Search

सीआईएसएफ में सहायक उप निरीक्षक: नौकरी प्रोफाइल और पदोन्नति

Sep 10, 2018 15:03 IST
ASI in CISF
ASI in CISF

कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) में सहायक उप निरीक्षकों की भर्ती के लिए भी परीक्षा आयोजित करता है। सीआईएसएफ में सहायक उपनिरीक्षक (एएसआई) पद केंद्र सरकार में समूह ‘सी’ का पद है, जिसमें ग्रेड वेतन 2800 है व वेतन रु० 5200-20200 के वेतन बैंड में है यह मूल रूप से क्षेत्र की नौकरी है, जैसा कि नाम से पता चलता है, लेकिन सीआईएसएफ में एएसआई के लिए आगे क्या है यह पता लगाने के लिए आइये गहराई में जाए-

 Banking & SSC eBook

सीआईएसएफ के बारे में तथ्य?

-          सीआईएसएफ 1969 में अस्तित्व में आया, जिसमें तीन बटालियन हैं जिनका मुख्य कार्य सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (पीएसयू) को एकीकृत सुरक्षा प्रदान करना है|

Take Online Quiz

-          आज इस समूह में 1,41,735 व्यक्ति शामिल है जो कि पिछले सालों में कई गुना बढ़े हैं।

-          अब, सीआईएसएफ सिर्फ पीएसयू-केंद्रित संगठन नहीं है इसके अलावा, यह देश की एक प्रमुख बहु-कुशल सुरक्षा एजेंसी बन गयी है, जो विभिन्न क्षेत्रों में देश के प्रमुख महत्वपूर्ण बुनियादी प्रतिष्ठानों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए कार्यरत है।

-          सीआईएसएफ वर्तमान में परमाणु प्रतिष्ठानों, अंतरिक्ष प्रतिष्ठानों, हवाई अड्डों, बंदरगाहों, विद्युत संयंत्रों, संवेदनशील सरकारी भवनों और कई ऐतिहासिक स्मारकों को सुरक्षा कवर प्रदान कर रहा है।

हाल में, सीआईएसएफ को सौंपी गयी महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों में हैती में यूएन की एक मजबूत पुलिस इकाई (एफपीयू) की स्थापना, दिल्ली मेट्रो रेल निगम, वीआईपी सुरक्षा, आपदा प्रबंधन करना शामिल है।

केंद्रीय ब्यूरो नारकोटिक्स में SSC CGL सब-इंस्पेक्टर की जॉब प्रोफ़ाइल

कार्य और महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारियाँ:-

 

सीआईएसएफ में सभी सहायक उप-निरीक्षक (एएसआई) सेना की रीढ़ की हड्डी हैं क्योंकि ये मैदान में टीम और नियंत्रण कक्ष के बीच मुख्य मध्यस्थ अधिकारी होते हैं। इन्जा कार्य वास्तव में सेना को बिना किसी परेशानी के आसानी से चलाना होता है ताकि सेना को दिया गया उद्देश्य पूरा हो सके। इनके मुख्य कर्तव्यों में शामिल हैं-

SSC CGL द्वारा सचिवालय में वरिष्ठ सहायक का वेतन, जॉब प्रोफाइल और प्रमोशन

  • हवाई अड्डे की सुरक्षा: यह किसी भी सीआईएसएफ कर्मी का सबसे आम कार्यस्थल है क्योंकि इतने सारे लोग रोजाना हवाई अड्डो का इस्तेमाल करते हैं। हमारे देश के विभिन्न भागों से कनेक्ट होने वाले हवाई अड्डों को अंतिम मील की सुरक्षा प्रदान करने के लिए एएसआई वहां मौजूद रहते हैं।
  • औद्योगिक सुरक्षा: यह बल का एक अन्य उद्देश्य है और वास्तव में यह पहला कारण था जिसके कारण इस सेना को पहली बार बनाया गया था। यह देश भर के सार्वजनिक क्षेत्र के औद्योगिक स्थानों के लिए सुरक्षा सेवाएं प्रदान करता है। एएसआई आम तौर पर इन क्षेत्रों में पोस्ट किए जाते हैं।
  • सर्च ऑपरेशन: पुलिस में होने का मतलब है कि आपको किसी भी संदिग्ध स्थिति/ व्यक्ति की खोज करने का अधिकार प्राप्त है और एक बार जब आप उच्च-अधिकारी से आदेश प्राप्त करते हैं, तो एएसआई इन कार्यों को अपनी ड्यूटी में शामिल कर सकता है, लेकिन आम तौर पर उनके द्वारा सर्च ऑपरेशन सब-इंस्पेक्टर की निगरानी में होता है|
  • जब्ती की शक्ति: यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां एएसआई काम में आते हैं क्योंकि उन्हें किसी भी जगह पर पोस्टाइज़ किए गए किसी भी स्थिति के निवारण हेतु किसी भी संदिग्ध को खोजना हिरासत में लेने और जब्ती इत्यादि करना है। उप निरीक्षकों के पर्यवेक्षण में, उन्हें अवैध रूप से कब्जाई कई किसी भी चीज़ को संदिग्ध व्यक्तियों के कब्जे से जब्त करना भी होता है।
  • लिपिक कर्तव्यों: यद्यपि नौकरी ज्यादातर क्षेत्रीय है, वहां डेस्क पर होने के अवसर भी उपलब्ध हैं, लेकिन वहां आपको किसी भी अन्य सरकारी कार्यालयों के रूप में सभी लिपिक काम करना होगा। आपको विभिन्न कार्यों, प्रशासनिक मामलों आदि की फाइलों को भी मेन्टेन करना होगा|

