Next

ये कोर्सेज करके बनें टेक्नीकली स्मार्ट

भारत सहित पूरी दुनिया में आज के जॉब मार्केट डिमांड को देखते हुए यंग प्रोफेशनल्स को करियर में सफलता पाने के लिए हमेशा तकनीकी बदलाव तथा तकनीक के बेहतरीन इस्तेमाल के विषय में अपडेटेड रहना चाहिए. इस दिशा में टेक्निकल शॉर्ट टर्म कोर्सेज करके यंग प्रोफेशनल्स अपने टेक्नीकल स्किल्स निखार सकते हैं. इन कोर्सेज की सहायता से प्रोफेशनल्स तथा स्टूडेंट्स टेक्नोलॉजी में हो रहे बदलाव को लेकर जागरूक रहेंगे तथा खुद को अपडेट रख सकते हैं. लेकिन इन कोर्सेज के चयन से पहले इससे जुड़े कुछ अहम् पहलुओं पर गौर करना बहुत जरुरी हो जाता है जैसेकि, आप हमेशा उन्हीं कोर्सेज का चयन करें जो आपकी रूचि, पढ़ाई और आपकी शैक्षणिक योग्यता से मेल खाता हो. इसके अलावा, आप अपनी प्रोफेशनल जरूरतों के मुताबिक ही इन कोर्सेज का चुनाव करें. आप किसी भी कोर्स को चुनने से पहले यह जानने कि कोशिश अवश्य करें की इस कोर्स को करने के बाद किस तरह के अवसर मार्केट में आपको मिल सकते हैं. इतना ही नहीं इन कोर्सेज का चयन करते समय अपनी रुचि, सैलेरी - हाइक और करियर ग्रोथ पर भी पूरा ध्यान दें. इस आर्टिकल में आपके लिए कुछ ऐसे ही खास कोर्सेज का विवरण पेश है जो आपको टेक्निकली स्मार्ट बनाकर मनचाही जॉब दिलवाने में बहुत सहायता करेंगे.

जावा प्रोफेशनल की सैलेरी अन्य सभी कंप्यूटर एक्सपर्ट्स से अक्सर ज्यादा होती है. जावा एक ऑब्जेक्ट ऑरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसकी मदद से रियल वर्ल्ड एप्लीकेशन तैयार की जाती है. जावा का इस्तेमाल आजकल छोटे गैजेट्स से लेकर जटिल कंप्यूटरों तक में किया जाता है. जावा प्रोग्रामिंग में कोई भी शॉर्ट टर्म कोर्स करना करियर में ग्रोथ के लिए बेहतर हो सकता है. आर्किटेक्चर तथा जावा फंडामेंटल के क्षेत्र में इसकी सहायता से काम किया जा सकता है.  इस प्रोफेशन में जावा प्रोग्रामर, जावा वेबमास्टर, जावा वेब डेवलपर की मुख्य भूमिका होती है. आज के इस प्रतिस्पर्धी प्रोफेशनल माहौल में सरवाइव करने तथा सफल होने के लिए अपनी योग्यता रूचि और प्रोफेशन के हिसाब से किसी भी टेक्नीकल शॉर्ट टर्म कोर्स की डिग्री हासिल करते समय उसकी बारीकियों को जानकर आप इंडस्ट्री में हो रहे बदलाव के अनुरूप अपने आप को आसानी से ढाल सकते हैं.

Trending Now

बिग डेटा प्रोफेशन के क्षेत्र में अधिकतम सैलरी मिलने की संभावना होती है. बिग डेटा प्रोफेशन के अंतर्गत कंपनियों को बेहतर फैसले लेने और सही कदम उठाने में उनकी मदद की जाती है.बिग डेटा का निर्माण जावा प्लेटफॉर्म पर किया जाता है और यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर फ्रेमवर्क है जिसमें बिग डेटा कलेक्शन  और प्रोसेस करने में मदद मिलती है. बिग डाटा में मैप रीड्यूस, जूकीपर, एचबेस, एचडीएफएस, हाइव, पिग और एसक्यूओओपी को शामिल किया जाता है. इसके अंतर्गत मुख्य रूप से हडूप डेवलपर, डेटा एनालिस्ट, डेटा आर्किटेक्ट, बिग डेटा इंजीनियर और चीफ डेटा ऑफिसर आदि काम करते हैं. इसके वर्चुअल रीयालिटी विडियो प्रोडक्शन क्लाउड बेस्ड स्टोरेज और अल्ट्रा फास्ट इंटरनेट के कारण विडियो पर इसका ट्रैफिक बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में वर्चुअल रीयालिटी विडियो प्रोडक्शन का कोई शॉर्ट टर्म कोर्स कर लेने पर एक अच्छी पैकेज वाली नौकरी बड़ी आसानी से पायी जा सकती हैं. अगर आप वर्चुअल रीयालिटी में स्पेशलाइजेशन करना चाहते हैं तो इससे जुड़ा कोई भी फ्री कोर्स कर सकते हैं. इस कोर्स में कैमरा, क्रिएटिंग, शूटिंग और कंटेंट के डिस्ट्रीब्यूशन पर विडियो लेक्चर्स के द्वारा पढ़ाई कराई जाती है.

