Advertisement

UP Board Class 12th Ledger Account & Accountancy Syllabus 2018–2019

Revised syllabus of UP Board Class 12 Accountancy subject for the academic session 2018 – 2019 is available here. A lot of changes are observed in this new syllabus. Earlier, students need to write two board exams for Class 12 Accountancy subject. But, from 2019 there will be only one board exam. The paper will be of 100 marks and students will get 3 hours to attempt the complete paper. Students preparing for UP Board Class 12 Accountancy Board Exam 2018–2019 should learn this syllabus carefully.

Read this article to get complete revised syllabus.

 

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद्, इलाहाबाद

कक्षा-12 बहीखाता तथा लेखाशास्त्र

पाठ्यक्रम तथा पाठ्य–पुस्तकें

इसमें केवल एक प्रश्न-पत्र 100 अंकों का तीन घंटे के समय का होगा| न्यूनतम उत्तिर्णiक 33| जिसमें साझेदारों के खाते से सम्बंधित प्रश्न अनिवार्य रूप से पूछे जायेंगे तथा अंतिम खाते से सम्बंधित प्रश्न अनिवार्य रूप से नहीं पूछे जायेंगे|

इकाई-1 साझेदारी से खाते (साझेदार का प्रवेश, अवकाश ग्रहण, मृत्यु तथा विघटन से सम्बन्धित खाते)। (20)

इकाई-2 अंश आशय प्रकार, अंशों के निर्गमन हरण व पुनर्निगमन सम्बन्धी लेखे। पूर्वाधिकारी अंशों का शोधन। (15)

इकाई-3 ऋण-पत्र आशय प्रकार, निर्गमन व शोधन सम्बन्धी प्रविष्टियां व खाते। (15)

इकाई-4 कम्पनी के अन्तिम खाते (व्यापार, लाभ-हानि खाता, लाभ-हानि नियोजन खाता, आर्थिक चिट्ठा) कम्पनी अधिनियम के अनुसार। (20)

इकाई-5 ह्रास आशय, विभिन्न विधियां। विनियोग खाते। लागत लेखांकन का परिचय। (15)

इकाई-6 गैर व्यावसायिक संस्थाओं के खाते (प्राप्ति व भुगतान खाते एवं आय-व्यय खाते) अनुपात विश्लेषण का सामान्य अध्ययन। (15)

निर्धारित पुस्तकें–

Know difference between Scholarship and Fellowship programmes

कोई पुस्तक निर्धारित नहीं है। संस्था के प्रधान विषय अध्यापक के परामर्श से पाठ्यक्रम के अनुरूप पुस्तक का चयन कर लें।

Here students can see the complete format of last year Accountancy subject syllabus, So that they can easily understand the difference between them.

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद्, इलाहाबाद

कक्षा-12 बहीखाता तथा लेखाशास्त्र

पाठ्यक्रम तथा पाठ्य–पुस्तकें

प्रथम प्रश्न-पत्र में साझेदारों के खाते से सम्बन्धित प्रश्न अनिवार्य रूप से पूछे जायेंगे तथा “अन्तिम खाते” से सम्बन्धित प्रश्न अनिवार्य रूप से नहीं पूछे जायेंगे।

दो प्रश्न-पत्र होंगे। प्रत्येक के अंक 50 और समय तीन घण्टे का होगा।

प्रथम प्रश्न–पत्र (50 अंक)

1.     साझेदारी से खाते (साझेदार का प्रवेश, अवकाश ग्रहण, मृत्यु तथा विघटन से सम्बन्धित खाते)। (20)

2.     अंश आशय प्रकार, अंशों के निर्गमन हरण व पुनर्निगमन सम्बन्धी लेखे। पूर्वाधिकारी अंशों का शोधन। (15)

3.     ण-पत्र आशय प्रकार, निर्गमन व शोधन सम्बन्धी प्रविष्टियां व खाते। (15)

द्वितीय प्रश्न–पत्र (50 अंक)

1.     कम्पनी के अन्तिम खाते (व्यापार, लाभ-हानि खाता, लाभ-हानि नियोजन खाता, आर्थिक चिट्ठा) कम्पनी अधिनियम के अनुसार। (20)

2.     ह्रास आशय, विभिन्न विधियां। विनियोग खाते। लागत लेखांकन का परिचय। (15)

3.     गैर व्यावसायिक संस्थाओं के खाते (प्राप्ति व भुगतान खाते एवं आय-व्यय खाते) अनुपात विश्लेषण का सामान्य अध्ययन। (15)

5 Ways How School Students can make a Difference in the Society

Advertisement

Related Categories

Advertisement