NTA UGC NET 2019 परीक्षा हेतु पात्रता मानदंड

इस वर्ष, UGC NET 2018 की परीक्षा को राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) द्वारा भारतीय विश्वविद्यालयों और कॉलेजो में असिस्टेंट प्रोफेसर और जूनियर रिसर्च फेलो या केवल असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों हेतु उम्मीदवार की पात्रता को मापने के लिए आयोजित किया जायेगा. UGC NET 2018 परीक्षा को 9 दिसंबर, 2018 से 23 दिसंबर, 2018 तक देश भर में प्राधिकृत परीक्षा केंद्रों में विभिन्न विषयों हेतु कंप्यूटर आधारित टेस्ट (CBT) के रूप में आयोजित किया जाएगा।

आइए- असिस्टेंट प्रोफेसर और जूनियर रिसर्च फैलोशिप (JRF) या केवल असिस्टेंट प्रोफेसर पदों के लिए NTA UGC NET 2018 परीक्षा हेतु योग्यता मानदंड पर एक नज़र डालते हैं:

आयु सीमा

पदों के नाम

आयु सीमा ( दिनांक 01 दिसम्बर, 2018 पर आयु)

जूनियर रिसर्च फैलोशिप (JRF)

30 वर्ष

असिस्टेंट प्रोफेसर

कोई आयु सीमा नहीं

 आयु सीमा में छूट

क्रम संख्या

श्रेणी

आयु सीमा में छूट

1

अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति

5 वर्ष (01 दिसम्बर, 2018 को आयु 35 वर्ष)

2

अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC)

3

महिलाओं

4

विकलांग व्यक्ति (PwD)

5

ट्रांसजेंडर

6

उम्मीदवार जो अनुसंधान में अनुभव रखते हैं.

अनुसंधान की अवधि - अधिकतम 5 वर्ष

7

LL.M. की डिग्री रखने वाले उम्मीदवार

3 वर्ष

8

उम्मीदवार जिन्होंने सशस्त्र बलों में कार्य किया है

5 वर्ष

नोट:

  • OBC, SC / ST / PwD / ट्रांसजेंडर श्रेणियों के उम्मीदवारों और महिलाओं आवेदकों को 5 वर्ष तक की छूट देने का प्रावधान किया गया हैं।
  • उपयुक्त प्राधिकारी से प्रमाण पत्र के प्रस्तुतिकरण पर, अधिकतम 5 वर्षों की छूट केवल उन उम्मीदवारों को ही दी जायेगी जिनके पास रिसर्च में अनुभव हैं और इसकी समयावधि स्नातकोत्तर डिग्री के प्रासंगिक / संबंधित विषय में अनुसंधान में लगे समय तक ही सीमित हैं।
  • LL.M. डिग्रीधारक उम्मीदवारों को उम्र में तीन साल की छूट की अनुमति होगी।
  • वे उम्मीदवार जिन्होंने सशस्त्र बलों में सेवा प्रदान की हैं, को 5 साल तक की छूट प्रदान की जायेगी. जोकि संबंधित UGC-NET परीक्षा के आयोजित होने वाले महीने के पहले दिन से सशस्त्र बलों में सेवा की अवधि के सापेक्ष वैध होगी।
  • उपर्युक्त शर्तों पर कुल आयु में छूट किसी भी परिस्थिति में पांच वर्ष से अधिक नहीं होगी।

NTA UGC NET दिसम्बर 2018 की आवेदन और पंजीकरण प्रक्रिया

शैक्षिक योग्यता

श्रेणी

प्रतिशत में  मानदंड

सामान्य

(उम्मीदवार जो अपने PG के अंतिम वर्ष के परिणाम की प्रतीक्षा कर रहे हैं या परीक्षा में सम्मिलित होने वाले हैं)

मास्टर डिग्री या समकक्ष डिग्री में कुल 55% अंक

एस०सी०/एस०टी०/ ओ०बी०सी०/ विकलांग/ ट्रांसजेंडर

(उम्मीदवार जो अपने PG के अंतिम वर्ष के परिणाम की प्रतीक्षा कर रहे हैं या परीक्षा में सम्मिलित होने वाले हैं)

मास्टर डिग्री या समकक्ष डिग्री में कुल 50% अंक

पी०एच०डी० डिग्री धारक जिनकी स्नातकोत्तर की परीक्षा 19 सितंबर, 1991 तक पूर्ण हो चुकी हैं (पी०एच०डी० के परिणाम की घोषणा की तारीख के बिना भी)

मास्टर डिग्री या समकक्ष डिग्री में कुल 50% अंक

नोट:

