भारत में एजुकेशन लोन के लिए ये है पात्रता, दस्तावेज़ीकरण और अप्लाई करने का तरीका

हमारे देश भारत में 12 वीं कक्षा पास करने के बाद, ऐसे टैलेंटेड और पात्र स्टूडेंट्स को एजुकेशन लोन दिया जाता है जो हायर एजुकेशन प्राप्त करना चाहते हैं. इस आर्टिकल में आपके लिए भारत में एजुकेशन लोन प्राप्त करने के लिए आवेदन प्रक्रिया के बारे में महत्त्वपूर्ण जानकारी प्रस्तुत की जा रही है.

Created On: Jul 30, 2021 21:22 IST
Education Loan in India - Eligibility, Documentation and how to apply
Education Loan in India - Eligibility, Documentation and how to apply

इन दिनों देश-विदेश में हायर एजुकेशन की फीस और अन्य संबद्ध खर्चे आसमान छू रहे हैं जिस कारण, अक्सर स्टूडेंट्स के माता-पिता और हायर एजुकेशन प्राप्त करने की इच्छा रखने वाले स्टूडेंट्स खुद भी दिन-रात चिंता से ग्रस्त रहते हैं. मोटी एकेडमिक फीस का भुगतान करने में असमर्थता कभी-कभी अनके स्टूडेंट्स को अपनी एजुकेशन को आगे जारी रखने से रोकने के लिए दबाव डालती है और फिर, अधिकांश स्टूडेंट्स हायर एजुकेशन हासिल करने के बजाय, कोई जॉब ज्वाइन कर लेते हैं ताकि वे खुद को शिक्षित करने के लिए  जरुरी धन जमा कर सकें.

भारत में बहुत बार ऐसा भी होता है कि, अनेक स्टूडेंट्स के माता-पिता अक्सर अपने बच्चे की हायर एजुकेशन के लिए अपने सावधि जमा (FD), म्यूचुअल फंड और अन्य वित्तीय साधनों का इस्तेमाल समय से पहले ही कर लेते है.

इसलिए, हमारे देश भारत के कई राष्ट्रीयकृत बैंकों ने इस समस्या का एक बहुत ही सुविधाजनक समाधान पेश किया है जहां इच्छुक स्टूडेंट कम ब्याज दरों पर एजुकेशन लोन हासिल कर सकते हैं.

निस्संदेह! धन की कमी को एजुकेशन लोन से पूरा किया जा सकता है और यह बीच में शिक्षा को छोड़े  बिना ही, भारत के ऐसे अधिकांश स्टूडेंट्स के माता-पिता और बच्चों के लिए एक उपयोगी सुविधा के तौर पर भी कार्य करता है.

भारत में उपलब्ध एजुकेशन लोन के बारे में सब कुछ जानने के लिए आप यह आर्टिकल बड़े गौर से पढ़ें.

एजुकेशन लोन की विशेषताएं

भारत में स्टूडेंट्स को मिलने वाला एजुकेशन लोन उनके लिए काफी फायदेमंद है क्योंकि इसमें बुनियादी एकेडमिक कोर्स/ कॉलेज फ़ीस और अन्य संबद्ध खर्च जैसे आवास (हॉस्टल फ़ीस), सांस्कृतिक फ़ीस, लाइब्रेरी  फ़ीस, कंप्यूटर फ़ीस और ट्रेवलिंग अलाउंस जैसे कई खर्च शामिल होते हैं.

भारत में एजुकेशन लोन के लिए पात्रता शर्तें

हमारे देश में एजुकेशन लोन लेने के लिए पात्र/ एलिजिबल स्टूडेंट्स और उनके पेरेंट्स निम्नलिखित शर्तें गौर से पढ़ें:

  1. एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई करने वाला स्टूडेंट एक भारतीय नागरिक होना चाहिए.
  2. उसे भारत या विदेश में किसी सक्षम प्राधिकारी द्वारा मान्यता प्राप्त कॉलेज/ विश्वविद्यालय में प्रवेश लेना होगा.
  3. संबद्ध स्टूडेंट एक प्राथमिक उधारकर्ता है जो उच्च माध्यमिक स्तर की स्कूली शिक्षा तक शिक्षा पूरी होने पर ही एजुकेशन लोन प्राप्त कर सकता है.
  4. एजुकेशन लोन लेने के लिए स्टूडेंट के माता-पिता, पति/ पत्नी या भाई-बहन को-एप्लिकेंट हो सकते हैं.
  5. भारत या विदेश में हायर एजुकेशन प्राप्त करने वाले सभी योग्य और जरुरतमंद स्टूडेंट्स.

