जानिये ये हैं भारत में लॉजिस्टिक्स के कोर्सेज और करियर स्कोप

अगर आप भारत में लॉजिस्टिक्स में अपना करियर शुरू करना चाहते हैं तो आपको इस फील्ड की अच्छी जानकारी जरुर होनी चाहिए. एक अनुमान के मुताबिक, अगले कुछ वर्षों में इस फील्ड का बड़ी तेज़ी से विकास होगा. यह आर्टिकल पढ़कर इस बारे में हासिल करें अधिक जानकारी.

Created On: May 19, 2021 18:40 IST
Modified On: May 19, 2021 21:08 IST
Career Options in Logistics in India with New Possibility of Growth
Career Options in Logistics in India with New Possibility of Growth

विश्व भर में लॉजिस्टिक्स व्यापक स्तर पर नेशनल और इंटरनेशनल कारोबार का प्रमुख आधार है. ‘लॉजिस्टिक्स’ दरअसल, किसी मुश्किल बिजनेस ऑपरेशन की समुचित व्यवस्था और कार्यान्वयन है. किसी भी कारोबार के दौरान, कस्टमर्स या कॉर्पोरेशन्स की विभिन्न कारोबारी जरूरतों को पूरा करने के लिए ‘प्वाइंट ऑफ़ ओरिजिन’ से ’प्वाइंट ऑफ़ कंजम्पशन’ तक  हरेक किस्म के सामान या वस्तुओं के फ्लो का मैनेजमेंट को ही ‘लॉजिस्टिक्स’ में शामिल किया जाता है. असल में, लॉजिस्टिक्स मैनेजमेंट सप्लाई चेन मैनेजमेंट का ही एक हिस्सा है जो कस्टमर्स की सभी तरह की जरूरतों को पूरा करने के लिए प्वाइंट ऑफ़ ओरिजिन’ से ’प्वाइंट ऑफ़ कंजम्पशन’ तक गुड्स एंड सर्विसेज तथा उनसे संबंधित सूचनाओं का आदान-प्रदान करती है. अगर आप भारत में लॉजिस्टिक्स में अपना करियर शुरू करना चाहिते हैं तो इस आर्टिकल में हमने आपके लिए भारत में लॉजिस्टिक्स से सभी महत्त्वपूर्ण पहलूओं की जानकारी प्रस्तुत की है. इसलिए आप इस आर्टिकल को बड़े गौर से पढ़ें:

भारत में लॉजिस्टिक्स में उपलब्ध हैं विकास की कई नई संभावनाएं

एक इकनोमिक सर्वे के मुताबिक वर्ष 2017-18 में भारत के लॉजिस्टिक्स सेक्टर ने लगभग 22 मिलियन से अधिक लोगों को जॉब्स उपलब्ध करवाई हैं. इससे इन-डायरेक्ट लॉजिस्टिक्स कॉस्ट में 10% की कमी आई और 5 – 8% एक्सपोर्ट ग्रोथ हुई. इस समय हमारे देश में लॉजिस्टिक्स मार्केट लगभग 160 बिलियन यूएस डॉलर है जो अगले 2 वर्षों में बढ़कर 215 यूएस डॉलर तक होने की उम्मीद जताई जा रही है. भारत में गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) लागू होने पर कुछ वर्षों में इस फील्ड के कारोबार में काफी तेज़ गति से विकास होने की भी काफी संभावना है.

आजकल पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था और कारोबार में दिनोंदिन विकास हो रहा है. अब दुनिया को एक ग्लोबल विलेज माना जाता है अर्थात पूरी दुनिया के सभी देश अपने देश के विभिन्न स्थानों में ही नहीं बल्कि अन्य देशों से भी कारोबार करते हैं और यहीं लॉजिस्टिक्स की फील्ड की संभावनाओं का महत्व पता चलता है. हमारे देश सहित दुनिया के सभी देशों की हर छोटी और बड़ी कंपनी में लॉजिस्टिक्स की फील्ड से जुड़े विभिन्न करियर ऑप्शन्स के लिए काफी बेहतरीन संभावनाएं हैं क्योंकि हरेक कंपनी या बिजेनस संगठन में किसी न किसी रूप में गुड्स एंड सर्विसेज का आदान-प्रदान होता ही है. लॉजिस्टिक्स की फील्ड में ड्राईवर, हेल्पर, फ्रंट डेस्क, डाटा एंट्री स्टाफ, क्लर्क, अकाउंटेंट, सेल्स एग्जीक्यूटिव, बिजनेस मैनेजर, ऑपरेशन मैनेजर, वेयरहाउस मैनेजर सहित कई करियर ऑप्शन्स उपलब्ध हैं और आने वाले वर्षों में इस फील्ड का बड़ी तेज़ गति से विकास होने की उम्मीद जताई जा रही है.

भारत में लॉजिस्टिक्स के कोर्सेज करने के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

•    किसी मान्यताप्राप्त एजुकेशनल बोर्ड से 12 वीं पास कैंडिडेट्स इस फील्ड में डिप्लोमा, सर्टिफिकेट या अंडरग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं.
•    लॉजिस्टिक्स में पीजी डिप्लोमा, पोस्टग्रेजुएट कोर्स या एमबीए प्रोग्राम में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट ने किसी मान्यताप्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की हो.

भारत में लॉजिस्टिक्स के प्रमुख कोर्सेज

हमारे देश में लॉजिस्टिक्स की फील्ड में यूजीसी से मान्यताप्राप्त विभिन्न कॉलेजों, यूनिवर्सिटीज और इंस्टीट्यूट्स में रेगुलर और पार्टटाइम ग्रेजुएट, पोस्टग्रेजुएट, पीजी डिप्लोमा, सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्सेज उपलब्ध हैं. इस फील्ड में स्टूडेंट्स एमबीए भी कर सकते हैं. हमारे देश में इस फील्ड में उपलब्ध कुछ प्रमुख कोर्सेज निम्नलिखित हैं:

डिप्लोमा कोर्सेज:
•    लॉजिस्टिक्स एंड शिपिंग में एडवांस्ड डिप्लोमा
•    लॉजिस्टिक्स मैनेजमेंट में एडवांस्ड डिप्लोमा
•    सप्लाई चेन मैनेजमेंट में एडवांस्ड डिप्लोमा
•    लॉजिस्टिक्स एंड सप्लाई चेन मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा
•    मटीरियल्स एंड लॉजिस्टिक्स मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा
अंडरग्रेजुएट कोर्सेज:
•    बैचलर – सप्लाई चेन मैनेजमेंट
•    बैचलर ऑफ़ कॉमर्स (बीकॉम) – सप्लाई चेन मैनेजमेंट
पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज:
•    एमबीए - लॉजिस्टिक्स एंड सप्लाई चेन मैनेजमेंट
•    एमबीए - मटीरियल्स एंड लॉजिस्टिक्स मैनेजमेंट

भारत में लॉजिस्टिक्स कोर्सेज में एडमिशन लेने के लिए प्रमुख एंट्रेंस एग्जाम्स

हमारे देश में सुप्रसिद्ध यूनिवर्सिटीज या कॉलेजों द्वारा आयोजित एंट्रेंस एग्जाम्स में स्टूडेंट्स द्वारा प्राप्त किये गए मार्क्स के मुताबिक विभिन्न अंडरग्रेजुएट/ पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज में स्टूडेंट्स को एडमिशन दिया जाता है. किसी सुप्रसिद्ध इंस्टीट्यूट या यूनिवर्सिटी के एमबीए प्रोग्राम में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स को CAT, MAT, CMAT, XAT और ATMA जैसे एंट्रेंस टेस्ट पास करने पड़ते हैं.

भारत में लॉजिस्टिक्स कोर्सेज करवाने वाले प्रमुख एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स

•    इंडियन इंस्टीट्यूट्स ऑफ़ मैनेजमेंट, कलकत्ता
•    मैनेजमेंट डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट, गुड़गांव
•    इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ मटीरियल्स मैनेजमेंट, मुंबई
•    नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ रिटेल एंड मैनेजमेंट, मुंबई
•    इंस्टीट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट टेक्नोलॉजी, नागपुर

भारत में लॉजिस्टिक्स के प्रमुख करियर्स 

•    डिमांड प्लानर
•    मास्टर प्रोडक्शन शेड्यूलर
•    सोर्सिंग मैनेजर
•    एनालिस्ट
•    कंसलटेंट
•    कस्टमर सर्विस मैनेजर
•    इन्वेंटरी कंट्रोल मैनेजर
•    मटीरियल मैनेजर
•    परचेजिंग मैनेजर
•    सप्लाई चेन मैनेजर
•    लॉजिस्टिक्स इंजीनियर
•    लॉजिस्टिक्स मैनेजर
•    इंटरनेशनल लॉजिस्टिक्स मैनेजर
•    फुलफिल्मेंट सुपरवाइज़र
•    सप्लाई चेन एनालिस्ट
•    सप्लाई चेन सॉफ्टवेयर मैनेजर
•    ट्रांसपोर्टेशन मैनेजर
•    वेयरहाउस ऑपरेशन्स मैनेजर
•    शिपिंग कोऑर्डिनेटर
•    एक्सपोर्ट एग्जीक्यूटिव

भारत में लॉजिस्टिक्स के टॉप जॉब प्रोवाइडर्स 

•    मेन्युफेक्चरिंग कंपनीज़
•    होलसेल
•    सप्लाईचेन
•    आर्म्ड फोर्सेज
•    रिटेल मैनेजमेंट
•    फ्रेट एंड कार्गो कंपनीज़
•    कूरियर कंपनीज़
•    पैकर्स एंड मूवर्स
•    एयरलाइन्स
•    ऑटोमोबाइल्स
•    गारमेंट कंपनीज़
•    फ़ूड एंड ग्रोसरी 
•    लार्सेन एंड टुब्रो लि.
•    एंकर इलेक्ट्रिकल्स
•    बायोमैक्स फ्यूल्स लि.
•    एक्सेंचर
•    नोकिया
•    टोयोटा
•    प्रॉक्टर एंड गैम्बल

भारत में लॉजिस्टिक्स में मिलता है यह सैलरी पैकेज

हमारे देश में भी दुनिया के अन्य देशों की तरह इस फील्ड में योग्य पेशेवरों को काफी बढ़िया सैलरी पैकेज मिलता है. इस फील्ड में मैनेजर को एवरेज 5.5 लाख रुपये सालाना मिलते हैं जो इस फील्ड में बढ़ते हुए कार्य अनुभव के साथ बढ़ते रहते हैं. इन पेशेवरों की सैलरी उनकी एजुकेशनल क्वालिफिकेशन, जॉब प्रोफाइल, वर्किंग एरिया के साथ ही एम्पलॉयर कंपनी के मुताबिक निर्धारित की जाती है.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

इन्फ्रास्ट्रक्चर और रियल एस्टेट में करियर

इंटरनेशनल बिज़नस में सफल करियर शुरू करने के टिप्स

भारत में मार्केटिंग मैनेजमेंट में प्रमुख करियर ऑप्शन्स

Comment ()

Related Categories

Post Comment

6 + 0 =
Post

Comments