके शरीर को फिट रखने के लिए और पूरे दिन सतर्क रहने के लिए आवश्यक तीन पूर्ण भोजन में निर्धारित किया जाना चाहिए। इसके अलावा, अपने दैनिक सेवन में कई प्रकार की हरी सब्जियों और ताजे फलों को शामिल करने का प्रयास करें। हरी सब्जियां और फलों का उपयोग प्रतिरक्षा और शरीर की मजबूती में सुधार करने में सहायक होता है जो मानसिक तनाव से निपटने में सहायक होता है। एक और महत्वपूर्ण बात यह है कि किसी भी भोजन को कभी भी न छोड़े। डिज़ाइंड SSC CHSL समय सारिणी के अनुसार हर भोजन का उपभोग करें।

Take Online Quiz

भारी ब्रेकफास्ट

यह बहुत आम बात है जिसे हर कोई जानता है कि नाश्ता दिन का बहुत महत्वपूर्ण भोजन है। इसकी आम तौर पर अधिकांश लोगों द्वारा अनदेखी की जाती है नाश्ते छोड़कर से आप दिन में 20 मिनट बचा सकते हैं। यह एक बहुत अच्छा विचार दिखाई देता है लेकिन ऐसा नियमित रूप से करने पर आप पूरे समय थकान और सुस्ती महसूस करेंगे। SSC CHSL उम्मीदवारों के लिए, स्वस्थ और पूरा नाश्ता बहुत जरूरी है| यह सर्वविदित है कि सुबह की शुरुआत में, आपका मस्तिष्क अपनी पूरी क्षमता पर कार्य करता है और इसे स्वस्थ भोजन से पोषित करना चाहिए जिससे इसे और अधिक तेज़ और मज़बूती प्रदान की जा सकें|

SSC CHSL: सामान्य ज्ञान को 30 दिनों में कैसे तैयार किया जाए

हल्का खाएं और बार-बार खाएं

किसी भी समय लिया जाने वाला भारी भोजन रक्त प्रवाह और ऊर्जा को पाचन प्रक्रिया की दिशा में निर्देशित करेगा, जो कि नींद और थकान का कारण होता है। जैसा कि आप अत्यधिक प्रतिस्पर्धी SSC CHSL परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे हैं, आपको अपनी ऊर्जा को अपने दिमाग की ओर निर्देशित करने की आवश्यकता है। इसलिए, एक बार में इकठ्ठा खाने के बजाय पूरे दिन में एक छोटे, हल्के और लगातार भोजन को लेने पर जोर दें। इसके अलावा आप स्नैक्स, मिनी भोजन और पेय जैसे चाय, कॉफी आदि को भी शामिल कर सकते हैं। यह आपको पूरी तरह से तरोताजा रखने के लिए बहुत आवश्यक है|

मस्तिष्क सहायक खाद्य पदार्थ

विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों का आपके शरीर और मूड पर असर पड़ता है। इसलिए, SSC CHSL उम्मीदवारों के लिए अपने दैनिक अनुसूची में सही प्रकार के खाद्य पदार्थों को शामिल करना बहुत आवश्यक है। अंगूठे के नियम के रूप में, प्रोटीनयुक्त खाद्य वस्तुओं पर ध्यान केंद्रित करें, प्रोटीन बहुत महत्वपूर्ण होते हैं क्योंकि वे धीरे-धीरे शरीर को ऊर्जा का एक निरंतर स्रोत देते हैं, आपको लंबे समय के लिए ऊर्जा प्रदान करते हैं। इसके अलावा, अपने दैनिक आहार में अंडे, नट, दही, कॉटेज पनीर और अन्य कम वसा वाले आइटम को शामिल करने का प्रयास करें। जहाँ तक खाद्य पदार्थ की बात हैं, अंडे, पोहा, इडली, डोसा, ढोकला सभी हल्के विकल्प हैं जो परीक्षा की तैयारी के दौरान आपकी सहायता कर सकते हैं।

SSC CHSL परीक्षा में सफलता हेतु पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों की भूमिका

जंक फूड और पेय पदार्थों से बचें

उपरोक्त बिंदु के अतिरिक्त, SSC CHSL उम्मीदवारों को उन खाद्य वस्तुओं से बचने का प्रयास करना चाहिए जिनसे मन और शरीर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। कार्बोहाइड्रेट उनमें से एक है, जो बहुत जल्दी पच जाता है और आपको अधिक बार खाने के लिए बाध्य करता है। चॉकलेट, कुकीज़, केक और कैंडीज जैसे मीठा और संसाधित आइटम से दूर रहें यदि संभव हो तो आप अपने आहार से कैफीन, कैफीन युक्त उत्पादों, चावल, आलू, सफेद आटे भी निकाल दें।

पानी

तैयारी के दौरान पानी आपका सबसे अच्छा दोस्त हो सकता है और आपको इसे हर समय आपके साथ रखना चाहिए। पानी आपकी मनोदशा को बढ़ाने, बेहतर पाचन में मदद करता है, आपके खून में पानी की जरूरत को पूरा करता है और आपके शरीर से टोक्सिंस को बाहर निकालता है। अपनी तैयारी के दौरान, आप दिन में 4-5 घंटे तक बैठते हैं और कभी-कभी अधिक भी बैठना हो सकता है। निर्जलित होने के कारण आपको सुस्त, चिड़चिड़ापन और थका हुआ महसूस कर सकते है। इसके अलावा, यह आपकी एकाग्रता को भी खराब करता है और आपको बहुत अधिक समय चक्कर जैसा भी लगेगा जिससे आप अच्छी तरह से ध्यान देने और अध्ययन करने में मुश्किल लायेगा। पानी को खामी से मुक्त और सादा ही ग्रहण करना चाहिए| आप फलों के रस, हर्बल चाय या किसी भी अन्य प्रासंगिक संयोजन को जोड़ सकते हैं जो पानी के साथ बेहतर सूट करता हो।

SSC CHSL परीक्षा को क्रैक करने की 100 दिन की योजना

बाहर खाने से बचें

हालांकि ऐसा कुछ SSC CHSL उम्मीदवारों के लिए संभव नहीं है, लेकिन आपको बाहर के खाने से बचने की कोशिश करनी चाहिए। आप तैयार खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता और स्वच्छता के बारे में कभी भी सुनिश्चित नहीं हो सकते हैं हाल ही के दिनों में खाद्य विषों और दूषित पदार्थों के कई मामले सामने आए हैं। ऐसी खतरनाक स्थिति से बचने के लिए, घर पर खाना पकाने शुरू करें या इसे किसी विश्वसनीय व्यक्ति द्वारा तैयार करवाएं।

हम www.jagranjosh.com पर, आपकी SSC तैयारी के लिए सभी आवश्यक जानकारी और अपडेट प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। अधिक जानकारी के लिए, हमारी वेबसाइट पर आते रहें|

शुभकामनाएं!

Related Categories

NEXT STORY
Also Read +
x