Search

क्या सब इंस्पेक्टर की जॉब महिलाओं के लिए उपयुक्त है?

Sep 10, 2018 15:30 IST
Is Sub Inspector job suitable for Females
Is Sub Inspector job suitable for Females

SSC, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सी०ए०पी०एफ०) और दिल्ली पुलिस में सब इंस्पेक्टर पद के लिए, हर साल केंद्रीय पुलिस संगठन (सी०पी०ओ०) परीक्षा को आयोजित करता है। पुरुषों और महिलाओं दोनों उम्मीदवार इन पदों के लिए इस परीक्षा के लिए योग्य हैं। SSC सी०पी०ओ० 2018 की परीक्षा उन महिला उम्मीदवारों के लिए एक सुनहरा अवसर हो सकता है जो दिल्ली पुलिस और भारत के सबसे अच्छे अर्धसैनिक बलों में से एक सीमा सुरक्षा बल (बी०एस०एफ०) और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आई०टी०बी०पी०) में सब-इंस्पेक्टर के रूप में शामिल होना चाहते है।

कर्मचारी चयन आयोग (SSC) द्वारा जारी नवीनतम अधिसूचना के अनुसार, इस साल केंद्रीय पुलिस संगठन (सी०पी०ओ०) भर्ती के तहत कुल 1223 रिक्तियों (पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए) की आयोग द्वारा घोषणा की गयी हैं आइये- दिल्ली पुलिस और केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल के विभिन्न विभागों में महिला उम्मीदवारों के लिए रिक्तियों की संख्या पर नजर डालते हैं-

दिल्ली पुलिस में सब इंस्पेक्टर (कार्यकारी) के रूप में महिला उम्मीदवारों के लिए रिक्तियां

 

Female Subinspector in Delhi Police

 

दिल्ली पुलिस (डी०पी०) दिल्ली (NCT) के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लिए कानून प्रवर्तन एजेंसी है। दिल्ली NCR के आसपास के क्षेत्र इस संस्था की अथॉरिटी में नहीं आते है। यह संस्था गृह मंत्रालय (एम०एच०ए०), भारत सरकार के अधीन हैं न कि दिल्ली सरकार के। 2017 में, दिल्ली पुलिस में  6 रेंज, 13 पुलिस डिस्ट्रिक्स62 सब-डिवीज़नस के तहत 184 पुलिस स्टेशनस और 5 विशेष अपराध यूनिट पुलिस थाने सम्मिलित थे  जिसमें आर्थिक अपराध विंग, अपराध शाखा, विशेष सेल, महिलाओं और बच्चों के लिए विशेष पुलिस इकाई (SPUWAC और विजिलेंस) सम्मिलित है।

आइये- SSC द्वारा  दिल्ली पुलिस में महिला उम्मीदवारों के लिए  इस साल सब इंस्पेक्टर (कार्यकारी) के पद के लिए घोषित रिक्तियों की संख्या पर नजर डालते हैं -

Female SI in Delhi PoliceFemale SI in Delhi Police

दिल्ली पुलिस में महिला सब इंस्पेक्टर की जॉब प्रोफाइल

पुलिस में सब इंस्पेक्टर की पोस्ट महिला उम्मीदवारों के लिए सबसे शक्तिशाली पदों में से एक माना जाता है क्योंकि इस पद के अधिकार भारत के दंड प्रक्रिया संहिता से ली गयी है।

भारत के दंड प्रक्रिया संहिता के अनुसार, एक सब इंस्पेक्टर को निम्न कार्यों की अधिकार है--

  • वारंट के साथ या बिना गिरफ्तारी,
  • किसी व्यक्ति,  वाहन या किसी के  परिसर की जांच करना
  • एक सब इंस्पेक्टर जांच के दौरान आवश्यक दस्तावेजों को प्रेषित करने के लिए नोटिस दे सकता हैं जिसका आपको पालन करना होगा।
  • किसी व्यक्ति के खिलाफ एफ०आई०आर० रजिस्टर करना।
  • इंडियन पीनल कोड्स के सभी मामले, संसद और राज्यों की स्थानीय कानूनों द्वारा पारित विशेष कानूनों को भी उप निरीक्षकों और निरीक्षकों द्वारा जांच किया जाता हैं।
  • कानून और व्यवस्था को बनाए रखने के लिए, एक सब इंस्पेक्टर अनियंत्रित भीड़ को नियंत्रित करने के लिए भी आदेश दे सकता हैं और इसे सुनिश्चित करने के लिए बल का प्रयोग भी कर सकता हैं।

