Next

SSC CGL 2018-19 Tier-1 परीक्षा: तैयारी की युक्तियाँ और रणनीति

कर्मचारी चयन आयोग (SSC) द्वारा  संयुक्त स्नातक स्तरीय (CGL) परीक्षा प्रतिवर्ष चार चरणों में आयोजित की जाती है जहां अलग-अलग चरणों को अलग पदों की आवश्यकतानुसार पास करना होता है। SSC CGL 2018 परीक्षा चार स्तरों यानी टीयर - I, टीयर - II, टीयर - III और टीयरIV में आयोजित की जाएगी जैसा कि नीचे तालिका में दर्शाया गया हैं-

टीयर

प्रश्न-पत्र का प्रकार

मोड

टीयर - I

बहुविकल्पीय

कंप्यूटर आधारित (ऑनलाइन)

टीयर – II

बहुविकल्पीय

कंप्यूटर आधारित (ऑनलाइन)

टीयर - III

अंग्रेजी या हिन्दी में वर्णनात्मक पेपर

पेन और कागज मोड (ऑफ़लाइन)

टीयर - IV

स्किल्स टेस्ट: डाटा एंट्री गति परीक्षण (DEST) / कंप्यूटर प्रवीणता टेस्ट (सीपीटी)

जहां लागू हो- (सभी पद के लिए आवश्यक)

दस्तावेज़ सत्यापन

सभी के लिए लागू

नीचे दिए गए कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं पर  ध्यान दें-

SSC CGL 2018 परीक्षा के सभी चारों चरणों के परीक्षा पैटर्न का अच्छी तरह से अध्ययन करने के बाद अगला कदम SSC CGL टियर-I  परीक्षा के विस्तृत पाठ्यक्रम को समझना है। इस आर्टिकल में, हम SSC CGL टियर-I परीक्षा में उच्च स्कोरिंग के लिए विभिन्न रणनीतियों और इसके पाठ्यक्रम पर विस्तृत चर्चा करेंगे तो आइये- SSC CGL टियर-I परीक्षा  के परीक्षा पैटर्न पर एक नज़र डालते हैं-

Trending Now

SSC CGL परीक्षा को 30 दिनों में उत्तीर्ण करने हेतु विस्तृत स्टडी-प्लान

 

SSC CGL 2018 टीयर - I परीक्षा पैटर्न

SSC CGL 2018 टियर-I परीक्षा एक ऑब्जेक्टिव टाइप परीक्षा है जो ऑनलाइन आयोजित की जाएगी। परीक्षा 200 अंक (प्रत्येक अनुभाग में अधिकतम 50 अंक) की होगी और इसमें प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.5 अंक का नकारात्मक अंकन होगा और इस परीक्षा के चारों वर्गों में कुल 100 प्रश्न (प्रत्येक अनुभाग में 25 प्रश्न) होंगे टीयर -1 परीक्षा की समय अवधि 60 मिनट की होगी

इस परीक्षा का अनुभाग-वार विवरण नीचे सारणी में दिया गया है--

अनुभाग

प्रश्नों की संख्या

अंक

समयावधि

क्वांटिटेटिव एप्टीट्युड

25

50

60 मिनट (कुल)

इंग्लिश लैंग्वेज और कॉम्प्रिहेंशन

25

50

जनरल इंटेलिजेंस और रीजनिंग

25

50

सामान्य जागरूकता

25

50

कुल अंक

100

200

याद रखने योग्य बिंदु:

SSC CGL 2018 टीयर 1 परीक्षा में 0.5 अंक का नकारात्मक अंकन है और परीक्षा के किसी भी वर्ग से प्रत्येक गलत उत्तर के लिए कुल प्राप्तांकों में से 0.5 अंक को काट लिया जायेगा।

SSC CGL 2018 परीक्षा के ऊपर उल्लेखित परीक्षा पैटर्न का अध्ययन करने के बाद,  अगला कदम अध्ययन की योजना बनाना हैं और उस पर काम करना है। अध्ययन की योजना बनाने के लिए, आपको  SSC CGL टियर-I परीक्षा के सभी चारों वर्गों में शामिल टॉपिक्स का विश्लेषण करना होगा।

