IAS रिजल्ट 2016: लगातार तीसरी बार महिला टॉपर, 599 रिजर्व कटेगरी को मिली नौकरी, रैंक 1 से 50 की लिस्ट

संघ लोक सेवा आयोग ने वर्ष 2016 के लिए प्रतिष्ठित सिविल सर्विस  परीक्षाओं का अंतिम परिणाम घोषित कर दिया है. इस परीक्षा को कई व्यक्ति सफलता का प्रतीक मानते हैं और भारत की इस सबसे अधिक प्रतिष्ठित परीक्षा में फिर से एक महिला कर्नाटक की नंदिनी केआर ने टॉप किया है.

यह लगातार तीसरी बार है कि एक महिला ने UPSC सिविल सर्विस परीक्षा में शीर्ष स्थान हासिल किया है. वर्ष 2014 में इरा सिंघल ने इस परीक्षा में टॉप किया था और वर्ष 2015 में टीना डाबी ने इस परीक्षा में टॉप किया था. UPSC आयोग द्वारा 31 मई 2017 को घोषित अंतिम परिणाम के अनुसार कुल 1099 उम्मीदवारों (846 पुरुष और 253 महिलाएं) के नामों की सिफारिश आईएएस (180), आईपीएस (150), आईएफएस (45) और अन्य ग्रुप ए और ग्रुप बी सेंट्रल सर्विसेज (834) के लिए संघ लोक सेवा आयोग द्वारा की गई है.

कुल उम्मीदवारों में से 500 सामान्य श्रेणी के उम्मीदवार हैं जबकि 347 ओबीसी, 163 एससी और 89 एसटी उम्मीदवार हैं. यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि इस वर्ष कर्नाटक से नंदिनी केआर ने पहली बार यह परीक्षा नहीं दी है. उन्होंने अपने दूसरे प्रयास में इस परीक्षा में यह शानदार सफलता हासिल की है. वे एमएस रमैया  इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, बेंगलुरु से सिविल इंजीनियरिंग में स्नातक हैं, उन्होंने इस परीक्षा में पहले भी सफलता हासिल की थी और उन्हें आईआरएस के लिए चुना गया था लेकिन वे आईएएस ही बनना चाहती थीं. यह भी ध्यान में रखना चाहिए कि इस वर्ष की टॉपर ने तैयारी की कमी और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के कारण अपने पहले और तीसरे प्रयासों में प्रीलिम परीक्षा पास नहीं की थी, लेकिन उन्होंने कभी अपने सपने को साकार करने के लिए प्रयास करना नहीं छोड़ा.

नंदिनी ने अपनी स्कूली शिक्षा कोलार से प्राप्त की. कोलार सोने की खानों के लिए मशहूर है. वे एक मध्यवर्गीय परिवार से संबंधित हैं और उनके पिता एक सरकारी स्कूल में शिक्षक हैं. परिणाम की घोषणा के बाद उन्होंने यह कहा कि उनका हमेशा मानव जाति की सेवा में अपना जीवन बिताने का सपना था. उचित समय प्रबंधन, ध्यान, आत्म नियंत्रण और दृढ़ता ऐसे जीवन मूल्य हैं, जिनसे उन्हें टॉप तक पहुंचने में मदद मिली. ऐसी बेटियों पर भारत को गर्व है. उनकी उपलब्धि सभी इच्छुक उम्मीदवारों के लिए एक सबक है कि कड़ी मेहनत, ध्यान और दृढ़ संकल्प के साथ कुछ भी प्राप्त करना संभव है.

वर्ष 2016 हेतु UPSC द्वारा रिकमेंडेड उम्मीदवारों की सूची उनके अखिल भारतीय रैंक सहित

 

Related Categories

Popular

View More