जानें कैसे आप SSC परीक्षाओं में अंग्रेजी भाषा के डर को कैसे दूर कर सकते हैं?

हर छात्र के जीवन का एक उद्देश्य होता है। कुछ छात्र अपना उद्देश्य अपने बचपन में तय करते हैं, कुछ स्कूल-जीवन से सोचना आरम्भ करते हैं और कुछ स्नातक होने के बाद सोचना आरम्भ करते हैं। ग्रामीण या अर्ध-शहरी क्षेत्रों में रहने वाले छात्रों या गैर-अंग्रेज़ी माध्यम से पढ़ने वाले छात्र आम तौर पर बहुत मेहनत कर रहे हैं। उनमें से अधिकांश लोगों के जीवन का उद्देश्य सरकारी नौकरी पाना है। उनके लिए सबसे बड़ी मुश्किल या चुनौती तैयारी के दौरान अंग्रेजी सेक्शन में आती है । यह सेक्शन मुश्किल नहीं है। अंग्रेजी भाषा के माध्यम से पढ़ाई करने वाले छात्रों की तुलना में उन्हें इस विषय का उचित शिक्षण नहीं मिलता है।

इस लेख में हम आपको यह बताने का प्रयास कर रहें हैं कि आप प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं के लिए अंग्रेजी सेक्शन की तैयारी कैसे कर सकते हैं। यहां उन चीजों की सूची दी गई है जिन्हें आपको अपने दैनिक जीवन में करना चाहिए।

SSC परीक्षाओं हेतु पात्रता मानदंड

पढ़ने की आदत विकसित करना

विद्यार्थी आम तौर पर सोचते हैं कि वे अख़बार पढ़कर अंग्रेजी भाषा में निपुणता हासिल कर सकते हैं। आपको यह समझना चाहिए कि यह पढ़ने की आदत विकसित करने का सही तरीका नहीं है। सबसे अच्छा तरीका है कि आप उपन्यास, दिलचस्प कहानियां, जीवनियां पढ़ें या कुछ ऐसा पढ़ें जो आपका उत्साह बढ़ाये और आपके मन में पढ़ने की आदत विकसित करे। जब आप ऐसे  लेखों को पढ़ना शुरू करेंगे, तो आप खुद से मुश्किल शब्दों और वाक्यांशों को समझ सकेंगे। यदि आपको पहली बार में समझ नहीं आता है, तो आप इसे फिर से पढ़ें, इसका विश्लेषण करें, लेख के विषय और लेखक की सोच को समझने की कोशिश करें । इससे आपकी समझने की क्षमता भी बढ़ेगी।

इस तरह, आप क्लोज टेस्ट, फ़िलर्स, वाक्य पूर्णता आदि के प्रयोग को समझ सकेंगे और अध्ययन के दौरान शब्द और वाक्यांशों के नोट्स बना सकेंगे। इससे, आप वाक्यों में शब्दों का सही उपयोग कर सकते हैं। जब आपमें पढ़ने की आदत परिपक्व हो जाएगी, तब आप समाचारों को पढ़ने में अपना ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। पूरा अख़बार पढ़ने की बजाय केवल संपादकीय पेज पढ़ें।

अंग्रेजी फिल्में देखना प्रारंभ करें

जब आप अंग्रेजी फिल्में देखना शुरू करते हैं, तो शुरू में आप इसे समझ नहीं पाते और असहज महसूस करते हैं। अगर आपको समझ नहीं आता है, तो इसे बार-बार सुनें। साथ ही यदि नीचे कैप्शन दिया गया है तो इसे पढ़कर इसका विश्लेषण करने का प्रयास करें। यह आपके उच्चारण, शब्दावली को बेहतर बनाता है, और पैरा-जंबल्स और रिडिंग कॉम्प्रिहेंशन को हल करने में मदद करता है।

SSC CGL और RRB NTPC के बीच एक विस्तृत तुलना

अभ्यास करना शुरू करें

प्रत्येक प्रकार के प्रश्नों पर रोजाना आधे घंटे अभ्यास करने की आदत डालें। यदि आप एरर स्पोटिंग को पर्याप्त समय देते हैं, तो यह कई क्षेत्रों में आपकी सहायता करेगा। आप पढ़ते समय वाक्य का सही विश्लेषण करना शुरू कर देंगे। क्लोज टेस्ट को हल करें और एलिमिनेशन नियम द्वारा वाक्य पूर्ण करें। एलिमिनेशन नियम, गलत विकल्पों को हटाकर जवाब खोजने में मदद करता है।

