जानिए रिकमेन्डेशन लेटर्स के लिए मजबूत सामाजिक संबंध हैं जरुरी

फ्रेश ग्रेजुएट्स जब अपनी पहली जॉब के लिए सर्च करते हैं तो उनके लिए रिकमेन्डेशन लेटर काफी महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट होता है जो भावी एम्पलॉयर्स को इन फ्रेश ग्रेजुएट्स के बारे में जरूरी और महत्वपूर्ण जानकारी विश्वसनीयता सहित मुहैया करवाता है.  

Created On: Dec 20, 2019 13:31 IST
Creating relationships for recommendation letters
Creating relationships for recommendation letters

स्टूडेंट्स और फ्रेशर जॉब सीकर्स के लिए रिकमेन्डेशन लेटर का महत्व

कॉलेज स्टडीज़ पूरी होने के बाद बहुत से छात्रों को कैंपस प्लेसमेंट्स के दौरान कड़ा मुकाबला करते हुए या पहली नौकरी के लिए स्वयं अपनी एप्लीकेशन भेजकर सफलता प्राप्त करनी होती है. एक अच्छा रिज्यूम और CV आपको इंटरव्यू कॉल प्राप्त करने के सहायक होता है लेकिन उसके बाद क्या होता है, यह इंटरव्यू में आपके प्रदर्शन पर पूरी तरह निर्भर करता है. लेकिन फिर भी, एम्प्लोयर को आपके बारे में सारी जानकारी या तो आपके बताने पर मिलती है या फिर इंटरव्यू के समय आपकी पर्सनैलिटी से वे इस बारे में थोड़ा-बहुत अनुमान लगा लेते हैं. दरअसल, किसी अन्य व्यक्ति द्वारा आपके बारे में कहे गए कुछ महत्वपूर्ण शब्द किस तरह ऐसी परिस्थिति में अंतर ला सकते हैं. यही कारण है जिसकी वजह से किसी जॉब के लिए अप्लाई करते समय रिकमेन्डेशन लेटर्स अभी भी काफी महत्वपूर्ण हैं हालांकि अब ये आपके रिज्यूम का एक आवश्यक हिस्सा नहीं रह गए हैं. लेकिन अगर रिकमेन्डेशन लेटर्स किसी जॉब के लिए अप्लाई करते समय इतना महत्व रखते हैं तो आप यह कैसे सुनिश्चित करेंगे कि आपको कोई अच्छा रिकमेन्डेशन प्राप्त हो जाए? इस प्रश्न का उत्तर बहुत आसान है और वह यह है कि आप अपने ऑफिस में मौजूद लोगों के साथ अच्छे संबंध कायम करें. फ्रेशर होने के नाते, अपने प्रोफेसर्स या जिस ऑर्गेनाइजेशन में आप इंटर्नशिप कर रहे हैं, वहां सीनियर्स पर हमेशा अपना अच्छा इम्प्रैशन डालें.

इनसे करें रेफेरेंस के लिए अनुरोध

यदि कोई एम्प्लोयर रेफेरेंसिस मांगता है तो वे कम से कम 2 रेफेरेंसिस अवश्य मांगेंगे. इसलिये, अगर आप अभी एक फ्रेश ग्रेजुएट हैं तो आपके कॉलेज प्रोफेसर आपको रिकमेन्डेशन लेटर्स देने के लिए काफी महत्वपूर्ण साबित हो सकते हैं. लेकिन यदि आप अपने करियर को लेकर पहले से विचारशील रहे हैं और आपने किसी आर्गेनाइजेशन में इंटर्नशिप पूरी की है तो आप रिकमेन्डेशन लेटर्स के लिए उस आर्गेनाइजेशन में अपने सीनियर्स से बात कर सकते हैं. क्योंकि, अधिकांश एम्प्लोयर्स आपसे कम से कम 2 रेफेरेंस मांगेंगे, बेहतर होगा कि आप ये रेफेरेंसिस उन लोगों से प्राप्त करें जो आपकी पर्सनैलिटी के  अलग-अलग पहलुओं की अच्छी जानकारी रखते हों जैसे एक रेफेरेंस आप कॉलेज में अपने प्रोफेसर्स से प्राप्त करें और दूसरी रेफेरेंस इंटर्नशिप के दौरान रहे अपने सीनियर से प्राप्त करें.

अपने पेशेवर संपर्कों को इन गिफ्ट्स के जरिये दें धन्यवाद

हालांकि, जब कभी आप किसी से रिकमेन्डेशन लेटर मांगते हैं तो चाहे वे आपके कॉलेज प्रोफेसर हों या फिर, अंतिम कार्य संगठन में आपके सीनियर; यहां कुछ ऐसे पॉइंट्स पेश किये जा रहे हैं जिनका आप रिकमेन्डेशन लेटर लेते समय अवश्य ध्यान रखें:

अच्छी जान-पहचान वाले व्यक्ति से लें रेफेरेंस

जब कभी आप किसी व्यक्ति से रेफेरेंस लेने पर विचार करें तो यह जरुर सुनिश्चित कर लें कि आपकी क़ाबलियत और स्किल्स के बारे में यथोचित तरीके से बातचीत करने के लिए वे आपको बहुत अच्छी तरह जानते हों. किसी ऐसे व्यक्ति को चुनें जिन्हें आपके प्रोफेशनल ड्रीम्स और आपकी प्राथमिकताओं के बारे में अच्छी तरह पता हो. अपने कैंपस में केवल सबसे लोकप्रिय प्रोफेसर या अपने कार्य स्थल पर बने दोस्त से अपने लिए रिकमेन्डेशन न मांगें. आपके भरोसे के विपरीत, ऐसा हो सकता है कि प्रोफेशनल स्थल के सम्बन्ध में ये लोग आपकी वास्तविक क़ाबलियत और संभावनाओं के बारे में कम जानकारी रखते हों. 

सोशल सेक्टर के ये जॉब प्रोफाइल्स देते हैं आपके करियर को खास पहचान

रिकमेन्डेशन लेटर समय पर मिलना है बहुत जरुरी

जिस व्यक्ति से आप अपने लिए रिकमेन्डेशन लेटर प्राप्त करना चाहते हैं, उनसे पहले बातचीत करे. उनसे पूछें कि अगर आपके संभावी एम्प्लोयर आपसे रिकमेन्डेशन लेटर मांगें तो क्या वे आपको रिकमेन्डेशन लेटर देने के लिए तैयार हैं? बहुत बार रिक्रूटर आपको ज्यादा समय नहीं देते हैं और उनमें से अधिकांश कोई प्रिंटेड लेटर लेने के बजाय आपके दिए गए रेफेरेंस पर फ़ोन से बात करना या किसी अन्य तरीके से संपर्क कायम करना पसंद करते हैं. जिस व्यक्ति से आपने रिकमेन्डेशन लेटर लेना है, उनसे पहले ही बातचीत कर लेने से वे पहले से चौकस रहेंगे और रिक्रूटर द्वारा आपके बारे में कुछ भी पूछने पर वे सोच-समझ कर आपके बारे में अच्छा जवाब देंगे.

रिकमेन्डेशन लेटर में शामिल हो आपका महत्वपूर्ण ब्यौरा

यद्यपि जिन लोगों से आप रिकमेन्डेशन लेटर मांग रहे हैं, वे अक्सर आपको लंबे समय से अच्छी तरह जानते हैं और उन्हें आपकी ताकत और उपलब्धियों के बारे में पता होता है. फिर भी, यह आपके पक्ष में बहुत अच्छा रहेगा कि जिस जॉब प्रोफाइल के लिए आप अप्लाई कर रहे हैं, उन्हें उसके बारे में कुछ जानकारी अवश्य दें और यह भी बताएं कि आप क्यों सोचते हैं कि आप इस नौकरी के लिए एक अच्छे उम्मीदवार हैं. यह सुनिश्चित करें कि उन्हें यह समझ आ जाए कि आप इस जॉब के लिए क्यों अप्लाई कर रहे हैं और आप ऐसा क्यों विश्वास करते हैं कि यह नौकरी आपके लिए अच्छी नौकरी है.

ये हैं विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म्स पर रिज्यूम अपलोड करने के अनेक लाभ

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

Related Categories

Related Stories

Comment (0)

Post Comment

7 + 7 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.