जानिए ये हैं स्टूडेंट्स के लिए इग्नू की विभिन्न ऑनलाइन सर्विसेज

आजकल हमारे देश सहित दुनिया के कई देशों में कोरोना वायरस के कारण कम्पलीट लॉकडाउन है और इस वजह से दफ्तरों, दुकानों, बाजारों, मॉल्स और सिनेमा हॉल्स आदि के बंद होने के साथ-साथ भारत के सभी स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटीज़ और अन्य टेक्निकल/ मैनेजमेंट इंस्टीट्यूशन्स भी बंद हैं. देश-दुनिया में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या रोज़ाना बढ़ रही है और अभी स्थिति अस्पष्ट है जिस वजह से पक्के तौर पर यह नहीं कहा जा सकता है कि हमारे देश से कब लॉक डाउन हटेगा. ऐसे में अधिकतर लोगों के लिए अपने घर पर 24x7 रहकर अपने समय का सदुपयोग करना एक अच्छी-खासी चुनौती साबित हो रहा है. ऐसे में, हमारे देश के अधिकतर एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन्स, स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ इंटरनेट का सहारा लेकर बहुत हद तक स्टूडेंट्स को अपनी पढ़ाई निरंतर जारी रखने के लिए प्रेरित कर रहे हैं. इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी अर्थात इग्नू भी इन दिनों कुछ ऐसा ही कर रही है. इस आर्टिकल में हम आपके लिए इग्नू के ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से स्टूडेंट्स को मुहैया करवाई जाने वाली विभिन्न ऑनलाइन सर्विसेज का जिक्र कर रहा हैं. आइये आगे पढ़ें यह आर्टिकल:

इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी का परिचय

यह एक सेंट्रल यूनिवर्सिटी है जिसकी स्थापना वर्ष 1985 में हुई थी. इसका मुख्यालय मैदान गढ़ी, नई दिल्ली में है. भारत के वर्तमान राष्ट्रपति इसके कुलाधिपति होते हैं. यह दुनिया की सबसे बड़ी यूनिवर्सिटी है जिसमें भारत सहित अन्य 33 देशों के लाखों स्टूडेंट्स वर्तमान समय में अपने डिग्री/ डिप्लोमा या अन्य कोर्सेज या ट्रेनिंग हासिल कर रहे हैं. यह यूनिवर्सिटी कॉरेस्पोंडेंस एजुकेशन में दुनिया की एक प्रमुख यूनिवर्सिटी है जिसका प्रमुख उद्देश्य समूचे भारत में शिक्षा के प्रसार के साथ ही देश में सभी एजुकेशनल फ़ील्ड्स में रिसर्च और ट्रेनिंग को बढ़ावा देना है.

ये हैं स्टूडेंट्स के लिए इग्नू की विभिन्न ऑनलाइन सर्विसेज

इग्नू यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले सभी स्टूडेंट्स इसके ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध निम्नलिखित ऑनलाइन सर्विसेज से इस लॉकडाउन के दौरान भरपूर फायदा उठा सकते हैं:

यह पोर्टल भारत के आईटी प्लेटफ़ॉर्म ने तैयार किया है जिसमें देश के 9वीं क्लास से पोस्ट ग्रेजुएशन तक के स्टूडेंट्स के लिए विभिन्न ऑनलाइन कोर्सेज उपलब्ध हैं. मिनिस्ट्री ऑफ़ ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट, भारत सरकार और ऑल इंडियन काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन के सहयोग से स्टूडेंट्स को फ्री ऑनलाइन कोर्सेज करवाने के लिए यह पोर्टल तैयार किया गया है. आजकल स्टूडेंट्स स्वयं पोर्टल के माध्यम 2 हजार से ज्यादा फ्री ऑनलाइन कोर्सेज से संबंधित ऑनलाइन लर्निंग कर सकते हैं. इस पोर्टल पर स्टूडेंट्स के लिए वीडियो लेक्चर्स अरेंज किये जाते हैं. सभी एजुकेशनल सब्जेक्ट्स के मुताबिक स्टडी मटीरियल भी इस पोर्टल पर उपलब्ध है. स्टूडेंट्स अपना कोर्स पूरा करने के बाद सेल्फ इवैल्यूएशन टेस्ट दे सकते हैं. इग्नू के कोर्सेज भी आप स्वयं पोर्टल से ज्वाइन कर सकते हैं.