एजुकेशन लोन - समाविष्ट हैं ये एकेडमिक कोर्सेज

भारत में निम्नलिखित एकेडमिक कोर्सेज के लिए एजुकेशन लोन प्रदान किया जाता है: -

  1. कोई भी पूर्णकालिक एकेडमिक कोर्स.
  2. अंशकालिक या व्यावसायिक/ प्रोफेशनल कोर्स.
  3. देश-विदेश में इंजीनियरिंग, प्रबंधन, चिकित्सा, होटल प्रबंधन, वास्तुकला जैसे किसी क्षेत्र में ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करने के इच्छुक और योग्य स्टूडेंट्स.

एजुकेशन लोन के लिए जरुरी दस्तावेज़

यह दस्तावेज़ीकरण प्रक्रिया एजुकेशन लोन वितरण प्रक्रिया का एक अनिवार्य हिस्सा है. हमारे देश में स्टूडेंट्स एजुकेशन लोन का लाभ तभी उठा सकते हैं जब नीचे दिए गए सभी दस्तावेज बैंक के पास जमा करवा दें:

  1. KYC दस्तावेज.
  2. 10वीं, 12वीं, ग्रेजुएशन और किसी संबद्ध एंट्रेंस एग्जाम की मार्कशीट
  3. दाखिला पत्र (एडमिशन लेटर)
  4. संबद्ध एकेडमिक इंस्टीट्यूट का फीस स्ट्रक्चर
  5. कुछ मामलों में को-एप्लिकेंट का KYC और इनकम सर्टिफिकेट.

एजुकेशन लोन की चुकौती शर्तें

भारत में एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई करने से पहले आप इस लोन की चुकौती शर्तों के बारे में भी सटीक जानकारी जरुर हासिल करें जो अब आपके लिए निम्न प्रस्तुत है:

  1. एजुकेशन लोन स्टूडेंट द्वारा खुद चुकाया जाता है.
  2. आमतौर पर, एजुकेशन लोन का पुनर्भुगतान कोर्स/ डिग्री के पूरा होने के बाद शुरू होता है.
  3. संबद्ध स्टूडेंट्स जॉब ज्वाइन करने के बाद या फिर, अपनी पढ़ाई पूरी होने के एक साल बाद अपने एजुकेशन लोन के पुनर्भुगतान के लिए 06 महीने की छूट अवधि भी मांग सकते हैं.
  4. भारत में एजुकेशन लोन के पुनर्भुगतान की अवधि आम तौर पर बैंक के नियमों और शर्तों के आधार पर 05 से 07 वर्ष के बीच होती है.

अब जानिये भारत में एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई करने का यह है तरीका

कुछ ही समय में एजुकेशन लोन प्राप्त करने के लिए इन आसान और सरल चरणों का पालन करें: -

  1. सबसे पहले आप अपनी पसंद के बैंक में जायें.
  2. बैंक के लोन डेस्क से एजुकेशन लोन की समस्त प्रक्रिया के बारे में पूछताछ करें.
  3. एजुकेशन लोन के सभी नियमों और शर्तों को समझने के बाद, आप एजुकेशन लोन के लिए ऑनलाइन अप्लाई करें.
  4. फिर, आप बैंक द्वारा निर्धारित सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करवायें.
  5. आपके दस्तावेजों के सत्यापन के बाद, एजुकेशन लोन प्रक्रिया पूरी करने के लिए बैंक अपनी ओर से कार्यवाही शुरु करेगा.
  6. अगर बैंक मांगे तो संपार्श्विक (कोलैटरल) प्रदान करें.
  7. आपके एजुकेशन लोन की राशि संवितरण के लिए तैयार है.

*अस्वीकरण - ऊपर दी गई सारी जानकारी केवल आपके वित्तीय ज्ञान और समझ बढ़ाने के लिए ही इस आर्टिकल में प्रस्तुत की गई है. इसे किसी भी व्यक्ति के द्वारा वित्तीय सलाह के तौर पर नहीं लिया जाना चाहिए.

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

इंडियन स्टूडेंट्स इन स्कॉलरशिप और फेलोशिप्स के लिए करें तुरंत अप्लाई

जानिये ये हैं भारत के रिसर्च स्टूडेंट्स के लिए कुछ बेहतरीन स्कॉलरशिप प्रोग्राम

MBA एजुकेशन लोन: जानिये लोन पाने के लिए ये 10 जरुरी बातें

Comment (0)

Post Comment

5 + 6 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.