क्वांटिटेटिव एप्टीट्युड अनुभाग

क्वांटिटेटिव एप्टीट्युड अनुभाग, किसी भी उम्मीदवार के लिए SSC CGL परीक्षा की मेरिट सूची में स्थान प्राप्त करने वाले निर्णयाक क्षेत्रों में से एक है। इसलिए, यदि आप बुनियादी अवधारणाओं और गणित के सूत्रों के अनुप्रयोगों को स्पष्ट रूप से समझते हैं, तो यह खंड परीक्षा में आपकी ताकत बन सकता है।

क्वांटिटेटिव एप्टीट्युड अनुभाग के टॉपिक्स

 

 

ऊपर दिए गए पाई-चार्ट से स्पष्ट रूप से यह पता चलता है कि परीक्षा में इस अनुभाग का अधिकतम भाग, यानी 48%  अंकगणित विषय से लिया जाता हैं। इसलिए इस श्रेणी में अच्छे अंक स्कोर करने के लिए, उम्मीदवारों को पहले गणित की बुनियादी अवधारणाओं पर काम शुरू करना चाहिए।

डाटा इंटरप्रिटेशन खंड परीक्षा का 20% हिस्सा कवर करता है जोकि अगला स्कोरिंग अनुभाग है। इसमें भी अनुपात और प्रतिशत की अवधारणा का उपयोग होता हैं। ज्यामिति, क्षेत्रमिति (8%) और त्रिकोणमिति (16%) टॉपिक्स से प्रश्नों को हल करने के लिए सभी प्रासंगिक सूत्रों और मेथड्स के गहन ज्ञान का होना आवश्यक हैं बीजगणित से रेखीय समीकरणों के ग्राफ और Elementary Surds जैसे विषय पूछे जाते हैं व यह परीक्षा के इस विषय के प्रश्नों का केवल 8% हिस्सा है

क्वांटिटेटिव एप्टीट्युड अनुभाग की टिप्स

आइये- कुछ टिप्स के बारे में जानते है जिसके माध्यम से आप  SSC CGL 2018 परीक्षा के क्वांटिटेटिव एप्टीट्युड अनुभाग को तेज़ी से हल करने में सक्षम हो जायेंगे।

SSC CGL 2018 क्वांटिटेटिव एपटीट्युड की तैयारी की नीति: अध्यायवार और वर्षवार विस्तृत विश्लेषण

 

इंग्लिश लैंग्वेज और कॉम्प्रिहेंशन अनुभाग

इस खंड में प्रश्नों को उम्मीदवार के अंग्रेजी भाषा के ज्ञान और समझ का परीक्षण करने के लिए डिज़ाइन किया जाता है अंग्रेजी भाषा व कॉम्प्रिहेंशन के सवालों का जवाब देने में अन्य अनुभागों की तुलना में कम समय लगता है। इसलिए, यदि आपकी अंग्रेजी व्याकरण के नियमों, शब्दावली के उपयोग पर अच्छी समझ के साथ अच्छी पकड़ है तो SSC CGL 2018 परीक्षा में यह खंड आपका मज़बूत क्षेत्र हो सकता है।

इंग्लिश लैंग्वेज और कॉम्प्रिहेंशन अनुभाग के टॉपिक्स

आइये- SSC CGL टियर-I में इस खंड से विभिन्न विषयों के प्रतिशत वितरण पर एक नजर डालते हैं-

अगर हम उपरोक्त पाइ चार्ट को देखें तो यह समझा जा सकता है कि SSC CGL टियर-I परीक्षा में इंग्लिश शब्दावली (48%) और ग्रामर (32%) सेक्शन का एक बड़ा हिस्सा है जबकि रीडिंग कॉम्प्रिहेंशन (20%) का इंग्लिश लैंग्वेज और कॉम्प्रिहेंशन अनुभाग में एक छोटा भाग है।

आम तौर पर, इस खंड में पूछे जाने वाले प्रश्न प्रत्यक्ष और काफी आसान होते है। इसलिए, उम्मीदवार इस खंड में वास्तव में अच्छा स्कोर कर सकते हैं।

इंग्लिश लैंग्वेज और कॉम्प्रिहेंशन अनुभाग की टिप्स

आइये- कुछ तरीको के बारे में जानते है जिसके माध्यम से आप  SSC CGL 2018 परीक्षा के इंग्लिश लैंग्वेज और कॉम्प्रिहेंशन अनुभाग को तेज़ी से हल करने में सक्षम हो जायेंगे।