दिल्ली पुलिस में एक महिला सब इंस्पेक्टर की मुख्य जिम्मेदारी ऊपर बताये गए  आधिकारिक  निहित शक्तियों का उपयोग करके दिल्ली में कानून और व्यवस्था बनाए रखना होता है।

केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सी०ए०पी०एफ०) विभागों में महिला उम्मीदवारों के लिए रिक्तियां

 

Female SI in CAPF

 

गृह मंत्रालय के अधीन, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सी०ए०पी०एफ०) के अंतर्गत भारत के सात सुरक्षा बल आते है। इनमें सीमा सुरक्षा बल (बी०एस०एफ०), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सी०आर०पी०एफ०), केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआई०एस०एफ०), भारत और तिब्बती सीमा पुलिस (आई०टी०बी०पी०), सशस्त्र सीमा बल (एस०एस०बी०), असम राइफल्स (ए०आर०) और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एन०एस०जी०) सम्मिलित हैं। इन सात केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (बी०एस०एफ०, सी०आर०पी०एफ०, आई०टी०बी०पी०, सीआई०एस०एफ०, एसएस०बी०, ए० आर० और एन०एस०जी०) में अधिकारियों का अपना कैडर होता है परन्तु इनकी अध्यक्षता भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी द्वारा ही की जाती हैं।

आइये- SSC द्वारा  केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल में महिला उम्मीदवारों के लिए  इस साल सब इंस्पेक्टर (कार्यकारी) के पद के लिए घोषित रिक्तियों की संख्या पर नजर डालते हैं -

 

Female SI in CAPF

Female SI in CAPF

 

 केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल में महिला सब-इंस्पेक्टर (जी०डी०) की जॉब प्रोफाइल

यहाँ केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल विभागों में एक महिला सब इंस्पेक्टर (जीडी) द्वारा निभायी जाने वाली प्रमुख भूमिकाओं और जिम्मेदारियों के बारें में बताया गया है-

सीमा सुरक्षा बल (बी०एस०एफ०):

 

BSF Female SI

 

बी०एस०एफ० को वृहद स्तर पर आंतरिक सुरक्षा और राज्य सरकार की मांग पर अन्य कानून-व्यवस्था को बनाये रखने के लिए तैनात किया जाता है। केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल को प्रदत्त कर्त्तव्यों से अलग किसी भी जगह पर पुलिस के कर्तव्यों को  भी सौंपा जा सकता है। महिला उप निरीक्षकों द्वारा निम्न प्रमुख भूमिकाओं को निभाया जाता है-

  • भारत-पाकिस्तान और भारत-बांग्लादेश सीमा की सुरक्षा।
  • सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के बीच सुरक्षा की भावना को बढ़ावा देना।
  • भारत के राज्यक्षेत्र में अनाधिकृत प्रवेश या निकासी से सम्बंधित ट्रांस-सीमा अपराधों को रोकना।
  • तस्करी और सीमा पर किसी भी अन्य अवैध गतिविधियों को रोकना।
  • घुसपैठ को रोकने के कर्तव्य।
  • ट्रांस-सीमा से सम्बंधित खुफिया जानकारी को इकट्ठा करना।

भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल:

 

Female ITBP SI

 

आई०टी०बी०पी० एक बहु-आयामी बल है जो मुख्य रूप से 5 कार्य करती है:

  • भारत और चीन के बीच सीमा (लद्दाख से अरूणाचल प्रदेश तक) की सुरक्षा
  • उत्तरी सीमाओं की निगरानी, सीमा के उल्लंघन का पता लगाना और रोकथामस्थानीय आबादी के बीच सुरक्षा की भावना को बढ़ावा देना।
  • अवैध आव्रजन और ट्रांस-सीमा तस्करी की जाँच करना।
  • संवेदनशील प्रतिष्ठानों और धमकी मिलने वाले  वीआईपी को सुरक्षा प्रदान करना।
  • किसी क्षेत्र में अशांति की स्थिति में शांति और अनुशासन को बनाए रखना।
  • सौंपे गए क्षेत्रों में शांति बनाए रखना।

महिला उम्मीदवारों के लिए आवश्यक फिजिकल फिटनेस

SSC सी०पी०ओ० 2018 परीक्षा के दूसरे चरण में फिजिकल स्टैण्डर्ड टेस्ट (पीएसटी) और फिजिकल इनड्यूरैंस टेस्ट (पी०ई०टी०) होता है। इस परीक्षा में आप तब तक अच्छी तरह से स्कोर नहीं कर सकते हैं जब तक आप शारीरिक और चिकित्सकीय रूप से फिट न हो आइये- महिला उम्मीदवारों के लिए शारीरिक और मेडिकल परीक्षण के समाशोधन के स्टैंडर्ड्स को ध्यान से पूरा देखें-