इंडियन एडवेंचर स्पोर्ट्स में भी हैं रोमांचकारी करियर के कई अवसर

आज के बदलते हुए टेक्नीकल दौर में डिजिटल मीडिया और मार्केटिंग ने लगभग सभी क्षेत्रों तथा इंडस्ट्री में अपनी मजबूत पकड़ बना ली है.डिजिटल मार्केटिंग आजकल किसी भी ब्रांड का विकास करने तथा मार्केट में उसकी पहचान बनाने में सबसे अहम भूमिका निभा रहा है. डिजिटल मार्केटिंग की यह विशेषता है कि इसके लिए बहुत सारी पूंजी की भी आवश्यकता नहीं होती है. डिजिटल मार्केटिंग के शार्ट टर्म कोर्सेज पेशेवरों को भविष्य में कई तरह के अवसर प्रदान कर सकते हैं. ये कोर्सेज करने के बाद सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म और वेबसाइट्स को बखूबी हैंडल किया जा सकता है. डिजिटल मार्केटिंग के तहत कई शॉर्ट टर्म कोर्सेज विभिन्न ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध हैं. इसके अन्दर विशेषतः सोशल मीडिया मार्केटिंग, एसईओ राइटिंग एंड ब्रांडिंग, एफिलिऐट मार्केटिंग और ईमेल मार्केटिंग आदि का काम किया जाता है. इस क्षेत्र में एसईओ मैनेजर, डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर और वेब एनालिटिक्स एक्जीक्यूटिव आदि की मुख्य भूमिका होती है.

भारत में ऑटोमेशन के क्षेत्र में ये कोर्सेज करके बना लें अपना करियर शानदार

आजकल फाइनेंशियल सेक्टर में फाइनेंशियल मॉडलिंग एक बहुत ही आकर्षक और महत्वपूर्ण कोर के रूप में उभरा है. फाइनेंशियल मॉडलिंग कोर्स में कंपनी के लिए वैल्यूएशन, ऑपरेशन, इंवेस्टमेंट और फाइनेंस के क्षेत्र में मजबूत मॉडलों का निर्माण किया जा सकता है. इसके अन्दर मुख्य काम कंपनी के लिए फाइनेंशियल मॉडल बनाना और फाइनेंशियल स्टेटमेंट तैयार करना होता है. मुख्य रूप से कॉमर्शियल बैंकों के प्रोजेक्टों को लोन देने में, मौजूदा प्रोजेक्ट का मैनेजमेंट करने और उसके प्रदर्शन का रिकॉर्ड रखने आदि में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है.

इसकी सहायता से आप प्लानिंग, मार्केटिंग, सेल्स और ऑपरेशन जैसे किसी भी फील्ड में काम कर सकते हैं. यह किसी भी बिजनेस के लिए बहुत जरूरी है. अगर बिजनेस एनालिटिक्स फाइनेंस से संबद्ध  कोई भी स्किल बेस्ड कोर्स आप करते हैं तो यह आपके वेतन में अच्छी-खासी बढ़ोतरी कर सकता है. इसके अंतर्गत लॉजिस्टिक रीग्रेशन, डेटा समरी, क्लसटरिंग, मार्केट बास्केट एनालिसिस, डिसिजन ट्री, लिनीयर रीग्रेशन और टाइम सीरिज मॉडलिंग आदि के क्षेत्र में काम किया जाता है. आईटी, ई-कॉमर्स, बैंकिंग और इंश्योरेंस, हेल्थकेयर, एचआर, बायोटेक्नोलॉजी और कानून के क्षेत्र में बिजनेस एनालिटिक्स की महत्वपूर्ण भूमिका होती है.

ये शॉर्ट-टर्म टेक्निकल कोर्सेज दिला सकते हैं आपको तुरंत जॉब

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

 

Related Categories

Live users reading now