UPSC IAS Mains 2019 रिजल्ट जारी: जाने कैसे करें इंटरव्यू की तैयारी

UPSC ने सिविल सेवा की मेंस  परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। अब अगला चरण है पर्सनल इंटरव्यू जिसकी तैयारी के लिए विद्यार्थियों के पास ज्यादा समय नहीं बचा है। ऐसे में ज़रूरी है की विद्यार्थी अपना संयम बनाये रखे और एक स्मार्ट एप्रोच के साथ इंटरव्यू की तैयारी करे। 

UPSC सिविल सेवा के लिए इंटरव्यू 275 नंबर का होता है। अगर एवरेज देखे तो ये इंटरव्यू 30 से 35 मिनट तक चलता है। आपके इंटरव्यू रूम में एन्टर करने से ले कर एग्जिट करने तक पैनल मेम्बेर्स आपको कई लेवेल्स पर टेस्ट करते है। आपकी आसानी के लिए हमने इन लेवेल्स को 4 टाइटल्स में बांटा है - पर्सनल, Academic , work profile और Psychological competence. आज हम Academic और work profile से रिलेटेड प्रश्नों और उनके सही जवाब देने के तरीको के बारे में बात करेंगे

ग्रेजुएशन सब्जेक्ट की In-depth नॉलेज

अक्सर ये माना जाता है की ग्रेजुएशन में आर्ट्स पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए सिविल सेवा परीक्षा का सिलेबस सरल होता है। जबकि ये सिर्फ एक ग़लतफहमी है। UPSC आपसे expect करता है की आपको अपने ग्रेजुएशन सब्जेक्ट की अच्छी नॉलेज हो। आपका ग्रेजुएशन सब्जेक्ट ही एक ऐसा टॉपिक है जिस पर इंटरव्यू पैनल आपसे theoretical questions पूछते हैं। इसीलिए ये ज़रूरी है की आपको अपने ग्रेजुएशन सब्जेक्ट्स की इन-डेप्थ नॉलेज हो। अक्सर एक IAS या अन्य रैंक्स के officers से ये एक्सपेक्ट किया जाता है की उनको हर विषय के बारे में ज्ञान हो इसीलिए बेसिक ग्रेजुएशन सब्जेक्ट के बारे में सब कुछ पता होना एक सीरियस कैंडिडेट की निशानी है। फैक्ट्स के साथ साथ करंट इवेंट्स से आपके सब्जेक्ट को जोड़ कर भी आपसे सवाल किया जा सकता है। इसलिए ये ज़रूरी है की आप अवेयर रहे और करंट अफेयर्स पढ़ते रहे।

7 IAS Officers जो अपनी जॉब छोड़कर बने Entrepreneurs
 

ऑप्शनल सब्जेक्ट की पूरी जानकारी

मेंस की परीक्षा के लिए हर विद्यार्थी को एक ऑप्शनल सब्जेक्ट का चुनाव करना होता है। ये सब्जेक्ट्स पेपर 5 और 6  के रूप में मेंस एग्जाम में दिए जाते हैं। इंटरव्यू की तैयारी के समय पैनल आपसे आपके ऑप्शनल सब्जेक्ट से रिलेटेड कोई भी सवाल पूछ सकते है। यदि आपका ग्रेजुएशन सब्जेक्ट और ऑप्शनल सब्जेक्ट अलग-अलग हैं तो हो सकता है की पैनल आपसे इसका कारण भी पूछे। जैसे की अगर आप साइंस background से हैं लेकिन अपने ऑप्शनल सब्जेक्ट हिस्ट्री या पोलिटिकल साइंस चुना है तो आपके पास इन सब्जेक्ट्स का चयन करने का सटीक और लॉजिकल जवाब होना ज़रूरी है।

उदहारण के लिए अगर किसी साइंस ग्रेजुएट ने सोशियोलॉजी को अपना ऑप्शनल विषय चुना है तो इसके लिए वह ये लॉजिक दे सकता है की परीक्षा की तैयारी के दोरान सोशियोलॉजी में उनका सबसे ज्यादा इंटरेस्ट रहा और इसी के माध्यम से वह भारत और विश्व के सोशल इश्यूज को जान पाए। इसके साथ साथ सोशियोलॉजी से वह भारतीय समाज के कई नए विषयों को समझे और इसी के ज़रिये अगर वह आईएस बने तो अपनी जानकारी को काम में ला कर समाज में सुधार करना चाहेंगे।

