Advertisement

29 अप्रैल को आ रहा है UP Board का रिजल्ट: परन्तु उसके बाद क्या?

UP Board Results 2018 इसी महीने की 29 तारिख को घोषित होंने वाले हैं.  29 अप्रैल 2018 को UP Board की हाईस्कूल (Class 10) और इंटरमीडिएट (Class 12) परीक्षाओं के रिजल्ट घोषित हो जाएंगे. मीडिया में आयी खबरों के अनुसार बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्ताव ने बताया की नतीजे 29 अप्रैल को घोषित को होंगे. इस बार UP Board की परीक्षाएं 6 फरवरी से 10 मार्च तक कराई गयी थी.

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद् (UPMSP) इस बार समय से पहले बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे घोषित कर रहा है. अमूमन UP Board Exams के नतीज़े मई या जून के महीने में आते हैं.

अब रिजल्ट घोषित होने में बहुत कम समय रह गया है इसलिए हमने इस लेख में यह बताया है कि रिजल्ट घोषित होने के बाद कौन से ज़रूरी चीजों के लिए खुद को तैयार रखना चाहिए.

कम्पार्टमेंट तथा इम्प्रूवमेंट एग्जाम

UP Board कक्षा 10वीं तथा 12वीं के छात्रों के लिए बोर्ड एग्जाम के बाद इम्प्रूवमेंट तथा कम्पार्टमेंट के एग्जाम आयोजित करवाता है जिसके माध्यम से विद्यार्थियों को एक और मौका मिलता है.

परीक्षा परिणाम घोषणा होने के पश्चात् बहुत से विद्यार्थी ऐसे होते हैं जो किसी विषय में उत्तीर्ण नहीं हो पाते या फिर अच्छे अंक नहीं ला पाते. ऐसे विद्यार्थियों को कम्पार्टमेंट तथा इम्प्रूवमेंट एग्जाम ज़रूर देने चाहिए.

यूपी बोर्ड कक्षा 10वीं तथा 12वीं के कम्पार्टमेंट तथा इम्प्रूवमेंट एग्जाम की पूरी जानकारी आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके हासिल कर सकते हैं.

UP Board कक्षा 10वीं तथा 12वीं के कम्पार्टमेंट तथा इम्प्रूवमेंट एग्जाम 2018

अब हम कक्षा 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को विस्तार से बताएंगे कि उन्हें और किन बातों के लिए तैयार रहना चाहिए. तो आइये सबसे पहले बात करते हैं कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों की

कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों के लिए

कक्षा 10वीं के बाद स्ट्रीम का चयन

विद्यार्थियों को रिजल्ट आने से पहले ही यह तय कर लेना चाहिए कि उन्हें कौन सी स्ट्रीम चुननी है. यदि किसी विषय में आपका इंटरेस्ट बहुत ज़्यादा है तो उससे संबंधित करियर के सभी विकल्पों पर जरूर गौर कर लें. अगर स्ट्रीम के चयन को लेकर कोई दुविधा है तो प्रोफेशनल काउंसलर से परामर्श लें. काउंसलर स्टूडेंट के मन की बात, भावी करियर और अभिभावक की इच्छा को ध्यान में रखते हुए बेहतर विकल्प सुझा सकते हैं. कक्षा 10वीं के बाद स्ट्रीम के चयन को लेकर एक बेहद खास लेख आप नीचे दिए गए लिंक की मदद से पढ़ सकते हैं.

कक्षा 10वी के बाद स्ट्रीम चयन करने के कुछ आसान टिप्स

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी

ज़्यादातर टीचर इंजीनियरिंग और मेडिकल की फील्ड में जाने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों को 11वीं कक्षा से ही प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी का  सुझाव देते हैं. विद्यार्थियों को इंजीनियरिंग और मेडिकल एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जैसे NEET और IIT JEE इत्यादि) की तैयारी के लिए उचित शहर और उचित शिक्षण संस्थान की खोज अभी से शुरू कर देनी चाहिए.

टॉप 9 प्रश्न जो पूछे जाने चाहिए एक अच्छा कोचिंग इंस्टीट्यूट चुनने से पहले

IIT JEE के स्टडी मटेरियल और कोचिंग से सम्बंधित सारे Doubts करें दूर: श्री आनंद कुमार की सहायता से

सरकारी नौकरी की तैयारी

आजकल बहुत से विद्यार्थी सरकारी नौकरी की चाह में 10वीं पास करते ही तैयारी शुरू कर देते हैं. इसमें कुछ भी गलत नहीं है. आज के मंहगाई के युग में हर कोई कमाई का एक स्थिर स्रोत पाना चाहता है जो की सरकारी नौकरी से बेहतर और कौन दे सकता है. सरकारी नौकरी एक मज़बूत भविष्य की गारंटी देता है. अगर आप भी एक अच्छी सरकारी नौकरी की चाह रखते हैं तो इंटरनेट के माध्यम से इनके बारे में पढ़ते रहें रिजल्ट आने का इंतज़ार न करें.

