सफलता की आदत| Shiv Khera | Safalta Ki Raah Par | Episode 5

आमतौर पर हम अपने आस-पास सफल लोगों को देखकर कई बार हैरान होते हैं कि कैसे इन लोगों ने अपने जीवन में सफलता हासिल की है? ये लोग ऐसा क्या करते हैं कि अक्सर अपने हर एक काम में सफल हो जाते हैं. इस वीडियो में सुप्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर शिव खेड़ा जी हमें अपनी नई किताब का हवाला देते हुए बता रहे हैं कि, अक्सर लोगों की सफलता और असफलता के पीछे उनका सकारात्मक या नकारात्मक रवैया होता है. यह सफलता या असफलता आपको कोई एक या दो दिन के अभ्यास से नहीं मिल जाती है बल्कि, अपने जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में सफलता हासिल करने के लिए हमें इस सफलता की आदत बनानी पड़ती है और एक बार जब यह आदत बन जाए तो फिर इस सफलता की आदत को कायम रखने के लिए लगातार भरपूर प्रयास भी करना पड़ता है. अगर आप भी अपने जीवन के किसी क्षेत्र में सफल होने के लिए लगातार संघर्ष कर रहे हैं तो यह वीडियो यकीनन आपको सकारात्मक ऊर्जा से भर सकता है.

इस वीडियो के शुरू में सुप्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर शिव खेड़ा जी कह रहे हैं कि, उन्हीनें अपनी नई किताब में यह लिखा है कि सकारात्कम रवैये वाले इंसान को आप कभी आगे बढ़ने और तरक्की करने से रोक नहीं सकते और नकारात्मक रवैये वाले व्यक्ति की आप कभी मदद नहीं कर सकते.

अक्सर लोग ऐसा कहते हैं कि, अगर आप अपनी जिंदगी में कुछ अलग बनना चाहते हैं तो आपको कोई विशेष काम करना पड़ेगा. तभी आप एक विशेष व्यक्ति बन सकेंगे.

  शिव खेड़ा जी हमें आगे समझा रहे हैं कि, अक्सर लोग यह कहते हैं कि वे बेहतरीन आमदनी चाहते हैं, वे विलक्षण सफलता चाहते हैं या फिर वे असाधारण जीवन जीना चाहते हैं. ऐसे लोग कभी खुद से यह नहीं पूछते कि क्या वे एक बेहतरीन इंसान हैं? क्या उनके भीतर असाधारण जोश और उत्साह है? क्या आपमें असाधारण समर्पण है? क्या आप बहुत ईमानदार हैं? क्या आप लोगों के साथ असाधारण तौर पर अच्छे संबंध कायम रखते हैं?....या फिर, क्या आप कड़ी मेहनत करना चाहते हैं? अगर आपके पास इनमें से कोई गुण नहीं है तो फिर आपको कोई सफलता नहीं मिलेगी. 

शिव खेड़ा जी अंग्रेज़ी भाषा का एक उदाहरण हमारे सामने रख रहे हैं कि जब हम किसी सफल व्यक्ति को देखते हैं तो हम यह कहते हैं कि, यह व्यक्ति जरुर सही वक्त पर सही जगह होगा. इसलिए इसकी लॉटरी खुल गई या यह सफल हो गया. लेकिन वास्तव में यह वाक्य एक अधूरा वाक्य है.

अपने जीवन में सफलता पाने के लिए बेशक आपको सही वक्त पर सही जगह पर होना तो जरुरी है लेकिन उससे पहले आपको एक सही इंसान बनना होगा और सही काम करने होंगे. आपको सही इंसान बनकर सही वक्त पर सही जगह होना होगा और सही काम करना होगा, तभी आप एक सफल इंसान बन सकेंगे.

अगर आप सही वक्त पर सही जगह हैं लेकिन सही इंसान नहीं बनते और सही काम नहीं करते तो आपको कोई सफलता नहीं मिल सकती. आगे शिव खेड़ा जी कहते हैं कि लोग अक्सर उनसे पूछते हैं कि क्या सफल इंसान गलतियां नहीं करते? शिव खेड़ा जी इसके जवाब में कहते हैं कि जरुर सफल इंसान भी गलतियां करते हैं. इसी तरह, क्या असफल लोग कभी-कभी सही काम नहीं करते? शिव खेड़ा जी इसके जवाब में भी कहते हैं कि, हां! असफल लोग भी कभी-कभी सही काम करते हैं. दरअसल, सफलता कभी-कभी सही काम करने से नहीं मिलती, सफलता आपको तब मिलती है जब आप लगातार सही काम करते रहते हैं. अगर आपसे कभी-कभी कोई गलती हो जाए तो वह माफ़ हो जाती है. 

इसी तरह, आदमी कभी-कभी सही काम करने से असफल नहीं बनता है. अगर आदमी अपनी गलती को बार-बार दोहराता रहे तो वह असफल बन जाता है.

ऐसे अन्य मोटिवेशनल वीडियो देखने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर रेगुलरली विजिट करते रहें.  

Related Categories

Also Read +
x