यह सिर्फ एक विषय का उदहारण है। आपने अपने मेंस एग्जाम के लिए जो भी विषय चुना आप उसे इंटरव्यू के लिए भी तैयार करे।

UPSC IAS Interview 2019 Preparation Tips: Tricky Questions to Check Mental Alertness, Presence of Mind, Reasoning Ability & their Answers
 

स्थानीय पते और शैक्षिक पते में है फर्क तो रखे इन बातो का ख्याल

अगर आपका स्थानीय पता आपके पढाई के स्थान से अलग है तो पैनेलिस्ट आपसे इस बारे में भी प्रश्न पूछ सकता है।"क्या आप नए शहर में  कर खुश है?" या "आपके होमटाउन में भी कॉलेज  होंगे तो किसी और शहर में पढ़ना क्यों चुना?" ऐसे सवाल आपको कंफ्यूज और नर्वस कर सकते है। ऐसे में आपको लॉजिक के साथ सही जवाब देना चाहिए। अक्सर ऐसे सवाल पूछने का कारण होता है आपकी नयी जगह और situations में एडजस्ट करने की क्षमता को टेस्ट करना। एक administrative Officer को कई अलग अलग कस्बो और गाँव में रहना पड़ता है, ऐसे में नयी जगह में आपमें adaptability और एडजस्ट करने की इच्छा का होना जरूरी है। इसीलिए हर सवाल का जवाब एक सकारात्मक सोच से दें। 

एक्स्ट्रा-करीकुलर एक्टिविटीज

अक्सर स्कूल व कॉलेज में अपने डांस, आर्ट, डिबेट या स्पोर्ट्स इत्यादि में पुरूस्कार जीते है तो हो सकता बोर्ड मेम्बेर्स आपसे इससे सम्बंधित सवाल करे। अपने जीते हुए अवार्ड्स और सर्टिफिकेट्स और उनको जारी करने वाली संस्थाओं के साथ साथ उस फील्ड से जुड़ी मशहूर हस्तियों के बारे में भी ज़रूर पढ़े। 2018 में 5th रैंक प्राप्त करने वाली स्रुरुष्टि जयंत ने संगीत में कई सर्टिफिकेट्स हासिल किये है और इसी के चलते इंटरव्यू में उनसे गाना गाने के लिए कहा गया। ऐसा करने में पनेलिस्ट्स का उद्देश्य कैंडिडेट की सोशल स्किल्स की जाच करना और उनके कॉन्फिडेंस को टेस्ट करना होता है।

देश के सबसे युवा IPS अफसर बन कर 22 साल के हसन सफीन ने रचा इतिहास
 

अगर आप एक वर्किंग प्रोफेशनल हैं

अगर UPSC की तैयारी के दौरान या उससे पहले आप एक वर्किंग प्रोफेशनल थे तो आपके पिछली संस्था, आपका वर्क प्रोफाइल और आपके designation और काम से रिलेटेड आपसे सवाल पूछे जा सकते हैं। इसके साथ साथ आपसे जॉब छोड़ने का कारण और सिविल सेवा को चुनने का कारण भी पूछा जा सकता है। ऐसे प्रश्नों का उत्तर देते समय ये ध्यान रखना ज़रूरी है की आप कभी भी अपनी पिछली संस्था की बुराई ना करें।  

इसके साथ साथ अगर ग्रेजुएशन और जॉब ज्वाइन करने के बीच में कुछ महीनो या सालो का गैप है तो आपके पास उस गैप को justify करने का उपयुक्त रीज़न होना ज़रूरी है। इसलिए ज़रूरी है की आप पूछे गए हर सवाल का जवाब सावधानी और इमानदारी से दें।

इंटरव्यू रूम में हर सवाल का जवाब देते समय आपको ये ध्यान में रखना है की आप हर एक जवाब फ्यूचर आईएस की तरह से दे। आपका कॉन्फिडेंस, प्रजेंस ऑफ़ माइंड और ईमानदारी ही आपको एक सफल कैंडिडेट बनाएगी। 

UPSC IAS Interview में पूछे गए Out of The Box Questions & Answers
10 महिला IAS/IPS Officers जिन्होंने समाज को सुधारने में बड़ा योगदान दिया
 
 

 

 

Related Categories

Also Read +
x