UP Board कक्षा 10 विज्ञान के महत्वपूर्ण टॉपिक्स जो आपको 2018 की बोर्ड परीक्षा में ज़रूर दिखेंगे

UP Board कक्षा 10वीं बोर्ड परीक्षा 6 फ़रवरी 2018 से शुरू होने वाली है. छात्रों के अन्दर हमेशा बोर्ड के एग्जाम को लेकर चिंता बनी रहती हैं. लेकिन बोर्ड का एग्जाम कोई ऐसा एग्जाम नहीं है कि आप इसमें अच्छा न कर पाएं. थोड़ी सी प्लानिंग और टिप्स को अपना कर आप बोर्ड की परीक्षाओं में टॉप कर सकते हैं या फिर अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं. अच्छे अंक प्राप्त करने का सबसे बड़ा श्रोत छात्रों के लिए यह है कि उनकी सभी विषय के महत्वपूर्ण टॉपिक पर अच्छी पकड़ हो तथा इसके लिए छात्रों को सभी विषयों के महत्वपूर्ण टॉपिक्स अच्छी तरह पता होना भी अति आवश्यक है. इसी उद्द्देश्य के साथ आज इस लेख में हम छात्रों को कक्षा 10वीं विज्ञान विषय के उन महत्वपूर्ण टॉपिक्स से अवगत कराने वाले हैं, जीन टॉपिक्स से 2018 में होने वाली बोर्ड परीक्षा में काफी प्रश्न पूछे जा सकते हैं.

नोट :  यहाँ उपलब्ध विज्ञान विषय के सभी महत्वपूर्ण टॉपिक्स गतवर्ष के प्रश्न-पत्रों के विश्लेषण के बाद उपलब्ध कराया गया है.

UP Board कक्षा 10वीं विज्ञान विषय के सभी इकाईयों के महत्वपूर्ण टॉपिक्स :

इकाई – 1 : प्रकाश

  • परावर्तन – प्रकाश का परावर्तन, गोलीय दर्पण व सम्बन्धित परिभाषाएँ, गोलीय दर्पणों द्वारा प्रतिबिम्ब का बनना, चिन्ह परिपाटी, दर्पण सूत्र  का निगमन.
  • अपवर्तन – अपवर्तन के नियम, स्नैल का नियम, अपवर्तनांक, सापेक्ष अपवर्तनांक, पूर्ण आन्तरिक परावर्तन, दैनिक जीवन में प्रयोग, गोलीय लेंसों द्वारा अपवर्तन, लेंसों द्वारा प्रतिबिम्ब का बनना, लेंस सूत्र -  (निगमन नहीं), आवर्धन क्षमता, प्रिज्म से प्रकाश का अपवर्तन, श्वेत प्रकाश का विक्षेपण, प्रकाश का प्रकीर्णन.
  • मानव नेत्र, नेत्र की समंजन क्षमता, नेत्र लेंस की फोकस दुरी और रेटिना पर प्रतिबिम्ब का बनना, दृष्टि-दोष (निकट, दीर्घ व जरा दूर-दृष्टिता) एवं निवारण.
  • संयुक्त सूक्ष्मदर्शी व खगोलीय दूरदर्शी की संरचना, सिद्धान्त, क्रियाविधि व आवर्धन क्षमता (सूत्र का निगमन नहीं).

