भारत में वीडियो एडिटिंग के लिए एलिजिबिलिटी, क्वालिफिकेशन और करियर ग्रोथ

जीवन के प्रत्येक पहलू को आजकल अनेक वीडियोज़ में कवर किया जा रहा है इसलिए, आजकल भारत में वीडियो एडिटिंग में करियर काफी आशाजनक है. आप भी एक वीडियो एडिटर बनकर अपनी क्रिएटिविटी दिखाने के साथ अच्छी कमाई कर सकते हैं.

Created On: Aug 3, 2021 21:25 IST
Eligibility, Courses and Career Growth in Video Editing in India
Eligibility, Courses and Career Growth in Video Editing in India

इस ऑनलाइन और इंटरनेट के दौर में लोग 24x7 घंटे अपने मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप या टीवी पर अनेकानेक मनचाहे वीडियोज़ देख सकते हैं. ये वीडियोज़ हमारा भरपूर मनोरंजन करने के साथ ही हमें जरुरी जानकारी भी बहुत ही अच्छे तरीके से देते हैं. बेशक इन दिनों वीडियोज़ देखकर हरेक विषय को समझना और जानकारी हासिल करना काफी आसान हो गया है. पूरी दुनिया में अनेक भाषाओँ और टॉपिक्स पर असंख्य वीडियोज़ रोज़ाना बनाये, दिखाए और सोशल मीडिया पर अपलोड किये जाते हैं. आजकल, विभिन्न पेशेवर अपना इंट्रोडक्शन और सैंपल वर्क देने के लिए भी अपने रिज्यूम के साथ या अपने सोशल मीडिया पोर्टल पर वीडियो बनाकर अपलोड कर देते हैं.

हमारे देश भारत सहित अनेक देशों  के रिक्रूटर्स भी विभिन्न सोशल मीडिया पोर्टल्स पर अपने भावी एम्पलॉईज़ के बारे में जांच-पड़ताल कर सकते हैं. इसलिए, वीडियो बनाना तो खास है ही लेकिन, किसी भी वीडियो को सफल एडिटिंग के जरिये  अधिक प्रभावी और तर्क-संगत बनाना और भी महत्वपूर्ण है. इसलिए, हम वीडियो एडिटर के लिए जरुरी  एलिजिबिलिटी, कोर्सेज और करियर ग्रोथ के बारे में इस आर्टिकल में चर्चा कर रहे हैं.

वीडियो एडिटिंग के बारे

अगर हम सिर्फ वीडियो ही देखते हैं तो हम एक बात महसूस करते हैं कि एक ही वीडियो में कई सारे सीन्स बिना किसी रुकावट के कैसे एक-साथ लगातार आते रहते हैं? वीडियो के सीन्स के साथ साउंड भी बिलकुल मैच करती है. यह वीडियो चाहे 5 मिनट का हो या 15 – 20 मिनट का या फिर इससे ज्यादा ड्यूरेशन का वीडियो ही क्यों न हो........सबसे खास बात होती है इस वीडियो का असरदार प्रेजेंटेशन. इसका काफी क्रेडिट वीडियो एडिटिंग के काम को ही जाता है. अब अक्सर हमारे मन में यह सवाल उठता है कि आखिर यह वीडियो एडिटिंग क्या है? दरअसल, वीडियो एडिटिंग के काम में किसी वीडियो के सारे विजूअल्स और साउंड को एडिट करके इफेक्टिव और प्रेजेंटेबल बना दिया जाता है. किसी वीडियो को शूट और रिकॉर्ड करने में शायद कुछ घंटे लगे हों. लेकिन वीडियो एडिटिंग के माध्यम से उस वीडियो में सबसे जरुरी और अर्थपूर्ण वीडियो सीन्स और साउंड्स को ही शामिल किया जाता है. वास्तव में वीडियो एडिटर्स ही रिकॉर्डेड वीडियो में साउंड-ट्रैक को अच्छी तरह से फिट करने का भी काम करते हैं और फिर आपका प्रभावी ऑडियो-विजूअल वीडियो तैयार हो जाता है. आजकल यू-ट्यूबर्स कई बार अकेले ही अपनी पसंद का कोई टॉपिक चुनकर वीडियो बनाते हैं और फिर खुद ही अपने बनाये वीडियो की एडिटिंग भी करते हैं. अगर वीडियो एडिटिंग इफेक्टिव न हो तो वीडियो को व्यूअर्स पसंद नहीं करेंगे और फिर विभिन्न सोशल मीडियाज़ पर आपको लाइक्स, शेयर्स नहीं मिल सकेंगे. इसलिए, परफेक्ट वीडियो एडिटिंग आज के समय की मांग है जिसे वीडियो क्रिएशन से जुड़े पेशेवर नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं. आजकल तो डिजिटल वीडियो एडिटिंग का जमाना है.

