पेशेवर लोग कैसे सेल्फ-डाउट से बाहर निकलें?

आपने अपने लिये 2018 का लक्ष्य निर्धारित कर तो लिया है लेकिन क्या आप चुनौतियों और समस्याओं से निपटने को ले कर काफी चिंतित हैं जो आपके रास्ते में बाधा डाल सकती है?

वास्तव में  खुद के अन्दर लचीलापन होना एक ऐसी चीज है जो किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए चुनौतियों और समस्याओं से उबरने में मदद करता है. लेकिन, बिना समस्याओं की अच्छी समझ के  आप किसी विशेष समस्या या चुनौती के सर्वोत्तम समाधान के बारे में सोच नहीं सकते हैं.

किसी कॉर्पोरेट कंपनी में यह समस्या संस्कृति, आपके प्रदर्शन, मूल्यांकन प्रणाली, वेतन वृद्धि प्रणाली या कार्यालय जीवन से संबंधित किसी भी चीज से जुड़ी हो सकती है. इसीलिए आपको इन सब चीजों के बारे में अपने समझ को और बेहतर बनाने की जरूरत हो सकती है.

अगर आपके मन में इन चीजों के बारे में संदेह या डाउट है तो यह आपकी सफलता के लिए एक प्रमुख रुकावट बन सकता है. इस लेख में हम कार्यस्थल में होने वाले संदेहों की पहचान और दूर करने के तरीके की व्याख्या करेंगे.

अपनी कंपनी के दृष्टिकोण और लक्ष्य को जानें

जब पेशेवर कॉर्पोरेट कंपनी के लक्ष्य या लक्ष्य के अनुरूप काम करने में विफल रहते हैं तो वह  अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदान करने के बावजूद अपने काम के लिए उचित सराहना या प्रचार प्राप्त करने में विफल रहते हैं.  इसकी वजह से  वे खुद पर संदेह करना शुरू करते हैं और यह न केवल उनकी उत्पादकता को प्रभावित करता है बल्कि अपने काम में उनका विश्वास भी कम करता है. विश्वास और उत्पादकता के बिना आप अपनी सफलता की कल्पना नहीं कर सकते.

इसलिए, विश्वास और उत्पादकता प्राप्त करने के लिए कंपनी का लक्ष्य और दृष्टिकोण का पता होना बहुत जरूरी है. इससे आपको कंपनी की वरीयताओं को समझने में मदद मिलती है जो आपकी कार्य शैली, उत्पादकता और आपके काम के प्रदर्शन में सुधार कर सकती है.

कंपनी में अपनी ज़िम्मेदारियों को समझें

किसी संगठन में यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप कार्यस्थल पर ठीक से कार्य कर रहे हैं आप को अपनी ज़िम्मेदारी को समय पर पूरा करना चाहिए. कुछ जिम्मेदारियां औपचारिक होती हैं जिन्हें  जानना आसान रहता है, कुछ जिम्मेदारियां अनौपचारिक होती हैं और उन्हें समझना मुश्किल होता है.

 सफलता के लिए आपको अपनी सभी जिम्मेदारियों, औपचारिक या अनौपचारिक, को पूरा करना होगा. इसलिए, अपनी कंपनी में अपनी ज़िम्मेदारियों को समझें और उन्हें पूरा करने के लिए एकदम सही तरीके से काम करने की कोशिश करें. यह आपको अपने प्रबंधक या कंपनी की अपेक्षाओं को पूरा करने में मदद करेगा, जो आपके लिए सफलता प्राप्त करने हेतु सकारात्मक वातावरण बना सकता है.

नए माहौल में ढलें                   

एक पेशेवर के रूप में आपको किसी कॉर्पोरेट कंपनी में ज्वाइनिंग वाले दिन से ही सफलता और विकास हासिल करने के लिए प्रयास करने शुरू कर देने चाहिए. किसी भी तरह की नकारात्मकता से ग्रसित होने से आपकी सफलता के रास्ते में बाधा आ सकती है.

 लेकिन, अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए, आपको अपने नए कार्यस्थल में समायोजित करना होगा. इसलिए, अपने सहकर्मियों, प्रबंधक और अन्य कार्यालय कर्मचारियों के साथ संबंधों को बनाना शुरू करें और अपनी टीम के लिए निर्धारित  लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अपनी टीम की आवश्यकता को समझने की कोशिश करें.

संचार के महत्व को समझें      

अगर आप अपने कार्य से सम्बंधित किसी ई-मेल का जवाब नहीं दे पाए तो इसकी वजह से आपको गंभीर परिणाम भी झेलने पड़ सकते हैं. आपको अपने इस अव्यावहारिक व्यवहार के लिए गंभीर आलोचना का सामना करना पड़ सकता है.इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने कार्य पहले से ही पूरा कर लिया है या आपने उसमें अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है.

 इसलिए, अपने सहकर्मियों तथा वरिष्ठ सीनियर्स के साथ एक प्रभावी संचार स्थापित करने का प्रयास करें. इससे उन्हें किसी विशेष कार्य या मुद्दे के बारे में उसकी सटीक स्थिति को जानने में मदद मिलेगी जो उन्हें सही एक्शन लेने में  मदद कर सकती है. इसके अलावा, यह आपके सहकर्मियों, वरिष्ठ सीनियर्स और नियोक्ता के साथ आपके रिश्ते को बेहतर बनाने में मदद करेगा जो आपकी सफलता और विकास के लिए अनुकूल स्थिति पैदा कर सकते हैं.

प्रदर्शन के मूल्यांकन प्रणाली से परिचित रहें          

यदि आप अपने संगठन में वेतन वृद्धि, पदोन्नति या अन्य मूल्यांकन से जुड़े पुरस्कार नहीं प्राप्त करते हैं तो आप इसकेलिए बुरा महसूस कर सकते हैंऔर यह आपके विश्वास को भी नुकसान पहुंचा सकता है जो काम पर आपके प्रदर्शन को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है.

इसलिए, व्यावसायिक मूल्यांकन के बारे में भ्रम की स्थिति एक पेशेवर के लिए विफलता का एक प्रमुख कारण बन सकती है. इसलिए, आपको अपनी कंपनी की मूल्यांकन प्रक्रिया से परिचित होना चाहिए.

निष्कर्ष        

 प्रतिस्पर्धी कॉर्पोरेट जगत में सफलता प्राप्त करने के लिए एक बहुत अच्छा परफ़ॉर्मर बनने की आवश्यकता होती है. एक अच्छा परफ़ॉर्मर बनने के लिए, आपको किसी संगठन में काम  की शुरुवात करने के दिन से ही औपचारिक या अनौपचारिक जिम्मेदारियों को जानना और पूरा करना होता है.

 कंपनी में पहले दिन से ही एक परफ़ॉर्मर  बनना एक चुनौतीपूर्ण काम है. लेकिन, अगर आप अपनी कंपनी का दृष्टिकोण और लक्ष्य समझ लेते हैं और  अपनी जिम्मेदारियों को भी समझ लेते हैं तो आपके लिए यह काम थोडा आसान हो जाएगा. इसके साथ-साथ,  खुद को नई कार्य संस्कृति में समायोजित करना और प्रभावी संचार स्थापित करना, आपके लिए सफलता के दरवाजे खोल सकता है.

 

Related Categories

Popular

View More