किसी नौकरी में अपने वेतन के अलावा और क्या देखें ?

एक शोध बताता है कि 'खुश कर्मचारी'  नाखुश  लोगों की तुलना में 12 प्रतिशत अधिक उत्पादक होते हैं. लेकिन यह खुशी आपकी पसंद की बात होती है जब आप नौकरी की पेशकश को स्वीकार करते हैं. नौकरी की पेशकश को स्वीकार करने से पहले और भी बहुत पहलू हैं जो आपकी खुशी के हार्मोन को ट्रिगर कर सकते हैं और आपको आपने दैनिक कार्यों को ले कर संतुष्टि दे सकते हैं.

आपका वेतन आपकी जॉब से मिलने वाली ख़ुशी का अहम्  हिस्सा होता है जबकि इसके अलावा और भी करक हैं जो आपको अंदरूनी संतुष्टि प्रदान करते हैं. यदि आप लाखों रुपये कमाते हैं लेकिन ऐसी परिस्थिति में रहते हैं जहा आपको अपने परिवार और दोस्तों के नखरे सहने पड़ते हैं , तो आप कहीं न कहीं निराशा महसूस करेंगे. अगर आप अपने आस-पास के हर किसी के मुकाबले बेहतर कमाते हैं, तो आप अपनी नौकरी की असुरक्षा से पीड़ित हो सकते हैं जो आपके स्वास्थ्य पर भी विपरीत असर डाल सकता है.

आपका 'वेतन' किसी नौकरी को स्वीकार करने का एक महत्वपूर्ण कारक तो है लेकिन किसी चुनौती को स्वीकार करने का यह एकमात्र कारण नहीं है. इसीलिए वेतन को अपनी नौकरी का एकमात्र कारण न बनाए. इसके अलावा और भी महत्वपूर्ण पहलू हैं जिनको आप नजरअंदाज न करें जो आपको एक अच्छा पेशेवर जीवन जीने में मदद करेंगे. आखिरकार, 'कार्यालय परिसर ' आपका दूसरा घर है और जब भी आप परिसर में प्रवेश करते हैं तब आपको गर्व महसूस करना चाहिए.

1. क्या आपकी नौकरी आपके व्यक्तित्व के अनुरूप है?

जोस ओर्टेगा वाई गैस्सेट ने एक बार कहा था कि "मुझे बताएं कि आप किस चीज पर  ध्यान देते हैं और मैं आपको बताता हूँ कि आप कौन हैं" ? यह बात एक तरह से सही भी है कि एक खुशहाल और संतुष्ट  जीवन जीने के लिए अपने व्यक्तित्व की पहचान करना महत्वपूर्ण है. जब आप कुछ कार्य करते हैं जो आपके व्यक्तित्व से मेल नहीं खाता है, तो आप उसको करते हुए अच्छा महसूस नही करेंगे.

Trending Now

लोग अक्सर ऐसी नौकरी कर लेते हैं जिसमें वे बाद में असुविधाजनक और गुस्सा महसूस करने लगते हैं. वे ऐसे मुद्दों का सामना करते हैं जिनके विषय में कभी सोचा ही नहीं था. उदाहरण के लिए एक अंतर्मुखी व्यक्ति के लिए, बाजार में बाहर जाना और लोगों को उत्पादों को बेचना बहुत मुश्किल है. उन्हें कार्य करना मुश्किल हो सकता है और आखिर में काम की प्रकृति से उन्हें असंतोष होगा.

इसलिए किसी भी नौकरी में आवेदन करने से पहले, 'जॉब प्रोफ़ाइल' को ध्यान से देखें और फिर आगे बढ़ें. यदि आपको नौकरी मिल रही है (यदि आप एक बहिर्मुखी हैं) या साहसी (जो रोमांच की तलाश में हैं) तो आप पैसे के  खातिर नौकरी नहीं लेंगे. बाद में आप किए गए गलत निर्णय पर पश्चाताप करेंगे और नए नौकरी की तलाश में लग जायेंगे.

नीचे वर्णित व्यक्तित्व के प्रकारों पर एक नज़र डालें और अपने व्यक्तित्व प्रकार की पहचान करें. यह आपके भविष्य के लिए एक रास्ता खोजने में मदद करेगा और यह निर्णय लेने में भी आपकी मदद करेगा कि आपके व्यक्तित्व के लिए कौन सा काम सबसे अच्छा है.

2. क्या 'नौकरी कार्य-जीवन संतुलन’ की पेशकश करता है?

एक बहुत ही प्रसिद्ध कहावत है कि "आप एक अच्छी नौकरी नहीं कर सकते हैं, यदि आपका एकमात्र काम आपकी नौकरी ही है.” नीचे दी गई छवि पर एक नज़र डालें और नीचे दिए गए सवालों के जवाब का उत्तर ईमानदारी से करने का प्रयास करें:

यदि आपका उपर्युक्त सभी प्रश्नों का उत्तर 'नहीं' है तो संभवत: आपको अपने कार्य-जीवन में संतुलन करने की जरूरत है.

इसलिए, अगली बार जब आप नौकरी की तलाश करते हैं, तो इन संभावनाओं पर विचार करें कि आप अपने काम  और निजी जीवन के बीच संतुलन बनाए रख सकें.

एक व्यक्ति जो परिवार और दोस्तों के साथ आनंद लेने के लिए स्वयं को समय नहीं दे सकता है, अक्सर ऐसे लोग कम उत्पादक होते हैं.

इसीलिए यह अनुशंसा की जाती है कि जब आप किसी संगठन से संबद्ध होने का निर्णय लेते हैं, तो समय में थोड़ी आजादी और लचीलेपन जैसी सुविधाओं को अच्छे से जांच परख लें.

हफ्ते में कार्यदिवसों की संख्या भी एक अन्य महत्वपूर्ण करक है जो आपकी व्यक्तिगत जिंदगी को प्रबंधित करने और छुट्टियों को बचाने में आपकी मदद करता है.

3.  क्या प्रबंधन कर्मचारियों का ध्यान रखता है ?

एक संगठन की सफलता का निर्णय लेने में 'प्रबंधन' महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. टाटा, विप्रो, गूगल, आईबीएम, तथा फेसबुक जैसे ब्रांडों की अहमियत है क्योंकि उनका प्रबंधन कर्मचारियों और उनके कौशल को महत्व देता है. वे यह सुनिश्चित करने के लिए एक अतिरिक्त प्रयास भी करते हैं कि उनके कर्मचारी आसानी से स्विच नहीं करे.

एक नए कर्मचारी के लिए  आपका तत्काल रिपोर्टिंग प्रबंधक उस ऑफिस की प्रबंधन संस्कृति का प्रतिनिधित्व करेगा. वह आपको टीम में पेश करेगा और आपको संगठन की संस्कृति के बारे में बतायेगा.

इसलिए जब आप साक्षात्कार के लिए जाते हैं और संगठन द्वारा चयनित भी हो जाते हैं तो यह सुनिश्चित करें कि आप अपने रिपोर्टिंग प्रबंधक के साथ मिलना चाहते हैं. उनके साथ इंटरेक्शन आपको उनके व्यक्तित्व और आभा के बारे में कुछ जानने में मदद करेगा. और यह मुलाक़ात भविष्य की  छुपी हुई कुछ अरुचिकर बहसों और नोंक-झोंक  को भी ख़त्म कर सकता है.

4. क्या 'संगठन' सौहार्दपूर्ण कार्य संस्कृति प्रदान करता है?