स्वयं प्रभा डीटीएच चैनल्स के जरिये स्टूडेंट्स करें घर बैठे पढ़ाई

यहां हम आपको यह बताना चाहते हैं कि स्वयंप्रभा के विभिन्न चैनलों के लिए  देश के सभी प्रमुख  एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन्स – यूजीसी, इग्नू, आईआईटीज़, सीईसी, एनसीईआरटी, एनपीटीईएल  और एनआईओएस एजुकेशनल कंटेंट तैयार करते हैं. भारत में 32 ‘डायरेक्ट टू होम’ (DTH) चैनल्स 24x7 विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के लिए बेहतरीन एजुकेशनल प्रोग्राम्स टेलीकास्ट करते हैं. स्वयंप्रभा के विभिन्न चैनलों से रोज़ाना स्टूडेंट्स के लिए 4 घंटे का नया लर्निंग कंटेंट टेलीकास्ट किया जाता है जिसे उस दिन 5 बार और दोहराया जाता है ताकि स्टूडेंट्स अपनी सुविधा के अनुसार  अपने सब्जेक्ट का टेलीकास्ट देखकर पूरा लाभ उठा सकते हैं. इग्नू के वीडियो ट्यूटोरियल्स स्वयं प्रभा के विभिन्न चैनलों पर दिखाये जाते हैं.  

इग्नू अपने स्टूडेंट्स को अरबी और रशियन लैंग्वेज के साथ टूरिज्म स्टडीज़ के लिए ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्सेज ऑफर कर रहा है. आजकल स्टूडेंट्स अपने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म के माध्यम से अपने रीजनल सेंटर्स में भी संपर्क कायम कर सकते हैं. इसी तरह, यह यूनिवर्सिटी वेब कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से अपने स्टूडेंट्स के लिए लाइव क्लासेज की भी व्यवस्था कर रही है.

विद्वान: रिसर्च स्टूडेंट्स और एक्सपर्ट्स के लिए एमएचआरडी का विशेष प्रोजेक्ट

यह एक वेब आधारित टीवी चैनल है जिसमें स्टूडेंट्स विभिन्न एजुकेशनल प्रोग्राम्स देख सकते हैं. इग्नू की वेबसाइट पर स्टूडेंट्स के लिए इस चैनल का ब्रॉडकास्टिंग शेड्यूल उपलब्ध है.

इग्नू ने अपने दूर-दराज क्षेत्रों में रहने वाले स्टूडेंट्स के लिए ज्ञान धारा के नाम से एक इंटरनेट रेडियो काउन्सलिंग सर्विस शुरू की है जहां स्टूडेंट्स एक्सपर्ट्स और टीचर्स के साथ अपने फ़ोन के माध्यम से इंटरैक्ट कर सकते हैं. स्टूडेंट्स इस सुविधा का लाभ ईमेल और चैट के माध्यम से भी उठा सकते हैं और लाइव डिस्कशन में भाग भी ले सकते हैं.  

यह इ ज्ञान कोष हमारे देश में एक नेशनल डिजिटल रिपॉजिटरी है.  भारत की नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी में देश के प्रमुख डिजिटल सोर्सेज जैसेकि, शोध गंगा, कृषि कोष, एनसीईआरटी और एनपीटीईएल से स्टडी मटीरियल उपलब्ध करवाया जाता है. इस नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी ऑफ़ इंडिया (NDL इंडिया) के माध्यम से स्टूडेंट्स और टीचर्स को एक सिंगल-विंडो सर्च फैसिलिटी के तहत सभी किस्म के लर्निंग रिसोर्सेज ऑनलाइन उपलब्ध हैं. यहां स्टूडेंट्स के लिए इग्नू यू ट्यूब वीडियोज़, स्वयं कोर्सेज मटीरियल और सेल्फ लर्निंग मटीरियल उपलब्ध है.

भारत की नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी की लॉकडाउन में आपके लिए उपयोगिता

यह एप इग्नू के सभी कोर्सेज के लिए इ-कंटेंट अर्थात डिजिटल स्टडी मटीरियल ऑफर करता है. स्टूडेंट्स इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं.  

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Categories

NEXT STORY