वीडियो एडिटर का वर्किंग स्किल सेट

‘वीडियो एडिटिंग’ वास्तव में एक प्रोफेशनल फ़ील्ड है. जो लोग इस वीडियो फील्ड में काम करने में दिलचस्पी रखते हैं, वे इस फील्ड में अपना करियर शुरू कर सकते हैं. वीडियो एडिटिंग के पेशे के लिए आपके पास क्रिएटिविटी के साथ बढ़िया टेक्नीकल स्किल्स होने चाहिए. इसी तरह, एक कामयाब वीडियो एडिटर बनने के लिए आपमें बेहतरीन कल्पना-शक्ति, पैनी नजर और एनालिटिकल स्किल्स भी होने चाहिए. वीडियो एडिटिंग की सफलता आपके टीम-वर्क के गुण पर भी काफी निर्भर करती है. अपने काम के प्रति पूर्ण समर्पण और स्व-प्रेरणा जैसे गुण भी वीडियो एडिटिंग के काम में आपको माहिर बनाते हैं.

वीडियो एडिटिंग के कोर्सेज के लाभ 

आजकल जब हम रोजाना अपने स्मार्ट फ़ोन, लैपटॉप या कंप्यूटर पर अनेक टॉपिक्स पर मनचाहे वीडियोज़ किसी भी समय देख सकते हैं तो ऐसे में, कॉलेज स्टूडेंट्स के लिए वीडियो एडिटिंग की बेसिक जानकारी बहुत जरुरी है. अगर आप मल्टीमीडिया में कोई सूटेबल कोर्स करना चाहते हैं तो ये स्किल्स आपके कोर्स के एक हिस्से के तौर पर आपको सिखाये जायेंगे. वास्तव में, अब सभी स्टूडेंट्स के लिए वीडियो एडिटिंग के बेसिक्स सीखना बहुत जरुरी हो गया है. वीडियो बनाना अपने विचार प्रकट करने और ऑफिस- प्रेजेंटेशन्स देने का सबसे असरदार तरीका है. वीडियो एडिटिंग में कोई सूटेबल कोर्स करने के बाद आप एक शौकिया यू-ट्यूबर भी बन सकते हैं. एक अच्छी तरह एडिटेड वीडियो ग्रेजुएशन के बाद आपको जॉब हासिल करने में बहुत मददगार साबित हो सकता है. 

वीडियो एडिटिंग के कोर्सेज ज्वाइन करने के लिए एलिजिबिलिटी

किसी एजुकेशनल बोर्ड से 12वीं क्लास पास स्टूडेंट्स विभिन्न डिप्लोमा, सर्टिफिकेट या डिग्री लेवल के कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं. वीडियो एडिटिंग में विभिन्न डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्सेज आमतौर पर शॉर्ट-टर्म कोर्सेज होते हैं. लेकिन किसी बड़ी मीडिया कंपनी या चैनल में वीडियो एडिटर की पोस्ट पर काम करने के लिए कैंडिडेट्स के पास (संबंधित सब्जेक्ट सहित) ग्रेजुएशन की डिग्री जरुर होनी चाहिए. वीडियो एडिटिंग की फील्ड में पोस्टग्रेजुएशन और पीजी डिप्लोमा या पीजी सर्टिफिकेट कोर्स करने के लिए स्टूडेंट के पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए.

भारत में वीडियो एडिटिंग के प्रमुख कोर्सेज

अगर आप वीडियो एडिटिंग की फील्ड में अपना करियर शुरू करना चाहते हैं तो हमारे देश में आप वीडियो एडिटिंग की फील्ड में निम्नलिखित एजुकेशनल कोर्सेज कर सकते हैं:

डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्सेज

  1. डिप्लोमा – फिल्म एडिटिंग
  2. डिप्लोमा – वीडियो एडिटिंग
  3. डिप्लोमा – वीडियो एडिटिंग एवं साउंड रिकॉर्डिंग
  4. सर्टिफिकेट – डिजिटल एडिटिंग
  5. सर्टिफिकेट – वीडियो एडिटिंग
  6. सर्टिफिकेट – नॉन-लीनियर एडिटिंग
  7. सर्टिफिकेट – फाइनल कट प्रो में प्रोफेशनल वीडियो एडिटिंग
  8. सर्टिफिकेट – एविड मीडिया कंपोज़र में प्रोफेशनल वीडियो एडिटिंग