स्कूल के दौरान भी छात्र कर सकते है सरकारी नौकरी की तैयारी, जानें क्या-क्या है विकल्प?

कक्षा 12वीं के विद्यार्थियों के लिए

करियर का चुनाव

12वीं पास करने के बाद करियर की दिशा को लेकर विद्यार्थियों के मन में कई सवाल होते हैं जैसे कौनसा कोर्स चुनें, प्रोफेशनल कोर्सेज में दाखिला लें या पारंपरिक डिग्री हासिल करें या किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करें इत्यादि. साइंस स्ट्रीम से 12वीं करने के बाद बहुत से स्टूनडेंट्स डॉक्टेर या इंजीनियर बनना चाहते हैं. वहीं, कुछ ऐसे भी स्टूसडेंट्स हैं जिनकी रूचि डॉक्टरर या इंजीनियर बनने में तो नहीं होती लेकिन उन्हें  इसके अलावा कोई अन्य विकल्प भी समझ में नहीं आते और वे अपने करियर को लेकर कंफ्यूज़ रहते हैं. विद्यार्थी शायद इस बात से अपरिचित हैं कि साइंस एक बहुत बड़ी स्ट्रीूम हैं जिसमें एक या दो नहीं बल्कि ढेरों विकल्पर मौजूद हैं.

नीचे हमने आपकी मदद के लिए कुछ आर्टिकल्स के लिंक दिए हैं जो आपके करियर सम्बंधित उलझनों को सुलझाने में मदद करेंगे

कॉमर्स से 12वीं पास करने के बाद कुछ बेहतरीन करियर ऑप्शन

क्या आप भी चाहते हैं विदेश में कक्षा 10वी तथा 12वी के बाद आगे की पढ़ाई तो ज़रूर जाने यें बातें

इंजीनियरिंग और चिकित्सा के अलावा विज्ञान के छात्रों के लिए अन्य करियर विकल्प

कक्षा 12वीं के बाद साइंस छात्रों के लिए यह भी होते हैं करियर विकल्प जिनसे आप अब तक थे अनजान!

कॉलेज का चुनाव

अक्सर विद्यार्थी एडमिशन लेने से पहले कॉलेज के बारे में ज़रूरी जानकारी नहीं लेते और फिर एडमिशन के बाद पछताते हैं. आज के समय में सही कॉलेज का चुनाव एक बड़ी चुनौती से कम नहीं. एक अच्छा कॉलेज एक बेहतर भविष्य की गारंटी देता है. लुभावने विज्ञापन या किसी बातों में आकर अभिभावक गलत कॉलेज का चुनाव कर लेते हैं जो स्टूडेंट के करियर के लिए बुरा साबित होता है. इसलिए अभी से विभिन्न शिक्षण संस्थानों के बारे में रिसर्च शुरू कर दें. किस कॉलेज में कितनी फीस लगती है, किस ब्रांच के लिए कितना कटऑफ है  इत्यादि की जानकारी अभी से जुटाना शुरू कर दें जिससे रिजल्ट आने के बाद आपको कोई दिक्कत न हो.

भारत में सही इंजीनियरिंग कॉलेज का चयन कैसे करें?

अगर कॉलेज/स्कूल के दाखिले की तैयारी में हैं आप तो ज़रूर ध्यान रखे ये 8 बातें

पढ़ाई या नौकरी या फिर  बिज़नेस

आपको रिसर्च करना है या डिग्री कोर्स के बाद नौकरी करनी है या फिर फैमिली बिज़नेस संभालना है. यह सब आपको 12वीं का रिजल्ट आने तक तय कर लेना होगा जिससे बाद में आपके मन में कोई उलझन न रह जाए. इसके लिए आप अपने सीनियर्स, रिश्तेदारों और करियर काउंसलर्स की भी मदद ले सकते हैं.  करियर से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण लेख आप नीचे दिए गए लिंक्स की मदद से पढ़ सकते हैं.

12वी बोर्ड परीक्षा में फेल होने के बाद भी अनेकों करियर ऑप्शन हैं मौजूद

करियर के लक्ष्य तथा इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें

मॉडर्न ज़माने के कुछ शानदार करियर ऑप्शंस

UP Board रिजल्ट 29 अप्रैल 2018 को 12:30 बजे घोषित किया जाएगा. लेकिन तब तक विद्यार्थियों को खाली नहीं बैठना चाहिए बल्कि ऊपर दी गई महत्वपूर्ण बातों पर अभी से ध्यान देना चाहिए.

Advertisement

Related Categories

Advertisement