UP Board कक्षा 10 गणित के महत्वपूर्ण टॉपिक्स जो आपको 2018 की बोर्ड परीक्षा में देखने को ज़रूर मिलेंगे

इकाई – 2 : विद्युत् तथा विद्युत् धारा के प्रभाव

  • विद्युत् – विद्युत् उर्जा के स्त्रोत, विद्युत् धारा, विभव व विभावान्तर, विद्युत् परिपथ आरेख, ओम का नियम, प्रतिरोध, प्रतिरोधों का संयोजन (क्षेणीक्रम, समान्तर क्रम) के सूत्र का निगमन.
  • विद्युत् धारा का उष्मीय प्रभाव – विद्युत् धारा का उष्मीय प्रभाव, विद्युत् धारा, प्रतिरोध और समयमें सम्बन्ध, चालक में उत्पन्न ऊष्मा की माप, विधुत सामर्थ्य, विद्युत् उर्जा के विभिन्न मात्रक, उष्मीय प्रभाव पर आधारित उपकरण, घरेलू वायरिंग, फ्यूज, विद्युत् के खतरे व सुरक्षा युक्ति.
  • विद्युत् धारा का चुम्बकीय प्रभाव -  विद्युत् धारा का चुम्बकीय प्रभाव, चुम्बकीय क्षेत्र, तीव्रता, चुम्बकीय बल रेखाएँ, कुण्डली तथा परिनालिका, धारावाही सीधे तार से उत्पन्न चुम्बकीय क्षेत्र, दाएँ हाथ के अँगूठे का नियम, दक्षिणावर्त पेंच का नियम, वृतीय कुण्डली में प्रवाहित विद्युत् धारा का चुम्बकीय क्षेत्र, धारावाही पारिनालिका द्वारा चुम्बकीय क्षेत्र, चुम्कीय क्षेत्र में स्थित धारावाही चालक पर बल, गतिमान आवेश पर बल, फ्लेमिंग का बाएँ हाथ का नियम.

 इकाई – 3 : रासायनिक पदार्थ : प्रकृति एवं व्यवहार

  • अम्ल, क्षार व लवण : अम्ल, क्षार की अवधारणा ( के आधार पर), सूचक (litmus paper, phenolpthaline, methyl orange), pH – स्केल, अम्ल व क्षार के रासायनिक गुण, उदासीनीकरण अभिक्रिया, लवण व लवणों के प्रकार – सामान्य, अम्लीय, क्षारीय, दिव्यक, संकर लवण, कुछ लवणों  के निर्माण की विधि तथा सामान्य गुणधर्म एवं उपयोग: 1. धावन सोडा, 2. बेकिंग सोडा, 3. फिटकरी, 4. विरंजक चूर्ण, 5. नौसादर.
  • धातु तथा अधातु – सामान्य परिचय, धातु व अधातु के सामान्य रासायनिक गुण, धातुओं की सक्रियता (विद्युत् रासायनिक श्रेणी के आधार पर) धातुकर्म – अयस्क, खनिज, कापर के अयस्क तथा कॉपर पाइराइट से शुद्ध कॉपर का निष्कर्षण, मिश्रधातु.
  • अधातु -  व  गैस का निर्माण व इनके रासायनिक गुणधर्म तथा उपयोग.
  • तत्वों का वर्गीकरण – तत्वों के वर्गीकरण की अवधारणा – डोबेराइनर का त्रिक सिद्धान्त, न्यूलैंन्ड्स का अष्टक सिद्धान्त, मेंडेलीफ की आवर्त सारणी के सामान्य लक्ष्ण, समूह तथा आवर्त, आवर्ती गुण, (परमाणु आकार, संयोजकता तत्वों के आक्साइड की प्रवृति), मेंडेलीफ की आवर्त सारणी की उपयोगिता तथा कमियाँ, आधुनिक आवर्त नियम, आधुनिक आवर्त सारणी.

 इकाई – 4 : कार्बनिक रसायन

  • कार्बन की संयोजकता – कार्बन का श्रृंखलीय गुण, कार्बन की यौगिक बनाने की क्षमता, कार्बनिक यौगिक, क्रियात्मक समूह  सजातीय क्षेणी, IUPAC नामकरण.
  • कार्बनिक यौगिक – हाइड्रोकार्बन (ऐलिफैटिक तथा ऐरोमैटिक हाइड्रोकार्बन), ऐलिफैटिक हाइड्रोकार्बन के प्रकार (संतृप्त व असंतृप्त)  के सामान्य गुणधर्म व उपयोग, पेट्रोलियम के प्रभाज, उनके सामान्य गुण व उपयोग, साबुन, साबुनीकरण, (केवल अभिक्रिया) साबुन की सफाई प्रक्रिया (micelles) की अवधारणा के आधार पर).