ग्रेजुएशन लेवल कोर्स

  1. बैचलर ऑफ़ आर्ट्स – वीडियो एडिटिंग एंड वीडियोग्राफी

पोस्टग्रेजुएशन लेवल के कोर्सेज

  1. मास्टर ऑफ़ आर्ट्स - वीडियो एडिटिंग एंड वीडियोग्राफी
  2. पोस्टग्रेजुएट सर्टिफिकेट – वीडियो एडिटिंग
  3. पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा – वीडियो एडिटिंग
  4. पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा – एडिटिंग (पोस्ट प्रोडक्शन)

भारत में इन प्रमुख प्रमुख इंस्टीट्यूट्स से करे वीडियो एडिटिंग के कोर्सेज

हमारे देश में आप निम्नलिखित इंस्टीट्यूशन्स से वीडियो एडिंग से संबंधित कोई मनचाहा कोर्स कर सकते हैं:

  1. फिल्म एंड टेलिविज़न इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंडिया, पुणे
  2. मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर, जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  3. सत्यजीत रे फिल्म एंड टेलिविज़न इंस्टीट्यूट, कोलकाता
  4. एडिटवर्क्स स्कूल ऑफ़ मास कम्युनिकेशन, नॉएडा
  5. साउथ दिल्ली पॉलिटेक्निक फॉर वीमेन. नई दिल्ली
  6. YMCA सेंटर फॉर मास मीडिया, नई दिल्ली
  7. तेजपुर यूनिवर्सिटी, असम
  8. फॉर्च्यून इंस्टीट्यूट ऑफ़ कम्युनिकेशन एंड टेलिविज़न, नई दिल्ली
  9. एशियन एकेडमी ऑफ़ फिल्ड एंड टीवी, नॉएडा
  10. बिहार इंस्टीट्यूट ऑफ़ फिल्म एंड टेलिविज़न, पटना

भारत में उपलब्ध हैं वीडियो एडिटिंग के ये मॉडर्न टूल्स

  1. विंडोज़ मूवी मेकर
  2. वैक्स
  3. ब्लेंडर
  4. लाइट वर्क्स
  5. वर्चुअल डब
  6. गो एनिमेट
  7. अडोब प्रीमियर प्रो
  8. व्यूबिक्स
  9. स्क्रीन फ्लो
  10. वीडियो स्क्राइब

भारत में वीडियो एडिटर का सैलरी पैकेज

हमारे देश में वीडियो एडिटिंग की फील्ड में शुरू में किसी पेशेवर को 20 हजार – 25 हजार रुपये मासिक मिलते हैं. कुछ वर्षों के वर्क एक्सपीरियंस के बाद इन पेशेवरों को 50 हजार रुपये मासिक मिलते हैं. किसी टैलेंटेड वीडियो एडिटर को प्रत्येक वीडियो असाइनमेंट के लिए 50 हजार रुपये तक भी मिलते हैं. किसी बड़े इंस्टीट्यूट या स्टूडियो में इन पेशेवरों को एवरेज 75 हजार रुपये मासिक भी मिल सकते हैं.

भारत की प्रमुख जॉब प्रोवाइडिंग वीडियो प्रोडक्शन एजेंसीज़

  1. स्टूडियोटेल
  2. वाओ मेकर्स
  3. फ्लैटवर्ल्ड सॉलूशन्स
  4. कम्युनिकेशन क्राफ्ट्स
  5. व्हाट ए स्टोरी
  6. वीडियोज़ फॉर एव्रीवन
  7. धर्मेश एडिटिंग
  8. लॉयन आई स्टूडियो
  9. दी रेनबो फिल्म्स एंड एडवरटाइजिंग
  10. नन्दश्री एंटरटेनमेंट

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

ये हैं प्रभावी ऑनलाइन कंटेंट राइटिंग के लिए कुछ कारगर टिप्स

आपके लिए ये हैं कुछ शानदार फ्री ऑनलाइन ग्राफिक डिजाइनिंग कोर्सेज

भारत में आपके लिए सिनेमेटोग्राफी में है बढ़िया करियर स्कोप

Related Categories

Comment (0)

Post Comment

0 + 8 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.