क्यों है अंग्रेजी प्रोफेशनल ग्रोथ के लिए जरुरी?

वैश्वीकरण के साथ,अंग्रेजी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा के रूप में उभरी है.इन दिनों जो प्रोफेशनल्स इस भाषा को ठीक से समझते और बोलते हैं उन्हें अन्य लोगों की तुलना में कम संघर्ष करना पड़ता है.

इस लेख में हमने अंग्रेजी भाषा के महत्व से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्य दिए हैं जो आपके प्रोफेशनल ग्रोथ में अहम् भूमिका निभा सकते हैं.

महत्त्व

ग्लोबलाइजेसन के साथ,अंग्रेजी ने दुनिया के हर मुल्क, बाज़ार, और व्यवसाय को प्रभावित किया है. यह भाषा दुनिया की अन्य सभी भाषाओँ से ज्यादा प्रभावशाली मानी जाती जाती है.इस भाषा के प्रभुत्व को हम अपने दैनिक जीवन में आसानी से महसूस कर सकते हैं. इस भाषा ने हमें इस तरह प्रभावित किया है कि यदि हम इसका उपयोग करना बंद कर दें,तो दैनिक जीवन में भी संवाद करना मुश्किल  हो जायेग.इसके अलावा, इसने अपनी पहचान प्रमुख आधिकारिक भाषा के रूप में भी स्थापित की है. अंग्रेजी भाषा का सबसे ज्यादा असर कॉर्पोरेट जगत पर पड़ा है. इस क्षेत्र में आज इस भाषा में दक्षता के बिना सरवाईव करना मुश्किल है.कल्पना कीजिए,आप किसी ऐसी मीटिंग में हैं जो किसी खास प्रोजेक्ट को लेकर है. मीटिंग में अचानक बॉस  आपसे सुझाव के लिए कहता है. यह आपके लिए एक अच्छा अवसर है लेकिन इसका फायदा आप तभी उठा पाएंगे  जब आपको अंग्रेजी की समझ होगी क्योकि लगभग हर कॉर्पोरेट कंपनियों की मीटिंग में संवाद अंग्रेजी में ही होते हैं.इसलिए प्रोफेशनल्स के लिए अंग्रेजी भाषा का ज्ञान आवश्यक है.

कैसे सीखें

अंग्रेजी बोलना और लिखना सीखने के लिएबुनियादी व्याकरण की समझ के बाद पढ़ने की आदत विकसित करने की आवश्यकता होती है.अपनी पसंद की पुस्तकों का चयन, पढ़ने की आदत विकसित करने में आपकी मदद कर सकता है. यह उपन्यास,साहित्य,कहानियां,नाटक या राजनीतिक साहित्य कुछ भी हो सकते हैं जिसको पढने में आपकी रूचि हो. इसलिए अपनी पसंद की किताबों का चयन करें और पढ़ने की आदत डालने का प्रयास करें. अंग्रेजी की बेहतर समझ के लिए आप अंग्रेजी में बीए ऑनर्स या एमए ऑनर्स कर सकते हैं.

अवसर

इस भाषा की अच्छी समझ और स्पोकन स्किल आने के बाद आप अच्छे पैसे कमा सकते हैं.स्कूलों, कॉलेजों,विश्वविद्यालयों या निजी कोचिंग सेंटर्स में आप इस भाषा के टीचर बन सकते हैं.इसके अतिरिक्त आप निजी क्षेत्र में भी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं.बीपीओ में भी अंग्रेजी जानने वालों के लिए बहुत सारे अवसर होते हैं. अंग्रेजी भाषी लोगों के लिए कई गैर-सरकारी संगठनों,पर्यटन,दूतावास,प्रकाशन,टीवी,रेडियो प्रसारण तथा विज्ञापन कंपनियों में भी बहुत अवसर उपलब्ध हैं.

उपयोगिता

चूंकि अंग्रेजी पूरी दुनिया में सबसे अधिक प्रभावशाली भाषा के रूप में उभरी है. इसलिए रोजाना आधिकारिक संचार में इस भाषा का प्रयोग लगातार बढ़ रहा है. यदि आपको अंग्रेजी भाषा की समझ नहीं है, तो आप विशेषकर कॉर्पोरेट जगत में सरवाईव नहीं कर सकते हैं. कल्पना कीजिए कि आप मीटिंग में हैं और आपको किसी विशेष प्रोजेक्ट पर सुझाव देना है. अंग्रेजी न जानने की स्थिति में आप अपने सुझाव देने में असफल होंगे. इस तरह की घटना के बाद अपने बॉस द्वारा नजरअंदाज होने की संभावना बढ़ जाएगी. ऐसी स्थिति से बचने के लिए अपनी अंग्रेजी सुधारने का प्रयास करें.

कॉलेज और संस्थान

  • हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय,शिमला (हिमाचल प्रदेश)
  • स्टेट कॉलेज धर्मशाला (हिमाचल प्रदेश)
  • स्टेट पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज बिलासपुर ( हिमाचल प्रदेश )
  • लखनऊ विश्वविद्यालय,लखनऊ
  • सीईएसजेएम विश्वविद्यालय, कानपूर
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय,अलीगढ़
  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय,नई दिल्ली
  • दिल्ली विश्वविद्यालय,नई दिल्ली
  • कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय,कुरुक्षेत्र
  • बीएचयू,वाराणसी

निष्कर्ष

इन दिनों खासकर तब जब अंग्रेजी वैश्विक भाषा बन गई है,प्रोफेशनल ग्रोथ के लिए अंग्रेजी भाषा की अच्छी समझ बेहद महत्वपूर्ण हो गया है. यदि आपको अंग्रेजी का अच्छा ज्ञान है,तो आपका पिछला अनुभव आपके करियर ग्रोथ में ज्यादा मदद करेगा. करियर ग्रोथ में अंग्रेजी की भूमिका लगातार बढ़ रही है. इसलिए कैंडिडेट्स को अंग्रेजी भाषा की आम समझ को विकसित करना चाहिए. अंग्रेजी भाषा के महत्व को हमने इस लेख में शामिल किया है जो किसी प्रोफेशनल के करियर ग्रोथ में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है.

Related Categories

Popular

View More