उच्चारण अभ्यास

अपने दोस्तों और रिश्तेदारों आदि के साथ अंग्रेजी में बात करना शुरू करें। इसमें शर्म महसूस नहीं करनी चाहिए। इससे दिन-प्रतिदिन आप बेहतर बनेंगे। साधारण शब्दों का उच्चारण सुनना प्रारंभ करें, जिन शब्दों का इस्तेमाल हम अक्सर अपने जीवन में दिन-प्रतिदिन करते हैं। उदाहरण के लिए, 'आर', 'आस्क', 'बिज़िनेस', 'फ़ेज', 'क्लोथ्स' आदि। ध्वनियां जैसे कि 'श', 'च', 'इश', 'चि', 'इस्क' आदि से स्पष्ट रहें। यह समूह चर्चा और इंटरव्यू प्रक्रिया में आपकी सहायता करेगा। बस बोलते समय खुद में विश्वास पैदा करने का प्रयास करें। संकोच मत कीजिये । अज्ञात शब्दों का उपयोग करने से बचें।

SSC CGL/CHSL में नियुक्ति के बाद पीजी और डॉक्टरेट करने के लाभ

सिनोनिम्स / एंटोमिक्स का अभ्यास करें

जो भी अध्ययन सामग्री बताई जायें उसमें से सिनोनिम्स  और एंटोनिम्स शब्दों का अभ्यास करें। अजीब या अपरिचित शब्दों की एक सूची के साथ उनके संबंधित सिनोनिम्स और एंटोमिक्स शब्द बनाएं। उन्हें नियमित रूप से पढ़ें और उनसे वाक्य बनाने का अभ्यास करें। इस प्रकार का अभ्यास आखिरकार आपको अंग्रेजी भाषा वर्ग में रिडिंग कॉम्प्रिहेंशन, वोकेब्लरी टेस्ट और संटेंस फॉरमेशन आदि में मदद करेगा।

मॉक टेस्ट का अभ्यास करें 

आप जिस भी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, रोजाना उसके एक मॉक टेस्ट का अभ्यास करें। अपने मजबूत और कमजोर क्षेत्रों को समझने की कोशिश करें। फिर अपने कमजोर क्षेत्रों को अधिक समय देना शुरू करें। पिछले साल के प्रश्नपत्र को हल करें। एक पेपर को हल करने के लिए सही योजना बनाएं। सवालों को हल करने का प्रयास करने के लिए एक क्रम बनाएं। जिससे कि आप अपने समय के अनुसार किस विषय का अभ्यास करना चाहिए, इसका चुनाव कर सकें। पहले संटेंस  करेक्शन का प्रयास करें, और फिर फ़िलर्स वाले प्रश्नों को हल करें। इसके बाद आप पैरा जंबल, संटेंस एक्सक्लूज़न प्रकार के प्रश्नों का चयन कर सकते हैं। सबसे बाद में रिडिंग कॉम्प्रिहेंशन को हल करें।

रिडिंग कम्प्रिहेंशन में पैसेज के तर्क को समझने का प्रयास करें। पूरी कहानी को ध्यान में रखें। पैसेज आपको हमेशा एक निश्चित शुरुआत, मध्य और अंत के साथ कहानी बताएगा। जो समय इस वर्ग के लिए परीक्षा में प्राप्त होता है, उसी पूर्व निर्धारित समय सीमा में ऐसे प्रश्नों को हल करने का प्रयास करें । इससे प्रश्नों को हल करने की आपकी गति बढ़ जाएगी।

जानें- SSC CGL के अधिकारियों को कैसे प्रमोट (पदोन्नति) किया जाता है?

इन सभी उपर्युक्त अभ्यासों से मुख्य अंग्रेजी सेक्शन में काफी सुधार होगा, खासकर जिन छात्रों ने अंग्रेजी भाषा के माध्यम से शिक्षा प्राप्त नहीं की है। बस अपने ऊपर विश्वास बनाये रखिये।

Advertisement

Related Categories

Advertisement