ये हैं 12 वीं में कम मार्क्स लाने वाले स्टूडेंट्स के लिए विशेष करियर ऑप्शन्स

ऐसे स्टूडेंट्स जिनके 12वीं क्लास में कम मार्क्स आये हैं अब वे इस बात की बिलकुल चिंता न करें कि वे आगे क्या करें....क्योंकि इस आर्टिकल में ऐसे स्टूडेंट्स के लिए ही पेश है जरुरी जानकारी.  

Oct 30, 2020 19:56 IST
Suitable Career Options for 12th passouts with less Marks
Suitable Career Options for 12th passouts with less Marks

भारत में कोई आकर्षक और सूटेबल करियर ज्वाइन करने के लिए हायर एजुकेशनल क्वालिफिकेशन कुछ सबसे जरुरी शर्तों में से एक है. इसी तरह, हमारे देश के अधिकतर लोग ऐसा मानते हैं कि अगर किसी स्टूडेंट्स के 12 वीं क्लास में कम मार्क्स आयें तो उसके लिए तकरीबन सभी अच्छे करियर ऑप्शन्स ज्वाइन करने की संभावनायें खत्म हो जाती हैं. लेकिन, ऐसा बिलकुल नहीं है. विंस्टन चर्चिल के मुताबिक, ‘केवल प्रयास जारी रखने का साहस ही महत्व रखता है.’ इसलिए, अगर किसी वजह से जिन स्टूडेंट्स के 12वीं क्लास में कुछ कम मार्क्स आये हैं तो वे किसी भी प्रकार का फ़िक्र अब न करें क्योंकि  इस आर्टिकल में हम ऐसे सभी स्टूडेंट्स के लिए कुछ विशेष करियर ऑप्शन्स की महत्त्वपूर्ण जानकारी पेश कर रहे हैं जिन्हें ज्वाइन करने के लिए स्टूडेंट्स को अपनी 12वीं क्लास में बहुत अच्छे मार्क्स लाने की जरूरत नहीं होती है.

दरअसल, आजकल के इस मॉडर्न और टेक्निकल समय में पूरी दुनिया के अनेक देशों के साथ-साथ हमारे देश में भी कई ऐसे करियर ऑप्शन्स उपलब्ध हैं जिन्हें 12वीं क्लास में काफी कम मार्क्स प्राप्त करने वाले स्टूडेंट्स  ज्वाइन करके अपना सफल प्रोफेशन या कारोबार शुरू कर सकते हैं. आइये आगे पढ़ें यह आर्टिकल:

फैशन डिजाइनिंग में करियर

अगर आप हमेशा अच्छी तरह ड्रेस-अप होना चाहते हैं और आपको फैशन इंडस्ट्री के लेटेस्ट ट्रेंड्स के बारे में जानकारी होने के साथ ही कपड़ों में अच्छे डिजाइन्स बनाने का हुनर है तो आप अपनी 12वीं क्लास में मात्र 45% एवरेज मार्क्स ला कर भी फैशन डिजाइनिंग में अंडरग्रेजुएट कोर्स कर सकते हैं. फैशन डिज़ाइनर्स ओरिजिनल क्लोथ्स, कॉस्टयूम्स, एक्सेसरीज और फूटवियर्स तैयार करते हैं. वे डिज़ाइन्स के स्केच तैयार करते हैं, फैब्रिक्स और पैटर्न्स सेलेक्ट करते हैं और अपने डिज़ाइन्स के मुताबिक प्रोडक्ट्स तैयार करवाते हैं. इस पेशे के लिए आपको टेक्सटाइल्स और फैब्रिक्स के बारे में पढ़ाने के साथ ही कंप्यूटर-एडेड डिजाइन टेक्नोलॉजी (सीएडी) का इस्तेमाल करना सिखाया जाता है. फैशन डिज़ाइनर्स के लिए महत्वपूर्ण स्किल्स में आर्टिस्टिक एबिलिटी, कम्युनिकेशन स्किल्स, कंप्यूटर स्किल्स, क्रिएटिविटी, डिसीजन मेकिंग और डिटेल्ड ओरिएंटेशन स्किल्स को शामिल किया जा सकता है. फैशन डिज़ाइनर्स आर्ट डायरेक्टर्स, फ्लोरल डिज़ाइनर्स, ग्राफ़िक डिज़ाइनर्स, इंडस्ट्रियल डिज़ाइनर्स, ज्वैलर्स, प्रेशियस स्टोन एंड मेटल वर्कर्स, मॉडल्स, परचेजिंग मैनेजर्स, बायर्स और परचेजिंग एजेंट्स के तौर पर काम कर सकते हैं. कुछ वर्षों के अनुभव के बाद ये पेशेवर अपना कारोबार भी शुरू कर सकते हैं. हमारे देश में एक सफल फैशन डिज़ाइनर एवरेज रु.781/- प्रति घंटा कमा सकता है और पे स्केल इंडिया वेबसाइट के मुताबिक किसी फैशन डिज़ाइनर की एवरेज सैलरी रु.358,011/- सालाना है. 

टॉप इंडियन फैशन डिजाइनिंग इंस्टीट्यूट्स

  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नोलॉजी (एनआईएफटी), नई दिल्ली
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नोलॉजी (एनआईएफटी), मुंबई
  • पर्ल एकेडेमी ऑफ फैशन, दिल्ली
  • पर्ल एकेडेमी ऑफ फैशन, जयपुर
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ फैशन टैक्नोलॉजी (एनआईएफटी), चेन्नई
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ फैशन टैक्नोलॉजी (एनआईएफटी), पटना
  • सिम्बायोसिस इंस्टिट्यूट ऑफ डिज़ाइन (एसआईडी), पुणे.

टेक्निकल करियर

अगर आपके अपनी 10 वीं या 12 वीं क्लास में मार्क्स कम आये हैं तो टेक्निकल लाइन में विभिन्न करियर ऑप्शन्स भी आपके लिए उपयोगी हो सकते हैं. आप इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट ज्वाइन कर सकते हैं. आईटीआई का प्रमुख ऑब्जेक्टिव विभिन्न इंडस्ट्रीज को मैनपावर उपलब्ध करवाना है. हमारे देश में हर साल जुलाई/ अगस्त के महीने में विभिन्न आईटीआई ट्रेड्स में नए एडमिशन्स होते हैं. हर साल अगस्त माह में नया सेशन शुरू होता है. नेशनल काउंसिल ऑन वोकेशनल ट्रेनिंग (एनसीवीटी) की गाइडलाइन्स के मुताबिक देश के विभिन्न आईटीआई इंस्टीट्यूट्स में एडमिशन मेरिट बेस्ड/ रिटन एग्जाम के आधार पर दिए जाते हैं. विभिन्न प्राइवेट आईटीआई इंस्टीट्यूट्स में स्टूडेंट्स को डायरेक्ट एडमिशन दिया जाता है. आमतौर पर विभिन्न आईटीआई कोर्सेज की अवधि 6 महीने से 2 वर्ष तक होती है जो विभिन्न कोर्सेज के टाइप और नेचर पर निर्भर करती है. कंप्यूटर हार्डवेयर जैसे कुछ कोर्सेज की अवधि 3 वर्ष तक भी हो सकती है. स्टूडेंट्स अपनी वोकेशनल/ ट्रेड ट्रेनिंग पूरी करने के बाद ऑल इंडिया ट्रेड टेस्ट (एआईटीटी) देते हैं और इस टेस्ट में सफल होने वाले स्टूडेंट्स को नेशनल ट्रेड सर्टिफिकेट (एनटीसी) दिया जाता है. बुक बाइंडर, प्लम्बर, पैटर्न मेकर, एडवांस्ड वेल्डिंग, एडवांस्ड इलेक्ट्रॉनिक्स, शीट मेटल वर्कर, टूल एंड डाई मेकर, एडवांस्ड टूल एंड डाई मेकर, पेंटर जनरल, माउल्डर, टर्नर, मशीनिस्ट, ड्राफ्ट्समैन मैकेनिकल, मैकेनिक कंप्यूटर हार्डवेयर, फ्रिज एंड एसी मैकेनिक, वॉच एंड क्लॉक मैकेनिक आदि जैसे अनेक पेशे या संबद्ध फील्ड में जॉब्स आप आईटीआई से ट्रेनिंग पूरी करके शुरू कर सकते हैं. शुरू में किसी आईटीआई पासआउट कैंडिडेट को एवरेज 10 हजार – 20 हजार प्रति माह वेतन मिलता है.

बीपीओ प्रोफेशनल

बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग (बीपीओ) ऐसी फील्ड है जिसने लाखों लोगों को जॉब्स दी हैं. इस फील्ड का भविष्य काफी उज्ज्वल है. एक बीपीओ कंपनी में थर्ड-पार्टी प्रोवाइडर के लिए नॉन-प्राइमरी बिजनेस एक्टिविटीज की जाती हैं. प्रमुख बीपीओ सर्विसेज में पे-रोल, ह्यूमन रिसोर्स (एचआर), एकाउंटिंग और कस्टमर/ काल सेंटर रिलेशन्स आदि को शामिल किया जा सकता है. बीपीओ का एक नाम इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एनेबल्ड सर्विसेज (आईटीईएस) भी है. अगर आप अच्छी अंग्रेजी या कोई विदेशी भाषा जानते हैं तो अपनी 12 वीं क्लास कम मार्क्स से पास करने के बावजूद, आप यह पेशा अपना सकते हैं. इस पेशे के लिए आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स बहुत बढ़िया होनी चाहिए. संबद्ध बीपीओ में कुछ ट्रेनिंग लेकर आप यह नौकरी शुरू कर सकते हैं. यह ट्रेनिंग संबद्ध कंपनी की जरुरत के मुताबिक 1-2 दिन से लेकर कुछ हफ्ते/ महीने तक चल सकती है. किसी बीपीओ में जॉब करने की कम से कम आयु 18 वर्ष है और अधिकतम 58 – 60 वर्ष तक भी कोई व्यक्ति किसी बीपीओ कंपनी में जॉब ज्वाइन कर सकता है. इस जॉब में आप 45 हजार रुपये मासिक तक कमा सकते हैं. डोमेस्टिक बीपीओ के बजाए इंटरनेशनल बीपीओ आपको ज्यादा बेहतर सैलरी पैकेज ऑफर करते हैं. भारत में किसी बीपीओ का कस्टमर सर्विस एग्जीक्यूटिव एवरेज रु.202,379/- प्रति वर्ष कमाता है. इस जॉब में आपके बढ़ते हुए कार्य अनुभव के साथ सैलरी पैकेज भी बढ़ता जाता है. आमतौर पर इंटरनेशनल लेवल पर कोई बीपीओ कंपनी अपने एम्पलॉईज को एवरेज $73,469 प्रति वर्ष देती है.

इवेंट मैनेजर

अपनी 10वीं या 12 वीं क्लास पास करने के बाद यह पेशा आपको अच्छी कमाई देने के साथ ही सुर्ख़ियों में ला सकता है. अपनी 12 वीं क्लास केवल पास मार्क्स से पास करने के बावजूद, आप इवेंट मैनेजमेंट की फील्ड में विभिन्न प्रोफेशनल कोर्सेज कर सकते हैं. चाहे वह कोई शॉर्ट टर्म कोर्स हो या कार्यरत पेशेवरों के लिए डिप्लोमा, अंडरग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट जैसे इंटेंसिव कोर्सेज, इन सभी कोर्सेज का लक्ष्य आपके स्किल्स को निखारना होता है ताकि आप इस फील्ड में महारत हासिल कर लें. जन्मदिन, विवाह समारोह, वर्षगांठ, जयंती, सरकारी समारोह, बिजनेस/ प्रोडक्ट लॉन्च, फिल्म स्क्रीनिंग या खेलों के आयोजन तथा अन्य किसी भी विशेष प्रोग्राम का सफल आयोजन इन पेशेवरों की प्रमुख जिम्मेदारी होता है. इन पेशेवरों के काम में खान-पान की व्यवस्था, डेकोरेशन, इवेंट बजट सहित सभी छोटे-बड़े काम शामिल होते हैं. इनकी एवरेज इनकम 50 हजार रुपये मासिक तक हो सकती है.

इवेंट मैनेजमेंट कोर्सेज करवाने वाले टॉप इंडियन इंस्टीट्यूट्स 

  • अन्ना यूनिवर्सिटी
  • एमिटी इंस्टीट्यूट ऑफ इवेंट मैनेजमेंट
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी
  • एपीजे इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ इवेंट मैनेजमेंट (एनआईईएम)
  • नेशनल एकेडमी ऑफ़ इवेंट मैनेजमेंट एंड डेवलपमेंट (एनएईएमडी)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ लर्निंग एंड एडवांस्ड डेवलपमेंट

रियल एस्टेट ब्रोकर

इस पेशे में आपकी इनकम की कोई अधिकतम सीमा तय नहीं की जा सकती है. रियल एस्टेट ब्रोकर का काम जमीन, प्लॉट या फ्लैट को खरीदना और बेचना होता है. इस काम के लिए आपको अपनी 12 वीं क्लास कम मार्क्स के साथ पास करने के बावजूद, कोई विशेष डिग्री तो नहीं चाहिए लेकिन आपको एस्टेट या जमीन संबंधी कानूनों की कुछ जानकारी तो जरुर होनी चाहिए. इस पेशे में आपको पैसा आपकी डील के मुताबिक मिलता है जो अक्सर किसी भी डील के लिए कई लाख रुपये तक होता है.

12 वीं में कम मार्क्स लाने वाले स्टूडेंट्स के लिए कुछ अन्य विशेष करियर ऑप्शन्स

यहां आपकी सहूलियत के लिए हम कुछ अन्य आकर्षक करियर ऑप्शन्स की एक लिस्ट पेश कर रहे हैं. अपनी 12 वीं क्लास में कम मार्क्स आने के बावजूद आप अपनी रूचि, टैलेंट और स्किल–सेट के मुताबिक इनमें से कोई भी करियर चुनकर अच्छा पैसा कमा सकते हैं: 

  • वेब डेवलपर
  • एनीमेशन
  • होटल मैनेजमेंट एंड हॉस्पिटैलिटी
  • ट्रेवल एंड टूरिज्म
  • पेट ग्रूमिंग
  • कारपेट टेक्नोलॉजी
  • स्पा मैनेजमेंट
  • ब्यूटिशियन
  • फोटोग्राफी
  • फाइन आर्ट्स
  • स्पोर्ट्स/ योग ट्रेनर
  • एक्टिंग/ डांस/ म्यूजिक टीचर/ इंस्ट्रक्टर
  • मार्केटिंग
  • रेडियो एवं वीडियो जॉकी
  • शेफ
  • कमर्शियल पायलट
  • फ्लाइट अटेंडेंट
  • एयर होस्टेस
  • प्राइवेट इन्वेस्टिगेटर या जासूस
  • फिटनेस ट्रेनर
  • कसिनो मैनेजर
  • बारटेंडर
  • सोशल मीडिया
  • प्रोफेशनल/ एथिकल हैकर
  • फ्रीलांस फोटोग्राफर

जॉब, इंटरव्यू, करियर, कॉलेज, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, एकेडेमिक और पेशेवर कोर्सेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने और लेटेस्ट आर्टिकल पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट www.jagranjosh.com पर विजिट कर सकते हैं.

अन्य महत्त्वपूर्ण लिंक

12वीं पास स्टूडेंट्स के लिए टॉप मैनेजमेंट कोर्सेज और करियर स्कोप

अगर आये हैं 12वीं में कम मार्क्स तो भी कर सकते हैं DU से ये वोकेशनल कोर्सेज

क्रिएटिव स्टूडेंट्स के लिए भारत में उपलब्ध हैं ये आकर्षक करियर ऑप्शन्स

Related Stories