बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड में ये हैं आकर्षक करियर ऑप्शन्स

आजकल के जमाने को अगर विज्ञान का युग कहा जाए तो ऐसा कहना गलत नहीं होगा क्योंकि आजकल हमारे दैनिक जीवन में हरेक क्षेत्र में विज्ञान का असर नजर आता है. पूरी दुनिया के सभी देश मौजूदा समय में अपने यहां विज्ञान और टेक्नोलॉजी के विकास पर पूरा बल दे रहे हैं. कंप्यूटर, मोबाइल और लैपटॉप तो अब हमारे जीवन का एक अभिन्न हिस्सा बन चुके हैं. ऐसे में अगर हम बायोइंफॉर्मेटिक्स की बात करें तो इस विषय के तहत मॉलिक्यूलर लेवल अर्थात जींस या प्रोटीन लेवल पर सभी सजीव अवयवों की स्टडी के लिए इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है. यह एक इंटर-डिसिप्लिनरी फील्ड है और इसके तहत काफी बड़े बायोलॉजिकल डाटा के एनालिसिस के लिए मैथमेटिकल मॉडलिंग, स्टेटिस्टिक्स, प्रोग्रामिंग सहित विभिन्न एनालिटिकल मेथड्स का इस्तेमाल किया जाता है. बायोइंफॉर्मेटिक्स का सबसे बड़ा योगदान मेडिसन और हेल्थ केयर इंडस्ट्री में असरदार प्रोडक्ट्स तैयार करने में देखा जा सकता है. हमारे देश में भी बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड में रोज़गार के अवसर लगातार बढ़ रहे हैं.

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स कोर्सेज करने के लिए एलिजीबिलिटी और एंट्रेंस एग्जाम्स

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड से संबद्ध प्रमुख एजुकेशनल कोर्सेज

हमारे देश में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड से संबद्ध एजुकेशनल कोर्सेज को मुख्य रूप से 3 भागों में बांटा जा सकता है – बैचलर, मास्टर और डॉक्टोरल  लेवल के कोर्सेज. नीचे आपकी सहूलियत के लिए कुछ प्रमुख कोर्सेज की लिस्ट पेश है:

Trending Now

बैचलर डिग्री कोर्सेज:

भारत में इन अंडरग्रेजुएट कोर्सेज की अवधि 3 वर्ष है.

मास्टर डिग्री कोर्सेज:

भारत में इन पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज की अवधि 2 वर्ष है.

डॉक्टोरल  कोर्सेज:

भारत में आमतौर पर डॉक्टोरल  कोर्स की अवधि 3 साल से 5 साल तक होती है.

स्पेशलाइजेशन्स स्किल सेट:

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड के लिए जरुरी स्किल सेट

बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड में विभिन्न डिग्री कोर्सेज पूरे कर लेने के बावजूद कैंडिडेट्स के पास कुछ जरुरी पेशेवर स्किल्स होने चाहिए तभी वे इस फील्ड में अपना सफल करियर बना सकते हैं. कुछ खास स्किल्स निम्नलिखित हैं:

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स कोर्सेज करवाने वाले प्रमुख कॉलेज और यूनिवर्सिटीज

बायोइंफॉर्मेटिक्स कोर्सेज करवाने वाले प्रमुख विदेशी कॉलेज और यूनिवर्सिटीज

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड से संबद्ध प्रमुख जॉब प्रोफाइल्स

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड में मिलने वाला सैलरी पैकेज

हमारे देश में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड में किसी जूनियर रिसर्च फ़ेलो को एवरेज 18 हजार रुपये और सीनियर रिसर्च फ़ेलो को 30 हजार रुपये मासिक सैलरी मिलती है. इस फील्ड में पीएचडी डिग्री होल्डर्स को एवरेज रु. 36 हजार – 40 हज़ार मासिक सैलरी मिलती है. इसी तरह, रिसर्च एसोसिएट को रु. 70 हजार मासिक मिलते हैं. उक्त सभी एकेडेमिक पेशेवरों को 20 – 25% एचआरए भी दिया जाता है. आपके स्किल सेट और कार्य अनुभव का भी आपकी सैलरी पर असर पड़ता है. बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड में ग्रेजुएट पेशेवरों को विभिन्न कंपनियां शुरू में रु. 40 हजार – 60 हजार एवरेज सैलरी प्रति माह देती हैं और इस फील्ड में 3 वर्ष से 5 वर्ष तक कार्य अनुभव वाले पेशेवर रु. 10 लाख – 15 लाख सालाना तक कमा सकते हैं.

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड के प्रमुख जॉब प्रोवाइडर्स

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड में जॉब ऑफर करने वाली टॉप मल्टी-नेशनल कंपनियां

भारत में बायोइंफॉर्मेटिक्स की फील्ड के रिसर्च एंड ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट्स

जॉब, इंटरव्यू, करियर, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Categories

Live users reading now