  • सामान्य श्रेणी के लिए: उम्मीदवार जिन्होंने मास्टर की डिग्री में कम से कम 55% अंक (बिना संख्या निकटन के) या मानविकी (भाषाओं सहित) और सामाजिक विज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान और अनुप्रयोगों, इलेक्ट्रॉनिक विज्ञान इत्यादि में UGC द्वारा मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों / संस्थानों की समकक्ष परीक्षा को उत्तीर्ण किया है। इस टेस्ट के लिए पात्र होंगे।
  • अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) नॉन-क्रीमी लेयर / अनुसूचित जाति (अ०जाति) / अनुसूचित जनजाति (एस०टी०) / विकलांग व्यक्तियों (पी०डब्ल्यू०डी०) श्रेणी से संबंधित उम्मीदवार जिन्होंने स्नातकोत्तर की डिग्री या इसके समकक्ष परीक्षा में कम से कम 50% अंक (बिना संख्या निकटन के) प्राप्त किए हैं इस परीक्षा के लिए पात्र माने जायेंगे।
  • उम्मीदवार जो अपनी मास्टर डिग्री या समकक्ष पाठ्यक्रम में अभी अध्ययनरत हैं या वे उम्मीदवार, जो अपनी योग्यता में मास्टर डिग्री (अंतिम वर्ष) की परीक्षा में उपस्थित होने जा रहे  हैं व जिनका परिणाम अभी भी प्रतीक्षा में है या वे उम्मीदवार जिनकी योग्यता परीक्षा के परिणाम में देरी हो रही है, वे भी इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। हालांकि, ऐसे उम्मीदवारों को अस्थायी रूप से ही प्रवेश मिलेगा और उन्हें कम से कम 55% अंकों (ओ०बी०सी० / एस०सी० / एस०टी० / पी०डब्ल्यू०डी० श्रेणी उम्मीदवारों के लिये 50% अंक) के साथ अपनी मास्टर डिग्री या समकक्ष परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद ही असिस्टेंट प्रोफेसर/  JRF की योग्यता के लिए पात्र माना जाएगा। ऐसे उम्मीदवारों को NET परीक्षा के परिणाम की तारीख के दो साल के भीतर अपनी मास्टर्स की डिग्री या समकक्ष परीक्षा को आवश्यक प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण करना होगा , जिसमें विफल होने पर उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा।
  • ट्रांसजेंडर श्रेणी से संबंधित उम्मीदवार भी एस०सी० / एस०टी० / पी०डब्ल्यू०डी० श्रेणियों की ही भांति NET परीक्षा (यानी JRF और असिस्टेंट प्रोफेसर) में शुल्क, आयु और योग्यता मानदंडों में छूट प्राप्त करने के लिए पात्र होंगे। इस श्रेणी के लिए सम्बंधित विषयवार कट ऑफ अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / पी०डब्ल्यू०डी० / OBC-NCL श्रेणियों में सबसे कम होना चाहिए।
  • पी०एच०डी० डिग्री धारक (परिणाम की घोषणा की तारीख के बावजूद) जिनकी स्नातकोत्तर स्तर की परीक्षा 19 सितंबर 1991 को ही पूरी हो चुकी है. NET परीक्षा में उपस्थित होने के लिए, इन उम्मीदवारों को कुल अंकों (यानी 55% से 50%) में 5% की छूट दी जायेगी।

असिस्टेंट प्रोफेसर की पात्रता में छूट

NET / SET / SLET परीक्षा में उत्तीर्णता, विश्वविद्यालयों / कॉलेजों / संस्थानों में असिस्टेंट प्रोफेसरों की भर्ती और नियुक्ति के लिए न्यूनतम पात्रता की शर्त बनी रहेगी। इस संबंध में, NET / SET / SLET में छूट, UGC नियमों और समय-समय पर भारत के राजपत्र में अधिसूचित संशोधन द्वारा ही अनुमोदित होगी। आइए- असिस्टेंट प्रोफेसर पद के लिए UGC-NET 2018 परीक्षा में भाग लेने उम्मीदवारों को दी जाने वाली सभी छूट पर एक नज़र डालते हैं:

NET/SET/SLET के उम्मीदवारों के लिए:

  • उम्मीदवार, जिन्हें विश्वविद्यालय अनुदान आयोग विनियमन अधिनियम 2009 के अनुसार पी०एच०डी० की डिग्री से सम्मानित किया गया है, को विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसर या समकक्ष पदों के लिए NET / SET / SLET की न्यूनतम पात्रता शर्त में छूट दी जाएगी।
  • 1989 से पहले UGC / CSIR JRF परीक्षा को उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को भी NET परीक्षा में शामिल होने से छूट दी जायेगी।

SET उम्मीदवारों के लिए:

  • जिन उम्मीदवारों ने 1 जून, 2002 से पहले असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए UGC द्वारा मान्यता प्राप्त राज्य पात्रता परीक्षा (SET) परीक्षा को उत्तीर्ण किया है, उन्हें NET परीक्षा में शामिल होने की कोई आवश्यकता नहीं है और वे भारत में कहीं भी असिस्टेंट प्रोफेसर के पद के लिए आवेदन करने के पात्र हैं।
  • 1 जून 2002 से वर्तमान तक आयोजित SET परीक्षा में उत्तीर्ण योग्य उम्मीदवार केवल उस राज्य में स्थित विश्वविद्यालयों / कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद के लिए आवेदन करने के पात्र हैं, जहां से उन्होंने अपनी SET परीक्षा को उत्तीर्ण किया है।

इसलिए, उम्मीदवारों को NTA UGC NET 2018 परीक्षा के लिए आवेदन करने से पहले उपरोक्त वर्णित मानदंडों पर पूरी तरह से देखने की सलाह दी जाती है। यदि कोई उम्मीदवार योग्यता मानदंडों को पूरा नहीं करता है, तो ऐसे उम्मीदवारों की पात्रता पर अंतिम चयन की प्रक्रिया के दौरान कोई विचार नहीं किया जाएगा।

Related Categories

Popular

View More