 इकाई – 5 : जैव – जगत

  • मानव शरीर की संरचना – अध्यावरणी तन्त्र, पाचन तन्त्र, श्वसन तन्त्र, परिसंचरण तन्त्र, उत्सर्जन तन्त्र, प्रजनन तन्त्र की संरचना (संक्षिप्त विवरण).
  • जीवन की प्रक्रियाएँ – पोषण, श्वसन, परिवहन (मनुष्य में आन्तरिक परिवहन) प्रकाश संश्लेषण, वाष्पोत्सर्जन, पौधों में आन्तरिक परिवहन.
  • पौधों और जन्तुओं में नियन्त्रण और समन्वयन – पौधों में समन्वयन – पादप हार्मोन, आक्सिन, जिबरेलिन, साइटोकाइनिन, एबिससिक अम्ल, एथिलीन गैस जन्तुओं में रासायनिक समन्वयन – अन्त:स्त्रावी ग्रिन्थियाँ एवं हार्मोन्स, जन्तुओं में तंत्रिका समन्वयन – प्रतिवर्ती क्रिया (संक्षिप्त वर्णन) पौधों और जन्तुओं में जनन, परिवार नियोजन की आवश्यकता और विधियाँ.
  • तम्बाकू, ऐल्कोहाल और नशीली दवाएँ – धुम्रपान के प्रभाव, कैंसर, ऐल्कोहाल तथा वाहन चालन, नशीली दवाओं के प्रभाव.

 इकाई – 6 : आनुवंशिक एवं जैव विकास

  • आनुवांशिकता के सिद्धान्त – मेंडेल आनुवांशिक के जनक, मेंडेल का प्रयोग, प्रमुख शब्दावली, मेंडेल के नियम (उदाहरण सहित)
  • मानव आनुवांशिकी – आनुवांशिकी पदार्थ, मानव में लिंग निर्धारण, लिंग सहलग्न लक्ष्ण, हिमोफिलिया, वर्णांन्धता तथा सिकिल सैल एनीमिया, जैव प्रौधोगिकी – अर्थ एवं उपयोगिता.
  • जीवन की उत्पत्ति एवं मिलर का प्रयोग -  जैव विकास – लैमार्क्वाद, डार्विनवाद एवं उत्परिवर्तनवाद (संक्षेप में) उत्परिवर्तनवाद (संक्षेप में).
  • प्रयोगात्मक कार्य
  • प्रोजेक्ट कार्य

अंत में, एक बात का विशेष ध्यान रखें. समय सीमा के भीतर उत्तर-पुस्तिका में सभी उत्तरों को पूरा कर उसे रीविजन करने के लिए आवश्यक है कि आपका टाइम मैनेजमेंट दुरुस्त हो. अपने तीन घंटे की परीक्षा में शुरुवात के 15 मिनट प्रश्नपत्र पढ़ने और यह तय करने के लिए कि किस प्रश्न का उत्तर पहले देना है तथा अंत में इतना समय ज़रूर रखें की सभी उत्तरों के पुरे होने के बाद आप उसे एक बार सही तरीके से निरक्षण कर सकें.

अपने टाइम मैनेजमेंट को ठीक करने का सबसे कारगर तरीका है कि पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों, गेस पेपर्स तथा प्रैक्टिस पेपर्स को समय सीमा में हल करने का प्रयास करें.

बोर्ड एग्जाम में पेपर को हल करने के आसान टिप्स

UP Board कक्षा 10 गणित प्रैक्टिस पेपर्स 2018(साल्व्ड तथा अनसाल्व्ड)

Related Categories

Popular

View More