Search

बिहार बोर्ड कक्षा 12वीं रसायन विज्ञान का साल्व्ड प्रश्न पत्र 2018

आज इस आर्टिकल में हम आपको बिहार बोर्ड कक्षा 12वीं रसायन विज्ञान के 2018 का साल्व्ड प्रश्न पत्र उपलब्ध करा रहे हैं| छात्रों के लिए यह सबसे उचित समय है कि वह गतवर्ष प्रश्न पत्रों को हल कर अच्छी तरह रिविजन करें ताकि कक्षा 12वी के बोर्ड परीक्षा में अच्छे मार्क्स प्राप्त कर सकें|

Jan 18, 2019 12:36 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon
Bihar Board Class 12 Solved Question Paper for Chemistry
Bihar Board Class 12 Solved Question Paper for Chemistry

आज इस आर्टिकल में हम आपको बिहार बोर्ड कक्षा 12वीं रसायन विज्ञान के 2018 का साल्व्ड प्रश्न पत्र उपलब्ध करा रहे हैं| छात्रों के लिए यह सबसे उचित समय है कि वह गतवर्ष प्रश्न पत्रों को हल कर अच्छी तरह रिविजन करें ताकि कक्षा 12वी के बोर्ड परीक्षा में अच्छे मार्क्स प्राप्त कर सकें|

क्युकि बोर्ड परीक्षा में मिलने वाले ग्रेड ही प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रवेश पाने का सबसे अच्छा पात्र है| इसलिए वर्ग 12वी में अच्छा ग्रेड प्राप्त करना अत्यंत महत्वपूर्ण है और छात्रों को उस पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए|

छात्र यदि अभी से गतवर्ष के साल्व्ड प्रश्न पत्रों को हल करना शुरू करें तो उन्हें परीक्षा पैटर्न और मार्किंग ट्रेंड्स से भी अच्छे तरीके से परिचित होंगे| इसके अलावा, बोर्ड परीक्षा में किस तरह के प्रश्न पूछे जा सकते हैं यह भी समझ आ जायेगा| छात्र अपने स्किल्स को जाचने के लिए अभी से दिए गए साल्व्ड प्रश्नों का अभ्यास शुरू कर सकते हैं जिसके ज़रिये उन्हें परीक्षा में पूछे जाने वाले संभावित प्रश्नों पर पकड़ बनेगी|

छात्रों को पुराने बोर्ड प्रश्न पत्र क्यों पढ़ने चाहिए?

बोर्ड परीक्षाओं में अच्छे अंक पाने के लिए स्मार्ट तरीके से तैयारी करना बेहद ज़रूरी है जिसके लिए पहला कदम प्रश्न पत्र के पैटर्न को समझना है| परीक्षा से पहले सिलेबस पूरा करने का तनाव छात्रों के रिजल्ट को खराब कर सकता है| ऐसे में प्रश्न पत्र के पैटर्न को समझने के बाद छात्र पूरे सिलेबस को कवर करने की चिंता न करके कोर्स को पैटर्न के लिहाज से ही दोहराना चाहिए| इससे समय तो बचता ही है, साथ ही तनाव भी कम रहता है|

बिहार बोर्ड कक्षा 12वीं रसायन विज्ञान प्रश्न पत्र 2018 के पैटर्न में हुआ ये बड़ा बदलाव  

परीक्षा पैटर्न में हुए बदलाव के तहत वर्ष 2018 रसायन विज्ञान के प्रश्न पत्र में 50 फीसदी प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप पूछे गए|

  • खंड – अ में केवल ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे गए और प्रत्येक प्रश्न 1-1 नंबर के लिए था| इस प्रकार 70 अंक के पेपर में 35 अंक ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्नों के लिए निर्धारित किये गए|
  • सभी ऑब्जेक्टिव टाइप सवालों के जवाब छात्रों ने ओएमआर शीट में सही वृत्त को भरकर दिए|
  • इसके अलावा खंड – ब में 2 और 5 नंबर के प्रश्न पूछे गए|

यहाँ दिए बिहार बोर्ड कक्षा 12 रसायन विज्ञान प्रश्न पत्र से आपको नवीनतम पैटर्न व महत्वपूर्ण प्रश्नों का अंदाज़ा लगेगा जिससे साल 2019 में होने वाली बोर्ड परीक्षा की तैयारी के लिए आप अभी से एक उचित रणनीति तैयार कर सकेंगे| साथ ही उपलब्ध कराए गए आंसर शीट से आपको किस प्रश्न का उत्तर कैसे करना है यह भी अच्छी तरह समझ आ जायेगा|

यहाँ हम आपके लिए कुछ प्रश्नों के हल भी उपलब्ध करा रहें हैं तथा विस्तार में सभी प्रश्नों के हल को जानने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें

bihar board class 12th question paper

bihar board class 12th chemistry question paper

प्रश्न: इलेक्ट्रोड और इलेक्ट्रोड विभव को परिभाषित करें?

उत्तर: इलेक्ट्रोड – धातु प्लेट, टर्मिनल या रोड जिसके द्वारा विद्युत करंट इलेक्ट्रोलाइट में से प्रवाहित होता है वह इलेक्ट्रोड कहलाता है.इलेक्ट्रोलाइट में से विद्युत धारा प्रवाहित करने के लिए दो धात्विक छड़ो की आवश्यकता होती है जिन्हें इलेक्ट्रोड कहते हैं इनमें से जिस धात्विक छड़/प्लेट के माध्यम से विधुत धारा बिलियन से बाहर निकलती है उसे एनोड जबकि जिस धात्विक छड़/प्लेट के माध्यम से विद्युत धारा विलियन में प्रवेश करती है उसे कैथोड कहते हैं.

इलेक्ट्रोड वीभव ( electrode potential) – जब किसी धातु की छड़ को उसी धातु के लवण के विलयन में डुबोया जाता है तो धातु की छड़ विलयन के सापेक्ष धनावेशित अथवा ऋणवेषित हो जाती है इसके फलस्वरूप धातु और विलयन के स्पर्श तल पर एक विभवान्तर स्थापित हो जाता है जिसे धातु का इलेक्ट्रोड वीभव कहते है । इलेक्ट्रोड विभव धातु की प्रकृति विलयन में उपस्थित उस धातु के आयनों की सांद्रता तथा ताप पर निर्भर करता है।

प्रश्न: क्यों किसी तरल में अउडनशील ठोस घुल्य डालने पर वाष्प दाब में कमी आती है?

उत्तर: किसी विलयन में अउडनशील ठोस घुल्य की उपस्थिति वाष्प चरण में विलायक अणुओं से बचने की प्रवृति को कम कर देता है और इसी प्रकार विलयक के वाष्प दवाब को कम करती है|

प्रश्न: नाइट्रोजन की इलेक्ट्रान बन्धुता कार्बन से कम होती है| क्यों?

उत्तर: नाइट्रोजन का p-sub shell आधा भरा हुआ होता है जिसके कारण यह कार्बन से ज्यादा stable (स्थिर) रहता है इसलिए कार्बन का इलेक्ट्रान बन्धुता नाइट्रोजन से ज्यादा होता है|

रसायन विज्ञान प्रश्न पत्र 2018 प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें

साल्व्ड आंसर-शीट प्राप्त करने के लिए यहाँ पर क्लिक करें  

jagranjosh/biharboard पर क्लिक कर बिहार बोर्ड कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा की तैयारी के लिए हर ज़रूरी सामग्री व परीक्षा से जुड़ी हर जानकारी प्राप्त करें.

Related Stories