JagranJosh Education Awards 2021: Coming Soon! To meet our Jury, click here
Next

Board Exam और JEE main 2019, दोनों में करना चाहते हैं टॉप तो ज़रूर अपनाएं ये 5 टिप्स

Gurmeet Kaur

JEE Main 2019 की दूसरे सेशन की परीक्षा 7 अप्रैल से 20 अप्रैल तक आयोजित की जाएंगी. इसी बीच CBSE Class 12 की बोर्ड परीक्षाएं  पहले ही शुरू हो चुकी हैं जो कि 3 अप्रैल, 2019 तक चलने वाली हैं. तो ऐसे विद्यार्थियों के लिए जो सीबीएसई कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षा के साथ-साथ अप्रैल में JEE Main का एग्जाम भी देंगे, सबसे महत्वपूर्ण बात है कि वे सीबीएसई एग्जाम और JEE Main की तैयारी के बीच किस तरह से संतुलन बना पाते हैं. दरअसल, CBSE और JEE Main दो अलग लेवल की परीक्षाएं  हैं जिनमे प्रशन पूछने का क्राइटेरिया बिलकुल अलग होता है. जहाँ सीबीएसई परीक्षा में बच्चे को Basic Concepts के आधार पर जांचा जाता है वहीं जेईई एक अलग दर्जे का एग्जाम है जिसमे परीक्षार्थी को उसकी क्रिटिकल थिंकिंग और एनालिटिकल स्किल्स के आधार पर परखा जाता है. इसलिए लगभग सभी साइंस/इंजीनियरिंग विद्यार्थियों के लिए यह काफी ज़रूरी हो जाता है कि वे इन दोनों परीक्षाओं की तैयारी में एक ख़ास संतुलन बनाके चलें. बेशक इन दो महत्वपूर्ण इम्तिहानों को एक साथ देना थोड़ा मुश्किल हो सकता है लेकिन सही स्टडी प्लान व स्ट्रेटेजी अपनाने से इस मुश्किल काम को भी आसान बनाया जा सकता है.

नीचे हम आपको कुछ ख़ास तरीके बता रहे हैं जिनकी मदद से आपके लिए JEE और CBSE बोर्ड परीक्षा की तैयारी में उचित संतुलन कायम  करना आसान हो जायेगा:

1. परीक्षा के पाठ्यक्रम को दोबारा पढ़ें

परीक्षा से पहले आखिरी दिनों की तैयारी की योजना तैयार करने से पहले, सीबीएसई और जेईई मेन परीक्षा दोनों के सिलेबस का विश्लेषण करना बेहद ज़रूरी है. बोर्ड परीक्षा केवल 12 वीं कक्षा के पाठ्यक्रम को कवर करती है जबकि जेईई मेन में 11 वीं और 12 वीं कक्षा के पाठ्यक्रम दोनों को शामिल किया जाता है. सीबीएसई 12 वीं बोर्ड परीक्षा के लिए अभ्यास करते समय, यह संभव है कि छात्र जेईई मेन के लिए तैयार किए जाने वाले कक्षा 11 वीं के विषयों का अभ्यास करने भूल जायें. तो, पाठ्यक्रम को पढ़ने के बाद आपको परीक्षा के लिए कवर किये जाने वाले मुख्य कंटेंट के बारे पता चलेगा. परीक्षा के सिलेबस को जानने के बाद, रिवीजन के लिए इसे विभाजित करना परीक्षा कि तैयारी के लिए अगला स्टेप होगा.

Trending Now

बोर्ड परीक्षा में परफेक्ट उत्तर लिखने के ये तरीके हैं सबसे आसान लेकिन महत्वपूर्ण!

2. JEE से पहले बोर्ड परीक्षा को महत्त्व देना है ज़रूरी

ज़्यादातर विद्यार्थी ये जानते हुए कि दोनों परीक्षाओं के लिए सिलेबस एक समान है, JEE परीक्षा की तैयारी को बोर्ड परीक्षा से ज़्यादा महत्त्व देते हैं जिसकी वजह से उनका बोर्ड एग्जाम का परिणाम तो खराब आता ही है साथ ही वे JEE परीक्षा के पहले चरण को भी पार करने से चूक जाते हैं. इस नाकामयाबी से निराश और हताश विद्यार्थियों की भविष्य की योजनाओं पे काफी बुरा प्रभाव पड़ता है. विद्यार्थी एक बात हमेशा याद रखें कि सीबीएसई बोर्ड परीक्षा में आपसे हर विषय के लिए बुनियादी प्रश्न पूछे जाते हैं जिनकी तैयारी करने से आप कांसेप्ट को बेहतरीन तरीके से समझते हुए हर विषय पे अपनी मज़बूत पकड़ बना सकते हो जो आपकी JEE की परीक्षा के लिए की जाने वाली तैयारी का सबसे मज़बूत पक्ष बन जायेगा. अक्सर JEE की परीक्षा में मुश्किल और जटिल प्रश्न पूछे जाते हैं जिनको सही रणनीति और कॉन्सेप्ट्स पे मज़बूत पकड़ होने से ही हल किया जा सकता हैl सीबीएसई बोर्ड परीक्षा में कामयाबी के लिए NCERT की किताबों को फॉलो करें और इन्हें ख़तम करने के बाद ही JEE की तैयारी की तरफ़ अपना अगला कदम बढ़ाएं.

3. हर विषय के Fundamentals को समझे और ज़्यादा से ज़्यादा Numericals हल करें

क्यूँकि CBSE और JEE परीक्षाओं के लिए एक ही सिलेबस होता है, इस बात को विद्यार्थी बोझ की बजाये अपने लिए सुविधा मान के चलेंl कर्टाप पहले सीबीएसई परीक्षा की तैयारी करें जिसके लिए सभी fundamentals को अच्छे से समझ लें और उनसे जुड़े बहुत से सवाल हल करें. यहीं से आपको JEE परीक्षा की तैयारी में भी मदद मिलेगी. जितने हो सके उतने ज़्यादा टेस्ट पेपर, प्रैक्टिस पेपर हल करें व ऑनलाइन टेस्ट दें जिससे आपको अपने प्रदर्शन व तैयारी का आईडिया हो सके.

4. पढ़े जाने वाले टॉपिक्स को आसान, औसत व कठिन वर्गों में बाँट लें  

सीबीएसई बोर्ड की तैयारी करने का मतलब है कि आप अपनी JEE परीक्षा के लिए महज़ Warm up कर रहे हो. असली स्ट्रेटेजी तो बनानी अभी बाकी हैl इसके लिए सबसे पहले CBSE और JEE के लिए पढ़े जाने वाले टॉपिक्स को अलग अलग नोट कर लें चाहे उनमें कोई टॉपिक एक समान ही क्यूँ ना हों. अब CBSE बोर्ड परीक्षा के लिए बनाई लिस्ट में लिखे सभी टॉपिक्स को ऊपर दिए गये तीन वर्गों में बाँट लेंl यही तरीका JEE के लिए बनाई लिस्ट में भी अपनाएंl अब अगले चरण में आपको CBSE की लिस्ट में नोट किये गये मुश्किल विषयों को उठाना होगा और उनको अच्छे से समझते हुए उनपे अपनी पकड़ मज़बूत करनी होगी. इसके बाद सामान्य टॉपिकस को पढ़ें और समझें. अंत में बचे हुए आसान विषयों का अभ्यास करें. यही तरीका अब आप JEE परीक्षा के लिए नोट किये टॉपिक्स पे अपनाएं.

क्या बोर्ड परीक्षा का डर आपकी सफलता में बन रहा है रुकावट? तो ये टिप्स ज़रूर करेंगे आपकी मदद

5. खुद को सदैव प्रेरित, उत्साहित, कॉन्फिडेंट रखना और एनर्जी ब्रेक लेना है बेहद ज़रूरी

अपनी योग्यता को बढ़ाने के लिए और CBSE तथा JEE जैसी दो बेहद महत्वपूर्ण परीक्षाओं में सही संतुलन बिठाने के लिए पूर्ण आत्मविश्वास रखना और खुद को अपने लक्ष्य की ओर प्रेरित रखना बेहद ज़रूरी है. यह सोच लेके चलें कि आपको किसी भी तरह सामने वाली चिड़िया की आँख में निशाना लगाना ही है. बेशक यह कोई आसान काम नहीं है लेकिन आपको हमेशा खुद को ये शब्द बोलकर प्रेरित करना होगा कि, “मैं यह कर सकता हूँ और मैं करके ही रहूँगा.” सबसे अहम् बात है कि आपको एक उचित टाइम मैनेजमेंट अपनाना होगा जिसमे आपको दोनों परीक्षाओं की तैयारी के के साथ साथ एनर्जी ब्रेक लेने का भी मौका मिले. एनर्जी ब्रेक से हमारा मतलब है पढ़ाई के दौरान लिया जाने वाला विराम जिसमे आप अपनी मन पसंद एक्टिविटी करके ख़ुद को तरो - ताज़ा कर सको जिससे आपका दिमाग भी रिचार्ज हो जायेगा और फ्रेश दिमाग से अगले स्टडी सेशन में चीज़ों को याद करना और भी आसान हो जायेगा. इस एनर्जी ब्रेक के दौरान आप 30-35 मिनट के लिए नींद की झपकी ले सकते हैं या अपने माता–पिता से नार्मल बात-चीत कर सकते हैं, हल्का संगीत सुन सकते हैं, सैर के लिए जा सकते हैं या कोई भी अन्य एक्टिविटी कर सकते हैं जिसमे पढ़ाई से जुड़ी कोई बात न की जाए और जिसको करने के बाद आप तरो ताज़ा महसूस कर सको.

निष्कर्ष

CBSE तथा JEE की परीक्षा की तैयारी में सही संतुलन बनाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज़ है समय समय पर Mock Test देना और ख़ुदको चिंता व तनाव से दूर रखना. चिंता या दबाव की स्थिति में कभी भी कोई निर्णय न लें और न ही कोई एक्शन प्लान बनाएं. पहले ख़ुद को इस स्थिति से बाहर निकालें फिर अपना स्ट्रेटेजी प्लान तैयार करें. सबसे ज़रूरी बात याद रखें, एक चीज़ जो आपको इन इम्तिहानों में शत प्रतिशत सफ़लता दिलाएगी वो है, प्रैक्टिस और सिर्फ़ प्रैक्टिस.

कम समय में Board Exams की तैयारी के लिए कुछ ख़ास टिप्स

बोर्ड और प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे किसी भी न्यूमेरिकल को इस तरह से करें हल, मिलेंगे पूरे मार्क्स

विद्यार्थी कैसे कर सकते हैं अपने दिमाग का 100% इस्तेमाल? जानें ये पाँच तरीके

Related Categories

Live users reading now