फिजिकल स्टैण्डर्ड टेस्ट:

 

PST Female SI

 

ध्यान दें:

  • महिला उम्मीदवारों के लिए छाती माप की कोई भी न्यूनतम सीमा नहीं है और नहीं महिला उम्मीदवारों को इस टेस्ट को देने की आवश्यकता हैं
  • जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, ऊंचाई और छाती में छूट (जैसा भी मामला हो) तभी अनुमत होगा जब आप अनुबंध-8  में निर्धारित प्रोफार्मा के तहत जिले के सक्षम अधिकारी (जिस जिले के आप निवासी हैं) द्वारा जारी सम्बंधित सर्टिफिकेट को प्रस्तुत करेंगे।

·          वजन: सभी पोस्ट के लिए ऊंचाई के अनुकूल।

फिजिकल इनड्यूरैंस टेस्ट (पी०ई०टी०)

 

PET Female SI

 

ध्यान दें:

फिजिकल इनड्यूरैंस टेस्ट के समय उन महिला उम्मीदवारों की अभ्यर्थिता को निरस्त कर दिया जायेगा जो गर्भवती होगी क्योंकि ऐसी उम्मीदवार पी०इ०टी० की परीक्षा नहीं दे सकती। इस विषय के सन्दर्भ में आगे कोई भी अपील / प्रतिनिधित्व को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

चिकित्सकीय जाँच

पेपर-I और पेपर II में प्रदर्शन के आधार पर, महिला उम्मीदवारों को मेडिकल टेस्ट में उपस्थित होने के लिए शोर्टलिस्ट किया जाएगा। उम्मीदवार, जो मेडिकल टेस्ट में सफल होंगे, को विस्तृत दस्तावेज सत्यापन के लिए बुलाया जाएगा।
केन्द्रीय
सशस्त्र पुलिस बल और दिल्ली पुलिस में महिला सब इंस्पेक्टर (एस०आई०) की वेतन संरचना

हालांकि यह एक फील्ड जॉब है और अन्य केन्द्रीय सरकार नौकरी के अनुरूप इसमें कई अनुलाभ नहीं है, लेकिन आप  इसमें बहुत सम्मान और एक अच्छा वेतन कमा सकते हैं और आपको भारत के सबसे प्रतिष्ठित सैन्य संगठनों में से एक के साथ एक सब इंस्पेक्टर के रूप में काम करने का श्रेय भी हासिल होगा।

केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों में महिला सब इंस्पेक्टर (जीडी):  इस पोस्ट को लेवल-6 (Rs.35400-112400 / -) का वेतनमान दिया जाता है और इसे ग्रुप 'बी' (अराजपत्रित) नॉन-मिनिस्टीरियल पोस्ट के रूप में वर्गीकृत किया गया है।

 

CAPF Female SI Salary

 

दिल्ली पुलिस में महिला उप-निरीक्षक (कार्यकारी): इस पोस्ट को लेवल-6 (Rs.35400-112400 / -) का वेतनमान दिया जाता है और दिल्ली पुलिस द्वारा समूह-'' (अराजपत्रित) में वर्गीकृत किया गया है।

 

Delhi Police CAPF Salary

 

महिला उम्मीदवारों के लिए सब इंस्पेक्टर पोस्ट के प्रोस व कॉन्स

 

ProsandCons of Female SI Job

 

उप-निरीक्षक का पद एक बेहद सम्मानजनक पद  है क्योंकि यह जॉब काफी पावरफुल और प्रतिष्ठित है लेकिन वहीँ इसमें चुनौती भरे मुश्किल काम का माहौल भी शामिल है। इसलिए इस पोस्ट के महिला उम्मीदवारों के लिए अपने सकारात्मक और नकारात्मक पक्ष हैं। आइये - महिला उम्मीदवारों के लिए  एक सब-इंस्पेक्टर के रूप में इस जॉब के पक्ष और विपक्ष पर नजर डालते हैं-

प्रोस:

  • पावरफुल पोस्ट:किसी भी कानून प्रवर्तन एजेंसी में एक सब इंस्पेक्टर को समाज में कानून और व्यवस्था लागू करने के लिए कुछ शक्तियों और विशेषाधिकारों को दिया जाता है। महिला उप निरीक्षकों के मामले में भी, उन्हें अपने आधिकारिक शक्तियों का उपयोग करके सामाजिक में व्यवस्था को बनाए रखना होता हैं।
  • प्रतिष्ठित पद: उप-निरीक्षक का पद जॉब की  प्रकृति के कारण एक बेहद सम्मानजनक और प्रतिष्ठित पद है। एक महिला सब इंस्पेक्टर के रूप में, आपको सामाजिक स्वीकार्यता के साथ कुछ विशेषाधिकार प्राप्त होगें और समाज में एक सम्मानजनक दर्जा प्राप्त होगा।
  • आधिकारिक पोस्ट:एक महिला सब इंस्पेक्टर के रूप में, आपको अन्य कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल, सहायक उप-निरीक्षकों आदि पुलिस कर्मियों को कमांड करने की अथॉरिटी होगी अत: आपको अधीनस्थ कर्मचारियों को नियंत्रित करने और उन्हें आदेश देने का अधिकार होगा।

कॉन्स:

  • लंबे समय की ड्यूटी: जब किसी व्यक्ति को सब इंस्पेक्टर के रूप में नियुक्त और सरकारी शक्तियों को  सौंपा जाता है तो प्रतिदिन एक निश्चित समयावधि की ड्यूटी होने की संभावनाओं काफी स्पष्ट है। आधिकारिक तौर पर जॉब की समयसीमा पहले से ही तय हैं लेकिन काम पूरा करने के लिए आपके कार्य के घंटे का विस्तार भी हो सकता है जो कि आपको मिली पोस्टिंग के स्थान पर भी निर्भर करता है लंबी ड्यूटी के कारण, महिला अधिकारियों को परिवारिक जीवन को बैलेंस करने में मुश्किल होती है।
  • फील्ड नौकरी:महिला सब-इंस्पेक्टर की नौकरी प्रोफाइल का कार्य मुख्य रूप से फील्ड का ही होता हैं क्योंकि आपको मामलों की जांच करने के लिए फील्ड में जाना होता हैं। हर रोज़ की दिनचर्या में आपको इन्वेस्टीगेशन के लिए बाहर जाना, बयानों का संग्रह करना और डाटा को एकत्र  करके व उसे वेरीफाई करने के साथ-साथ विभिन्न लोगों के साथ बातचीत करना भी समावेशित हैं।
  • चुनौतीपूर्ण कार्य:समाज में कानून और व्यवस्था बनाए रखने का काम काफी चुनौतीपूर्ण है और इसकी कई स्तरों पर मांग भी होती है। बी०एस०एफ० और आई०टी०बी०पी० में एक महिला सब इंस्पेक्टर के रूप में आपको ऐसे क्षेत्र में नियुक्त किया जा सकता हैं जहां काम का माहौल काफी चुनौतीपूर्ण और खतरनाक होगा। दिल्ली पुलिस में सब इंस्पेक्टर की नौकरी प्रोफाइल में आपका दोस्तों से ज्यादा दुश्मनों से सामना हो सकता है।

SSC सी०पी०ओ० की भर्ती प्रक्रिया में प्रमुख मुद्दों में से एक लिंग-पक्षपात है। पुरुष उम्मीदवारों के लिए रिक्त पदों की तुलना में महिला उम्मीदवारों के लिए केवल कुछ ही रिक्त पद (केवल 7% -8%) हैं। अत: महिला उम्मीदवारों द्वारा सब इंस्पेक्टर पद के लिए अधिक नामांकन दर्ज कराने के लिए सरकार द्वारा कुछ पहल की जानी चाहिए।

क्या सब इंस्पेक्टर की जॉब महिलाओं के लिए उपयुक्त है? इस सवाल का जवाब जॉब की प्रकृति और सब इंस्पेक्टर की नौकरी प्रोफाइल में निहित जिम्मेदारियों में है। हालांकि काम बहुत ही चुनौतीपूर्ण हैं लेकिन वहीँ यह काफी संतुष्टिदायक प्रोफेशन भी  है जिसमे आपको अच्छे वेतन के साथ-साथ समाज में उच्च प्रतिष्ठा भी मिलती हैं

यदि आपको सब इंस्पेक्टर की जॉब महिलाओं के लिए उपयुक्त है? के बारे में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी हो तो SSC परीक्षा 2018 के बारे में इस तरह की अधिक जानकारी के  लिए  https://www.jagranjosh.com/staff-selection-commission-ssc पर विजिट करें.

 

    DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

    X

    Register to view Complete PDF

    Newsletter Signup

    Copyright 2018 Jagran Prakashan Limited.
    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK