UP Board Class 10 Hindi Syllabus 2019-2020

Check UP Board Class 10 Hindi Syllabus 2019-20. Generally, students don’t pay much attention to the Hindi subject and take it as a less important subject as compared to other core subjects like Maths and Science. However, Hindi as a subject is very important as it carries a total of 100 marks in the board exams which cannot be ignored while calculating the overall grades. So, students should be serious about the preparations for Hindi subject. For this they need to first analyse the complete syllabus of UP Board Class 10 Hindi. Here, you may check the latest syllabus to start making an effective preparation of Class 10 Hindi.

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद्, इलाहाबाद
कक्षा-10 हिन्दी
पाठ्यक्रम तथा पाठ्य-पुस्तकें

केवल एक प्रश्नपत्र 70 अकों का होगा जिसके लिए तीन घंटे का समय निर्धारित है।

  1.  
    1. हिन्दी गद्य के विकास का संक्षिप्त परिचय (5)
      (शुक्ल तथा शुक्लोत्तर युग)
    2. हिन्दी पद्य का विकास का संक्षिप्त परिचय (5)
      (रीतिकाल तथा आधुनिक काल)
  2. गद्य हेतु निर्धारित पाट्य वस्तु से- (2+2+2=6)
    सन्दर्भ
    रेखांकित अंश की व्याख्या
    तथ्यपरक प्रश्न
  3. काव्य हेतु निर्धारित पाठ्य वस्तु से (1+4+1=6)
    सन्दर्भ-
    व्याख्या-
    काव्य सौन्दर्य-
  4. संस्कृत गद्यांश अथवा पद्यांश का सन्दर्भ सहित हिन्दी में अनुवाद (1+3=4)
  5. निर्धारित पाठों के लेखकों एवं कवियों के जीवन परिचय एवं रचनायें (3+3=6)
    1. संस्कृत के निर्धारित पाठों से कण्ठस्थ एक श्लोक (2)
      (जो प्रश्नपत्र में न आया हो)
    2. संस्कृत के निर्धारित पाठों पर आधारित दो अति लघूत्तरीय प्रश्नों का संस्कृत में उत्तर (2)
  6. काव्य सौन्दर्य के तत्व- (2+2+2=6)
    1. रस-(हास्य एवं करूण रस की परिभाषा, उदाहरण, पहचान)
    2. अलंकार-(अर्थालंकार) उपमा, रूपक, उत्प्रेक्षा
    3. छन्द-सोरठा, रोला (लक्षण, उदाहरण, पहचान)
  7. हिन्दी व्याकरण-शब्द रचना के तत्व (3+2+2+2+2=11)
    1. उपसर्ग-अ, अन, अधि, अप, अनु, उप, सह, निर, अभि, परि, सु।
    2. प्रत्यय-आई, त्व, ता, पन, वा, हट, वट।
    3. समास-द्वन्द्ध, द्विगु, कर्मधारय, बहुब्रीहि।
    4. तत्सम शब्द।
    5. पर्यायवाची।
  8. संस्कृत व्याकरण एवं अनुवाद- (2+2+2+2=8)
    1. सन्धि-यण, वृद्धि (परिभाषा, उदाहरण, पहचान)
    2. शब्द रूप (सभी विभक्तियों एवं वचनों में)
      संज्ञा-फल, मति, मधु, नदी। सर्वनाम-तद्, युष्मद्।
    3. धातु रूप (लट्, लोट, लृट, विधिलिंग, लङ् लकारों में)
      पठ, हास्, दृश, पच्।
    4. हिन्दी के सरल वाक्यों का संस्कृत में अनुवाद।
  9. निबन्ध रचना-वैज्ञानिक, सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक, आर्थिक समस्याओं पर आधारित एवं जनसंख्या , स्वास्थ्य शिक्षा, पर्यावरण एवं ट्राफिक रूल्स पर आधारित विषय। (6)
  10. खण्ड काव्य-संक्षिप्त कथावस्तु घटनायें, चरित्र-चित्रण (3)
    आन्तरिक मूल्यांकन-प्रत्येक दो माह के अन्तिम सप्ताह में
    प्रथम-अगस्त माह में 10 अंक-वाचन (भाषण, वाद-विवाद, विचारों की अभिव्यक्ति आदि)
    द्वितीय-अक्टूबर माह में 10 अंक-व्याकरण सम्बन्धी
    तृतीय-दिसम्बर माह में 10 अंक-सृजनात्मक निबन्ध, नाटक, कहानी, कविता, अपठित आदि।
    (अंक योग-30 अंक)

निर्धारित पाट्य वस्तु-

गद्य हेतु-
पाठ का नाम                                 लेखक
मित्रता                      –   राम चन्द्र शुक्ल
ममता                       –   जयशंकर प्रसाद
क्या लिखूँ                    –   पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी
भारतीय संस्कृति              – राजेन्द्र प्रसाद
ईष्या तू न गयी मेरे मन से    – रामधारी सिंह दिनकर
अजन्ता                       – भगवत शरण उपाध्याय
पानी में चन्दा और चाँद       – जय प्रकाश भारती