कार्य संस्कृति एक महत्वपूर्ण विचार है, किसी भी ऑफिस से जुड़ने से पहले आप इस बारे में आश्वस्त हो जाएं कि वहां की कार्य संस्कृति कैसी है. कभी-कभी तो कार्य संस्कृति के करण कर्मचारी अपने वेतन से भी समझौता कर लेते हैं. वे वेतन की तुलना में सकारात्मक काम संस्कृति को अधिक प्रासंगिकता देते हैं. जब आप अपने काम के स्थान पर जाते हैं और वहां घर जैसा महसूस करते हैं तो यह आपके लिए बहुत अच्छी बात होगी.  सकारात्मक कार्य संस्कृति महत्वपूर्ण कारक है हो आपको खुश रखता है और आपकी उत्पादकता बढाता है.

यदि कोई नौकरी आपको खराब पहलुओं तथा तनाव से बचने में आपकी  सहायता करती है तो यह आपके जीवन को 98 प्रतिशत सरल बना सकती है. इसीलिए आपको नौकरी के प्रस्ताव को स्वीकार करने से पहले कार्य संस्कृति को अपनी प्राथमिकता पर विचार करना चाहिए.

किसी संगठन की कार्य संस्कृति के बारे में पता करने के लिए आप प्लेटफार्मों पर कर्मचारियों की समीक्षा भी पढ़ सकते हैं .कर्मचारी की समीक्षा सूचना पहला स्रोत है जो कंपनी की संस्कृति के बारे में बताता है.

कंपनी को काम करने के लिए एक बेहतर स्थान बनाने के लिए कई संस्थाएं मौजूद हैं.कैफेटेरिया, प्ले ज़ोन, आराम क्षेत्र और कैंपस कम्पाउंड जैसी सुविधाएं तनावग्रस्त होने कर्मचारियों को  जीवंत बना सकती हैं.

5. क्या संगठन  आपको दीर्घकालिक विकास के अवसर देता है ?

"आपका असली जीवन आपके आराम के अंत से ही शुरू होता है." जब आप नौकरी की पेशकश स्वीकार करते हैं और एक ऐसे मिशन पर उद्यम का निर्णय लेते हैं जो आपके करियर की उम्मीद को एक नयी दिशा देगा तो सुनिश्चित करें कि उस समय आप अपने भविष्य की विकास योजना से अवगत हैं.

जब आप साक्षात्कार देते हैं तो संगठन के साथ साथ अपनी विकास योजना के लिए प्रश्न पूछना आपका विशेषाधिकार है. याद रखें कि एक नौकरी जो आपको आगे जाने को प्रोत्साहित करती है नए-नए कौशल सिखाती है वो आपके बहुमुखी विकास तथा दीर्घकालिक सफलता के लिये सर्वोत्तम होगी.

जब भी आपको आपकी योग्यता साबित करने के लिए कोई चुनौतीपूर्ण कार्य, शैक्षणिक अवसर या एक मेंटरशिप कार्यक्रम में अवसर मिलता है तो आप उसे लेने में संकोच न करें.

कई संगठनों में नौकरी रोटेशन कार्यक्रम उबलब्ध होते हैं, जहां चयनित कर्मचारियों को विभिन्न प्रकार की नौकरियों की भूमिकाओं में उत्कृष्टता दिखाने और साबित करने के लिए चुना जाता है. यहां पर जो लोग अच्छा प्रदर्शन करते हैं वे शीर्ष स्तर पर अक्सर प्रचारित हो जाते हैं. तो आप यह भी जांचें कि क्या आपका संगठन इस तरह के अवसर भी प्रदान करता है.

ये कुछ सबसे महत्वपूर्ण कारक हैं जिनको आपको अपनी नौकरी की पेशकश को स्वीकार करते समय ध्यान में रखना चाहिए. इसीलिए आपकी अपेक्षा के मुताबिक सर्वश्रेष्ठ वेतन देने वाला एक संगठन भी उस संगठन से बेहतर नहीं हो सकता जो आपको समग्र फायदे देगा.

Related Categories

Live users reading now