Fake RRB Recruitment विज्ञापन पर रेल मंत्रालय ने दिया चेतावनी, 5285 वेकेंसी की फैलाई गयी थी झूठी खबर

Fake RRB Recruitment नोटिफिकेशन पर RRB की चेतावनी: रेल मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से स्पष्ट किया है कि भारतीय रेलवे में 5285 रिक्तियों के सम्बन्ध में Fake News प्रसारित किया गया है. भारतीय रेलवे द्वारा यह स्पष्टीकरण आठ श्रेणियों के पदों पर कथित भर्ती के संबंध में एक समाचार पत्र में एक निजी एजेंसी द्वारा एक विज्ञापन के बारे में दिया गया है.

रेल मंत्रालय की नवीनतम प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, रेल मंत्रालय के ध्यान में आया है कि "अवेस्ट्रन इन्फोटेक" के नाम से एक संगठन जिसकी वेबसाइट का पता है www.avestran.in ने 8 अगस्त 2020 को एक प्रमुख समाचार पत्र में एक विज्ञापन दिया है. 11 वर्षों के अनुबंध पर भारतीय रेलवे में आउटसोर्सिंग के आधार पर आठ श्रेणियों में कुल 5285 वेकेंसी के लिए आवेदन आमंत्रित करने का विज्ञापन प्रकाशित किया गया है. प्रकाशित विज्ञापन में आवेदकों से 50 रूपये ऑनलाइन शुल्क जमा करने को कहा गया है और आवेदन प्राप्त करने की अंतिम तिथि 10 सितंबर 2020 बताई गई है.

रेल मंत्रालय ने आगे स्पष्ट किया है कि किसी भी रेलवे भर्ती के लिए विज्ञापन हमेशा भारतीय रेलवे द्वारा ही जारी किया जाता है. रेलवे द्वारा किसी भी निजी एजेंसी को ऐसा करने के लिए अधिकृत नहीं किया गया है. रेलवे ने इस जारी किये गये  विज्ञापन को गैरकानूनी बताया है एवं रेलवे द्वारा यह कहा गया है कि उसने जांच शुरू कर दी है और उपरोक्त एजेंसी / उपरोक्त मामले में शामिल व्यक्तियों के खिलाफ कानून के अनुसार सख्त कार्रवाई करने जा रही है.

इस संबंध में, रेलवे ने यह भी स्पष्ट किया है कि भारतीय रेलवे ग्रुप-सी और ग्रुप-डी के विभिन्न श्रेणियों की भर्ती वर्तमान में 21 रेलवे भर्ती बोर्डों (आरआरबी) और 16 रेलवे भर्ती सेल (आरआरसी) द्वारा की जाती है न कि किसी अन्य एजेंसी द्वारा. 

Trending Now

रेलवे ऑनलाइन आवेदन पूरे देश में योग्य उम्मीदवारों से लिए जाते हैं. रेलवे द्वारा वेकेंसी का विज्ञापन रोजगार समाचार में प्रकाशित किया जाता है और राष्ट्रीय दैनिक और स्थानीय समाचार पत्रों में इसके बारे में सूचना प्रकाशित किया जाता है. आरआरबी / आरआरसी की आधिकारिक वेबसाइटों पर भी CEN को प्रदर्शित किया जाता है.

सभी आरआरबी / आरआरसी वेबसाइट का पता CEN में उल्लिखित है. यह और स्पष्ट किया गया है कि रेलवे ने किसी भी निजी एजेंसी को अधिकृत नहीं किया है कि वह अपनी ओर से कर्मचारियों की भर्ती करने के लिए काम करे.

Related Categories

Also Read +
x