मात्र 30 दिनों में कैसे करें एसएससी रीजनिंग की तैयारी

एसएससी ने हाल ही में अपने बेहद लोकप्रिय संयुक्त उच्च माध्यमिक स्तर परीक्षा 2016 के माध्यम से केंद्र सरकार के विभिन्न संगठनों और विभागों में कोर्ट क्लर्क, लोअर डिविजन क्लर्क और डाटा इंट्री ऑपरेटर के पदों पर भर्ती का विज्ञापन प्रकाशित किया है. चुने जाने के लिए आपको तीन टीयर– टीयर I, II और III की परीक्षा में शामिल होना होगा. टीयर I वस्तुनिष्ठ, टीयर II वर्णनात्मक और टीयर III कौशल परीक्षा या टाइपिंग परीक्षा होती है. टीयर I में आपको 100 प्रश्न मिलेंगे और ये प्रश्न रीजनिंग (तर्कशक्ति), क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड ( मात्रात्मक योग्यता) और अंग्रेजी से पूछे जाएंगे. कुल 200 अंकों की परीक्षा होगी. इस लेख में हम रीजनिंग सेक्शन की तैयारी के लिए अपनाई जाने वाली रणनीति के बारे में बात करेंगे।

एसएससी सीएचएसएल 2016: रीजनिंग सेक्शन की तैयारी कैसे करें

टीयर I की परीक्षा में आपके पास रीजनिंग सेक्शन से 25 प्रश्न होंगे. प्रत्येक 2 अंक के. इस खंड का  कुल अंक हुआ 50. प्रत्येक गलत जवाब के लिए आपके कुल अंकों में से 0.50 अंक काट लिए जाएंगे. इसलिए परीक्षा में इस खंड को कैसे हल करें की रणनीति पर गौर कीजिये ?

सिलेबस देखें: अपनी वास्तविक तैयारी शुरु करने से पहले यह पहली चीज है जो आपको करनी चाहिए. आपको पूरा सिलेबस देखना चाहिए और आपसे जिन विषयों से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे उनका आइडिया प्राप्त करना चाहिए.

एसएससी सीजीएल अकाउंटेंट / जूनियर अकाउंटेंट : जॉब प्रोफाइल, सैलरी और प्रोमोशन

प्रत्येक अध्याय के बेसिक को समझें: सिलेबस को देखने के बाद जो काम आपको करना चाहिए वह है सिलेबस में दिए गए प्रत्येक अध्याय के बेसिक चीजों को समझने की कोशिश करें ताकि सिलेबस में दिए गए किसी भी अध्याय से यदि परीक्षा में प्रश्न पूछा जाता है तो आपमें उन प्रश्नों का उत्तर देने की क्षमता हो.

पिछले वर्ष के पेपर से तैयारीः सिलेबस समझने के बाद अगली महत्वपूर्ण बात है पिछले वर्ष के पेपर को हासिल करना. जितना संभव हो सके पेपर हासिल करें और उन्हें हल करना शुरु कर दें. इससे आपको पैटर्न और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों का आइडिया हो जाएगा और इन प्रश्नों को हल करने की अपनी क्षमता को देखते हुए आप उसी अनुसार तैयारी शुरु कर सकेंगें.

अपनी तैयारी की समय सीमा रखें: सेक्शन विशेष के लिए अपनी तैयारी या दिए गए दिन में जितनी पढ़ाई आप करना चाहते हैं, को पूरा करने के लिए एक रुटीन सेट करें. इससे आपको अपनी तैयारी को ट्रैक करने में मदद मिलेगी और यह व्यवस्थित तरीका भी है. यदि परीक्षा की तैयारी के लिए समय कम बचा है तो यह काफी लाभदायक होगा.

एसएससी सीजीएल ऑडिटर : जॉब प्रोफाइल, सैलरी और प्रोमोशन

अपनी खूबियों और खामियों को पहचानें: पिछले वर्ष के पेपर से अभ्यास करने के बाद आपको उस विषय में अपनी खूबियों और खामियों के बारे में आइडिया हो जाएगा. आपको अपनी खामियों को दूर करने के लिए अधिक समय देना होगा ताकि आप उसे खूबी में बदल सकें. यह महत्वपूर्ण है क्योंकि आपको नहीं पता की एसएससी किसी वर्ष विशेष में किस सेक्शन से प्रश्न पूछने वाला है.

जितना संभव हो सके अभ्यास करें: एसएससी की किसी भी परीक्षा में रीजनिंग परंपरागत रूप से सबसे आसान सेक्शन होता है औऱ इसमें सर्वाधिक अंक प्राप्त करने के लिए आपको जितना संभव हो सके अभ्यास करने की जरूरत है ताकि आपने जो सीखा है उसका इस्तेमाल करने का पर्याप्त विश्वास आपमें आ सके. अभ्यास के लिए मॉक टेस्ट मददगार होते हैं लेकिन आप यह सुनिश्चित कर लें कि आप जो मॉक टेस्ट दे रहे हैं वह मूल परीक्षा स्तर के समकक्ष हो.

एसएससी एसएचएसएल आपके लिए बेहत अवसर है और आपको इस अवसर को गवांना नहीं चाहिए l 7वां वेतन आयोग लागू हो चुका है, वेतन भी अच्छा है और तनाव एवं काम की तुलना में वेतन काफी अधिक है. आपके पास इस नौकरी को करते हुए अन्य नौकरियों के लिए परीक्षा देने का भी पर्याप्त समय होगा.

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर के लिए प्रोमोशन की संभावनाएं

Related Categories

NEXT STORY
Also Read +
x