·         शब्दावली को सुधारें: आइये- कुछ संसाधनों पर नजर डालते हैं, जिनके माध्यम से आप अपनी शब्दावली में सुधार कर सकते है-

SSC परीक्षा में सामान्य जागरूकता की तैयारी हेतु विश्वसनीय स्त्रोत

 

जनरल इंटेलिजेंस और रीजनिंग अनुभाग

इस अनुभाग में उम्मीदवार की सोचने की क्षमता और समस्या को सुलझाने के स्किल्स  का परीक्षण होता है। इस अनुभाग से पूछे गए प्रश्न मुख्य रूप से ब्रेन टीज़र प्रकार के होते हैं और कभी कभी इनका जवाब देना काफी मुश्किल होता है।

जनरल इंटेलिजेंस और रीजनिंग अनुभाग के टॉपिक्स

वर्बल रीजनिंग खंड से आमतौर पर जनरल इंटेलिजेंस व रीजनिंग में 66% भाग शामिल हैं और इसमें से प्रश्न प्राय:   Series, Ranks, Direction, Arrangement, Coding, Decoding, Analogy and Classification/Odd Pair, Syllogism and Statement Conclusion इत्यादि टॉपिक्स से पूछे जाते है।

नॉन-वर्बल रीजनिंग खंड से आमतौर पर जनरल इंटेलिजेंस व् रीजनिंग 34% भाग शामिल हैं और इसमें से प्रश्न प्राय:   Figure Formation, Dice, Triangle, Rule Detection, Images, Completion of Pattern, Mirror Images, Figure Matrix and Paper Folding इत्यादि टॉपिक्स से पूछे जाते है।

जनरल इंटेलिजेंस और रीजनिंग की टिप्स

आइये- कुछ तरीको के बारे में जानते है जिसके माध्यम से आप  SSC CGL 2018 परीक्षा के जनरल इंटेलिजेंस और रीजनिंग अनुभाग को तेज़ी से हल करने में सक्षम हो जायेंगे।

जनरल अवेयरनेस (GA) और सामान्य ज्ञान (GK) अनुभाग

इस अनुभाग को SSC CGL परीक्षा के उच्च स्कोरिंग हिस्सों में से एक माना जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य उम्मीदवार के सामान्य जागरूकता और दुनिया भर व भारत में हो रहे मौजूदा मामलों के ज्ञान का परीक्षण करना है।

जी०ए० और जी०के अनुभाग के टॉपिक्स

 

ऊपर दिए गए पाई-चार्ट का विश्लेषण करके यह पता चलता है कि सामान्य विज्ञान और स्टेटिक जी०के० SSC CGL टियर-I परीक्षा  के जी०ए० अनुभाग के  बड़े  हिस्से को दर्शाता है। आइये- जी०ए० और जी०के० अनुभाग  विभिन्न मदों के तहत शामिल विषयों पर विस्तार से नजर डालते हैं।

SSC CGL 2018 को क्रैक करने के लिए 5 दैनिक रूटीन प्रैक्टिसेज

 

जी०ए० और जी०के० अनुभाग की टिप्स

आइये- कुछ तरीको के बारे में जानते है जिसके माध्यम से आप  SSC CGL 2018 परीक्षा के जी०ए० और जी०के० अनुभाग को तेज़ी से हल करने में सक्षम हो जायेंगे।

विज्ञान   राजनीति इतिहास भूगोल अर्थव्यवस्था विविध

SSC CGL टियर-I परीक्षा के लिए तैयारी की रणनीति

आइये- कुछ तरीको के बारे में जानते है जिसके माध्यम से आप  SSC CGL 2018 परीक्षा के इन सभी अनुभागो को तेज़ी से हल करने में सक्षम हो जायेंगे।

यदि आपको “SSC CGL 2018 Tier-1 परीक्षा: तैयारी की युक्तियाँ और रणनीति के बारे में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी हो तो SSC परीक्षा 2018 के बारे में इस तरह की अधिक जानकारी के लिए https://www.jagranjosh.com/staff-selection-commission-ssc पर विजिट करें.

Related Categories

Live users reading now