जानें फील्ड सर्वेयर बनने के लिए क्या है योग्यता, चयन प्रक्रिया, सैलरी और कहां मिलेगी नौकरी

फील्ड सर्वेयर का पद केंद्र और राज्य सरकार के सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (PSUs), प्रमुखतया उत्खनन कंपनियों, राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के नगर निगमों, शैक्षणिक संस्थानों के रिसर्च से जुड़े विभागों या प्रोजेक्ट में, लोक निर्माण विभागों, भौगोलिक सर्वेक्षण विभागों, नगर एवं क्षेत्र विकास प्राधिकरणों, आदि में होता है. फील्ड सर्वेयर का पद संबंधित संगठन में तृतीय श्रेणी का होता है. फील्ड सर्वेयर का कार्य होता है कि वह दिये गये स्थान या भौगोलिक परिस्थिति का सर्वेक्षण करे और संबंधित अधिकारियों के निर्देशों के अनुसार फील्ड के अनुरूप नक्शा तैयार करे या जानकारियां एकत्र करे.

फील्ड सर्वेयर की भूमिका संबंधित किसी भी क्षेत्र या स्थान की वास्तविक स्थिति के आकलन, विकास नीति बनाने और उन्हें लागू करने के संदर्भ में बहुत महत्वपूर्ण होती है. इसलिए फील्ड सर्वेयर बनने के लिए आवश्यक स्किल्स में से जरूरी है कि आपको फील्ड में काम करने, स्केलिंग, मैपिंग, आदि में निपुणता हो और निर्देशों के अनुसार मानचित्र बनाने एवं सुधार करने में सक्षम होना चाहिए.

फील्ड सर्वेयर के लिए कितनी होनी चाहिए योग्यता?

फील्ड सर्वेयर बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से विज्ञान विषयों के साथ 10वीं उत्तीर्ण होना चाहिए. इसके साथ ही, उम्मीदवार को स्टेट बोर्ड ऑफ टेक्निकल एजूकेशन से मान्यता प्राप्त किसी संस्थान से सिविल इंजीनियरिंग में तीन वर्षीय डिप्लोमा या आइटीआइ से दो वर्षीय लैंड सर्वेयईंग का कोर्स उत्तीर्ण होना चाहिए.

फील्ड सर्वेयर के लिए कितनी है आयु सीमा?

फील्ड सर्वेयर बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष से 27 वर्ष के बीच हो. हालांकि, कुछ संस्थानों में अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष होती है. आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा सरकार के नियमानुसार छूट दी जाती है.

फील्ड सर्वेयर के लिए चयन प्रक्रिया

फील्ड सर्वेयर के पद पर उम्मीदवारों का चयन आमतौर पर एकेडेमिक रिकॉर्ड, लिखित परीक्षा और प्रैक्टिकल परीक्षा के आधार पर किया जाता है. हालांकि, रिक्तियों के अनुरूप यदि कम संख्या में आवेदन प्राप्त होते हैं तो संबंधित संस्थान उम्मीदवारों की शॉर्टलिस्टिंग के लिए सिर्फ प्रैक्टिकल परीक्षा एवं व्यक्तिगत साक्षात्कार के आधार पर ही उम्मीदवारों चयन कर सकता है.

कितनी मिलती है फील्ड सर्वेयर को सैलरी?

फील्ड सर्वेयर के पद पर छठे वेतन आयोग के पे-बैंड 1 के अनुरूप रु. 5200-20400 और ग्रेड पे 2400) के अनुसार सैलरी दी जाती है. जिन संगठनों में सातवां वेतन आयोग लागू किया जा चुका है वहां समकक्ष लेवल-4 (रु.25500 – रु.81100) के अनुरूप सैलरी दी जाती है.

फील्ड सर्वेयर की कहां मिलेगी सरकारी नौकरी?

फील्ड सर्वेयर का पद केंद्र और राज्य सरकार के सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (PSUs), प्रमुखतया उत्खनन कंपनियों, राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के नगर निगमों, शैक्षणिक संस्थानों के रिसर्च से जुड़े विभागों या प्रोजेक्ट में, लोक निर्माण विभागों, भौगोलिक सर्वेक्षण विभागों, नगर एवं क्षेत्र विकास प्राधिकरणों, आदि में होता है इसलिए इस पद के लिए रिक्तियां समय-समय पर इन्हीं संस्थानों में समय-समय पर निकलती रहती हैं. इन सभी रिक्तियों के बारे में भारत सरकार के प्रकाशन विभाग से प्रकाशित होने वाले रोजगार समाचार, दैनिक समाचार पत्रों एवं सरकारी नौकरी की जानकारी देने वाले पोर्टल्स या मोबाइल अप्लीकेशन के माध्यम से अपडेट रहा जा सकता है.

Advertisement

Related Categories