अगर जा रहे हैं किसी नए जॉब को ज्वाइन करने तो विशेष रूप से ध्यान रखें इन बातों का

करियर में ग्रोथ के लिए जॉब बदलना आज के समय की मांग है. सेलरी से जुड़ी अपेक्षाओं तथा नए नए टेक्नोलॉजी के विषय में जानने एव नए चैलेंज को स्वीकार करने की अपनी क्षमता को बढ़ाने के लिए जॉब बदलना जरुरी भी है लेकिन जॉब बदलते समय आपको अमूमन कुछ बातों पर विशेष रूप से गौर करना चाहिए. आप जब भी अपनी पुरानी जॉब छोड़ने की सोचें तथा आपको कहीं और सुनहरा मौका भी मिल जाय तो अपने ऑफिस के सभी कर्मचारियों से अपना व्यवहार अच्छा रखें. यहाँ की जर्नी को एक हैप्पी एंडिंग देने की कोशिश करें. करियर में सही ग्रोथ तथा मनचाही विकास के लिए पूर्व में किये गए गलतियों से सीख लेना अत्यंत जरुरी है. अतः नए जॉब को ज्वाइन करते वक्त इन 5 गलतियों को भूलकर भी नहीं करना चाहिए.

अपने जॉब प्रोफाइल की सही जानकारी दें – जब कभी भी आप नए जॉब के लिए अपना रेज्यूमे फॉरवर्ड करते हैं उसमें अपने जॉब प्रोफाइल के अतिरिक्त अन्य सभी जानकारियां  अक्षरशः सही लिखें. कुछ भी गलत या झूठ नहीं लिखें. ध्यान रखिये आजकल हर कम्पनी सेलेक्शन के बाद आपका रेज्यूमे किसी थर्ड पार्टी से वेरीफाई करवाती हैं तथा कभी कभी खुद एच आर आपकी पूर्व कंपनी में आपके सीनियर से बात चित कर आपके प्रोफाइल, नेचर तथा कैरेक्टर का जायजा लेती हैं. इसलिए हर संभव जितना हो सके सीवी में दी गई जानकारियों को सही ही रखें.

हर किसी के साथ दोस्ताना सम्बन्ध रखें- प्रत्येक कार्यालय में कुछ ऐसे लोग होते हैं जिनमें एक दूसरे से कुछ लोगों की नहीं बनती. जाहिर है आपके साथ भी ऐसी ही स्थिति होगी. लेकिन जिस समय आप जॉब छोड़ रहे होते हैं उस समय इनसे भी अपना सबंध बेहतर बनायें. हमेशा इस बात को ध्यान रखिये  कि कार्यालय में किसी से अपना सम्बन्ध खराब करना आपके करियर ग्रोथ को प्रभावित कर सकता है. इसलिए जॉब छोड़ते वक्त हर एक कर्मचारी से दोस्ताना सबंध बनाते हुए अपनी इस जर्नी को विराम दें.

नो ड्यूज करा लें – ज्यों ही आप नए जॉब का ऑफर स्वीकार करते हैं,तो जितना जल्दी हो सके जहां आप हैं वहां से नो ड्यूज करा लें. अपने बकाया रिइंबर्समेंट्स, ट्रेवल या फिर मेडिकल बिल्स का भुगतान अवश्य करा लें, क्योंकि एक बार जॉब छोड़ने के बाद ये चीजें पुरानी कंपनी से लेने में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.

कम से कम एक महीने पहले जॉब छोड़ने की जानकारी अपने मैनेजर को दें- अगर आपको नयी जॉब मिलती है तो उसे ज्वाइन करने में जल्दी नहीं करें तथा उनसे कम से कम एक महीने की मोहलत जरुर लें ताकि आप जिस कंपनी में कार्यरत हैं वहां इसकी सूचना एक महीने पूर्व दे सकें. कम से कम एक महीने पहले इसकी सूचना इसलिए दी जानी चाहिए कि इस दौरान आपकी जगह पर किसी नए कर्मचारी की नियुक्ति की जा सके तथा कंपनी का कार्य बाधित न हो. हो सके तो आप अपनी जगह किसी की नियुक्ति का प्रस्ताव भी एच आर को दें. यह आपके और कंपनी दोनों के हित में होता है.

कार्यालय की संपत्ति की हिफाजत करें -  कार्यालय की संपत्ति की सुरक्षा आपकी नैतिक जिम्मेदारी है. अतः उसकी हमेशा सुरक्षा करें तथा उसका नुकसान न करें. इसके अतिरिक्त कंपनी द्वारा दिए गए सभी सामानों को सुरक्षित स्थिति में लौटाएं. सारे डेटा, क्लियरेंस सर्टीफिकेट जैसी चीजें सही ढंग से अपने मैनेजर को हैंडओवर कर के जाना चाहिए. अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो ध्यान रखिये हर जगह आपका इम्प्रेशन खराब पड़ेगा जो आगे चलकर आपकी प्रगति में बाधक हो सकता है.

Related Categories

Popular

View More