ये खास टिप्स फ़ॉलो करके कॉलेज एग्जाम्स में लायें बढ़िया मार्क्स

कॉलेज एग्जाम्स के दिनों में स्टूडेंट्स की टेंशन बढ़ जाती है और चाहे वे सारा साल कितनी भी तैयारी कर लें, उन्हें सिर्फ एक ही फ़िक्र सताती है कि अपने कॉलेज एग्जाम्स में कैसे बेहतरीन मार्क्स लें? अपने इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए स्टूडेंट्स कई तरीके अपनाते हैं. लेकिन बहुत बार अगर हमारे तरीके ज्यादा असरदार न  हों तो हमें उनका ज्यादा लाभ नहीं मिल पता है. इसी तरह, कई बार स्टूडेंट्स दिन-रात एक करके अपने फाइनल एग्जाम्स की तैयारी करते हैं लेकिन, फिर भी उनके अच्छे मार्क्स नहीं आ पाते हैं और इसका कारण होता है स्टूडेंट्स के स्टडी मेथड्स में किसी कमी का रह जाना. अगर आप भी एक ऐसे कॉलेज स्टूडेंट हैं जिसके एग्जाम्स आने ही वाले हैं तो हम इस आर्टिकल में आपको कुछ ऐसे खास कारगर टिप्स बतायेंगे जिन्हें फ़ॉलो करके आप अपने कॉलेज एग्जाम्स में आशातीत सफलता हासिल कर लेंगे. जी हां! अगर आप अपने फाइनल एग्जाम्स की तैयारी करने से पूर्व कुछ खास टिप्स पर ध्यान दें तो आप बेहतरीन एग्जाम प्रिपरेशन करके एग्जाम स्ट्रेस और अनावश्यक टेंशन से बच सकते हैं. इतना ही नहीं, आप अगर निम्नलिखित टिप्स को फ़ॉलो करके अपने कॉलेज एग्जाम्स के उत्तर लिखेंगे तो आपके सभी सब्जेक्ट्स के एग्जाम्स निर्धारित समय-सीमा के भीतर पूरे हो जायेंगे और आपको अपने आंसर्स रिवाइज़ करने के लिए भी कुछ समय जरुर मिल जाएगा.....तो कॉलेज एग्जाम्स में अच्छे मार्क्स लाने के लिए आइये आगे पढ़ें यह आर्टिकल:

प्रीवियस इयर्स एग्जाम पेपर्स की कर लें अच्छी प्रैक्टिस

प्रीवियस इयर्स अर्थात पिछले वर्षों के एग्जाम्स में पूछे गए प्रश्नों के उत्तर लिखने की प्रैक्टिस करने से न केवल आपका प्रश्नों के उत्तर लिखने का स्किल निखरता है बल्कि आप प्रश्नों के पैटर्न से भी अच्छी तरह परिचित हो जाते हैं. आप पिछले 10 वर्षों के प्रश्न देख सकते हैं और एक-एक करके उन प्रश्नों के उत्तर लिखना शुरू कर सकते हैं. इससे आपको अपने एग्जाम्स और विषय के अनुसार पूछे जाने वाले प्रश्नों का पैटर्न भी पता चल जाएगा और आप निर्धारित समय सीमा में प्रश्नों के उत्तर लिखना सीख जायेंगे. आप हरेक प्रश्न के लिए निर्धारित मार्क्स के अनुसार अपने प्रश्नों के उत्तर लिख सकते हैं. उदाहरण के लिए, आप सबसे पहले उस प्रश्न का उत्तर लिख सकते हैं जो प्रश्न आपको सबसे अच्छी तरह से आता है और फिर, इस तरह सबसे मुश्किल प्रश्न का उत्तर सबसे आखिर में लिख सकते हैं. लेकिन, आप अपनी सुविधा के अनुसार सबसे मुश्किल प्रश्न का उत्तर भी पहले लिख सकते हैं. यह केवल आपकी इच्छा पर निर्भर करता है कि आप कौन-सा तरीका अपनायें.  

ब्लॉग राइटिंग बना देगी आपको आंसर लिखने में एक्सपर्ट

जब आप ब्लॉग लिखना शुरू करते हैं तो आप स्वयं इसके राइटर और एडिटर होते हैं और आप जो भी लिखना चाहें, लिख सकते हैं. अगर आपका कंटेंट उम्दा और रोचक है तो आपको बहुत जल्दी अपने ब्लॉग के लिए ऑडियंस मिल जायेगी. यह ऑडियंस आपके ब्लॉग पर बेशकीमती कमेंट्स देगी जिससे आप अपने ब्लॉग और राइटिंग स्किल में लगातार सुधार कर सकते हैं. इससे आप अपने विचारों को अभिव्यक्त करने में सक्षम बनेंगे और हरेक नयी पोस्ट के साथ आपकी सोशल मीडिया रीच लगातार बढ़ेगी.  

ये हैं ए-ग्रेड स्टूडेंट बनने के सीक्रेट टिप्स

वोकेबुलरी या शब्द ज्ञान को बनाएं स्ट्रोंग

उपयुक्त शब्द जानने और लिखते समय उनका सटीक प्रयोग करने से न सिर्फ आपकी सोचने की प्रकिया में तेज़ी आयेगी बल्कि, आप अपने प्रत्येक एग्जाम में बढ़िया उत्तर लिख सकेंगे. वोकेबुलरी बढ़ाने के कई तरीके हैं लेकिन,  उनमें ‘रीडिंग’ सबसे ज्यादा कारगर तरीका है. रीडिंग के माध्यम से इंग्लिश सीखना सबसे अच्छा तरीका है क्योंकि इसमें आप बोर हुए बिना शब्दों का सही इस्तेमाल करना बड़ी सरलता से सीख सकते हैं. अपने पास एक डिक्शनरी जरुर रखें और जब आपको किसी शब्द का अर्थ पता न चले तो आप तुरंत डिक्शनरी में उस शब्द का सही अर्थ देख लें. ऐसा रोजाना करने से धीरे-धीरे आपकी वोकेबुलरी काफी स्ट्रोंग हो जायेगी.

स्टडी नोट्स हैं बढ़िया विकल्प

शायद यह आपको एक घिसा-पिटा तरीका लगे लेकिन, अपने नोट्स स्वयं लिखने से आपको लिखने की अच्छी प्रैक्टिस हो जायेगी जिससे आगे चलकर आपको काफी फायदा होगा. अपने नोट्स स्वयं तैयार करें और उनमें निरंतर सुधार करते रहें ताकि आप निर्धारित शब्द सीमा के तहत अपने उत्तर लिखना सीख जायें. इससे आपको दोहरा फायदा होगा और वह यह है कि आप निर्धारित समय और शब्द सीमा के भीतर अच्छा कंटेंट लिखना सीख जायेंगे.

सब्जेक्ट कंटेंट पर दें पूरा ध्यान

जब एग्जाम में कोई प्रश्न पूछा जाता है तो आप अपने स्टडी नोट्स के कंटेंट से उत्तर लिखें. इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा. एग्जाम्स में अपने नोट्स के कंटेंट को अच्छे तरीके से लिखें. प्रश्नों के अनुसार ही अपने उत्तर लिखें. याद रखें कि यह आपका एग्जाम है और इसमें आपको जटिल भाषा का उपयोग न करके साधारण लेकिन, असरदार शब्दों में अपने उत्तर लिखने हैं. इसलिए, बेहतर होगा कि आप अपने उत्तर सटीक और एग्जाम में पूछे गए प्रश्नों के अनुसार ही लिखें.

ऑनलाइन लर्निंग: कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए मॉडर्न और फायदेमंद कॉन्सेप्ट

मल्टीपल रिसोर्सेज से बनाएं अपने सब्जेक्ट नोट्स

जब आप अपने सब्जेक्ट नोट्स बनाते हैं तो हमेशा मल्टीपल रिसोर्सेज का इस्तेमाल करें ताकि आपके उत्तर बड़े प्रभावशाली बन सकें. कई सोर्सेज का संदर्भ देने पर, आप उपयोगी जानकारी एकत्र करने और उसकी मदद से अपने उत्तर तैयार करने की काबिलियत हासिल कर लेते हैं. आपको अपने विषय में भी महारत हासिल हो जायेगी. इससे आप लीक से अलग हटकर और रचनात्मक तरीके से सोचने की काबिलियत हासिल कर लेंगे. अब, क्योंकि आपने किसी भी टॉपिक पर विभिन्न पहलुओं से तैयारी की है तो आप अपने पेपर में उस टॉपिक पर पूछे गए प्रश्नों के बहुत बढ़िया उत्तर लिख सकेंगे.

एग्जाम के दौरान प्रश्नों के दें सटीक उत्तर

अगर आप अपने सभी सब्जेक्ट्स के स्टडी नोट्स बना लें तो अपने कॉलेज एग्जाम के दौरान आप हरेक सब्जेक्ट के सटीक आंसर्स अपने स्टडी नोट्स के मुताबिक लिख सकते हैं. अगर आप अपनी स्टडी नोट्स के मुताबिक अपने एग्जाम में आंसर्स लिखेंगे तो इसका एक फायदा यह भी होगा कि आपके प्रश्नों के उत्तर मौलिक होंगे और इस वजह से आपको अपने एग्जाम्स में अच्छे मार्क्स मिलेंगे. एग्जाम्स में कुछ भी लिख देने से कोई फायदा नहीं होता है लेकिन, अगर आपके नोट्स बढ़िया और रचनात्मक बने हैं तो आप अपने नोट्स के आधार पर एग्जाम में पूछे गए प्रश्नों के सटीक उत्तर लिख सकेंगे.

इन खास लर्निंग और मेमोराइज़िंग टेक्निक्स से सब्जेक्ट्स रहेंगे याद

स्टडी नोट्स और आंसर्स रिवाइज़ करें

अपने नोट्स और उत्तरों को रोजाना रिवाइज़ करने की आदत से आप विषय को अच्छी तरह समझ और याद रख सकेंगे. फिर, आपको अपने सिलेबस की तैयारी शुरू से नहीं करनी पड़ेगी. अपने नोट्स की रिवीजन करने से आपमें आत्मविश्वास बढ़ेगा और आप अपने एग्जाम के दौरान सभी प्रश्नों के उत्तर अच्छे तरीके से लिख सकेंगे. आप अपने नोट्स रोजाना, साप्ताहिक और मासिक आधार पर रिवाइज़ करें ताकि आप अपने एग्जाम्स में अच्छे उत्तर लिख सकें और अच्छे मार्क्स प्राप्त करें.

ऑनलाइन आंसर राइटिंग असाइनमेंट्स करें इस्तेमाल

आजकल कई वेबसाइट्स हैं जो स्टूडेंट्स को उत्तर लिखने की प्रैक्टिस करने की सुविधा मुहैया करवाती हैं. आप किसी भी ऐसी वेबसाइट पर अपना नाम रजिस्टर करके अपने उत्तर लिखने की प्रैक्टिस कर सकते हैं और आपके दिए गए उत्तरों का उस वेबसाइट पर मूल्यांकन भी किया जाता है. यह तरीका हायर एजुकेशन के कोर्सेज जैसे एमबीए और एमसीए में एडमिशन लेने के लिए अपनाया जाता है.

बेशक अगर आप अपने उत्तर सटीक और मौलिक लिखते हैं तो आपको अपने कॉलेज एग्जाम्स में बढ़िया मार्क्स मिलेंगे. इसलिए, आप अपने राइटिंग स्किल्स को लगातार सुधारते रहें और फिर, आप प्रत्येक प्रश्न का समुचित और बेहतरीन उत्तर लिखने में सक्षम बन जाते हैं. अब जब आप अपने हरेक एग्जाम में सभी प्रश्नों के बेहतरीन और मौलिक उत्तर लिखेंगे तो यकीनन आप अपने सभी फाइनल कॉलेज एग्जाम्स में बढ़िया मार्क्स लेकर पास होंगे.   

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Categories

NEXT STORY
Also Read +
x