इन खास टिप्स से पायें अपने जीवन में सफलता

यह केवल आप पर निर्भर होता है कि आप अपने व्यक्तित्व में सुधार लाकर अपने भविष्य को कैसी दिशा देंगे?. आप अपनी सभी दैनिक एक्टिविटीज को परखना शुरू करें और यह समझने की कोशिश करें कि आप क्या कर रहे हैं और आपके अन्दर ऐसी कौन-सी कमियां हैं जिनमें सुधार की आवश्यकता है? ऐसा करने से आप खुद में पॉजिटिव बदलाव लाने के साथ ही अपने व्यक्तित्व में निरंतर सुधार करते हुए अपने जीवन में सफलता प्राप्त करने में सक्षम होंगे.

सभी लोग जीवन के हरेक क्षेत्र में सफल होना चाहते हैं, लेकिन यह सबको मिलती कहां है? कई बार तो यह अच्छी एजुकेशन और काफी मेहनत करने के बाद भी नहीं मिलती. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि लोग अपने लिए गलत फील्ड चुन लेते हैं. जब तक उन्हें अपनी गलती का एहसास होता है, तब तक काफी देर हो जाती है और वे अपने कलीग्स से पिछड़ जाते हैं. इस सिचुएशन से बचने के लिए सबसे पहले तो आप अपना गोल डिसाइड करें कि आखिर अपने जीवन में आप क्या करना चाहते हैं और आपके लिए सफल जीवन के क्या मायने हैं? सफलता मिलने तक हर कदम पर अपने विवेक का इस्तेमाल करें. वैसे तो हरेक व्यक्ति के लिए अपने जीवन में सफलता पाने के अलग-अलग तरीके होते हैं लेकिन फिर भी, कुछ आधारभूत नियम या शाश्वत सिद्धांत हैं जिनका पालन करने पर अक्सर लोग जीवन के हरेक क्षेत्र में सफल हो जाते हैं:

  • टाइम के साथ बदलाव है जरुरी

बदलाव इस विश्व और जीवन का अटल नियम है. इसलिए आपकी सोच ऐसी होनी चाहिए, जो वक्त के साथ-साथ बदल जाये. टाइम भी उसी व्यक्ति का साथ देता है जो उसके मुताबिक चलता है. ऐसे में सफलता हासिल करने के बाद खुद पर कंट्रोल रखने के लिए आपको समय के साथ खुद में भी बदलाव लाना होगा.

  • फोकस

हम जब अपने लिए कोई मार्ग/ करियर या पेशा चुनते हैं तो उसमें कई बार काफी रुकावटें आती हैं. उन मुश्किलों से घबराएं नहीं, बल्कि अपने काम पर अपना पूरा फोकस बनाए रखें. आपका जो लक्ष्य है, केवल उस पर अपना सारा ध्यान लगाएं. पूरे फोकस के साथ अपने हरेक काम को अंजाम देने से आपको जरूर सफलता मिलेगी. अगर हम या आप अपने फोकस से भटक गए, तो हमारी सारी मेहनत बेकार हो जायेगी और हमारा जीवन लक्ष्यहीन तथा निरर्थक हो जाएगा.

  • काबिल व्यक्ति होते हैं सफल

आप सफलता पाने की कोशिश न करें लेकिन अपनी काबिलियत बढ़ाएं. कुछ समय तक ऐसा करने पर आप अपने आप एक सफल व्यक्ति बन जायेंगे. सफलता के पीछे तो सभी लोग भागते हैं. आप अपनी आवश्यकताएं समझने की कोशिश करें. थॉमस एडिसन, सुकरात, गैलिलियो, न्यूटन, पाइथागोरस आदि सभी स्कॉलर्स पूरी जिंदगी बस अपने काम और काबिलियत को ही बढ़ाते रहे. आप भी अपने सपने पूरे करने की खातिर अपनी काबिलियत को लगातार निखार कर अपनी फील्ड में नई ऊंचाइयां छू सकते हैं.

  • ऑब्जर्बेशन पॉवर से मिलती है सफलता

आप हरेक काम के प्रति अपनी ऑब्जर्बेशन पॉवर बढ़ाने की पूरी कोशिश करें क्योंकि अपनी फील्ड से संबद्ध विभिन्न फैक्ट्स को समझने में आपकी ऑब्जरवेशन पॉवर आपकी पूरी मदद करती है और फिर आप हरेक काम को सफलतापूर्वक पूरा कर सकते हैं.

  • जोखिम उठाने से भी मिल सकती है सफलता

आजकल के नए जमाने में अपना स्टार्टअप शुरू करने वाले कर्मयोगी उक्त फैक्ट को सच साबित कर रहे हैं. इसलिए स्टूडेंट्स को अपने भविष्य को लेकर रिस्क लेना सीखना चाहिए. लेकिन काफी सोच-विचार करने के बाद ही आप अपने करियर या पेशे के संबंध में जोखिम उठायें क्योंकि किसी भी काम में जल्दबाजी ठीक नहीं.

  • खुद अपने कॉम्पीटीटर बनें

अपनी फील्ड में अन्य लोगों के साथ कॉम्पीटीशन करने से पहले आपको अपनी वास्तविक स्थिति  हमेशा परख लेनी चाहिए जैसेकि, आपकी क्षमता क्या है? आपकी पारीवारिक, सामाजिक, आर्थिक और अन्य परिस्थितियां कैसी हैं? अगर आप अन्य लोगों के बजाए खुद अपने कॉम्पीटीटर पहले बनें तो फिर एक नए भरोसे के साथ आप आगे बढ़ सकेंगे. हमेशा अपनी परफॉरमेंस में सुधार लाने और अपने स्किल-सेट को बढ़ाने की कोशिश जारी रखें.

  • मेडिटेशन

ध्यान या मेडिटेशन उन लोगों के लिए एक रामबाण के रूप में कार्य करता है जो टाइम मैनेजमेंट करके अपने  कार्य और जीवन के बीच संतुलन बनाए रखने का पुरजोर प्रयास कर रहे हैं. यह एक प्रमाणिक सत्य है कि रोजाना ध्यान के कुछ मिनट यकीनन आपको आत्मकेंद्रित और शांत रहने में मदद करते हैं. इसलिए हर रोज़ थोड़े समय के लिए मेडिटेशन करके आप अपने सभी कार्य कुशलतापूर्वक और निर्धारित समय सीमा के भीतर पूरे कर सकते हैं.

  • अपना वर्क प्लान खुद बनाएं और समय निर्धारित करें

अपने जीवन के हरेक क्षेत्र में सफल होने के लिए आप अपने लिए खुद ही निश्चित समय सीमा के भीतर अपना वर्क प्लान करना शुरू करें. इससे आपको अपना हरेक काम देर से करने की आदत से छुटकारा मिलेगा और आप अपने हरेक काम को कल पर नहीं टालेंगे. निजी जीवन के साथ-साथ पेशेवर जीवन में निश्चित समय सीमा के भीतर अपने सभी काम पूरे करना सफलता के अचूक पैमानों में से एक है.

  • लर्निंग

जीवन के किसी क्षेत्र में सफलता हासिल के लिए विभिन्न स्किल-सेट्स, जानकारी और अनुभव की आवश्यक्ता होती है जिसे लगातार सीखते रहने से ही हासिल किया जा सकता है. जीवन में बहुत बार जल्दी सफलता न मिलने पर लोग निराश हो जाते हैं. यह निराशा उनमें कुछ नया सीखने की चाहत को खत्म कर देती है जो उनकी संभावित सफलता में बाधा का काम काम करती है. इसलिए यदि आपको अपने जीवन या संबद्ध फील्ड में जल्दी सफलता न भी मिले तबभी आप यही समझें कि वास्तव में आपको अभी और सीखने की जरुरत है. यह जीवन के हरेक क्षेत्र में सफलता पाने के लिए बेहद जरुरी है.

  • अपनी असफलता से सीख लेकर हों सफल

श्रीमद् भागवत गीता में यह कहा गया है कि, जो हुआ अच्छा हुआ, जो हो रहा अच्छा हो रहा है और जो होगा वह भी अच्छा ही होगा. इसका मतलब है कि अगर आपको फिलहाल असफलता मिली है तो इसके पीछे भी कहीं न कहीं आपकी भलाई ही है. बस आवश्यकता इस बात की है कि आप उस भलाई को जानने या समझने की कोशिश करें. आप जैसे ही अपनी असफलता का कारण समझ  लेते हैं और उससे सबक सीख कर, असफलता के उस कारण को दूर करने का कोई उपाय करते हैं तो आपको अनायास ही सफलता मिल जाती है. इसलिए किसी भी परिस्थिति में घबराएं नहीं और हमेशा संतुष्ट और सकारात्मक रहें.

  • हरेक काम को कर्तव्य समझकर करें उससे अटैच न हों

अक्सर किसी कार्य को करते समय हम उससे मानसिक रूप से अटैच हो जाते हैं लेकिन कई बार हमारा यही लगाव हमारी असफलता की वजह बन जाता है जैसेकि, अगर हम  किसी एक नौकरी या ऑफिस में लंबे समय तक काम करते हैं तो वहां के लोगों और परिवेश से हमारा लगाव हो जाता है. लेकिन अगर हमें अपने करियर में तरक्की चाहिए तो हमें  अक्सर अपनी नौकरी या काम करने के तरीके में बदलाव लाना होगा. हमें हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी व्यक्ति, माहौल या जगह से जरूरत से ज्यादा लगाव हमारे लिए अक्सर खतरनाक साबित हो सकता है.

जीवन और पेशे में सफल होने के कुछ अन्य खास प्वाइंट्स निम्नलिखित हैं:

1.    अपने जीवन और हरेक काम के प्रति पूरी तरह ईमानदार रहें.
2.    सिक्योरिटी या कम्फर्ट जोन है तरक्की का दुश्मन.
3.    जबरदस्त कॉम्पीटीशन में भी लगातार आगे बढ़ने की कोशिश जारी रखें.
4.    अपने करियर या पशेम में निरंतर धैर्य के साथ आगे बढ़ते रहें.
5.    जीवन के सभी क्षेत्रों में सफलता पाने के लिए आत्म-नियन्त्रण पहली शर्त है.
6.    अपने स्वास्थ्य और खान-पान का पूरा ध्यान रखें और इसलिए सुबह का नाश्ता अवश्य करें.
7.    अपने पेशे या फील्ड से संबद्ध काम पर विशेष रूप से ध्यान दें और लेटेस्ट जानकारी हासिल करने के साथ ही हमेशा अपडेटेड रहें.
8.    किसी भी परिस्थिति में भयभीत न हों और निरंतर आगे बढ़ना या मेहनत करना जारी रखें.
9.    अपने क्रोध पर नियंत्रण करना सीखें और सभी से अच्छा व्यवहार करें.
10.    हमेशा सकरात्मक सोच रखें और सोच-समझ कर प्रभावी तरीके से बातचीत करें.
11.    अगर जरुरत पड़ने पर अन्य लोगों की मदद करेंगे तो जब आपको जरूरत होगी तो अन्य कई लोग आपकी मदद के लिए तैयार रहेंगे. यह सृष्टि का एक शाश्वत नियम है.
12.    सादा जीवन उच्च विचार अर्थात् सयंमपूर्ण जीवन जीना सीखें.
13.    अपने कम्युनिकेशन स्किल्स बढ़ाने के लिए अच्छे श्रोता बनें.
14.    हरेक काम करते समय महत्वपूर्ण डिटेल्स का पूरा ध्यान रखें.
15.    सबकुछ जानने का बहाना न करें क्योंकि बहुत कुछ हम रोजाना सीखते रहते हैं.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Categories

Popular

View More