Advertisement

UP बोर्ड 2019: जाने क्या होगी डिप्टी सीएम की परीक्षा के लिए ख़ास रणनीति

उत्तर प्रदेश सरकार के उप मुख्यमंत्री तथा उच्च शिक्षामंत्री डा.दिनेश शर्मा ने कहा है कि नकल रोकने के लिए वे इस बार अपनी स्टाइल में परीक्षा करवाएंगे. दरअसल पूर्वांचल क्षेत्र में अभी भी नकल माफिया सक्रिय हैं. जिस कारण उन्हें इस निष्कर्ष पर आना पड़ा है. इन पर नियंत्रण और कालेजों को चिन्हित करने के लिए अधिकारियों की टीम भी संगठित कर दी गई है. वे शीघ्र अपनी रिपोर्ट देंगे जिससे आगे की प्रक्रिया पर ज़ोर दिया जायेगा. उन्होंने बताया की अब उन्हीं संस्थानों को परीक्षा केंद्र बनाया जायेगा जिन संस्थानों में पढ़ाई होती है. इसलिए इस बार सरकार खुद परीक्षा केन्द्र का निर्धारण करेगी.

UP बोर्ड वर्ष 2017-18 में नकल विहीन परीक्षा कराने में सफलता तो ज़रूर मिली पर साथ ही लाखों छात्रों ने डर के मारे परीक्षा छोड़ दी. लेकिन किसी भी दोषी छात्र या शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई न कर शिक्षा माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई शुरू की गई है.

अब UP बोर्ड में उच्च और माध्यमिक में प्रवेश, पढ़ाई और परीक्षा परिणाम के समय का निर्धारण नियमानुसार किया जायेगा. डा.दिनेश शर्मा ने बढ़ते नक़ल के कारण को भी व्यक्त किया, उन्होंने कहा कि शिक्षकों के अभाव के कारण नक़ल को बढ़ावा मिल रहा था. नकल न हो इसके लिए जल्द ही रिक्त पदों पर शिक्षकों की न्युक्ति होगी.  डा. शर्मा ने इस बात पर बल दिया कि शोध की संख्या से ज्यादा अहम  उसकी गुणवत्ता पर फोकस करना ज़रूरी है.

 

अब UP बोर्ड कक्षा 10वीं तथा 12वीं दोनों ही कक्षा की परीक्षाओं के शुरू होने में कुछ ही महीने बाकि है. ऐसे समय में छात्र यदि अपने एग्जाम की तैयारी के लिए दृद्निश्चय होकर शुरुवात करें तो वे आसानी से सफलता प्राप्त कर सकते हैं. गत वर्ष में UP बोर्ड के कक्षा 10वीं तथा 12वीं दोनों ही कक्षाओं के काफी छात्रों ने परीक्षा बीच में ही छोड़ दी थी. इसका कारण शायद एग्जाम के प्रति उनका भय था जिस कारण वह परीक्षा में आगे नही बढ़ सके. अर्थात छात्र यदि परीक्षा से पहले एग्जाम तैयारी अच्छी तरह कर लें तो उन्हें इस तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा. तो अभी से अपने बचे हुवे समय का उचित उपयोग करें, एक समय सरणी अपने पूरे दिनचर्या के अनुसार बनाये तथा सभी विषयों को उनकी प्राथमिकता के अनुसार समय दें. सभी विषयों को पढ़ने से साथ-साथ उनका revision भी ज़रूर करें और सबसे महत्वपूर्ण यह है कि जितना हो सके प्रैक्टिस करें. क्यूंकि जितना आप प्रैक्टिस करेंगे उतना ही आपको यह समझ आयेगा की आपकी उन विषयों पर कितनी पकड़ है.

यहाँ हम छात्रों को एग्जाम की तैयारी के लिए गत पांच वर्ष के साल्व्ड प्रश्न पत्र, सैंपल पेपर्स, गेस पेपर्स तथा प्रैक्टिस पेपर्स उपलब्ध करा करें हैं ताकि छात्र आसानी से अपने एग्जाम की अच्छी तैयारी कर सकें.

शुभकामनायें!!

UP बोर्ड कक्षा 10वीं के साल्व्ड प्रश्न पत्र को प्राप्त करने के लिए यहाँ पर क्लिक करें

UP बोर्ड कक्षा 12वीं के साल्व्ड प्रश्न पत्र को प्राप्त करने के लिए यहाँ पर क्लिक करें

प्रैक्टिस पेपर्स, सैंपल पेपर्स, गेस पेपर्स इत्यादि के लिए यहाँ क्लिक करें

Advertisement

Related Categories

Advertisement