काव्य हेतु-
पाठ का नाम                                लेखक
पद                            – सूरदास
धनुष भंग, वन पथ पर         – तुलसीदास
सवैये, कवित्त                  – रसखान
भक्ति निति                    – बिहारी लाल
चींटी, चन्द्रलोक में प्रथम बार   – सुमित्रानन्दन पंत
हिमालय से, वर्षा सुन्दरी के प्रति – महादेवी वर्मा
स्वदेश प्रेम                      – रामनरेश त्रिपाठी
पुष्प की अभिलाषा, जवानी      – माखन लाल चतुर्वेदी
झांसी की रानी की समाधि पर   – सुभद्रा कुमारी चौहान
भारतमाता का मंदिर यह        – मैथिलीशरण गुप्त
नदी                            – केदारनाथ सिंह
युवा जंगल, भाषा एकमात्र अनन्त है – अशोक बाजपेयी

हल्दीघाटी                          – श्याम नारायण पाण्डेय

संस्कृत हेतु-
वाराणसी, अन्योक्ति विलासः, वीरः, वीरेण पूज्यते, प्रबुद्धो ग्रामीणः, देशभक्तः चन्द्रशेखर, केन किं वर्धते, छान्दोग्योपनिषद् पष्ठोध्याय: से आरुणि श्वेतकेतु संवाद:, भारतीया: संस्कृतिः, जीवन सूत्राणि।
खण्ड काव्य- (जिलेवार)
खण्ड काव्य के लिये-

निर्धारित पाट्य वस्तु-

  1. पुस्तक का नाम – मुक्तिदूत
    प्रकाशक का नाम – अशोक कुमार अग्रवाल, 43, चाहचन्द रोड, इलाहाबाद
    अनुदानित जिले – आगरा, बस्ती, गाजीपुर, फतेहपुर, बाराबंकी, उन्नाव।
  2. पुस्तक का नाम – ज्योति जवाहर
    प्रकाशक का नाम – मोहन प्रकाशन, जवाहर नगर, कानपुर कानपुर,
    अनुदानित जिले – कानपूर, प्रतापगढ़, मिर्जापुर, ललितपुर, रामपुर, गोण्डा।
  3. पुस्तक का नाम – अग्रपूजा
    प्रकाशक का नाम – हिन्दी भवन, 63 टैगोर नगर, इलाहाबाद
    अनुदानित जिले – इलाहाबाद, आजमगढ़, मथुरा।
  4. पुस्तक का नाम – मेवाड़ मुकुट
    प्रकाशक का नाम – शंकर प्रकाशन, 8/98 आर्यनगर, कानपुर
    अनुदानित जिले – बुलन्दशहर, देवरिया, बरेली, सुल्तानपुर, सीतापुर, बहराइच।
  5. पुस्तक का नाम – जय सुभाष
    प्रकाशक का नाम – रोहिताश्व प्रकाशन, 368 मालती सदन, ऐशबाग, लखनऊ
    अनुदानित जिले – लखनऊ, सहारनपुर, फैजाबाद, बांदा, झांसी, हरदोई।
  6. पुस्तक का नाम – मातृ भूमि के लिये
    प्रकाशक का नाम – आधुनिक प्रकाशन गृह, दारागंज, इलाहाबाद
    अनुदानित जिले – गोरखपुर, मुरादाबाद, शाहजहांपुर, लखीमपुर खीरी, मैनपुरी, भुजफ्फरनगर।
  7. पुस्तक का नाम – कर्ण
    प्रकाशक का नाम – बुनियादी साहित्य मन्दिर, पटना-4
    अनुदानित जिले – अलीगढ़, जौनपुर, बलिया, हमीरपुर, एटा।
  8. पुस्तक का नाम – कर्मवीर भरत
    प्रकाशक का नाम – हिन्दुस्तान बुक हाउस, अस्पताल रोड, परेड, कानपुर
    अनुदानित जिले – मेरठ, फ़र्रूखाबाद, पीलीभीत, रायबरेली।
  9. पुस्तक का नाम – तुमुल
    प्रकाशक का नाम – इन्डियन प्रेस पब्लिकेशन प्रा० लि०, 36, पन्ना लाल रोड, इलाहाबाद
    अनुदानित जिले – वाराणसी, इटावा, बिजनौर, जालौन, बदायूँ।

नोट:- उपर्युक्त के अतिरिक्त अन्य जिलों/नये सृजित जिलों में खण्ड काव्य पूर्व वर्षों की भांति यथावत् पढ़ाये जायेंगे।

UP Board Class 10th Social Science Syllabus 2019-2020

UP Board Class 10th English Syllabus: 2019-2020

UP Board Class 10th Mathematics Syllabus: 2019-2020

Related Categories

Popular

View More