UP Board कक्षा 10 विज्ञान चेप्टर नोट्स : कुछ लवणों के निर्माण की विधि, गुणधर्म एवं उपयोग, पार्ट-II

आज हम यहाँ आपको UP Board कक्षा 10 विज्ञान के 11th अध्याय (कुछ लवणों के निर्माण की विधि, गुणधर्म एवं उपयोग) के दुसरे पार्ट का नोट्स उपलब्ध करा रहें हैं| हम इस चैप्टर नोट्स में जिन टॉपिक्स को कवर कर रहें हैं उसे काफी सरल तरीके से समझाने की कोशिश की गई है और झा भी उदाहरण की आवश्यकता है वहाँ उदहारण के साथ टॉपिक को परिभाषित किया गया है| कुछ लवणों के निर्माण की विधि, गुणधर्म एवं उपयोग यूपी बोर्ड कक्षा 10 विज्ञान का सबसे महत्वपूर्ण अध्यायों में से एक है। इसलिए, छात्रों को इस अध्याय को अच्छी तरह तैयार करना चाहिए। यहां दिए गए नोट्स यूपी बोर्ड की कक्षा 10 वीं विज्ञान बोर्ड की परीक्षा 2018 और आंतरिक परीक्षा में उपस्थित होने वाले छात्रों के लिए बहुत उपयोगी साबित होंगे। इस लेख में हम जिन टॉपिक को कवर कर रहे हैं वह यहाँ अंकित हैं:

1. धावन सोड,

2. प्रमुख गुण (Important properties),

3. उष्मा का प्रभाव, कार्बन डाइ ऑक्साइड से क्रिया, जल से क्रिया, अम्लों से क्रिया, बुझे चुने से क्रिया, सल्फर डाइ ऑक्साइड से क्रिया

4. उपयोग (Uses)

5. सोडियम कार्बोनेट के निर्माण की ली-ब्लॉक की विधि

6. काली राख बनाना, कलि राख से सोडियम कार्बोनेट बनाना|

धावन सोडा :

[रासायनिक नाम: सोडियम कार्बोनेट]

धावन सोडा (washing soda) क्रिस्टलीय कार्बोनेट (crystalline carbonate) तथा सोडा क्षार (soda ash) के रूपों में पाया जाता है|

धावन सोडा (कपड़ा धोने का सोडा) प्राप्त करने के लिए कास्टिक सोडा के सान्द्र विलयन में कार्बन डाइआक्साइड

गैस प्रवाहित करते हैं| इससे सोडियम कार्बोनेट का विलयन मिलता है जिसके वाष्पन से सोडियम कार्बोनेट के क्रिस्टल प्राप्त होते है|

प्रमुख गुण (Important properties):

भौतिक गुण Physical properties)-

(1) धावन सोडा एक गंधहीन, सफेद क्रिस्टलीय पदार्थ है जिसके एक अणु में क्रिस्टलन जल के 10 अणु होते हैं|

(2) यह जल में विलेय होकर पर्याप्त उष्मा प्रदान करता है|
(3) इसे शुष्क वायु में रखने से क्रिस्टलन जल के अणु निकल जाते हैं तथा गर्म करने पर निर्जल सोडियम कार्बोनेट बनता है|

UP Board कक्षा 10 विज्ञान चेप्टर नोट्स : कुछ लवणों के निर्माण की विधि, गुणधर्म एवं उपयोग, पार्ट-I

रासायनिक गुण (Chemical Properties) :

1. उष्मा का प्रभाव – क्रिस्टलीय सोडियम कार्बोनेट को गर्म करने पर यह निर्जल सोडियम कार्बोनेट में बदल जाता है|

उपयोग (Uses) : इसके प्रमुख उपयोग निम्नलिखित हैं-

(1) प्रयोगशाला में अभिकर्मक के रूप में|

(2) कठोर जल को मृद करने में|

(3) कॉच, कागज तथा साबुन व्यवसाय में|

(4) कपड़े धोने तथा काँच के बर्तनों की चिकनाई दूर करने में|

(5)  बेकिंग पाउडर (NaHCO3), कास्टिक सोडा, पेन्ट तथा सुहागा बनाने में|

(6) पेट्रोलियम के शोधन में|

(7) धातुओं के निष्कर्षण में|

UP Board कक्षा 10 विज्ञान चेप्टर नोट्स : अम्ल, क्षार व लवण, पार्ट-I

UP Board कक्षा 10 विज्ञान चेप्टर नोट्स : अम्ल, क्षार व लवण, पार्ट-II

सोडियम कार्बोनेट के निर्माण की ली-ब्लॉक की विधि :

इस विधि में सोडियम कार्बोनेट निम्नलिखित तीन पदों में प्राप्त किया जाता हैं:

UP Board कक्षा 10 विज्ञान चेप्टर नोट्स : अम्ल, क्षार व लवण, पार्ट-III

Advertisement

Related Categories