कम मेहनत से भी एग्ज़ाम्स में अच्छे मार्क्स कैसे लाएं, जाने बेहतर प्रोडक्टिविटी की ये 4 टिप्स

 

अक्सर स्टूडेंट्स को कुछ ऐसी आदतों का सामना करना पड़ता है जो उनकी पढ़ाई में बाधा बन जाती हैं जैसे की पढ़ते समय आलस करना, या एग्ज़ाम्स में अपने समय की कमी जानते हुए भी लापरवाही से समय व्यर्थ करना, अपनी गतिविधियों को सही क्रम में ना लगाना चाहे वो पढ़ाई हो या खेल-कूद या फिर दोस्तों के साथ समय व्यतीत करना.

स्टूडेंट्स कभी न कभी इच्छाशक्ति की कमी, goal सेट न कर पाना और पढ़ाई करने में टालमटोल करना जैसी आदतों से परेशान होते हैं. और यकीन मानिये यह सब बहुत ही आम है क्यूंकि हर स्टूडेंट इन हालात से गुज़रता हैं. इसमें स्टूडेंट्स का कोई दोष नहीं होता और वह अपनी इन कमियों का एहसास होने पर सुधार करने की अपनी पूरी कोशिश करते हैं. यहां पर बताई गई बातों का ध्यान रखने से स्टूडेंट्स अपनी बहुत सी आदतें ठीक कर सकतें हैं और प्रोडक्टिविटी बढ़ा सकतें हैं.

एग्जाम की चिंता को भगाओ दूर और इस तरह शुरू करो तैयारी

1. एक नॉट-टू-डू लिस्ट बनाएं  हम सभी to-do list बनातें है लेकिन अपनी अच्छी प्रोडक्टिविटी के लिए एक not-to-do list भी ज़रूर बनाएं जिससे आप उन सभी आदतों का ध्यान रख सकेंगे जो आपको पढ़ाई में रुकावट बनती है.

हम सबको इस बात का एहसास होता है की हमारे लिए कब क्या ज़रूरी है और हमारी कौन-सी आदत हमारे goals के बीच में आ रही हैं. और अगर स्टूडेंट्स अपनी इन बातों को जानते हुए भी अपने goals पर ध्यान देने की जगह अपना समय व्यर्थ करते है तो यह उनके लिए नुकसानदायक साबित होगा.

स्टूडेंट्स अपनी उन आदतों को पहचाने जैसे की mobile phones, laptop या TV ज़रूरत से ज़्यादा देखना/use करना या फिर पढ़ाई के लिए ज़रूरत से कम समय देना और अक्सर पढ़ाई से जी चुराना आदि; इन सभी बातों पर गौर करें और एक सूची तैयार करें जिसे आप अपने डेस्क/स्टडी टेबल पर लगा कर रखें ताकि आपको याद रहे.

बोर्ड परीक्षा में प्रश्न पत्र हल करते समय इन ख़ास बातों का ज़रूर रखें ध्यान

2. सही से टाइम मैनेजमेंट करें  सबसे ज़रूरी होता है टाइम-मैनेजमेंट और हर स्टूडेंट को अपना समय सही से निर्धारित करना बहुत ज़रूरी है. आप अपने टाइम टेबल में यह निश्चित करें की आपको कितना समय पढ़ाई के लिए देना है, कितना समय आपको रिफ्रेशमेंट के लिए चाहिए आदि. यह सभी बातें आपकी प्रोडक्टिविटी बढ़ाने में बहुत ज़रूरी है क्यूंकि इससे आपका पढ़ने का समय तय रहेगा, आपके सोने का समय तय रहेगा और अगर आप निश्चित रूप से अपना टाइम सही से मैनेज कर लेते है तो आपको अपना 100% परिणाम पाने से कोई नहीं रोक सकता.

3. अपनी प्राथमिकता सही से सेट कर लें – ऐसा कई बार होता है की हम पढ़ाई करने बैठते है लेकिन हमे बीच में ही कुछ और याद आ जाता है और हम अपनी पढ़ाई छोड़कर उस काम में लग जाते हैं. इससे आपकी प्रोडक्टिविटी पर बहुत इफ़ेक्ट पड़ता है क्यूंकि आप अपनी पढ़ाई का ट्रैक खो बैठते है और आपको फिर दूबारा से पढ़ाई शुरू करनी पड़ती है.

अपनी प्रोडक्टिविटी को सही रखने के लिए आपको एक प्रायोरिटी (प्राथमिकता) लिस्ट तैयार करनी होगी और उस लिस्ट में सबसे ज़रूरी से शुरू करते हुए अपना काम बांटना होगा. इसे इफेक्टिव तरीके से फॉलो करना होगा और इस लिस्ट को लगातार कुछ दिन फॉलो करने से आपको पॉजिटिव रिजल्ट दिखने लगेंगे.

स्टूडेंट्स ऐसे करें किसी भी काम को असंभव से संभव, जानें ये 5 टिप्स

4. Goals (लक्ष्य) सेट करना सीखें  सभी स्टूडेंट्स को अपना goal सेट करना आना चाहिए क्यूंकि बिना लक्ष्य (goal) को सही डायरेक्शन नहीं मिल पाएगी| अपने goals को तीन भाग में बाँट ले –

आसान  जैसे की पहले अपनी प्रायोरिटी लिस्ट और शेड्यूल बना लें, क्यूंकि यह सबसे पहला और आसान काम है. जिससे आप अपने बड़े और महत्वपूर्ण goal की ओर बढ़ेंगे|

थोड़े मुश्किल – इस पार्ट में उन बातों का ध्यान रखें जो आपको आपके goals से भटकाती है और आपकी ऐसी आदतें जो आपके लक्ष्य के लिए रुकावट बनती हैं यह थोड़ा मुश्किल और समय लगाकर करने वाला काम है.

कठिन – सबसे मुश्किल काम होता हैं अपने शेड्यूल को फॉलो करना जिसमे आपको दुगनी मेहनत करनी होती है क्यूंकि आपको goal achieve भी करना और साथ ही नियम से अपने आपको समयबद्ध रखना होगा ताकि आपका लक्ष्य सही से प्राप्त हो सके और आपको 100% परिणाम मिल सके|

स्टूडेंट्स के लिए आलस दूर करनें के ये है 10 असरदार टिप्स

निष्कर्ष: अपने अच्छे exam results के लिए स्टूडेंट्स को मेहनत करने के साथ-साथ स्मार्ट प्लानिंग की ज़रूरत है और यहां बताई गई टिप्स से आप कम मेहनत में भी अच्छा रिजल्ट ला सकेंगे.

Related Categories

Also Read +
x