UPSC IAS Interview में पूछे गए Out of The Box Questions & Answers

एक आईएस या आईपीएस ऑफिसर बनना हर युवा का सपना होता है। बहुत से ऐसे युवा भी है जो कई सालों से लगातार इस परीक्षा की तैयारी में लगे हुए है। UPSC सिविल सेवा परीक्षा भारत ही नहीं बल्कि विश्व की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है। इस परीक्षा  को UPSC के द्वारा 3 stages में कंडक्ट किया जाता है। Prelims, Mains और Personal Interview.

इस साल की Prelims और Mains परीक्षा समाप्त हो चुकी है और अब अगला और आखरी स्टेप पर्सनल इंटरव्यू है। ये एक आखरी और अहम् स्टेज है और इसे हल्के में नहीं लिया जाना चाहिए। कुछ कैंडिडेट्स को लगता है की पर्सनल इंटरव्यू एक नॉलेज टेस्ट है जबकि ये बिलकुल गलत एप्रोच है। 

नॉलेज नहीं ये है पर्सनालिटी टेस्ट

UPSC पर्सनल इंटरव्यू में पैनल आपकी नॉलेज को नहीं बल्कि आपकी personality, लॉजिकल रीजनिंग और प्रजेंस ऑफ़ माइंड को चेक करता है। चाहे आप UPSC सिविल सेवा की तैयारी के किसी भी स्टेज पर हो, पर्सनल इंटरव्यू को ले कर कुछ सवाल आपके मन में ज़रूर होंगे। क्या आप जानते हैं की UPSC ना सिर्फ आपके Academic background बल्कि आपके पर्सनल background, आपकी hobbies के साथ साथ कई अतरंगी सवाल पूछ कर आपकी लॉजिकल रीजनिंग और आपके प्रजेंस ऑफ़ माइंड को टेस्ट करता है?

नर्वस is नार्मल

UPSC सिविल सेवा के लिए इंटरव्यू 275 नंबर का होता है। अगर एवरेज देखे तो ये इंटरव्यू 30 से 35 मिनट तक चलता है। आपके इंटरव्यू रूम में एन्टर करने से ले कर एग्जिट करने तक पैनल मेम्बेर्स आपको कई लेवेल्स पर टेस्ट करते है। आपकी आसानी के लिए हमने इन लेवेल्स को 4 टाइटल्स में बांटा है - पर्सनल, Academic , work profile और Psychological competence। आज हम Psychological competence के बारे में बात करेंगे। 

इंटरव्यू रूम में आपका व्यवहार और आपकी alertness ही आपकी पर्सनालिटी को दर्शाती है। इतने अहम् इंटरव्यू में appear होने से पहले नर्वस होना नार्मल है लेकिन पैनिक होना नार्मल नहीं है। इंटरव्यू में कुछ सवाल ऐसे होंगे जो आपको हैरान कर देंगे तो कुछ कंफ्यूज करेंगे। ऐसे में आपका प्रजेंस ऑफ़ माइंड और शांतिपूर्ण व्यवहार ही आपको सही जवाब देने में मदद करेगा। आइये एक example से इसको समझते हैं। 

जेब से निकलते रूमाल को देख कर पूछा What is that mister?”

इंटरव्यू रूम में एक उम्मीदवार काफी नर्वस था और उसने अपने रूमाल से अपना मुंह पोछा। जैसे ही उसने रूमाल वापस अपनी पेंट की जेब में डाला, तभी इंटरव्यू बोर्ड के चेयरमैन ने उंगली से इशारा करते हुए कहा - What is 'That मिस्टर।  उम्मीदवार ने बोर्ड चेयरमैन की उंगली का इशारा देखा तो उसे लगा कि वो उसके जेब से बाहर निकल रहे रूमाल की तरफ इशारा कर रही थी। पहले वह थोड़ा नर्वस हुआ लेकिन कुछ सोच कर उसने confidence से जवाब दिया - '' 'That ... is a demonstrative pronoun ''  और अपना रूमाल अंदर कर लिया। इस बढ़िया जवाब को सुनकर इंटरव्यू बोर्ड को पता लग गया कि उम्मीदवार का माइंड बिल्कुल सही जगह पर है।  That एक डेमोन्स्ट्रेटिव प्रोनाउन है। इसलिए आप चाहे कितना भी नर्वस हो अपना प्रजेंस ऑफ़ माइंड कभी ना खोए और क्वेश्चन को ध्यान से सुने। 

जब एक unmarried female कैंडिडेट से पूछा गया “What if one morning you find your’re pregnant?”

जब एक unmarried फीमेल कैंडिडेट से एक पैनेलिस्ट ने पुछा “अगर एक सुबह आप उठे और आपको पता चले की आप pregnant है तो आप क्या करेंगी?” कैंडिडेट ने बड़े ही सहजता से जवाब दिया की “सर मैं सबसे पहले ये गुड न्यूज़ अपने हस्बैंड को बताउंगी और फिर उनके साथ सेलिब्रेट करूंगी।” इस जवाब ने पैनेलिस्ट्स को काफी इम्प्रेस किया। यहाँ सवाल सुन कर कैंडिडेट घबराई नहीं और लॉजिक का यूज़ करते हुए उसने question को समझा। यहाँ पनेलिस्ट्स ने सवाल को जनरल तरीके में पूछा था ना की प्रेजेंट डे के बारे में। ये सवाल कैंडिडेट के मेंटल बैलेंस को टेस्ट करने और प्रेशर सिचुएशन में पेशेंस रख कर सही निर्णय लेने की क्षमता को टेस्ट करने के लिए पूछा गया था। 

Panelists टेस्ट करते है आपका प्रजेंस ऑफ़ माइंड

 जैसे की एक कैंडिडेट से पूछा गया “Twenty years back, there was a plane which crashed from nearly 20,000 feet over Germany. It is important to remember that Germany at that period was partitioned as East Germany and West Germany. In that incident where would you bury the survivors? In East Germany? West Germany? Or no man’s island?

इसका जवाब कैंडिडेट ने दिया की “survivors aren’t buried” इस आंसर से कैंडिडेट की alertness का पता चलता है की वह कितने ध्यान से सवाल को सुन रहा है। इस सवाल के पूछे जाने का रीज़न आपकी मेंटल अलर्टनेंस के बारे में जानना है। इसके लिए आप अपनी रोज की आदत में इसे शामिल करें और अपने आस-पास के वातावरण को लेकर अलर्ट रहें।

Situational Question से जज की जाती है आपकी alertness

कभी कभी आपका प्रजेंस ऑफ़ माइंड टेस्ट करने के लिए पैनेलिस्ट्स कुछ situational क्वेश्चन भी पूछ सकते हैं। एक कैंडिडेट से पूछा गया ‘You are driving along in your car on a wild, stormy night,

it's raining heavily, when suddenly you pass by a bus stop, and you see three people waiting for a bus:

An old lady who looks as if she is about to die.

An old friend who once saved your life.

The perfect partner you have been dreaming about.

Which one would you choose to offer a ride to, knowing very well that there could only be one passenger in your car?

इसके जवाब में कैंडिडेट ने कहा की “I would give the car keys to my Old friend and let him take the lady to the hospital. I would stay behind and wait for the bus with the partner of my dreams” 

यहाँ कैंडिडेट की सिचुएशन के according सही और तुरंत decision लेने की capability के बारे में पता चलता है। 

आपको बीच में टोक कर चेक कर सकते है आपका पेशेंस लेवल

कई बार बोर्ड आपकी बात को बीच में रोक कर एक नया सवाल पूछ लेता है। ये आपके पेशेंस और alertness को टेस्ट करने के लिए किया जाता है। ऐसे ही एक कैंडिडेट से अमेरिकन इंडिपेंडेंस पर सवाल पूछा गया और उसके तुरंत बाद उससे एक बोर्ड मेम्बर ने पूछा की “Do they have a 4th of July in England?” इसके जवाब में कैंडिडेट ने कहा की “yes and after the 3rd of July” ये सवाल कैंडिडेट से उसकी एक सिचुएशन को independently जज करने की क्षमता और सिचुएशन को समझने की क्षमता को टेस्ट करते हैं।

एक कैंडिडेट से पूछा गया In which state is Bay of Bengal?”

एक इंटरव्यू कैंडिडेट से पूछा गया “ A killer was sentenced to death. He is shown three rooms to choose one as punishment. The first room is on fire, second has guns with a killer inside and the third has a Tiger who has not eaten for three years. What would he choose?

.इसके जवाब में कैंडिडेट ने कहा की “ He should choose Room number three, because after three yeard the tiger would have died of hunger” यहाँ ये क्वेश्चन कैंडिडेट की decision मेकिंग capability को टेस्ट करता है और लॉजिक से सोचने पर मजबूर करता है। 

एक दूसरे कैंडिडेट से जब पुछा गया की “In which State is the Bay of Bengal?” तो उसने जवाब दिया “liquid स्टेट” 

Interviewer कई बार ऐसे सवाल करते है जो आपको आउट ऑफ़ द बॉक्स सोचने पर मजबूर करते हैं। जैसे की इस सवाल का जवाब भारत की 29 स्टेट्स से रिलेटेड नहीं बल्कि साइंस के matter कांसेप्ट से था। 

लॉजिक के साथ यूज़ करे Common Sense

लॉजिक के साथ साथ कॉमन सेंस को यूज़ करना भी ज़रूरी है। आपका जवाब सही नहीं बल्कि उस सिचुएशन के according सही होना ज़रूरी है। जैसे की जब एक कैंडिडेट से पुछा गया की “If a red house is made from red bricks, pink house... from pink bricks, blue house... from blue bricks, and black house... from black bricks, then what is greenhouse made from?"

तो इसके जवाब में उसने कहा की “Greenhouses are made of glass” इसी तरह उस समय आपको लॉजिक के साथ साथ कॉमन सेंस का इस्तेमाल करना भी ज़रूरी है। 

एक कैंडिडेट को कहा “What will you do if I run away with your sister?”

एक इंटरव्यू कैंडिडेट से पूछा गया की “What will you do if I run away with your sister?” ऐसे सवाल से कोई भी साधारण इंसान offend हो सकता है और यही चेक करने के लिए जब उस कैंडिडेट से गया पूछा तो उसने जवाब दिया “I will never find a better match than you for my sister” यहाँ कैंडिडेट ने पेशेंस रखते हुए एक डिप्लोमेटिक आंसर दिया। ये सवाल कैंडिडेट के गुस्से और सिचुएशन को समझदारी से डील करने की capability को जाचने के लिए पूछा गया।  

तो आपने देखा की किस तरह से UPSC सिविल सेवा के पर्सनल इंटरव्यू में नॉलेज नहीं बल्कि एक फ्यूचर आईएस की qualitites को टेस्ट करने के लिए आउट ओफ डी बॉक्स सवाल किए जाते हैं। इसके लिए ज़रूरी है की आप अलर्ट रहे और हर एक सवाल को ध्यान से सुने और समझे। कुछ सवाल आपको confuse और puzzle करेंगे मगर आप अगर calm रह कर कॉमन सेंस से सवालो के  जवाब देंगे तो निश्चित तौर पर आपका सिलेक्शन पक्का है।

 

 

Related Categories

Also Read +
x