SSC CGL नौकरियां: विभागीय लेखाकार (Divisional Accountant) करियर पथ

 सीआईएसएफ में एएसआई: प्राप्त लाभ

एक बार, जब आप एएसआई के रूप में संगठन में शामिल हो जाते हैं, तो मूल रूप से पांच साल की निरंतर सेवा के बाद, आप एक उप निरीक्षक के पद पर पदोन्नत होने के लिए योग्य हैं। हालांकि, ऐसा शायद ही होता है क्योंकि प्रमोशन की प्रक्रिया ज़ोनल सुरक्षा के आधार पर की जाती है और आपको कम से कम 7-8 साल की सेवा से पहले प्रथम पदोन्नति प्राप्त होने की संभावना बहुत कम है| इस संदर्भ में, इस प्रक्रिया को तेजी से ट्रैक करने के लिए विभागीय परीक्षाएं भी हैं, लेकिन वरिष्ठता कारक भी इस प्रक्रिया में आता है और इस कारण, अगले स्तर तक बढ़ना भी मुश्किल हो जाता है|

सीआईएसएफ में एएसआई न तो एक आरामदायक डेस्क की नौकरी है, न ही इसके कई लाभ और न ही इसमें बहुत अधिक वेतन है। इस नौकरी में धर-पकड़ और पूरी दुनिया में एक अद्वितीय अर्धसैनिक बलों में से एक में शामिल होना एक रोमांचक कार्य है| इसके अलावा, आप देश की सैन्य प्रतिष्ठान के सदस्य , जो देशभक्त भी हैं, के रूप में बहुत अधिक सामाजिक सम्मान प्राप्त करते हैं| हालांकि, नौकरी में एक पारिवारिक जीवन को बनाए रखना मुश्किल है यह उस व्यक्ति पर निर्भर करता है जो इसके लिए तैयारी कर रहा है क्योंकि कोई भी नौकरी हर एक के लिए उपयुक्त नहीं हो सकती है| लेकिन इस प्रकार की नौकरी दूसरो के लिए काफी अच्छी साबित हो सकती है|

SSC CGL Tax Assistant: वेतन, जॉब प्रोफाइल और कैरियर ग्रोथ

प्रमोशनस

SSC SI ASI परीक्षा द्वारा चयनित एक अधिकारी के रूप में, आपको निम्नलिखित क्रम में पदोन्नति प्राप्त होगी-

  • पुलिस कमिश्नर (सी०पी०)
  • स्पेशल पुलिस कमिश्नर (विशेष सी०पी०)
  • जॉइंट पुलिस कमिश्नर (संयुक्त सी०पी०)
  • एडिशनल पुलिस कमिश्नर (एडिशनल सी०पी०)
  • डिप्टी पुलिस कमिश्नर (चयन ग्रेड) (डी०सी०पी०)
  • डिप्टी पुलिस कमिश्नर (जूनियर प्रशासनिक ग्रेड-डी०सी०पी०)
  • एडिशनल-डिप्टी पुलिस कमिश्नर (एडिशनल डी०सी०पी०)
  • असिस्टेंट पुलिस कमिश्नर (सहायक सी०पी० या ए०सी०पी०)
  • इंस्पेक्टर
  • सब-इंस्पेक्टर
  • असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर

हम www.jagranjosh.com  पर SSC परीक्षा की तैयारी से संबंधित सभी महत्वपूर्ण और प्रासंगिक जानकारी प्रदान करने के लिए समर्पित हैं। अधिक अद्यतन और हाल की जानकारी के लिए, हमारे SSC वेबपेज पर आते रहें|

 

शुभकामनाएं!!

    DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

    X

    Register to view Complete PDF

    Newsletter Signup

    Copyright 2018 Jagran Prakashan Limited.
    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK