Search

इंटरमीडिएट के बाद ये हैं 5 उभरते हुए करियर ऑप्शन जहां आप बना सकते हैं दमदार करियर

Aug 31, 2018 14:49 IST
    Intermediate Pass outs 5 Rising Career Options
    Intermediate Pass outs 5 Rising Career Options

    आज के इस जबरदस्त कॉम्पीटिटिव माहौल में अगर आप अपनी इंटरमीडिएट (12 वीं क्लास) के एग्जाम्स दे चुके हैं या फिर इंटरमीडिएट पास कर चुके हैं तो अक्सर आपके दिमाग में यह सवाल आता होगा या फिर आपके माता-पिता, रिश्तेदार या जान-पहचान वाले आपसे अक्सर यह सवाल पूछते होंगे कि आप अपने इंटरमीडिएट के एग्जाम्स पास करने के बाद क्या करना चाहते हैं? कौन-सा विषय पढ़ना चाहते हैं?.....आदि. अधिकतर स्टूडेंट्स अपनी 12 वीं क्लास में ही तय कर लेते हैं कि उन्हें आगे क्या करना है? कौन-सा विषय पढ़ना है या फिर किस करियर फील्ड में जाना है?..... आदि. लेकिन फिर भी, कुछ स्टूडेंट्स यह तय नहीं कर पाते कि उन्हें भविष्य में क्या करना है? कौन-सा करियर ऑप्शन उनके लिए सही रहेगा? ऐसे अनेक सवालों को लेकर अक्सर अधिकतर स्टूडेंट्स कन्फ्यूज रहते हैं और कुछ तय नहीं कर पाते हैं.

     

    चाहे आप अपनी इंटरमीडिएट में कोई भी विषय पढ़ रहे हों, लेकिन आपने इंटरमीडिएट के बाद क्या करना है? इसका निर्णय लेना बहुत महत्वपूर्ण होता है क्योंकि यहीं से आपके करियर की दिशा निर्धारित होती है. आजकल मार्केट में विभिन्न कोर्सेज, स्ट्रीम्स, कई तरह के एंट्रेंस एग्जाम्स और करियर ऑप्शन्स की भरमार है और ऐसे में स्टूडेंट्स का कन्फ्यूज होना स्वाभाविक ही है क्योंकि यह समय स्टूडेंट्स के  जीवन का निर्णायक समय होता है. इसलिए इस आर्टिकल में हम इंटरमीडिएट के एग्जाम्स पास करने के बाद स्टूडेंट्स के लिए मार्केट में उपलब्ध कुछ करियर ऑप्शन्स की चर्चा पेश कर रहे हैं.

    इंटरमीडिएट के बाद करियर ऑप्शन: एक महत्वपूर्ण निर्णय

    स्टूडेंट्स के लिए अपनी इंटरमीडिएट क्लास पास करने के बाद एक सही कोर्स या करियर ऑप्शन चुनना  काफी महत्वपूर्ण कार्य है क्योंकि स्टूडेंट्स के इसी निर्णय पर मुख्य रूप से उनका आगे का भविष्य और भावी करियर टिका होता है. सही निर्णय स्टूडेंट्स को तरक्की दिलवाता है और वे अपने इंटरेस्ट और काबिलियत के अनुरूप बेहतर रीजल्ट दे पाते हैं. अगर इस दौरान स्टूडेंट्स अपनी काबिलियत, इंटरेस्ट  तथा टैलेंट के विपरीत किसी गलत डोमेन को चुन लेते हैं तो इसका खामियाजा उन्हें भविष्य में तो भुगतना ही पड़ता है और इसके साथ-साथ उन स्टूडेंट्स का अमूल्य समय भी बर्बाद हो जाता है. असल में, अधिकतर मामलों में स्टूडेंट्स जो निर्णय अपनी इंटरमीडिएट में लेते हैं, उसी निर्णय के अनुरूप वे अपना करियर बनाते हैं और आगे चलकर वैसा ही जीवन बिताते हैं. इतना ही नहीं ग्रेजुएशन के बाद तो करियर को बदलने की बहुत कम गुंजाइश रहती है और अगर आप ऐसा करते भी हैं तो आपके कई वर्षों की मेहनत बेकार चली जाती है.

    इंटरमीडिएट के बाद करियर ऑप्शन: एक मुश्किल निर्णय

    इंटरमीडिएट के स्टूडेंट्स के लिए यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण निर्णय होने के साथ-साथ एक काफी कठिन निर्णय भी है क्योंकि आज स्टूडेंट्स के समक्ष कई करियर ऑप्शन्स, कोर्स तथा स्ट्रीम मौजूद हैं और लगभग ये सभी स्टूडेंट्स के इंटरेस्ट और काबिलियत के अनुसार एक-समान महत्व के हैं. आजकल कॉलेजों में उपलब्ध ढेरों कोर्सेज ने स्टूडेंट्स द्वारा उक्त निर्णय लेने की प्रक्रिया को और जटिल बना दिया है. वे दिन अब चले गए जब केवल इंजीनियर, डॉक्टर, चार्टर्ड एकाउंटेंट और ऐसे ही अन्य कोर क्षेत्रों में अच्छे करियर ऑप्शन्स मौजूद थे. अब स्टूडेंट्स के पास कुछ साल पहले की तुलना में बहुत अधिक ऑप्शन्स मौजूद हैं जिसका काफी हद तक श्रेय इंटरनेट को जाता है. आजकल स्टूडेंट्स कई नए क्षेत्रों जैसेकि, टी-टेस्टर, ग्राफिक डिजाइनर, वेब-डिज़ाइनर, प्रोफेशनल फोटोग्राफर, यू-ट्यूबर और एथिकल हैकर्स के रूप में अपने करियर को नई दिशा दे सकते हैं. जबकि कुछ वर्ष पूर्व तक ये सभी कोर्सेज बहुत ज्यादा प्रचलन में नहीं थे.

    ढेरों करियर ऑप्शन्स की मौजूदगी – वरदान या अभिशाप

    असल में, आजकल नए ढेरों ने करियर ऑप्शन्स की शुरुआत स्टूडेंट्स के लिए वरदान तथा अभिशाप दोनों ही साबित हो रही है. कुछ स्टूडेंट्स जो लीक से हटकर कोई कोर्स करना चाहते हैं, उनके लिए तो यह एक सुनहरा अवसर है लेकिन अपने पैशन को पूरा करने के चक्र में स्टूडेंट्स कोई ऐसा कोर्स या स्ट्रीम चुन लेते हैं जिसके लिए वे अभी पूरी तरह से मानसिक रूप से तैयार नहीं होते हैं. इसके अलावा कुछ स्टूडेंट्स कोई ऐसी स्ट्रीम चुन लेते हैं जो उन्हें अन्य स्ट्रीम्स की तुलना में बहुत आसान लगती है.

    अक्सर हम कई ऐसे लोगों से मिलते हैं जो अपने मौजूदा प्रोफेशन से संतुष्ट नहीं होते हैं तथा किसी अन्य फील्ड में स्विच करना या जाना चाहते हैं. लेकिन ध्यान रखें कि एक बार पेशा चुन लेने के बाद उसे स्विच करना उतना आसान नहीं होता है. इसलिए किसी भी स्ट्रीम को चुनते वक्त बहुत सावधानी पूर्वक अपनी काबिलियत, इंटरेस्ट और टैलेंट के साथ ही अपनी परिस्थितियों आदि का ध्यान रखते हुए कोई ऐसा कोर्स चुनें जिसके साथ आप भविष्य में भी सही एडजस्टमेंट कर सकें तथा उस पेशे में आपको आनंद आये.

    इंटरमीडिएट के बाद करियर ऑप्शन: भावी संभावनाएं

    इंटरमीडिएट के बाद स्टूडेंट्स अपने लिए किसी कॉलेज कोर्स को चुनते समय उस कोर्स की भावी  संभावनाओं का भी जरुर ध्यान रखें. यदि आप लीक से हटकर किसी नए कोर्स को चुन रहे हैं तो भविष्य में उस कोर्स की उपयोगिता और ग्रोथ की संभावना पर बहुत गहराई से विचार करने की आवश्यकता होती है. स्टूडेंट्स को यह भी देखना चाहिए कि इस फील्ड में नौकरी मिलने के चांसेज कितने हैं? इसके अलावा, स्टूडेंट्स इस प्वाइंट पर भी गौर फरमायें कि जो फील्ड उन्होंने चुनी है, उस फील्ड में नौकरी करके हायर स्टडीज की जा सकती है या नहीं ?. अगर ये सारी बातें आपके कोर्स में मौजूद हैं तो बेशक वह कोर्स आपके लिए फायदेमंद रहेगा. 

    इंटरमीडिएट के बाद उपलब्ध कुछ पसंदीदा करियर ऑप्शन्स  

    इंटरमीडिएट के बाद अक्सर इंडियन स्टूडेंट्स दो ही कोर्सेज इंजीनियरिंग और मेडिकल को बेहतरीन करियर ऑप्शन्स के रूप में देखते हैं. लेकिन अब रोजाना नये-नये उभरते ऑप्शन्स की वजह से स्टूडेंट्स के सामने भी कई अन्य करियर ऑप्शन्स मौजूद हैं. पुराने पसंदीदा करियर ऑप्शन्स से अलग आजकल स्टूडेंट्स अपने टैलेंट और इंटरेस्ट के अनुसार कई नए ऑफ़-बीट कोर्सेज को चुनकर सफलता हासिल कर रहे हैं.

    कंप्यूटर एप्लीकेशन्स और इंटरनेट संबंधी करियर ऑप्शन्स

    आजकल इंटरनेट का युग है. पूरी दुनिया को इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी ने अपनी गिरफ्त में ले रखा है. हमारे जीवन में गूगल के प्रभाव को आज कौन नकार सकता है. गूगल ने आज इंटरनेट के जरिये हमारे जीवन के प्रत्येक क्षेत्र को प्रभावित किया है. इसके अलावा, जैसेकि हम सब जानते ही हैं कि आजकल सभी प्रकार के रोजमर्रा के ऑफिस-वर्क्स में ईमेल्स एक अनिवार्य हिस्सा बन चुकी है और हमारे देश के साथ ही दुनिया भर के देशों में सभी सरकारी और प्राइवेट इंस्टीट्यूशन्स की अपनी ऑफिशल वेबसाइट्स हैं. आज हम हरेक ऑफिस और इंस्टीट्यूट में आईटी (इनफॉर्मेशन एंड टेक्नोलॉजी) डिपार्टमेंट को नज़रंदाज़ नहीं कर सकते हैं. यह एक नवीनतम करियर ऑप्शन है जो जीवन के हरेक क्षेत्र को प्रभावित कर रहा है. 

    यहां स्टूडेंट्स के लिए अपनी इंटरमीडिएट पास करने के बाद कंप्यूटर एप्लीकेशन्स और इंटरनेट संबंधी करियर ऑप्शन्स का लगातार बढ़ता महत्व पता चलता है और इसलिए आज बहुत बड़ी संख्या में स्टूडेंट्स कंप्यूटर एप्लीकेशन और इंटरनेट से संबंधित विभिन्न कोर्सेज तथा करियर ऑप्शन्स अपना रहे हैं. कंप्यूटर इंजीनियर – हार्डवेयर/ सॉफ्टवेयर, सॉफ्टवेयर डेवलपर, वेबसाइट डिज़ाइनर, वेबसाइट कंटेंट राइटर, लीगल/ एथिकल हैकर्स, ग्राफ़िक डिज़ाइनर, एनालिस्ट, कंप्यूटर टीचर/ प्रोफेसर और अन्य संबद्ध जॉब्स आज उक्त फील्ड में आपके लिए बेहतरीन करियर ऑप्शन्स पेश कर रही हैं.

    मेडिकल साइंस

    इंटरमीडिएट पास करने के बाद इंजीनियरिंग की तरह ही साइंस स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के लिए एक अन्य सबसे पसंदीदा ऑप्शन मेडिकल लाइन या मेडिसिन होता है. यदि आप डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आपके लिए सिर्फ मेडिकल स्ट्रीम ही है जहां मेडिसिन की पढ़ाई कर आप अपना सपना पूरा कर सकते है. स्टूडेंट्स अपनी इंटरमीडिएट पास करने के बाद मेडिकल साइंस स्टडीज के हिस्से के रूप में फार्मेसी, एग्रीकल्चर और जूलॉजी भी पढ़ सकते हैं. आजकल फार्मेसी में ग्रेजुएशन मेडिकल स्टूडेंट्स के बीच एक बहुत ही लोकप्रिय कोर्स है. अपनी इंटरमीडिएट फीजिक्स, केमेस्ट्री तथा बायोलॉजी विषय के साथ पास करने वाले स्टूडेंट्स एमबीबीएस सहित मेडिकल साइंस से जुड़े अन्य कई कोर्स कर सकते हैं. मेनस्ट्रीम के करियर ऑप्शन्स के अलावा जेनेटिक्स, माइक्रोबायोलॉजी आदि विषय विभिन्न क्षेत्रों में मेडिकल रिसर्च स्टूडेंट्स के लिए महत्वपूर्ण करियर ऑप्शन्स ऑफर करते हैं. बायोटेक्नोलॉजी इस क्षेत्र में अपेक्षाकृत नया कोर्स है, जो बहुत तेज़ी से लोकप्रिय हो रहा है. इन दिनों स्टूडेंट्स फिजियोथेरेपी, न्यूट्रीशन और फ़ूड साइंस जैसे कोर्सेज भी काफी पसंद कर रहे हैं.

    कॉमर्स

    इंटरमीडिएट में कॉमर्स की पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स के लिए चार्टर्ड एकाउंटेंसी सबसे लोकप्रिय कोर्स है. इसके तहत सरकारी कानूनों के अनुसार कंपनियों के वित्तीय मामलों की सम्पूर्ण जानकारी सहित ऑडिट रिपोर्ट बनाने के लिए प्रैक्टिकल ट्रेनिंग और ऑडिट के जरिये टैक्सेशन, फाइनेंशल लेनदेन जैसे विभिन्न टॉपिक्स  की जानकारी दी जाती है.

    चार्टर्ड एकाउंटेंसी के अलावा, कॉमर्स के स्टूडेंट्स के लिए उपलब्ध अन्य लोकप्रिय कोर्स ऑप्शन्स बिजनेस मैनेजमेंट (बीबीए), बीकॉम, बीकॉम (एच), इकोनॉमिक्स (एच), सीएस, लॉ, ट्रेवल एंड टूरिज्म आदि में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करना है. इन कोर्सेज की मदद से इनवेस्टमेंट बैंकर, ब्रांड मैनेजर, ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर और अन्य बढ़िया जॉब्स में स्टूडेंट्स अपना करियर बना सकते हैं. लेकिन बिना मैथ्स सब्जेक्ट के कॉमर्स विषय में इंटरमीडिएट पास करने वाले स्टूडेंट्स आगे चलकर कुछ कोर्सेज में एडमिशन नहीं ले सकते हैं.

    आर्ट्स

    आर्ट्स या ह्युमेनिटिज के अंतर्गत अधिक संख्या में विभिन्न कोर्सेज की सुविधा के कारण स्टूडेंट्स अपने इंटरेस्ट के अनुसार कोई भी विषय चुन सकते हैं. पिछले कुछ वर्षों में आर्ट्स के प्रति स्टूडेंट्स का झुकाव काफी बढ़ा है. आजकल अधिकतर स्टूडेंट्स आर्ट्स का चयन कर रहे हैं क्योंकि आर्ट्स के स्टूडेंट्स मास कम्युनिकेशन, जर्नलिज्म, एडवरटाइजिंग, इंटीरियर डिजाइनिंग, ग्राफिक्स डिजाइनिंग, साइकोलॉजी, सोशियोलॉजी, हिस्ट्री, फैशन डिजाइनिंग, फोटोग्राफी, रंगमंच जैसे अनेक विषयों में से कोई भी विषय चुन सकते हैं. इसके अलावा, एक आर्ट स्टूडेंट के रूप में आप लिंग्विस्टिक, रिलीजियस स्टडीज, आर्ट रेस्टोरेशन, फॉरेन लैंग्वेज, फिल्म मेकिंग, आर्ट हिस्ट्री और ऐसी अन्य कई संबंधित फ़ील्ड्स में अपना करियर बना सकते हैं.

    इंजीनियरिंग

    स्टूडेंट्स के लिए इंटरमीडिएट पास करने के बाद सबसे ज्यादा डिमांड वाला अगर कोई कोर्स है तो वह है इंजीनियरिंग. एक प्रोफेशनल कोर्स होने की वजह से इस कोर्स की तरफ अधिकतर स्टूडेंट्स आकर्षित होते हैं. फीजिक्स, केमेस्ट्री तथा मैथ्स विषय के साथ इंटरमीडिएट या 12 वीं पास करने वाले स्टूडेंट्स इस कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं. अपनी बढ़ती लोकप्रियता के कारण यह कोर्स बहुत कॉम्पीटिटिव है. वैसे भारत के टॉप इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन लेने के लिए ये कॉलेजे अपने एंट्रेंस एग्जाम लेते हैं. इसमें सबसे लोकप्रिय  संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) है, जो देश भर में इंजीनियरिंग उम्मीदवारों के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा आयोजित एक आम इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम है.  मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, कंप्यूटर साइंस, सिविल एंड बायो टेक्नोलॉजी कुछ सबसे पसंदीदा इंजीनियरिंग स्ट्रीम्स हैं. आजकल नैनो टेक्नोलॉजी, टेक्सटाइल, पेट्रोकेमिकल, ओशन इंजीनियरिंग आदि जैसी कुछ अपेक्षाकृत नई फ़ील्ड्स भी काफी लोकप्रिय हो रही हैं और ग्रेजुएशन लेवल पर कुछ रोमांचक करियर ऑप्शन्स ऑफर कर रही हैं.

    निष्कर्ष:

    उक्त आर्टिकल में पेश कुछ बेहतरीन करियर ऑप्शन्स के अलावा भी आप अपनी इंटरमीडिएट के बाद अपने इंटरेस्ट और स्पेशलाइजेशन के अनुसार ढेरों करियर ऑप्शन्स में से अपने लिए एक सूटेबल करियर ऑप्शन चुनकर अपना शानदार करियर बना सकते हैं.

      DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

      X

      Register to view Complete PDF

      Newsletter Signup

      Copyright 2018 Jagran Prakashan Limited.
      This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK